myUpchar प्लस+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

जब आप शाम को काम से घर लौटते हैं तो लिफ्ट की बजाये सीढ़ियों से चढ़कर अपने अपार्टमेंट में जाएं।  सुबह अपने घर से निकलते समय और ऑफिस पहुंचकर लिफ्ट की जगह सीढ़ियों को चुनें। यह न केवल आपके लिए बहुत अच्छा वर्कआउट है बल्कि आपको इससे कई सेहत से जुड़ी समस्याओं से भी निजात मिल सकती है। अभिनेता अक्षय कुमार लगभग हर रोज यह करते हैं। अक्षय कुमार जिमिंग के लिए "प्राकृतिक व्यायाम" करना पसंद करते हैं। फिल्म बॉस में सही शेप में आने के लिए, दिन में दो बार 50 सीढ़ियां चढ़ते थें। तो आइए जानते हैं सीढ़ियां चढ़ने के स्वास्थ्य लाभों के बारे में - 

  1. सीढ़ी चढ़ने के फायदे वजन कम करने के लिए - Walking Stairs to Lose Weight in Hindi
  2. सीढ़ी चढ़ना बनाए लेग्स को टोन - Stair Climbing for Toned Legs in Hindi
  3. सीढ़ियों पर चढ़ना करें रक्त शर्करा को कम - Stairs Climbing for Blood Sugar in Hindi
  4. सीढ़ी चढ़ने के लाभ हैं स्टैमिना बढ़ाने के लिए - Stair Climbing for Stamina in Hindi
  5. सीढ़ी चढ़ना है एक एक्सरसाइज - Stair climbing as exercise in Hindi

अध्ययन ने साबित किया है कि सीढ़ी-चढ़ाई जॉगिंग की तुलना में प्रति मिनट अधिक कैलोरी बर्न करती है। 54 किलो वजन वाला व्यक्ति 30 मिनट के लिए सीढ़ियों पर चढ़ाई करें तो वह 220 कैलोरी जलाता है, जबकि उच्च प्रभाव वाले एरोबिक्स के दौरान केवल 190 कैलोरी जलाता है। कनाडा में शोधकर्ताओं ने पाया कि सीढ़ियां चढ़ने पर तेज चलने और वेट लिफ्टिंग से दोगुना ज़ोर लगता है। यही वजह है कि ज्यादातर लोग चलने की तुलना में सीढ़ियों पर चढ़ते समय हाँफते हैं।

सीढ़ी-चढ़ाई विशेष रूप से उन लोगों के लिए उपयोगी होती है जो निचले शरीर में कई मांसपेशियों के रूप में एक स्लिम बॉटम पाना चाहते हैं - जिसमें क्वॉड्रसिप्स, पिंडली, ग्लूट्स, हिप्स और हैमस्ट्रिंग शामिल हैं। इससे पैर की हड्डियां भी मजबूत और ठोस होती हैं, क्योंकि वे गुरुत्वाकर्षण के खिलाफ चलते समय शरीर के वजन को सहन करती है।

सीढ़ियों पर चढ़ना रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है और फेफड़े की क्षमता और हृदय स्वास्थ्य में सुधार करता है। डॉक्टर कहते हैं कि एक दिन में तीन बार सिर्फ 10 मिनट के लिए सीढ़ियों पर चढ़ना आपका दिल ज्यादा मजबूत बना सकता है, जिससे यह आपके मांसपेशियों के फाइबर को ऑक्सीजन-समृद्ध रक्त प्रदान कर सकता है। इससे समग्र स्वास्थ्य और ऊर्जा स्तर में सुधार होता है।

यह शारीरिक धीरज के स्तर को बढ़ाने का एक और त्वरित तरीका है। शुरू में सीढ़ियों पर चढ़ते हुए आपको थकान हो सकती है और आपकी सांस फूल सकती है। लेकिन धीरे-धीरे करते रहने से आपको पता चल जाएगा कि आपके स्टैमिना में वृद्धि हुई है। (और पढ़ें – थकान कम करने के घरेलू उपाय)

आज के समय में एक्सरसाइज के लिए समय निकाल पाना बहुत ही कठिन हो गया है। ऐसे में आप सीढ़ियां चढ़कर एक्सरसाइज की कमी को पूरा कर सकते हैं।

किस स्थिति में सीढ़ियां ना चढ़ें - When to Avoid Climbing Stairs in Hindi

घुटने की समस्या वाले लोगों को सीढ़ियों पर चढ़ने के लिए साफ़ मना किया जाता है क्योंकि इससे स्थिति ओर भी बढ़ सकती है। आपको धीरे धीरे ही प्रोग्रेस करनी चाहिए। पहले दिन केवल पांच या 10 मिनट के लिए चढ़ें और धीरे-धीरे अवधि बढ़ाएं जब तक आप दैनिक 30 मिनट चढ़ना शुरू नहीं कर देते हैं। कहा जाता है कि एक दिन में 10 सीढ़ियों को चढ़ने से औसत प्रारंभिक मृत्यु दर (early mortality risk) 33% कम हो जाती है।


सीढ़ी चढ़ने के फ़ायदे सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...