myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

नया कोरोना वायरस (सीओवीआईडी-19) इटली के अलावा अन्य यूरोपीय देशों में भी तेजी से फैल रहा है। यहां न सिर्फ इस वायरस के नए मामलों में बढ़ोतरी हुई है, बल्कि मौतों की संख्या में भी इजाफा हुआ है। इस सिलसिले में अब युनाइटेड किंगडम (इंग्लैंड, स्कॉटलैंड, वेल्स और उत्तरी आयरलैंड) का नाम भी शामिल हो गया है जहां कोरोना वायरस से दूसरी मौत की पुष्टि की गई है। बीते 24 घंटों में यहां 47 नए मामले सामने आए हैं। स्थानीय मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, यूके में एक दिन में सीओवीआईडी-19 के नए मामलों की यह सबसे बड़ी संख्या है। इसके साथ ही यहां कुल मामलों का आंकड़ा 164 हो गया है। इनमें 147 इंग्लैंड, 11 स्कॉटलैंड, चार उत्तरी आयरलैंड और दो वेल्स में हैं।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस के प्रकार)

इंग्लैंड पर मंडरा रहा स्वास्थ्य संकट का खतरा
जानकारों के मुताबिक, अंतरराष्ट्रीय रिपोर्टें इस ओर इशारा करती हैं कि यूके में कोरोना वायरस का संकट और ज्यादा बढ़ सकता है। दरअसल, कई विशेषज्ञों ने बताया है कि इंग्लैंड में कोरोना वायरस से निपटने के लिए पर्याप्त चिकित्सा सुविधाओं की कमी देखने मिल रही है। अमेरिका के चर्चित अखबार न्यूयॉर्क टाइम्स में प्रकाशित एक लेख में बताया गया है कि कैसे इंग्लैंड में कोरोना वायरस के मरीजों को अस्पतालों में बेड नहीं मिल पा रहे हैं, क्योंकि पहले से मौजूद बेड्स संदिग्ध मरीजों से भरे पड़े हैं। वहीं, उनके इलाज में लगे स्वास्थ्यकर्मियों के पास अपनी ही सुरक्षा का सामान नहीं है। लेख के मुताबिक, वायरस से बचने के लिए कुछ स्वास्थ्यकर्मियों को अपने पैसों से मास्क खरीदने पड़ रहे हैं। हालात ऐसे हैं कि अगर यूके में सीओवीआईडी-19 के मरीज और बढ़े तो डॉक्टरों के लिए स्थिति और ज्यादा विकट हो सकती है। तब उन्हें केवल उन मरीजों का इलाज करने का फैसला लेना पड़ सकता है, जिन्हें वायरस के संक्रमण से बचाया जा सकता है।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या एक लाख के पार)

इटली समेत पूरे यूरोप के लिए संकट बन रहा सीओवीआईडी-19
कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा बदहाल यूरोपीय देश इटली है। यहां इसके करीब 4,700 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। इनमें से 197 की मौत गई है और 462 की हालत गंभीर है। यह गौर करने वाली बात है कि बीते एक हफ्ते में दुनियाभर में कोरोना वायरस से प्रभावित हुए अधिकतर देशों में यह संक्रमण इटली से आया है। इन देशों में भारत और रूस जैसे गैर-यूरोपीय देश भी शामिल हैं।

बहरहाल, हालात अन्य यूरोपीय देशों में भी अच्छे नहीं हैं। जर्मनी में मंगलवार तक मरीजों की संख्या 180 थी। यह रिपोर्ट लिखे जाने तक वहां यह संख्या 670 हो चुकी थी। केवल तीन से चार दिन में यह आंकड़ा तीन गुना से ज्यादा हो गया है। आठ लोगों की स्थिति नाजुक बनी हुई है। हालांकि जर्मनी में अभी तक किसी व्यक्ति की मौत नहीं हुई है।

लेकिन फ्रांस में कोरोना वायरस ने नौ लोगों की जिंदगी ले ली है। बीते 24 घंटों में यहां 190 से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए हैं। इससे फ्रांस में कुल मामलों की संख्या 653 है। इनमें से 23 की हालत गंभीर बनी हुई है। इसके अलावा स्पेन में कोरोना वायरस से अब तक आठ लोगों की मौत हो चुकी है और कुल मामलों का आंकड़ा 408 हो गया है। दो अन्य यूरोपीय देशों स्विट्जरलैंड और नीदरलैंड में एक-एक व्यक्ति की मौत हुई है। यहां सीओवीआईडी-19 के मरीजों की संख्या (क्रमशः) 214 और 128 है।

(और पढ़ें - कोरोना वायरस से बचाव में साबुन ज्यादा कारगर है या सैनिटाइजर?)

इनके अलावा, स्वीडन (137), नॉर्वे (127), बेल्जियम (109), ग्रीस (45), आइलैंड (45), सैन मरीनो (23), फिनलैंड (15), पुर्तगाल (13), क्रूशिया (11), एस्टोनिया (10), रोमानिया (9), स्लोवेनिया (8), बेलारूस (6), पोलैंड (5), हंगरी (4), लक्समबर्ग (3), उत्तरी मेसिडोनिया (3), बोस्निया एंड हार्जेगोविना (3), एंडोरा (1), लिथुएनिया (1), मोनाको (1), सर्बिया (1) और स्लोवाकिया (1) जैसे यूरोपीय देशों में कोरोना वायरस पहुंच चुका है।  

अमेरिका में 15 की मौत, 7,000 मरीजों की ओर दक्षिण कोरिया
उधर, अमेरिका में नए कोरोना वायरस के 322 मरीज हो गए हैं। इनमें से 15 की मौत हो चुकी है। यहां कैलिफोर्निया बंदरगाह पर खड़े क्रूज शिप ग्रैंड प्रिंसेस में 21 लोगों के संक्रमित पाए जाने की पुष्टि हुई है। बताया गया है कि इस क्रूज शिप में करीब 1,150 यात्री और क्रू सदस्य सवार थे। इन सभी की मेडिकल जांच की जाएगी। हालात बिगड़ते देख अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने अपने नागरिकों को कहा है कि वे विदेश की यात्रा करने से पहले पुनर्विचार करें।

वहीं, दक्षिण कोरिया में कोरोना वायरस के केसों का बढ़ना जारी है। इस स्वास्थ्य संकट के चलते यहां अब तक 44 लोगों की मौत हो चुकी है। ताजा जानकारी के मुताबिक, दक्षिण कोरिया में अब तक 6,767 मामलों की पुष्टि हो चुकी है। शुक्रवार को 174 नए मरीज सामने आए। उधर, ईरान में मरने वालों का आंकड़ा 124 हो गया है। वहां सीओवीआईडी-19 के मामलों की संख्या 4,700 से ज्यादा है।

(और पढ़ें - क्या डेटॉल से खत्म हो सकता है कोरोना वायरस?)

चीन में नए मामलों का आंकड़ा 100 के नीचे
उधर, चीन में कोरोना वायरस के नए मामलों की संख्या पहली बार सौ नीचे देखी गई है। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, शुक्रवार को यहां केवल 99 नए मामले दर्ज किए गए। बता दें कि चीन में कोरोना वायरस 80,000 से ज्यादा मरीज हैं। इनमें से 3,070 से ज्यादा की मौत हो चुकी है। वहीं, 5,000 से ज्यादा की हालत नाजुक बनी हुई है। हालांकि 55,000 से ज्यादा मरीजों को बचा लिया गया है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें