myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

क्या आपको हाई हील्स पहनना पसंद है? क्या आपको लगता है कि आपकी पार्टी आपके पसंदीदा हील्स के बिना अधूरी है? अधिकांश महिलाएँ हाइ हील्स को एक फैशन ऐक्सेसरी के रूप में अपने पास ज़रूर रखती हैं। ऊँची हील आपकी कॉफ मसल्स को आकार देते हैं और इनसे आप लंबा और पतला दिखाई देते हैं।

हफ्ते में एक दिन या किसी विशेष आयोजन के लिए एक दो इंच की हील्स ठीक है। लेकिन हम में से कुछ तो इन्हें पहनना छोड़ते ही नहीं है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लगातार हील्स पहनना आपके लिए कितना हानिकारक हो सकता है? आइए इसके बारे में जानते हैं -

  1. पीठ के निचले हिस्से में दर्द का कारण बनती हैं हाई हील्स - Lower Back Pain Due to Heels in Hindi
  2. कॉफ मसल्स में दर्द की वजह है ऊँची एड़ी के जूते - High Heels Causes Calf Pain in Hindi
  3. हाई हील्स सैंडल हैं एड़ियों में दर्द का कारण - Foot Pain Caused by High Heels in Hindi
  4. टखने की मोच के कारण हैं ऊँची एड़ी के जूते - Ankle Injuries Due to High Heels in Hindi
  5. हाई हील्स फुटवियर है रीढ़ की हड्डी में दर्द का कारण - High Heels Cause Spinal Problems in Hindi
  6. रक्त प्रवाह संकुचन होता है हाई हील से - Heels Causes Blood Vessel Constriction in Hindi
  7. ऊँची एड़ी के सैंडल पहनना है कमजोर लिगमन्ट का कारण - High Heels Cause Weakens Ligaments in Hindi
  8. घुटनों में दर्द का कारण है हाई हील्स शूज़ - Knee Pain Due to Wearing Heels in Hindi

हाई हील्स महिलाओं के लिए अल्टिमेट फैशन स्टेटमेंट होती हैं। यह आपके स्टाइल को बढ़ा देती है। लेकिन ऊँची एड़ी के जूते आपके पैरों को पूरा सपोर्ट नहीं करते हैं। इनसे आपके शरीर का वजन असमान हो जाता है जिससे पीठ के निचले हिस्से में दर्द, सूजन और पीड़ा हो सकती है।  

(और पढ़ें – योग को अपनाएं, पीठ दर्द को हमेशा के लिए भगाएं)

कॉफ मसल्स में दर्द इन हाइ हील्स का एक और नुकसान है। इनसे नसें फूल सकती हैं, जो ना केवल खराब दिखती हैं बल्कि बेहद दर्दनाक भी होती हैं। यदि आप अपने पैरों को टोंड रखना चाहते हैं तो आपको हाई हील्स पहनना छोड़ देना चाहिए। कॉफ मसल्स पर अधिक दबाव होने से वे सख़्त हो जाती हैं जिनसे कॉफ और कमर में दर्द होता है। 

(और पढ़ें – मसल्स (बॉडी) बनाने के लिए क्या खाना चाहिए)

हाई हील्स देखने में फैशनेबल होते हैं लेकिन लगातार पहनने की वजह से ये हाई हील्स एड़ियों में दर्द का कारण बन जाते हैं। इनसे आप अपने पैर की उंगलियों, तलवो और एड़ी में तेज दर्द का अनुभव कर सकते हैं। पैर कॉफ पर तनाव, रक्त वाहिकाओं और पीठ दर्द के कारण पैर बेढंगे हो जाते हैं, जिसे हैमर टो कहा जाता है। हैमर टो ऊँची एड़ी के जूते पहनने का सबसे खतरनाक साइड इफेक्ट है। 

(और पढ़ें – पैरों में दर्द और कमज़ोरी को दूर करेंगे यह सरल उपचार)

हाई हील्स पहनने से कई बार शरीर का संतुलन बिगड़कर गिरने का ख़तरा बढ़ जाता है जिससे टखने में मोच आ जाती है। इसके अलावा कोहनी, एड़ी और घुटनो में चोट भी आ सकती है। इसलिए हील्स पहनकर आपको गड्ढे, ऊँची नीची जगह से संभलकर चलना चाहिए।

 हाई हील्स फुटवियर आपकी कमर के ऊपरी और निचले क्षेत्रों में बहुत ज़्यादा दर्द पैदा कर सकते हैं। लगातार हील्स पहनने से धीरे-धीरे आपकी हड्डियों का आकार बदल लगता है।इससे रीढ़ के डिस्टर्ब होने का डर बन जाता है। ऊँची हील्स से रीढ़ की हड्डी का नॅचुरल आकर सही नहीं रहता है, जिस वजह से कमर में दर्द और चलने के पोस्चर में बदलाव आ जाता है।

आमतौर पर ऊँची एड़ी के जूते से पैर लंबे और पतले दिखाई देते हैं। इससे आपके पैरों की एड़ियों पर काफी दबाव पड़ता है जिससे आपके टखने आगे की ओर मुड़ जाते हैं। ऐसी स्थिति आने पर आपके पैर के निचले भाग में रक्त का संचार भी ठीक से नहीं हो पाता है।

जब आप ऊंची एड़ी के जूते पहनते हैं तो आर्क (arch) पर भी जोर पड़ता है और लिगामेंट में कमजोरी होती है। इसलिए किसी भी चोट से अपने पैरों की रक्षा के लिए आपको ये ग्लैमरस जूते पहनने छोड़ देने चाहिए।

हाई हील्स शूज पहनने से घुटनो के जोड़ पर बहुत अधिक दबाव पड़ता है। इससे आपके घुटनों की हड्डी पर अनजाने में ही काफी अधिक भार पड़ने लगता है। इसके अलावा हील्स के जूते पहनने से घुटनों के अंदरूनी भाग को भी काफी नुकसान पहुंचता है जिससे लोगों के घुटनो में दर्द और ऑस्टियोआर्थराइटिस हो सकता है।

(और पढ़ें – घुटनों का कालापन दूर करें एलोवेरा जैल से)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें