myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

कोहनी का उतरना क्या है?   

कोहनी का जोड़ अगर किसी चोट या टक्कर के कारण अपनी जगह से हट जाए, तो इसको कोहनी उतरना कहा जाता है। सामान्यतः ऐसा तब होता है जब आप अपने हाथ के बल जमीन पर गिरते हैं। वयस्कों में कोहनी के उतरने की समस्या कंधे उतरने के बाद दूसरी सबसे आम समस्या मानी जाती है, जबकि बच्चों में कोहनी उतरने के काफी मामले देखे जाते हैं।

कोहनी उतरने पर तुरंत इलाज की आवश्यकता होती है। यदि कोहनी उतरने के कारण रक्त वाहिकाओं व हाथ के निचले हिस्से की नसों में रूकावट होने लगे, तो इससे कई जटिलताएं भी हो सकती हैं। आमतौर पर कोहनी के जोड़ को सर्जरी या ऑपरेशन के बिना भी सही जगह में लाया जा सकता है। हालांकि, यदि आपकी कोहनी में फ्रैक्चर भी हुआ है, तो आपको सर्जरी की जरूरत हो सकती है।

(और पढ़ें - हाथ में दर्द का इलाज

कोहनी उतरने के लक्षण क्या हैं?

कोहनी उतरने पर व्यक्ति को निम्न तरह के लक्षण महसूस होते हैं।

  • कोहनी में तेज दर्द, सूजन और हाथ को नीचे करने में मुश्किल होना। (और पढ़ें - सूजन कम करने का तरीका)
  • कुछ मामलों में व्यक्ति को हाथ में कुछ महसूस नहीं होता और कलाई की नब्ज भी नहीं मिलती। (और पढ़ें - नब्ज कैसे देखते हैं)
  • नसें और धमनियां कोहनी के पीछे के हिस्से में होती हैं, इसीलिए ऐसा हो सकता है कि कोहनी उतरने के दौरान इनमें भी चोट लगी हो। नसों में चोट लगने पर असामान्य संवेदना होने लगती है और कोहनी के नीचे के हाथ से कार्य करने में मुश्किल होती है। (और पढ़ें - गुम चोट का उपचार)
  • बच्चों को इस समस्या में दर्द के कारण कोहनी को मोड़ने में परेशानी होती है।

(और पढ़ें - चोट लगने पर क्या करें)

कोहनी उतरने की समस्या क्यों होती है? 

किसी वजह से जमीन पर गिरना कोहनी उतरने का एक सामान्य कारण है। जब आप हाथ के बल गिरते हैं, तो हाथ की ऊपरी हड्डी कोहनी के जोड़ से हट जाती है। इसके अलावा सड़क दुर्घटना में किसी चीज से टक्कर लगने पर भी कोहनी उतर सकती है।

बच्चों का गिरना भी उनमें कोहनी के उतरने की मुख्य वजह होती है। नवजात शिशु को सही ढंग से न उठाने पर भी उसकी कोहनी उतर जाती है। इसके अलावा बच्चे को उसके हाथ से अचानक उठाना कोहनी को अपनी जगह से हटा देता है।

कोहनी उतरने​​ का इलाज कैसे होता है?

कोहनी उतरने की समस्या कई बार समय के साथ अपने आप ठीक हो जाती है। हालांकि, ज्यादातर मामलों में इसके लिए डॉक्टर की मदद लेनी ही पड़ती है। कोहनी के जोड़ को सही जगह पर लाने से पहले डॉक्टर दर्द कम करने और मांसपेशियों को आराम देने के लिए कुछ दवाएं देते हैं।

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द के घरेलू उपाय)

कोहनी सही जगह में आने के बाद भी व्यक्ति को कुछ सप्ताह तक हाथ और कोहनी को सहारा प्रदान करने वाले उपकरण जैसे स्पलिंग और स्लिंग पहनने पड़ सकते हैं। साथ ही कुछ एक्सरसाइज से भी हाथ के कार्यों को बढ़ाया जा सकता है।

यदि कोहनी उतरने के साथ ही फ्रैक्चर भी हो जाए, तो फटे हुए लिगामेंट को दोबारा जोड़ने व क्षतिग्रस्त नसों और रक्त वाहिकाओं को ठीक करने के लिए सर्जरी का भी सहारा लिया जा सकता है। 

(और पढ़ें - हड्डी टूटने का प्राथमिक उपचार)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...