myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

मकड़ियों को उनकी काटने की प्रवृत्ति के कारण बुरा माना जाता है, लेकिन ये इंसानों को जानबूझकर नहीं काटती हैं। ज़्यादातर मामलों में मकड़ियां अपना बचाव करने के लिए ही काटती हैं और कुछ दुर्लभ मामलों में मकड़ियां इंसानों को अपना शिकार समझ के काट लेती हैं। अधिकतर मकड़ियां बहुत छोटी होती हैं और उनके दांत इंसानों की त्वचा के अंदर नहीं जा पाते या उनका जहर इंसानों को नुकसान नहीं पहुंचाता।

कई मामलों में, अन्य कीटों के डंक और त्वचा के संक्रमण को मकड़ी का काटना समझ लिया जाता है।  फिर भी कुछ दुर्लभ मामलों में मकड़ी के काटने से गंभीर नुक्सान हो सकता है।

इस लेख में मकड़ी के काटने को कैसे पहचानें, प्राथमिक चिकित्सा और क्या मकड़ी का काटना खतरनाक है के बारे में बताया गया है।

(और पढ़ें - कीड़े के काटने का इलाज

  1. मकड़ी के काटने का पता कैसे लगाएं - Makdi ke katne ka pata kaise chalta hai
  2. मकड़ी के काटने पर क्या होता है - Makdi ke katne par kya hota hai
  3. मकड़ी के काटने पर प्राथमिक चिकित्सा - Makdi ke katne par kya kare

ज़्यादातर सारी मकड़ियां जहरीली होती हैं, लेकिन हर मकड़ी काटने पर अपना जहर नहीं छोड़ती। इनके काटने से होने वाला दर्द कुछ समय तक रह सकता है और काटने की जगह से खून भी निकल सकता है।

मकड़ी का काटना कई अन्य कीटों के काटने जैसा लगता है। इससे निम्नलिखित समस्याएं हो सकती हैं -

  • खुजली या जलन
  • घाव के आस-पास त्वचा सुन्न होना और सनसनाहट होना
  • काटने के आस-पास की जगह में सूजन

कुछ प्रकार की जहरीली मकड़ियों के काटने पर निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं -

अधिकतर मकड़ियों के काटने से दर्द होता है लेकिन ये खतरनाक नहीं होता और इसके लिए डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता भी नहीं होती। घाव को अच्छे से धोने और उसपर बर्फ लगाने से समस्या को सही किया जा सकता है। हालांकि, अगर आपको दर्द, सूजन, मतली, पसीना आना या दिल की धड़कन बढ़ने जैसे लक्षण अनुभव होते हैं, तो तुरंत अपने डॉक्टर के पास जाएं।

कुछ प्रकार की मकड़ियों के काटने से तबियत बिगड़ सकती है और छोटे बच्चों के लिए यह खतरनाक हो सकता है। “ब्लैक विडो” (Black widow) नामक जहरीली मकड़ी के काटने से पूरे शरीर की मांसपेशियों में ऐंठन और पेट की मासपेशियों में बहुत अधिक दर्द जैसे लक्षण होते हैं।

(और पढ़ें - सांप काटने पर क्या करें)

मकड़ी के काटने पर क्या करना और लगाना चाहिए?

मकड़ी के काटने के लक्षण आमतौर पर अपने आप ठीक हो जाते हैं लेकिन इसके लिए निम्नलिखित प्राथमिक उपचार किया जा सकता है -

  • संक्रमण की सम्भावना को कम करने के लिए घाव को पानी और साबुन से धोएं।
  • एक कपड़े में बर्फ रखकर इसे अपने घाव पर रखें, ऐसा करने से दर्द और सूजन कम होते हैं।
  • अगर घाव हाथ या पैर पर है, तो उसे ऊपर की तरफ उठा कर रखें।
  • दर्द के लिए मडिकल स्टोर पर मिलने वाली आइबूप्रोफेन (Ibuprofen) जैसी दर्द-निवारक दवाएं लें।
  • खुजली के लिए एंटीहिस्टामिन (Antihistamine) दवाएं लें।
  • फफोले होने पर एंटीबायोटिक क्रीम का इस्तेमाल करें।
  • शारीरिक गतिविधि न करें, ऐसा करने से शरीर में मकड़ी का जहर और अधिक तेज़ी से फैलता है।

(और पढ़ें - कुत्ते के काटने पर क्या करें)

अगर आपको संक्रमण के लक्षण अनुभव हो रहे हैं, तो अपने डॉक्टर के पास जाएं। इसके लिए आपको एंटीबायोटिक दवा दी जा सकती है।
अगर आपको पांच साल में टेटनस का इंजेक्शन नहीं लगा है, तो आपके डॉक्टर आपको ये इंजेक्शन लगा सकते हैं।

(और पढ़ें - टेटनस के लक्षण)

नोट: प्राथमिक चिकित्सा या फर्स्ट ऐड देने से पहले आपको इसकी ट्रेनिंग लेनी चाहिए। अगर आपको या आपके आस-पास किसी व्यक्ति को किसी भी प्रकार की आपातकालीन स्वास्थ्य समस्या है, तो डॉक्टर या अस्पताल​ से तुरंत संपर्क करें। यह लेख केवल जानकारी के लिए है।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें