सभी राज्य सरकारें अपने राज्य के निवासियों को अच्छी से अच्छी सुविधाएं प्रदान करने की कोशिश करती हैं। देश की कई राज्य सरकारें जनता के लिए हेल्थ इन्शुरन्स स्कीम प्रदान करती हैं, ताकि राज्य के लोग पर्याप्त व उचित स्वास्थ्य सेवाएं ले सकें। ठीक उसी प्रकार मध्य प्रदेश सरकार ने भी सरकारी कर्मचारियों को स्वास्थ्य बीमा कवरेज देने के लिए एक विशेष स्वास्थ्य बीमा योजना की शुरुआत की। इस बीमा योजना को मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना के नाम से जाना जाता है। इस स्वास्थ्य बीमा योजना से 12 लाख 55 हजार कर्माचारियों व अन्य कार्यकर्ताओं को लाभ मिला है।

मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत लाभार्थी को इलाज पर 5 से 10 लाख रुपये तक सालाना कवरेज मिलती है। इस आर्टिकल में मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना के बारे में बात होगी, जिसमें इसके लाभ, उदेश्य और पात्रता के बारे में बताया गया है।

(और पढ़ें - भारत में मौजूद हेल्थ इन्शुरन्स कंपनियां)

  1. मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना क्या है - What is Mukhyamantri Karamchari Swasthya Bima Yojana in Hindi?
  2. एमकेएसबीवाई मध्य प्रदेश के क्या लाभ हैं - What are the Benefits of MKSBY Madhya Pradesh in Hindi?
  3. मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना का मुख्य उद्देश्य क्या है - What is the Purpose of MKSBY in Hindi?
  4. एमकेएसबीवाई मध्य प्रदेश की पात्रता के क्या मापदंड हैं - What is the Eligibility Criteria Mukhyamantri Karamchari Swasthya Bima Yojana in Hindi?
  5. एमकेएसबीवाई मध्य प्रदेश के लिए क्या दस्तावेज जरूरी हैं - What are the Documents Required for MKSBY Madhya Pradesh in Hindi?

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के सभी सरकारी कर्मचारियों व सेवानिवृत्त हो चुके अधिकारियों के लिए जारी की गई विशेष इन्शुरन्स स्कीम को मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना के नाम से जाता है। इस स्वास्थ्य बीमा योजना के तहत लाभार्थी व उसके परिवार को सामान्य इलाज पर 5 लाख रुपये और गंभीर इलाज पर 10 लाख रुपये तक मुफ्त इलाज की सुविधा प्रदान की जाएगी। यह इन्शुरन्स स्कीम मुख्य रूप से राज्य के सरकारी कर्मचारियों को कम से कम लागत पर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करने के लिए बनाई गई है।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स और लाइफ इन्शुरन्स में अंतर)

मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना राज्य सरकार द्वारा वहां के सरकारी कर्मचारियों व सेवानिवृत्त व्यक्तियों को लाभ देने के लिए अमल में लाई गई है, इससे मिलने वाले मुख्य लाभ निम्न हैं -

  • यह स्वास्थ्य बीमा लगभग सभी विभाग के कर्मचारियों को स्वास्थ्य कवरेज प्रदान करती है, जिसमें रिटायर्ड कर्मचारी भी शामिल होते हैं।
  • मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना में सामान्य रोगों के इलाज के लिए 5 लाख रुपये तक और गंभीर बीमारियों के इलाज के लिए 10 लाख रुपये तक की कवरेज मिलती है।
  • इस योजना के तहत ओपीडी पर कवरेज अलग से मिलती है, जिसमें आप हर वर्ष 10 हजार रुपये तक का इलाज मुफ्त करा सकते हैं इसके साथ-साथ आपको दवाएं भी मुफ्त दी जाती हैं।
  • इसमें सारी कवरेज कैशलेस सुविधा के रूप में दी जाती है, जिसमें आपको अपनी जेब से पैसे लगाने की आवश्यकता ही नहीं पड़ती है।
  • हर साल दवाओं पर 10 हजार रुपये तक की कवरेज मिलती है, जिसके बाद आपको जेब से भुगतान करना पड़ता है।

(और पढ़ें - आपके लिए myUpchar बीमा प्लस पॉलिसी क्यों है बेहतर)

जैसा कि आप जान चुके हैं, इस बीमा योजना का मुख्य उद्देश्य मध्य प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को स्वास्थ्य लाभ पहुंचाना है। इस योजना के अंतर्गत सभी लाभार्थी बिना जेब से पैसे का भुगतान किए सभी स्वास्थ्य सेवाएं ले सकते हैं। यह बीमा योजना सरकार ने राज्य में स्वास्थ्य उपचार व अन्य सुविधाओं का विस्तार करने के लिए तैयार की है, ताकि अधिक से अधिक लोग अच्छी गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवाएं कम से कम लागत में प्राप्त कर सकें।

(और पढ़ें - myUpchar बीमा प्लस में आपको क्या-क्या कवर मिलता है)

यदि आप मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो आपका मध्य प्रदेश सरकार का कर्मचारी होना आवश्यक है। इसके अलावा मुख्य रूप से निम्न लोग हैं, जो इस योजना का लाभ ले सकते हैं -

  • एक नियमित सरकारी कर्मचारी
  • कॉन्ट्रैक्ट पर काम करने वाले सरकारी कर्मचारी
  • सभी रिटायर्ड कर्मचारी
  • शिक्षक
  • सिविल सर्वेंट
  • राज्य की ऑटोनोमस संस्थाओं में काम करने वाले कर्मचारी

(और पढ़ें - आयुष्मान भारत सरबत सेहत बीमा योजना के तहत मिलने वाले लाभ)

यदि आप मध्य प्रदेश सरकार के कर्मचारी हैं और मुख्यमंत्री कर्मचारी स्वास्थ्य बीमा योजना की पात्रता के सभी मापदंडों को पूरा करते हैं, तो आपको निम्न दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है -

  • आधार कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • कर्मचारी प्रमाण पत्र
  • रजिस्टर किया हुआ मोबाइल नंबर

(और पढ़ें - व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा क्या है)

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ