पीरियड्स महिलाओं में होने वाली सामान्य व प्राकृतिक प्रक्रिया है. आमतौर पर 12 वर्ष की उम्र में पीरियड शुरू होते हैं, जो लगभग 50 की उम्र तक मेनोपॉज आने तक रहते हैं. औसतन मासिक धर्म चक्र 28 से 35 दिन का होता है, लेकिन महिला के गर्भवती होने से लेकर शिशु का जन्म होने तक पीरियड नहीं आते. स्पष्ट शब्दों में कहें, तो पीरियड के बिना प्रेगनेंसी संभव नहीं है, क्योंकि प्रेगनेंसी के लिए ओवुलेशन जरूरी है और ओवुलेशन के लिए पीरियड का आना जरूरी है.

आज इस लेख में हम पीरियड और प्रेगनेंसी के बीच संबंध के बारे में ही जानेंगे -

(और पढ़ें - पीरियड के कितने दिन बाद या पहले प्रेगनेंसी होती है)

  1. क्या बिना पीरियड गर्भावस्था संभव है?
  2. पीरियड और प्रेगनेंसी में संबंध
  3. सारांश
क्या महिला बिना पीरियड के गर्भवती हो सकती है? के डॉक्टर

नहीं, पीरियड इस बात का संकेत है कि महिला की प्रजनन क्षमता सही है. पीरियड के बिना कोई भी महिला गर्भवती नहीं हो सकती. मुख्य रूप से मासिक धर्म को 3 भागों में बांटा जा सकता है -

  • पहला भाग: ये मासिक धर्म के शुरुआती 12 से 14 दिन होते हैं. इस दौरान एग्स का विकास होता है.
  • दूसरा भाग: यह मासिक धर्म के लगभग 14वें दिन से शुरू होता है. इस दौरान एग्स ओवरी से निकलते हैं. इस प्रक्रिया को ओवुलेशन कहा जाता है.
  • तीसरा भाग: यह मासिक धर्म के लगभग 15वें से 25वें दिन के बीच होता है. ओवुलेशन के बाद प्रोजेस्टेरोन हार्मोन यूट्रस की लाइनिंग को एग्स को फर्टाइल करने के लिए तैयार करता है. यूट्रस की लाइनिंग को एंडोमेट्रियम कहा जाता है. इस प्रक्रिया के दौरान एंडोमेट्रियम का विकास होता है और इसका आकार मोटा होता जाता है, ताकि ये भ्रूण के लिए तैयार हो सके.

(और पढ़ें - अनियमित पीरियड्स में कैसे हों प्रेग्नेंट?)

अगर ओवुलेशन के बाद स्पर्म के जरिए एग्स फर्टाइल हो जाते हैं, तो महिला गर्भवती हो सकती है. फीमेल रिप्रोडक्शन सिस्टम में स्पर्म लगभग 5 दिन तक जीवित रह सकते हैं. अगर महिला प्रेग्नेंट हो जाती है, तो भ्रूण 7-10 दिन में यूट्रस की परत में इंप्लांट हो जाता है. इसके पोषण और विकास के लिए महिला के शरीर में कई बदलाव होने लगते हैं.

वहीं, अगर महिला गर्भवती नहीं होती है, तो शरीर में प्रोजेस्टेरोन हार्मोन का स्तर गिरना शुरू हो जाता है. इसकी वजह से यूट्रस की परत टूटने लगती है. इस प्रक्रिया को पीरियड कहते हैं. परत के निकलने के बाद ही अगला मासिक धर्म चक्र शुरू होता है. पीरियड न होने का संकेत होता है कि ओवुलेशन नहीं हो रहा है.

यदि ओवुलेशन होता है और महिला गर्भवती नहीं होती है, तो अगले पीरियड आने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है. वहीं, अगर कई महीनों से पीरियड नहीं आया है, या अनियमित है, या महिला गर्भवती नहीं हो पा रही है, तो डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए.

(और पढ़ें - मासिक धर्म में गर्भधारण हो सकता है क्या)

आमतौर पर ये माना जाता है कि जिस महिला को नॉर्मल तरीके से पीरियड नहीं आते हैं, तो वो महिला मां नहीं बन सकती, लेकिन ऐसा नहीं है. पीरियड के अनियमित होने पर भी डॉक्टर की सलाह पर ओवुलेशन का सही समय पता करके महिला मां बन सकती है. साथ ही इस बात को समझना भी जरूरी है कि बिना पीरियड आए किसी भी महिला का मां बनना संभव नहीं है.

(और पढ़ें - क्या प्रेगनेंसी में पीरियड्स होते हैं)

Dr. Hrishikesh D Pai

Dr. Hrishikesh D Pai

प्रसूति एवं स्त्री रोग
39 वर्षों का अनुभव

Dr. Archana Sinha

Dr. Archana Sinha

प्रसूति एवं स्त्री रोग
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Rooma Sinha

Dr. Rooma Sinha

प्रसूति एवं स्त्री रोग
25 वर्षों का अनुभव

Dr. Vinutha Arunachalam

Dr. Vinutha Arunachalam

प्रसूति एवं स्त्री रोग
29 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ