myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हर कोई अपने नाखून तेजी से बढ़ाना चाहता है और मजबूत करना चाहता है। इससे आपके हाथों का सौंदर्य बढ़ता है। साथ ही, स्वस्थ नाखून का विकास आपकी अच्छे स्वास्थ्य की स्थिति को दर्शाता है।

नाखून बालों की तरह एक ही प्रोटीन के बने होते हैं जिसे केरातिन कहा जाता है। नाख़ून टोनेल्स की तुलना में तेजी से बढ़ते हैं हालांकि विकास फिर भी बहुत धीमा है। औसतन नाख़ून प्रत्येक माह एक इंच के एक दसवें भाग के बराबर बढ़ता है। लेकिन कभी कभी वे उससे भी धीमी गति में बढ़ता है।

कई कारण हैं जो नाखून वृद्धि को धीमा करते हैं। ये उम्र बढ़ने, शरीर में हार्मोनल परिवर्तन, स्वास्थ्य समस्याओं, रसायन चिकित्सा, दवा और पोषक तत्वों की कमी जैसे कई कारणों की वजह से होता है। दूसरी ओर, तेजी से नाखून का बढ़ना यौवन और गर्भवती महिलाओं के लिए पहले बच्चे के समय में देखा जा सकता है।

(और पढ़ें – नाखूनों की देखभाल के लिए टिप्स)

जब नाखून धीरे बढ़ते हैं तो साथ में कई अन्य मुसीबतें भी बढ़ जाती हैं जैसे की भंगुर नाखून, नाखूनों का टूटना, नाखूनों का बँटवारा और अन्य नाखून समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है| एक स्वस्थ आहार खाने और उचित नाखून की देखभाल करने से आसानी से नाख़ून स्वस्थ गति और मजबूती से बढ़ते हैं। आप भी सरल सामग्री का उपयोग कर कुछ आसान प्राकृतिक उपचार के साथ नाखून विकास को बढ़ावा दे सकते हो।

आप नाखून के विकास के लिए यह घरेलू उपचार कर सकते हैं -

  1. जैतून का तेल नाखून बढ़ाने के लिए - Olive oil to grow nails in Hindi
  2. नारियल का तेल नाखून बढ़ाने के लिए - Coconut oil for nails growth in Hindi
  3. संतरे का रस नाखून बढ़ाने के लिए - Orange juice for nail growth in Hindi
  4. नींबू नाखून बढ़ाने के लिए - Lemon to grow nails in Hindi
  5. बायोटिन नाखून बढ़ाने के लिए - Biotin for nails in Hindi

नाखूनों को बढ़ाने के लिए उसे अच्छी तरह से माय्स्चुरिज़र लगा के गीला करना ज़रूरी है। जैतून का तेल इस काम के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। यह त्वचा और नाखून में गहराई से प्रवेश करता है और इस तरह आपके नाखूनों को पोषण देने में मदद करता है। साथ ही, इसमें विटामिन ई है जो, रक्त परिसंचरण में सुधार करता है, क्षतिग्रस्त नाखून की मरम्मत में मदद करता है और नाखून के विकास को बढ़ावा मिलता है।

  • सोने से पहले, अपने नाखून और क्यूटिकल्स के लिए गर्म जैतून का तेल लगायें और 5 मिनट तक धीरे धीरे मालिश करें| रात भर कपास के दस्ताने पहनें। इसे हर दिन करें।
  • आप 15 से 30 मिनट के लिए गर्म तेल में अपने नाखूनों को भिगोयें जिससे नाखूनों का विकास हो।

नारियल तेल स्वस्थ नाखून के विकास के लिए अच्छा माना जाता है। इसमें आपके नाखूनों को मोइस्त्ूरीज़ेड रखने के लिए और मजबूत रखने के लिए महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं। यह भी आपके क्यूटिकल्स को मजबूत करता है जो नाखून के विकास में महत्वपूर्ण होते हैं।

  • बिस्तर पर जाने से पहले गर्म शुद्ध नारियल तेल से अपने नाखूनों और हाथों की मालिश करें। परिपत्र गति में मालिश करें जिससे रक्त परिसंचरण में सुधार हो।
  • 1/4 कप नारियल तेल, 1/4 कप शहद और 4 बूँदें आवश्यक रोजमैरी तेल को मिलायें| 20 सेकंड के लिए माइक्रोवेव में गर्म करें| 15 मिनट के लिए इसमें अपने नाखूनों को भिगोयें। इस उपाय को एक या दो बार हर सप्ताह में उपयोग करें।

संतरे का रस भी नाख़ून के विकास को बढ़ावा देता है| इसमें विटामिन सी है जो कोलेजन के उत्पादन को प्रोत्साहित करता है और आपके नाखूनों को स्वस्थ करता है। इसके अलावा इसमें फोलिक एसिड है जो नाखून के विकास के लिए आवश्यक है।

  • कम से कम 10 मिनट के लिए ताजा संतरे के रस में अपने नाखून को भिगोना|
  • अपने नाखूनों को उसके बाद गर्म पानी से धोना, फिर सुखाना और कुछ माय्स्चुरिज़र लगाना|
  • हर दिन इस उपाय को करना जब तक आप परिणाम से संतुष्ट ना हों|

नींबू में विटामिन सी होता है जो नाखून के विकास के लिए आवश्यक है| इसके अलावा यह इलाज पीले नाखूनों को साफ करता है और नाखूनों को एक अच्छी चमक देता है।

  • नींबू के रस का 1 चम्मच और जैतून का तेल के 3 बड़े चम्मचों को साथ लेकर थोड़ा माइक्रोवेव में गर्म करें और फिर 10 मिनट के लिए इस में अपने नाखून भिगो लें| दैनिक इस उपाय का पालन करें।
  • आप हर दिन 5 मिनट के लिए अपने नाखूनों पर नींबू के एक टुकड़े से मालिश करें, फिर गर्म पानी से धो लें और सूखा लें| इसके बाद अच्छे से माय्स्चुरिज़र लगायें|

कई तरह के विटामिन स्वस्थ नाखून के विकास के लिए जरूरी हैं। ऐसा ही एक विटामिन है बायोटिन, जिसे विटामिन ह के रूप में भी जाना जाता है| यह केरातिन के बुनियादी ढांचे में सुधार करके नाखून और बालों के विकास को प्रोत्साहित करता है।

धीरे नाखून विकास के साथ-साथ, कमजोर पतली और भंगुर नाखूनों की तरह नाखून की असामान्यताएं अक्सर बायोटिन की कमी से जुड़ी हैं।

  • आप अंडे, साबुत अनाज, गाजर, टमाटर, सामन, बादाम, फूलगोभी, ककड़ी, दूध, सोयाबीन, स्ट्रॉबेरी, दाल, जई और अखरोट जैसे खाद्य पदार्थों से बायोटिन प्राप्त कर सकते हैं।
  • आप एक बायोटिन पूरक लेकर भी इसकी कमी को पूरा कर सकतें हैं लेकिन पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें|
और पढ़ें ...