myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

डायग्नोस्टिक एजेंट क्या होता है?

डायग्नोस्टिक एजेंट ऐसे पदार्थ होते हैं जो शरीर के सामान्य कार्य में बदलाव या गड़बड़ का पता लगाने में मदद करते हैं। ये ऐसे केमिकल होते हैं जो शरीर के ऊतकों और अंगों की जांच में मदद करते हैं ताकि बीमारी या समस्या का पता चल सके। इन केमिकल का कोई औषधीय उपयोग नहीं होता है, ये बीमारी की जांच करने से पहले व्यक्ति को दिए जाते हैं ताकि जांच आसानी से और सटीक हो पाए।

डायग्नोस्टिक एजेंट के कितने प्रकार होते हैं?

डायग्नोस्टिक एजेंट के कई प्रकार होते हैं जो जांच के तरीके के आधार पर दिए जाते हैं। इन दवाओं को या तो व्यक्ति को इंजेक्शन से दिया जाता है या व्यक्ति को इनकी गोलियां खाने के लिए दी जाती हैं। जैसे - एक्स रे को साफ दिखाने वाले एजेंट, अंगों के कार्य जांच करने में मदद करने वाले एजेंट और खून की मात्रा की जांच करने के लिए उपयोग किए जाने वाले केमिकल।

(और पढ़ें - खून की जांच कैसे होती है)

डायग्नोस्टिक एजेंट कैसे काम करते हैं?

हर प्रकार के डायग्नोस्टिक एजेंट का काम करने का तरीका अलग होता है। "ट्राजोगैस्ट्रो" (Trazogastro) नामक डायग्नोस्टिक एजेंट का प्रयोग एक्स रे या सीटी स्कैन के लिए किया जाता है। ये केमिकल पेट, खाने की नली और आंत के कुछ भागों को कवर करता है, लेकिन अवशोषित नहीं होता, जिसके कारण डॉक्टर आसानी से एक्स रे या सीटी स्कैन में इन अंगों को देख पाते हैं। इसके अलावा "गैडोपेन्टेटिक एसिड" (Gadopentetic acid) का उपयोग एमआरआई में किया जाता है और इससे रीढ़ की हड्डी, दिमाग, लिवर, हड्डियां, ब्रेस्ट और ऊतकों की बीमारियों को देखा जा सकता है।

डायग्नोस्टिक एजेंट के दुष्प्रभाव क्या होते हैं?

कुछ डायग्नोस्टिक एजेंट के दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं। हर डायग्नोस्टिक एजेंट के अलग-अलग दुष्प्रभाव होते हैं, जैसे ट्राजोगैस्ट्रो डायग्नोस्टिक एजेंट के कारण व्यक्ति को दौरे, सांस लेने में दिक्कत या छाती में भारीपन महसूस हो सकता है। गैडोपेन्टेटिक एसिड के मुख्य दुष्प्रभाव हैं इंजेक्शन की जगह पर रिएक्शन होना, किडनी फेलियर और नेफ्रोजेनिक सिस्टेमिक फाइब्रोसिस (Nephrogenic systemic fibrosis)।

(और पढ़ें - मिर्गी के दौरे क्यों आते हैं)

  1. डायग्नोस्टिक एजेंट की दवा - Medicines for Diagnostic agent in Hindi

डायग्नोस्टिक एजेंट की दवा - Medicines for Diagnostic agent in Hindi

डायग्नोस्टिक एजेंट के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
EldoperEldoper 2 Mg Tablet19
TrazografTrazograf 0.66gm/0.1gm Infusion758
AngiografinAngiografin 0.65 G Infusion119
TrazogastroTrazogastro 76% Solution245
UrografinUrografin 60% Injection164
UrovisonUrovison 58% Infusion356
Fluore StainFluore Stain 0.45 Mg Strips272
FluresinFluresin 600 Mg Injection44
RetigraphRetigraph 20% Injection57
ContrapaqueContrapaque 240 Mg Infusion771
OmnipaqueOmnipaque 300 Mg Injection633
UltravistUltravist 0.623 Gm Infusion1263
Magnevist I.V.Magnevist I.V. 469 Mg Injection1324
MagnilekMagnilek Injection2653
Aminodrip (Baxter India)Aminodrip Infusion99

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. Oriental Journal of Chemistry. Diagnostic Agents-Types and Applications: A Discussion. Bhopal, India. [internet].
  2. SRM Institute of Science and Technology. Diagnostic Agents. India. [internet].
  3. Oriental Journal of Chemistry. Diagnostic Agents-Types and Applications: A Discussion. Bhopal, India. [internet].
  4. Rasayan journal of chemistry. Diagnostic Agents - Types and application: A discussion. Jaipur, India. [internet].
  5. U.S food and drug administration. In Vitro Diagnostics. US. [internet].
और पढ़ें ...