डायबिटीज से ग्रसित मरीजों के ब्लड शुगर में उतार-चढ़ाव की परेशानी अक्सर बनी रहती है. खासतौर से इस समस्या से ग्रसित व्यक्ति के शरीर में शुगर का स्तर ज्यादा रहने की आशंका रहती है. ऐसे में मरीज को कई तरह के नुकसान होने की आशंका रहती है. ऐसे लोगों में खाने से पहले और खाने के बाद शुगर के स्तर में भारी अंतर देखने को मिल सकता है. आमतौर पर खाना खाने के बाद शुगर का स्तर काफी बढ़ सकता है.

आज इस लेख में हम यह जानेंगे कि खाना खाने के 2 घंटे बाद शुगर का स्तर कितना होना चाहिए -

(और पढ़ें - नार्मल शुगर लेवल)

  1. खाना खाने के 2 घंटे बाद शुगर लेवल
  2. सारांश
खाना खाने के 2 घंटे बाद शुगर लेवल कितना होना चाहिए? के डॉक्टर

डायबिटीज से ग्रसित मरीजों के ब्लड में शुगर का स्तर ऊपर-नीचे होता रहता है. इसलिए, ऐसे लोगों को समय-समय पर अपना शुगर लेवल चेक करते रहना चाहिए और उसे एक जगह नोट भी करना चाहिए. बेशक, खाना खाने से पहले और खाना खाने के बाद शुगर लेवल के बीच काफी अंतर होता है. ये अंतर स्वस्थ व्यक्ति में भी देखने को मिल सकता है, लेकिन इसकी भी एक तय सीमा है. यहां हम सामान्य और डायबिटीज से ग्रस्त मरीज के शुगर लेवल के बारे में बता रहे हैं. उससे पहले हम यह स्पष्ट कर दें कि हर व्यक्ति का शुगर लेवल अलग-अलग होता है. इसलिए, यहां हम औसतन शुगर रेंज के बारे में बता रहे हैं -

स्वस्थ व्यक्ति

  • खाना खाने से पहले यानी करीब 8 घंटे तक खाली पेट रहने के बाद सुबह ब्लड शुगर लेवल लगभग 70 से 80 mg/dL के बीच हो सकता है. वहीं, कुछ लोगों का शुगर लेवल 60 से 90 mg/dL के मध्य भी हो सकता है. 
  • भोजन करने के 2 घंटे बाद स्वस्थ व्यक्ति का शुगर लेवल 140 mg/dL या इससे कम हो सकता है.

(और पढ़ें - शुगर का आयुर्वेदिक इलाज)

डायबिटीज रोगी

  • फास्टिंग यानी करीब 8 घंटे तक कुछ न खाने के बाद सुबह टेस्ट कराने पर डायबिटीज से ग्रस्त मरीज का शुगर लेवल 80 से 130 mg/dL तक रह सकता है. इस रेंज को सामान्य माना जाता है यानी मरीज को चिंता करने की जरूरत नहीं होती है.
  • वहीं, अगर भोजन करने के 2 घंटे बाद शुगर लेवल 180 mg/dL या इससे कम आता है, तो घबराने की बात नहीं होती है. इससे ज्यादा होने पर डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए.
  • बेहतर तो यही होगा कि नियमित रूप से व्यायामयोगसुबह-शाम की सैर और खाने-पीने पर नियंत्रण रखना चाहिए. इन बातों का पालन करने से स्वस्थ व्यक्ति उच्च शुगर स्तर से बचे रह सकते हैं. वहीं, डायबिटीज से ग्रस्त मरीज अपने शुगर को नियंत्रित रख सकते हैं.

(और पढ़ें - शुगर की होम्योपैथिक दवा)

सामान्य व्यक्ति का खाना खाने के दो घंटे बाद व्यक्ति का शुगर लेवल 140 mg/dL होना चाहिए. हालांकि, कुछ व्यक्तियों के शुगर लेवल में अंतर हो सकता है. ध्यान रखें कि अगर आपके शरीर का शुगर लेवल कम या ज्यादा हो, तो इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें, ताकि गंभीर स्थितियों से बचा जा सके.

(और पढ़ें - डायबिटीज में परहेज)

Dr. Alka jha

Dr. Alka jha

एंडोक्राइन ग्रंथियों और होर्मोनेस सम्बन्धी विज्ञान
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Narayanan N K

Dr. Narayanan N K

एंडोक्राइन ग्रंथियों और होर्मोनेस सम्बन्धी विज्ञान
16 वर्षों का अनुभव

Dr. Tanmay Bharani

Dr. Tanmay Bharani

एंडोक्राइन ग्रंथियों और होर्मोनेस सम्बन्धी विज्ञान
15 वर्षों का अनुभव

Dr. Sunil Kumar Mishra

Dr. Sunil Kumar Mishra

एंडोक्राइन ग्रंथियों और होर्मोनेस सम्बन्धी विज्ञान
23 वर्षों का अनुभव

ऐप पर पढ़ें