myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

यहाँ हम आपको शुगर (मधुमेह) रोगियों के लिए कुछ स्वादिष्ट और सेहतमंद व्यंजन बता रहे हैं 

  1. मधुमेह रोगियों के लिए चुकंदर सूप
  2. मधुमेह रोगियों के लिए आंवला चावल
  3. मधुमेह रोगियों के लिए आंवले की कढ़ी

वेजीटेरियन चुकंदर सूप एक ऐसी रेसिपी है जो स्वाद के साथ साथ सेहत से भरपूर है और शुगर (मधुमेह) रोगियों के लिए फायदेमंद। इस में कैलोरी की मात्रा बहुत ही काम होती है और फाइबर और पोषक तत्वों की मात्रा भरपूर पायी जाती है।

चुकंदर सूप बनाने की सामग्री - 

  • एक बारीक़ कटा हुआ हरा प्याज
  • एक बारीक़ कटा हुआ लाल प्याज
  • दो गाजर कद्दूकस किया हुआ
  • एक कटा हुआ कम मीठा आलू
  • दो चुकंदर छोटे - छोटे टुकड़ो में कटा हुआ
  • दो कप कटी हुई लाल गोभी या नियमित रूप में उपयोग करने बाली गोभी भी उपयोग कर सकते हैं
  • दो बड़ा चम्मच जैतून का तेल
  • आठ कप (दो लीटर) पानी
  • दो बड़ी चम्मच दही

चुकंदर सूप बनाने की विधि - 

  • एक बड़े बर्तन को अपने चूल्हे पर चढायेँ। बर्तन गर्म हो जाने पर उस में जैतून का तेल डाल के गरम करे।
  • अब इस में प्याज डाल दें, प्याज को तब तक पकायें जब तक वह नर्म और हलके भूरे रंग का न हो जाये।
  • फिर इस में गाजर और कटा हुआ हरा प्याज डाल के थोड़ा पकायें।
  • फिर इस में पानी डालें और कटा हुआ आलू और चुकंदर डाल कर 10 मिनट पकायें।
  • अब इस में कटा हुआ गोभी डाल कर फिर इसे 10 मिनट के लिए पकायें। अब आप का बोर्स्ट सूप बन चूका हैं।
  • इस को आप प्याले में निकल कर इस पर थोड़ी दही डाल कर इसे परोसें। यह सूप सेहतमंद है। आप को बहुत पसंद आएगा।  

आंवला विटामिन सी का बहुत अच्छा स्रोत है। यह खांसी और सर्दी सहित वायरल रोगों को रोकता है। आंवला उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को धीमा करने में मदद करता है और बालों को स्वस्थ रखता है। आंवला निस्संदेह पोषक तत्वों से भरपूर है। या मधुमेह को भी नियंत्रित करता है। अतः इस का उपयोग प्रतिदिन करने से बहुत लाभ मिलता है। आज हम आप को आंवला चावल बनाने की जानकारी देने जा रहे हैं। आंवला चावल बनाना बहुत ही आसान है। यह एक पोष्टिक डिश में से एक हैं। 

आंवला चावल बनाने की सामग्री - 

  • पांच आंवला
  • दो कप पके हुए चावल
  • नमक स्वाद अनुसार

आंवला चावल में तड़का लगाने की सामग्री - 

  • दो बड़े चम्मच घी / तेल
  • एक चुटकी हींग
  • आधा छोटी चम्मच सरसों के बीज या राई
  • आधा छोटी चम्मच उड़द की दाल
  • आधा छोटी चम्मच चना दाल
  • दो बड़े चम्मच मूँगफली
  • दस काजू
  • तीन से चार (लम्बी कटी हुई ) हरी मिर्च
  • एक चौथाई छोटी चम्मच हल्दी पाउडर
  • एक चौथाई कप कसा हुआ नारियल
  • दो बड़े चम्मच कटा हरा धनिया

  आंवला चावल बनाने की बिधि -  

  • आंवला को अच्छी तरह से धो लें और उसे कद्दूकस कर के बीज हटा दें। एक कढ़ाई को चूल्हे पर गर्म करें।
  • अब कढ़ाई में घी या तेल डालें। घी या तेल गर्म होने पर उस में सरसों के बीज और हींग डालें।
  • अब इस में उड़द दाल, चना दाल, मूंगफली और काजू डाल कर उसे तब तक भूने जब तक वे सुनहरे रंग में बदल ना जाएं।
  • अब इस में कसा हुआ आंवला, कसा हुआ नारियल, हरी मिर्च, हल्दी पाउडर और नमक डालें।
  • अब इसे अच्छी तरह मिक्स कर के 2 मिनट के लिए एक धीमी आंच पर पकाएं।
  • फिर कटा हुआ हरा धनिया डालें और कुछ सेकंड के लिए इसे चलायें। अब लौ को बंद कर दें। और इस में पके हुए चावल को डाल कर धीरे-धीरे अच्छी तरह मिला लें।
  • अब आप का स्वादिष्ट पोष्टिक आंवला चावल तैयार हो चूका हैं। अब इसे प्लेट में निकल कर गरमा-गर्म परोसें।  

आज हम आप को आंवले की कढ़ी बनाने की जानकारी देने जा रहे हैं। आंवला कुदरत का वरदान है। इस में बहुत सारे गुण पाए जाते हैं। इस में भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर ,प्रोटीन्स ,विटामि ‘ए’, ’बी काम्प्लेक्स, मैग्नीशियम, विटामिन ‘सी’, आयरन, पाया जाता है। इसको गर्म करने पर भी इसकी विटामिन ख़त्म नहीं होती हैं। आवला में क्रोमियम तत्व पाए जाते हैं। जो मधुमेह में उपयोगि होता हैं। आंवला इंसुलिन होरमोंस को को सुदृढ़ करता हैं और खून में शुगर की मात्रा को नियंत्रित करता हैं। 

आंवले की कढ़ी बनाने की सामग्री - 

  • 50 ग्राम आवला
  • आधा कप बेसन
  • एक कप थोड़ा खट्टा दही
  • आधा छोटी चम्मच हलदी
  • आधा छोटी चम्मच जीरा
  • दो कटी हरीमिर्चें
  • चुटकी भर हींग
  • दो तेजपत्ता
  • एक बड़ा चम्मच तेल
  • नमक स्वादानुसार
  • आवश्यकता नुसार पानी

  आंवले की कढ़ी बनाने की बिधि - 

  • सबसे पहलें आंवले को कुकर में थोड़ा उबले और उस के छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • फिर एक बड़े कटोरे में दही व बेसन को अच्छी तरह मिला लें। ध्यान रखे की बेसन और दही के मिश्रण में कोई गांठ नहीं रहे।
  • अब इस में पानी रख कर फिर से मिला लें। एक बर्तन में तेल गर्म करें, इसमें जीरा और तेजपत्ता डालें। फिर इस में हरीमिर्च डालें।
  • अब इस में मिला हुआ दही व बेसन, हींग, हलदी और आंवले को डालें और लगातार चलातें रहें।
  • अब कढ़ी को 10-15 मिनट धीमी आंच पर पकाएं, यह आप का स्वादिष्ट और पौष्टिक आंवले की कढ़ी बन कर तैयार हो चूका है। अब आप इसे चावल या चपाती के साथ सर्व करें।
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें