myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

आयुर्वेद में शुगर की बीमारी को मधुमेह कहा जाता है। आयुर्वेद के अनुसार मधुमेह मुख्य रूप से तब होता है जब शक्कर, फैट, चावल, आलू, डेयरी उत्पाद आदि के उच्च सेवन के कारण कफ दोष बढ़ जाता है। आयुर्वेद कफ दोष को संतुलित करके इस रोग का उपचार करता है। आयुर्वेदिक दवाएं स्वस्थ रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में बहुत प्रभावी होती हैं जिससे आपको एक स्वस्थ जीवन जीने में मदद मिलती है। तो आइये जानते हैं मधुमेह के लिए कुछ आयुर्वेदिक उपचारों के बारे में -

  1. शुगर (मधुमेह) के लिए आयुर्वेदिक दवा - Ayurvedic medicine for sugar (diabetes) in hindi
  2. शुगर (मधुमेह) के लिए जड़ी बूटियाँ - Ayurvedic Herbs for sugar (diabetes) in hindi
  3. शुगर की आयुर्वेदिक दवा और इलाज के डॉक्टर

चन्द्रप्रभा वटी के लाभ करें डायबिटीज का आयुर्वेदिक इलाज - Chandraprabha Vati for Diabetes in Hindi

यह डायबिटीज के उपचार में व्यापक रूप से उपयोग की जाने वाली एक आयुर्वेदिक टैबलेट है। यह टाइप 2 डायबिटीज के लिए बहुत उपयोगी है क्योंकि इससे शरीर को इंसुलिन का उपयोग करने में मदद मिलती है। इसके अलावा, यह डायबिटीज न्यूरोपैथी में बहुत सहायक है। यदि मूत्र परेशानियां आपको परेशान कर रही हैं, तो आपके लिए चन्द्रप्रभा वटी सबसे प्रभावी उपाय है। आप भोजन के बाद दूध या पानी के साथ दिन दो बार 500 mg टेबलेट्स का सेवन कर सकते हैं।

मधुमेह का आयुर्वेदिक उपचार है त्रिफला चूर्ण - Triphala Churna Benefits for Diabetes in Hindi

मधुमेह सहित कई स्वास्थ्य स्थितियों में त्रिफला चूर्ण बहुत प्रभावी है। यह विशिष्ट रूप से तीन शक्तिशाली आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों - आंवलाहरड़ और बहेड़ा को मिलाकर हृदय को मजबूत करने और रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में प्रभावी है। यह अग्न्याशय के कामकाज को उत्तेजित करता है और स्वस्थ इंसुलिन स्राव में मदद करता है। इसके सेवन से पहले एक आयुर्वेदिक चिकित्सक से खुराक के लिए परामर्श करें।

वसंत कुसुमाकर रस के फायदे करें शुगर का आयुर्वेदिक इलाज - Vasant Kusumakar Ras for Diabetes in Hindi

यह आयुर्वेदिक दवा विशेष रूप से शुगर रोगियों के लिए तैयार की गई है। रक्तप्रवाह में रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए यह एक बहुत ही अच्छा उपाय है। यह डायबिटीज न्यूरोपैथी और रेटिनोपैथी में भी बहुत प्रभावी है। इसकी खुराक लेने की सलाह वजन, उम्र, गंभीरता और बीमारी आदि की अवधि को ध्यान में रखकर दी जाती है, इसलिए इसे लेने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें। चूंकि इसमें भारी सामग्री के रूप में भारी धातुएं भी हैं, इसलिए गर्भवती महिलाओं और बच्चों को इसके उपयोग से बचना चाहिए।

असनाद है शुगर (मधुमेह) का आयुर्वेदिक उपाय - Asanad Tablets Help with Diabetes in Hindi

असनाद की गोलियाँ सहायक होती हैं अगर शुगर मोटापा या घाव से जुड़ा हुआ है। यह टेबलेट्स न केवल रक्त में शर्करा स्तर को बनाए रखने में बल्कि मूत्र में भी मदद करेगी। यह शुगर से संबंधित लक्षणों को कम करती है और जटिलताओं को रोकती है। आप अपने 1-2 गोलियां दिन में 2-3 बार गर्म पानी के साथ या चिकित्सक द्वारा निर्देशित रूप में ले सकते हैं।

शुगर रोगियों के लिए आयुर्वेदिक दवा है धात्री निशा वटी - Dhatri Nisha Vati for Diabetes Treatment in Hindi

धात्री निशा वटी शुगर रोगियों के लिए एक शक्तिशाली आयुर्वेदिक दवा है और साथ ही जो शुगर की वजह से आंखों की समस्या से पीड़ित हैं उनके लिए लाभकारी है। शुगर के उपचार के लिए यह दो शक्तिशाली जड़ी-बूटियों के मिश्रण से बनती है - आंवला और हल्दी। यह शरीर में शुगर के खिलाफ काम करने और शर्करा के स्तर को कम करने में शरीर की मदद करती है। आप दैनिक रूप से दो बार दो गोलियों का सेवन करें या डॉक्टर द्वारा निर्देशित रूप में लें।

शिलाजीत वटी के फायदे शुगर (मधुमेह) में - Shilajit Vati Uses for Diabetes in Hindi

शिलाजीत को आयुर्वेदिक ग्रंथों में 'कमजोरियों के विनाशक' के रूप में परिभाषित किया गया है और यह जीवनभर रहने वाले शुगर (मधुमेह) जैसे रोगों में बहुत उपयोगी है। इसके सेवन से रक्त शर्करा का स्तर नियंत्रण में रहता है और यह डायबिटीज न्यूरोपैथी में भी उपयोगी है। यह चयापचय प्रक्रिया को नियंत्रित करता है और यह चयापचय संबंधी विकार से निपटने में भी सहायक है। और अगर आप किसी भी यौन समस्या से पीड़ित हैं तो आपके लिए शिलाजीत सबसे अच्छा विकल्प है। आप दिन में दो बार 1-2 गोलियां शिलाजीत की ले सकते हैं या इसका सेवन चिकित्सक द्वारा निर्देशित रूप में करें।

अमृतादि गुग्गुल है शुगर के लिए प्रभावी उपाय - Amrutadi Guggul is Effective for Diabetic Care in Hindi

अमृतादि गुग्गुलु मधुमेह के लिए एक बहुत प्रभावी उपाय है। यह खून में स्वस्थ स्तर को बनाए रखता है और शुगर यूरिन को कम कर देता है। यह कमजोरी से लड़कर शरीर से थकान को दूर करता है और इसके एंटी-डायबिटिक प्रभाव एक स्वस्थ जीवन को सुनिश्चित करते हैं। यह मधुमेह के कारण वजन और स्वास्थ्य संबंधी जटिलताओं को रोकने में बहुत उपयोगी है। आप 5-10 ग्राम अमृतादि गुग्गुलु का रोजाना दो से तीन बार उपभोग कर सकते हैं। (और पढ़ें – थकान कम करने के घरेलू उपाय)

डायबिटीज का आयुर्वेदिक उपचार करें मधुनाशिनी वटी के फायदे - Madhunashini Vati Reduces the Sugar Level in Hindi

'मधु' का मतलब है चीनी और 'नाशिनी' का अर्थ विनाशक है। मधुमेह रोगियों के लिए यह आयुर्वेदिक दवा बहुत फायदेमंद है। यह खून में चीनी स्तर को कम करने में मदद करती है और अग्न्याशय के कार्यों का समर्थन करती है, इस प्रकार यह इंसुलिन के स्राव को नियंत्रित करती है। आप दैनिक रूप से दिन में दो बार एक से दो मधुनाशिनी गोलियों का सेवन कर सकते हैं। स्वाभाविक रूप से अपनी जरूरत और मधुमेह के अनुसार सबसे अच्छी आयुर्वेदिक दवा चुनें। लेकिन सुनिश्चित करें कि आप इन दवाईयों के सेवन से पहले आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श करें।

आधुनिक जीवन शैली ने कई बीमारियों को जन्म दिया है। प्राचीन समय में लोग स्वस्थ आहार खाते थे, स्वच्छ हवा में साँस लेते थे और सबसे महत्वपूर्ण बात, वे शारीरिक गतिविधियों में हिस्सा लिया करते थे। लेकिन आजकल हम कंप्यूटर के सामने काम करने लगे हैं और घर के बने स्वस्थ खाना खाने की बजाय अस्वस्थ जंक फूड की ओर बढ़ रहे हैं। शारीरिक गतिविधियों, तनाव और अच्छे आहार की कमी ने कई बीमारियों को जन्म दिया है। हाल के वर्षों में मधुमेह एक आम स्वास्थ्य समस्या बन गई है जो प्रतिवर्ष दुनिया भर में लाखों लोगों को अपना शिकार बनाती जा रही है। मुख्य रूप से कफ दोष मधुमेह के लिए ज़िम्मेदार होता है। मधुमेह एक आजीवन रोग है जो पूरे जीवन के लिए रासायनिक संसाधित गोलियाँ या दवाएं लेने के लिए मजबूर करता है जिसके स्वास्थ्य पर कई दुष्प्रभाव हो सकते हैं। यही कारण है कि हम कफ को शांत करने वाली जड़ी बूटियो के बारे में बता रहे हैं जो कि आपके ग्लूकोज को विनियमित करने और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद कर सकती हैं।

  1. मधुमेह का घरेलू उपचार है विजयसार - Vijaysar for diabetes in Hindi
  2. शुगर का देसी इलाज है गुड़मार - Gurmar for diabetes in Hindi
  3. डायबिटीज का आयुर्वेदिक इलाज है त्रिफला - Triphala for diabetes in Hindi
  4. मधुमेह का उपचार है जामुन - Jambul for diabetes in Hindi
  5. डायबिटीज की दवा है करेले का रस - Bitter Gourd Juice for diabetics in Hindi
  6. डायबिटीज़ का निदान होगा शिलाजीत से - Shilajit for diabetes in Hindi
  7. मधुमेह का घरेलू इलाज है हल्दी - Turmeric for diabetes in Hindi
  8. नीम के पत्ते के औषधीय गुण मधुमेह के लिए - Neem for diabetes in Hindi
  9. मधुमेह नियंत्रित करने का उपाय है मेथी के बीज - Fenugreek for diabetes in Hindi
  10. उच्च शर्करा से लड़ने में करेंगे मदद बेल के पत्ते - Bel Leaves for diabetes in Hindi

मधुमेह का घरेलू उपचार है विजयसार - Vijaysar for diabetes in Hindi

विजयसार पेड़ की छाल मधुमेह रोगियों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। यह न केवल रक्त में शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करती है, बल्कि इंसुलिन के स्राव को बढ़ावा देने और शरीर से अतिरिक्त वसा को बाहर निकालने में प्रभावी है। यह रक्त में स्वस्थ लिपिड स्तर को बनाए रखती है और मधुमेह के साथ जुड़ी विभिन्न जटिलताओं से भी बचाती है। आयुर्वेदिक ग्रंथों और आधुनिक वैज्ञानिक शोध के अनुसार विजयसार मधुमेह के लिए एक उत्कृष्ट जड़ी बूटी है। आप पानी के साथ इसकी छाल के चूर्ण या पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। आप हर्बल छाल गिलास भी पी सकते हैं। बस बिस्तर पर जाने से पहले हर्बल छाल गिलास में पानी भरें और इसे रात भर छोड़ दें। अगली सुबह यह पानी पिएं जिसका रंग अब तक भूरे रंग में बदल चुका होगा। यह मधुमेह रोगियों के लिए एक विशेष उपाय है।

शुगर का देसी इलाज है गुड़मार - Gurmar for diabetes in Hindi

हिंदी में गुड़मार का मतलब है 'चीनी का नाश' और पारंपरिक रूप से गुड़मार मधुमेह के इलाज के लिए आयुर्वेद में इस्तेमाल किया जाता है। यह रक्त में शर्करा के स्तर को कम करने और शरीर में इंसुलिन बढ़ने में सहायक होता है। यह अवशोषण और वसा में चीनी के रूपांतरण की प्रक्रिया को धीमा कर देता है। यह शरीर की चयापचय गतिविधियों का समर्थन करता है, वज़न का संतुलन बनाए रखने में सहायक होता है और रक्त में कोलेस्ट्रॉल के सही स्तर को भी बनाए रखता है। दैनिक रूप से गुड़मार की कुछ पत्तियों को चबाना या 400 मिलीग्राम गुड़मार चूर्ण से चाय बनाकर पीना आपके रक्त प्रवाह में चीनी मारने के लिए काफी है।

डायबिटीज का आयुर्वेदिक इलाज है त्रिफला - Triphala for diabetes in Hindi

त्रिफला रोगों के इलाज के लिए आयुर्वेद में सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल की जाने वाली जड़ी बूटियों में से एक है। जैसा की इसके नाम से पता चलता है कि यह तीन फलों का एक संयोजन है। ये सभी तीन शक्तिशाली जड़ी बूटी हैं और त्रिफला इन तीनों के बहुमूल्य औषधीय गुनो को मिलाती है। यह अग्न्याशय के कामकाज का समर्थन करती है और इंसुलिन के स्राव को बढ़ावा देती है। आप गर्म पानी के साथ 1-2 चम्मच त्रिफला चूर्ण का उपभोग कर सकते हैं या यह बेहतर होगा अगर आप इसे लेने से पहले एक विशेषज्ञ या डॉक्टर से परामर्श करें। (और पढ़ें – आंवला के फायदे, गुण, लाभ, नुकसान)

मधुमेह का उपचार है जामुन - Jambul for diabetes in Hindi

जामुन या काले बेर में ग्लाइकोसाइड होता है जो रक्त शर्करा के स्तर पर रोक लगाने में मदद करता है। यह मधुमेह के लिए एक शक्तिशाली जड़ी बूटी के रूप में कार्य करता है और चीनी को ऊर्जा में परिवर्तित करके मधुमेह के प्रभाव को ख़त्म करता है। तो जल्दी से अपने रसोई घर की ओर जाएँ और जामुन के बीजों को पीसकर एक महीन पाउडर बनाएं और दैनिक रूप से 3 ग्राम पाउडर मट्ठे के साथ दो बार लें।

डायबिटीज की दवा है करेले का रस - Bitter Gourd Juice for diabetics in Hindi

हर सुबह खाली पेट एक कप करेला का रस पीने से शर्करा के स्तर को कम करने में मदद मिलती है और लगातार पेशाब से राहत भी मिलती है। इसमे एक सक्रिय घटक है जिसे चरन्तिन (charantin) कहते हैं जो सबसे अधिक प्रभावी रूप से रक्त में शर्करा के स्तर को कम करने में मदद करता है। आप इसके बीज को बाहर निकालकर एक महीन करेला पाउडर बनाकर दैनिक रूप से इसका उपभोग भी कर सकते हैं। 

डायबिटीज़ का निदान होगा शिलाजीत से - Shilajit for diabetes in Hindi

शिलाजीत रक्त में ग्लूकोज़ को जमा होने से रोकता है और स्वस्थ रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करता है। यही कारण है कि यह 'मधुमेह विनाशक' के रूप में भी जाना जाता है। यह अग्न्याशय के कामकाज और इंसुलिन के स्राव को बढ़ावा देने में मदद करता है और बाहरी इंसुलिन पर निर्भरता कम करने में भी सहायक है। यह मधुमेह तंत्रिकाविकृति (neuropathy ) में उपयोगी है और यह मधुमेह की वजह से थकान पर काबू पाने में भी मदद करता है। आप दैनिक रूप से 100mg शिलाजीत चूर्ण का उपभोग कर सकते हैं।(और पढ़ें – शिलाजीत के आयुर्वेदिक गुण)

मधुमेह का घरेलू इलाज है हल्दी - Turmeric for diabetes in Hindi

हल्दी अपनी शक्तिशाली चिकित्सा शक्तियों के लिए जानी जाती है और हर किसी के रसोई घर में इसका अपना विशेष स्थान है। यह रक्त में शर्करा के स्तर को कम करती है और मधुमेह के मूल कारणों को हल करने में भी मदद करती है। प्रभावी और जल्दी परिणाम के लिए आँवला और हल्दी को मिला सकते हैं। बस आप अपने आहार में हल्दी की 2-3 ग्राम खुराक शामिल करे और इसके लाभ का आनंद लें।

नीम के पत्ते के औषधीय गुण मधुमेह के लिए - Neem for diabetes in Hindi

नीम के पत्ते औषधीय मूल्य से भरे हुए हैं और ये आसानी से उपलब्ध भी हो जाते हैं। नीम कफ दोष का संतुलन बनाए रखता है और इंसुलिन अर्क पर निर्भरता को कम करता है। वैदिक और पारंपरिक स्वास्थ्य से संबंधित शास्त्रों में उल्लेख किया गया है कि नीम मधुमेह की हालत में सुधार करता है। यह न केवल शरीर में शर्करा के स्तर को कम करता है, बल्कि रक्त के प्रवाह को सामान्य बनाकर हृदय विकार जैसी जटिलताओं को रोकने में भी मदद करता है। आप नीम के 4-5 पत्ते चबा सकते हैं या इनका रस भी पी सकते हैं। (और पढ़ें – नीम के फायदे और नुकसान)

मधुमेह नियंत्रित करने का उपाय है मेथी के बीज - Fenugreek for diabetes in Hindi

मेथी के बीज में ट्राइगोनैलीन (trigonelline) और अल्कालॉयड (alkaloid) होते हैं जो रक्त से अधिक मूत्र बाहर कर रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में सहायक हैं। यह पाचन और कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण की प्रक्रिया को भी धीमा करते हैं और शरीर के शर्करा या ग्लूकोज़ के इस्तेमाल करने के तरीके में सुधार लाते हैं। मेथी के बीजों को पीसकर एक महीन पाउडर बनाएं और रोज़ सुबह एक चम्मच का सेवन करें। आप इसकी चाय भी पी सकते हैं या इसे अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं। लेकिन आपको इसके उपयोग से बचना चाहिए जब आप गर्भ धारण करने की कोशिश कर रहे हों, गर्भवती हों या बच्चे को जन्म दिया हो। दूसरों के लिए वैसे यह सुरक्षित है पर 6 महीने से अधिक इसके उपयोग से बचना चाहिए।

उच्च शर्करा से लड़ने में करेंगे मदद बेल के पत्ते - Bel Leaves for diabetes in Hindi

अगर आप अपने उच्च रक्त शर्करा के स्तर के बारे में चिंतित हैं, तो जल्दी से बेल के कुछ पत्ते तोड़े और उन्हें पीसकर उनका रस निकालें (लगभग 20 ml)। इसमे काली मिर्च की एक चुटकी मिलाएं और यह आपके रक्त में उच्च शर्करा से लड़ने में मदद करेगा।

जड़ी बूटियाँ मधुमेह के उपचार के लिए एक शक्तिशाली उपाय हैं। इन जड़ी बूटियों के नियमित रूप से उपयोग और साथ ही व्यायाम या योग करने से आप एक स्वस्थ और सुखी जीवन व्यतीत कर सकते हैं।

 Dr. Sarita Singh

Dr. Sarita Singh

आयुर्वेदा

Dr. Amit Kumar

Dr. Amit Kumar

आयुर्वेदा

Dr. Parminder Singh

Dr. Parminder Singh

आयुर्वेदा

और पढ़ें ...