myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

जॉगिंग की शुरूआत करने वालों को जॉगिंग के लिए अपने आप को सही ढंग से तैयार करना चाहिए। शुरू में ही बहुत ज्यादा जॉगिंग करना सही नहीं होता है। जॉगिंग शुरू करने से पहले ब्रिस्क वॉक करें और उसके बाद जॉगिंग करें। जॉगिंग करना जितना मुश्किल लगता है उतना मुश्किल है नहीं, लेकिन इसे बहुत हल्के में भी नहीं लेना चाहिए क्योंकि कई बार इससे आपको चोट भी लग सकती है। जॉगिंग भी बहुत अच्छा व्यायाम है, लेकिन हर व्यायाम की तरह जॉगिंग के लिए भी कुछ बातों का ध्यान रखना पड़ता है। इन नियमों का पालन करने से जॉगिंग का अधिक फायदा मिलता है, वहीं शरीर की ऊर्जा भी बर्बाद होने से बचती है। याद रखें जॉगिंग करना आपकी कैलोरी को जलाने में मदद और आपकी आयु में 5 से 6 साल की वृद्धि कर सकता है।

  1. दौड़ने से पहले क्या करें - Do Warm Up Before Jogging in Hindi
  2. दौड़ने के लिए टिप्स - Jogging Routine for Beginners in Hindi
  3. धीमी या औसत गति से दौड़ना है दौड़ने का सही तरीका - Jogging Speed for Beginners in Hindi
  4. दौड़ने के नियम में जॉगिंग पोस्चर भी है ज़रूरी - Proper Posture When Running in Hindi
  5. ज़रूरत से अधिक जॉगिंग से नहीं मिलेंगे जॉगिंग के लाभ - Too Much Jogging not Good for You in Hindi
  6. रनिंग के लिए टिप्स है जॉगिंग शूज का उपयोग - Choosing the Right Shoes for Running in Hindi

हमेशा अपने सेशन को तीन से पांच मिनट के वार्म-अप से शुरू करें। आप आसानी से घुटने को लिफ्ट करके (knee lifts), सीढ़ियां चढ़कर या धीमी गति से चलकर वार्म-अप कर सकते हैं। जॉगिंग को समाप्त करने के बाद अपने कूल्हे, जांघों, मांसपेशियों, काफ, पीठ के निचले हिस्से और नितंब की मांसपेशियों को लगभग 15 - 15 सेकंड के लिए स्ट्रेच करना ना भूलें। 

(और पढ़े - मजबूत हिप्स और कूल्हे के दर्द से राहत के लिए हिप्स एक्सरसाइज)

यदि आप इस समय कोई भी अन्य एक्सरसाइज नहीं कर रहे हैं, तो आप 20 मिनट के लिए मध्यम गति से वॉक से जॉगिंग की शुरुआत कर सकते हैं।

इसके बाद अपनी वॉक को 22 मिनट तक बढ़ाएं और मध्यम-तेज गति से चलें।

फिर वॉकिंग के हर 5 मिनट में 30 से 45 सेकंड के लिए जॉगिंग करें। पूरा रुटीन 22 मिनट का ही रखें।

इसके बाद जॉगिंग वाले समय को बढ़ाकर वॉकिंग टाइम को घटाएं। 4 मिनट वॉक में 45 से 60 सेकंड के लिए जॉगिंग करें, फिर अगले दिन 3 मिनट वॉक में 45 से 60 सेकंड के लिए जॉगिंग करें और उसके अगले दिन 2 मिनट वॉक में 45 से 60 सेकंड के लिए जॉगिंग करें।

धीरे-धीरे अपने पूरे वॉक रुटीन का समय आप बढ़ा सकते हैं पर इस बात का ध्यान रखें कि साथ ही जॉगिंग के समय को ना बढ़ाएं। दोनों साथ में बढ़ाने से आपके शरीर पर ज़रूरत से ज़्यादा दबाव पड़ सकता है।

धीरे-धीरे आप 30 मिनट के वर्कआउट में 2 मिनट की जॉगिंग और 1 मिनट की वॉकिंग कर पाने योग्य होने चाहिए।

समय के साथ साथ आपका स्टैमिना इतना बढ़ना चाहिए कि आप पूर्ण रूप से 30 मिनट तक जॉगिंग करने में सक्षम हो जाएँ।

एक बिगिनर (beginner) के रूप में यदि आपका स्वास्थ्य अच्छा है तो आसानी से जॉगिंग की कोशिश कर सकते हैं। लेकिन तेजी से जॉगिंग या रनिंग करने से आपके जीवन पर असर पड़ सकता है। कोपेनहेगन सिटी हार्ट अध्ययन से लिया गया डेटा पुष्टि करता है कि "धीमी" या "औसत" गति से जॉगिंग  करने से आप अपनी आयु में 5-6 वर्ष की वृद्धि हासिल कर सकते हैं। तो जॉगिंग के लिए एक अच्छी स्पीड क्या है? आमतौर पर ज्यादातर लोगों के लिए 4 मील - 5 मील प्रति घंटे के बीच की गति आरामदायक होती है।

जॉगिंग करने के लिए जॉगिंग पोस्चर को ध्यान में रखना भी ज़रूरी होता है। जॉगिंग करते समय हमेशा अपने शरीर को एकदम सीधा रखें। अपने कंधों को झुकाएँ नहीं। अपने कूल्हों को स्थिर रखें और उन्हें इधर से उधर स्विंग ना करने दें। जॉगिंग करते समय संतुलन में सुधार करें ताकि आपका वजन एड़ी और पंजो पर ना होकर पैरों के बीच में रहे। अपनी बाहों को 90 डिग्री के कोण पर बेंड करें। जॉगिंग करते समय आपके हाथ रिलेक्स होने चाहिए। गहरी साँस लेने की कोशिश करें। 

(और पढ़े - वज़न कम करने के लिए करें यह व्यायाम)

अनुमानित 65 प्रतिशत सभी धावकों (Runners) को हर साल चोट लगती है। इसलिए ज़रूरत से अधिक जॉगिंग आपके शरीर के लिए ख़तरनाक हो सकती है। इसलिए अधिक कड़ी मेहनत में लिप्त होने से आप फिट होने के बजाय अपने स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकते हैं। अनुसंधान ने पाया है कि बहुत अधिक अभ्यास करने वालों की मृत्यु दर उन लोगों के समान है जो गतिहीन जीवन जीते हैं (जिसमें कोई शारीरिक गतिविधि नहीं होती है)। 

(और पढ़े - व्यायाम करने का सही समय)

अधिकतर लोग जॉगिंग करते समय स्लीपर आदि का प्रयोग करते हैं। जॉगिंग करने के लिए हमेशा जूते पहनने चाहिए क्योंकि सही जूते पहनना चोट के जोखिम को कम कर सकता है। जॉगिंग के लिए पहनने वाले जूते आरामदायक होने चाहिए। लेकिन कुछ लोग कमजोर या आरामदायक जूते नहीं पहनते हैं जिससे आपका चोट का जोखिम बढ़ जाता है। इसी वजह से विशेषज्ञों का सुझाव है कि आप अपने जूते को 300 मील की दूरी चलने के बाद बदल लें।

और पढ़ें ...