ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर बाइट - Brown Recluse Spider Bite in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

October 24, 2020

April 12, 2021

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर बाइट
ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर बाइट

ब्राउन रीक्लूज मकड़ियों की ऐसी जहरीली प्रजाती है, जो इंसानों के लिए समस्या बन सकती हैं। अमेरिका में, ये जहरीली प्रजातियां दो अलग-अलग समूहों में विभाजित हैं : ब्राउन स्पाइडर और विडो स्पाइडर।

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर 'ब्राउन स्पाइडर ग्रुप' से संबद्ध है, जबकि ब्लैक विडो स्पाइडर 'विडो ग्रुप' से संबंधित हैं।

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर को 'विओलिन' या 'फिडल बैक स्पाइडर' के नाम से भी जाना जाता है। यह मकड़ियां अमेरिका के मध्य-पश्चिमी और दक्षिण-पूर्वी हिस्सों में पाई जाती हैं। यह दिखने में भूरी और इसकी पीठ पर गहरे रंग का वायलिन (म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट) के आकार का निशान होता है।

अन्य मकड़ियों में जहां आमतौर पर आठ आंखें होती हैं, ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर में केवल छह होती हैं। इसके पैर लंबे, पतले और छोटे बालों से ढके होते हैं। इस मकड़ी का वैज्ञानिक नाम 'लोक्सोस्केलेस रीक्लूज' है, जिसे ग्रीक भाषा में 'विद स्लैंटेड लेग्स' कहते हैं।

ये मकड़ियां रात में सबसे ज्यादा सक्रिय रहती हैं और दिन में आराम करती हैं और अंधेरे इलाकों में छिप जाती हैं। यदि वे घर के अंदर घुस जाएं, तो यह अलमारी, बेसमेंट व घर के अंधेरे हिस्सों में पनपते हैं। वे सूखे हिस्सों में रहना पसंद करते हैं।

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर अत्यधिक जहरीले होते हैं, लेकिन यह मकड़ियां काटने के दौरान बहुत कम मात्रा में विषाक्त छोड़ती हैं। ज्यादातर लोग नर मकड़ी के संपर्क में आते है, जिसमें मादा मकड़ी के मुकाबले कम जहर होता है।

(और पढ़ें - स्पाइडर बाइट्स क्या होता है)

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर के काटने के संकेत और लक्षण क्या हैं? - Brown Recluse Spider Bite Symptoms in Hindi

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर के काटने से संबंधित कई मिथक हैं। एक आम मिथक यह है कि उनके काटने से हमेशा गंभीर घाव होते हैं और त्वचा के ऊतकों को नुकसान होता है। वास्तव में, ऐसा तब होता है जब मकड़ी कई बार उसी जगह पर काटती है, अधिकांश मामलों में मकड़ियां ऐसा नहीं करती हैं और इसका कोई लक्षण नहीं दिखाई देता है या बेहद हल्की प्रतिक्रियाएं देखी जा सकती हैं।

एक्यूट एनीमियाखून के थक्के बनना और किडनी खराब होना सहित पूरे शरीर में दुर्लभ जटिलताएं हो सकती हैं।

आमतौर पर काटने पर दर्द नहीं होता है और कभी-कभी ही ऐसा होता है कि लक्षण समय के साथ खराब होते जाते हैं। ज्यादातर यह मकड़ियां जांघ, ऊपरी बांह और छाती पर काटती हैं।

यदि त्वचा रिएक्शन करती करती है, तो पहले घंटे में व्यक्ति को निम्नलिखित समस्याएं हो सकती हैं

अगले 2 से 6 घंटों में प्रभावित हिस्सा दर्दनाक हो जाता है और छाला बन सकता है। यदि प्रभावित हिस्सा 12 से 24 घंटे के भीतर बैंगनी हो जाता है, तो नेक्रोसिस हो सकता है। यदि नेक्रोसिस (ऊतकों का नष्ट होना) होता है, तो घाव को पूरी तरह से ठीक होने में कई सप्ताह या महीने भी लग सकते हैं।

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर के काटने का कारण क्या है? - Brown Recluse Spider Bite ke Causes in Hindi

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर केवल आत्मरक्षा के लिए इंसानों को काटती हैं, जो कि दुर्लभ स्थिति है। वे मनुष्यों के प्रति आक्रामक नहीं होती हैं और काटने की जगह भागना पसंद करती हैं।

आमतौर पर यह मकड़ियां तब काटती हैं जब इन्हें खतरा महसूस होता है, जैसे : चादर, कपड़ों और जूते में फंस जाने पर।

जिन क्षेत्रों में इन मकड़ियों का खतरा रहता है वहां के लोगों को कपड़े या जूते झाड़कर प्रयोग करने की सलाह दी जाती है, खासकर यदि इन कपड़ों और जूतों को हाल ही में इस्तेमाल न किया गया हो।

(और पढ़ें - मकड़ी के काटने पर क्या करें)

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर के काटने का इलाज क्या है? - Brown Recluse Spider Bite ka Treatment in Hindi

ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर के काटने का उपचार मकड़ी ने किस स्थान पर काटा है और इसके लक्षणों पर निर्भर करता है। उपचार में शामिल हो सकते हैं :

  • संक्रमण को रोकने के लिए एंटीबायोटिक्स
  • उपचार को बढ़ावा देने और दर्द को कम करने के लिए मलहम
  • त्वचा को हुए नुकसान को ठीक करने के लिए स्किन ग्राफ्ट या वाउंड डिब्रीमेंट (घाव को ठीक करने के लिए मृत या संक्रमित त्वचा के ऊतकों को निकालना)


ब्राउन रीक्लूज स्पाइडर बाइट के डॉक्टर

Dr. Nisar Ahmed Dr. Nisar Ahmed आकस्मिक चिकित्सा
4 वर्षों का अनुभव
Dr Ramit Singh Sambyal Dr Ramit Singh Sambyal आकस्मिक चिकित्सा
7 वर्षों का अनुभव
Dr. Aakash Harakhchand Shah Dr. Aakash Harakhchand Shah आकस्मिक चिकित्सा
5 वर्षों का अनुभव
Dr. Sandeep Kumar Dr. Sandeep Kumar आकस्मिक चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ