myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

अगर हमें त्‍वचा से संबन्‍धित कोई समस्‍या या कोई ब्यूटी टिप्स की ज़रूरत होती है तो शायद हम सबसे पहले दादी माँ के बताए हुए घरेलू नुस्खों के बारे में सोचते हैं। उनके द्वारा बताए गए घरेलू नुस्खे हमेशा से कारगर रहे हैं। उनके बताए हुए तरीक़ो में हमेशा प्राकृतिक और जैविक चीज़ें ही शामिल होती हैं। हम अक्सर रसोई में रखे सामान को नजरअंदाज करते हैं। लेकिन वास्तव में ये बाज़ार में मिल रहे सौंदर्य उत्पादों की तुलना में बेहतर हैं, साथ ही इन्‍हें उपयोग करने से त्वचा पर कोई बुरा असर भी नहीं पड़ता है। यदि आपको अपने बालों को मज़बूत, त्‍वचा को खूबसूरत और डार्क सर्कल को ठीक करना है तो इसके लिए आज से ही दादी मां के ये घरेलू नुस्‍खे आज़माने शुरु कर दें जो निश्चित रूप से आपके लिए अद्भुभुत कार्य करेंगे।

  1. दादी माँ के नुस्खे फॉर फेयर स्किन - हल्दी
  2. सन टैनिंग से छुटकारा दिलाए नींबू और खीरे का रस
  3. मुँहासों को हटाए नींबू
  4. डार्क सर्कल्स को दूर करे आलू
  5. दादी माँ के नुस्खे फॉर ग्लोइंग स्किन - शहद
  6. बालों को मज़बूत बनाए आँवला
  7. बालों को लम्बा करें मेथी के दाने
  8. सफेद बालों से छुटकारा दिलाए गाजर का जूस
  9. सर्दियों में रूखी त्वचा की देखभाल करें मलाई से
  10. बेसन लगाना है तेलीय त्वचा के लिए फायदेमंद

 

हल्दी सुंदरता के लिए एक प्राचीन उपाय है। हल्‍दी में एंटी बैक्‍टीरियल, एंटीसेप्‍टिक और एंटीऑक्‍सीडेंट गुण होते हैं जो एक साथ मिल कर चेहरे पर पड़े दाग धब्बों को हटा कर मुँहासों से लड़ने में मदद करते हैं। यह आपकी त्वचा को चमकदार और गोरा भी बनाते हैं। हल्दी आसानी से हर भारतीय रसोई में मिल जाती है, इसलिए इसे अपने फेस पैक में ज़रूर शामिल करें।

(और पढ़ें – काले से गोरा रंग और सुंदर त्वचा पाएँ)

 

केमिकल ब्लीच और सन टैनिंग हटाना निश्चित रूप से अब कोई पुरानी बात नहीं है। हालांकि, हमारी दादी मां गंदगी और सन टैनिंग से छुटकारा पाने के लिए नींबू के रस और खीरे के रस के मिश्रण का उपयोग करती थीं। एक कटोरी में नींबू का रस और खीरे का रस मिक्‍स कर के चेहरे पर रूई से लगाएं। इन दोनों के रस में प्राकृतिक ब्लीचिंग घटक होते हैं जो कि किसी भी रासायनिक ब्लीच की तुलना में बेहतर काम कर सकते हैं।

 

पिंपल्स निश्चित रूप से चिंता का विषय हैं, खासकर जब ये किसी महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जाने से पहले हो जाते हैं। दादी मां कहती हैं - एक कटोरी में नींबू निचोड़ कर उसमें थोड़ा सा पानी मिक्‍स करके अपने चेहरे पर रूई से लगाएं। नींबू में एंटी बैक्‍टीरियल गुण होते हैं, जो ना सिर्फ मुँहासो को मिटाते हैं बल्‍कि आपके चेहरे को साफ और चमकदार बनाते हैं। 

(और पढ़ें – 15 मिनट में पाएं मुहांसों से छुट्टी)

 

दादी मां बताती हैं कि आलू, आंखों के नीचे पड़ने वाले काले घेरों और आंखों के आस पास की सूजन को दूर करने के लिए अच्छी तरह से काम करते हैं। आपको सिर्फ इतना करना है कि कच्‍चे आलू के टुकड़े करें, और उन्हे धो कर आंखों के नीचे लगभग 5-10 मिनट के लिए रख कर छोड़ दें। आपको तुरंत ही अंतर दिखाई देगा।

 

हम में से ज्यादातर अब चीनी की जगह शहद (प्राकृतिक स्वीटनर) का उपयोग करने लगे हैं, लेकिन हमारी दादी मां ने इसे फेस मास्क के रूप में इस्तेमाल किया है। अगर आपको अपने चेहरे को सोने सी सुंदर चमक देनी है तो उस पर शहद का लेप लगाना शुरू कर दें।

(और पढ़ें – शहद के फायदे और नुकसान)

 

अगर आपको अपने बालों को काला, लंबा और घना बनाना है, तो दादी मां आपको अपने आहार में आंवले को शामिल करने की सलाह देती हैं। आंवले में विटामिन सी और अन्य पोषक तत्व होते हैं, जो बालों को मज़बूती देते हैं। साथ ही इसके सेवन से रूसी और बालों के गिरने की समस्‍या भी दूर होती है।

(और पढ़ें – आंवला के गुण)

 

दादी मां बताती हैं कि रात में मुठ्ठीभर मेथी के दानों को पानी में भिगो कर रखने से और सुबह पीस कर पेस्‍ट बनाने के बाद सिर पर लगाने से बालों में मज़बूती आती है। इसमें प्रोटीन और निकोटिन एसिड होता है जो बालों के विकास को बढ़ाता है। इसमें मौजूद पोटैशियम से असमय सफेद हुए बाल काले होते हैं और लैसिथिन से बाल मज़बूत हो जाते हैं।

 

दादी मां बताती हैं कि यदि प्रतिदिन गाजर का जूस नियमित रूप से पिया जाए तो सफेद बालों से छुटकारा मिल सकता है। गाजर के रस में बहुत सारे पोषक तत्व (आवश्यक विटामिन और खनिज) होते हैं, जो शरीर और बालों को पोषण पहुंचाते हैं। गाजर का जूस आखों के लिए भी अच्‍छा होता है।

 

दादी मां ने अपने समय में ताज़ा मलाई को कोल्ड क्रीम के रूप में लगाकर इस्तेमाल किया है। सर्दियों के दिनों में रूखी त्‍वचा पर ताज़ा मलाई लगाने से त्‍वचा चमकदार और कोमल बनती है।

 

दादी मां का कहना है कि बेसन लगाना तेलीय त्वचा के लिए फायदेमंद है क्योंकि यह सेबम के उत्पादन को रोकती है। इसलिए आपको साबुन की जगह पर बेसन और दूध (या पानी) का पेस्‍ट बनाकर लगाना चाहिए।

दादी मां के सुझावों और इन सब प्राकृतिक उत्पादों के उपयोग से आप अपने बालों को मज़बूत और अपनी त्‍वचा को खूबसूरत रख सकते हैं। इसलिए इन मूल्यवान सुझावों के लिए, आप अपनी दादी मां का शुक्रिया अदा करना ना भूलें!

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें