• हिं

अक्सर व्यक्ति कुत्ता पालने के लिए उत्सुक रहता है, क्योंकि यह न सिर्फ एक अच्छे साथी होते हैं, बल्कि घर की देखभाल के लिए भी य​ह फायदेमंद होते हैं। इन्हें पालने से पहले हमेशा इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि नियमित तौर पर इनकी साफ-सफाई होना जरूरी है।

भले किसी व्यक्ति के पास प्रशिक्षित कुत्ते हों या अच्छी नस्ल के कुत्ते हों, अगर इनके स्वास्थ को नजरअंदाज किया जाएगा, तो इनमें कई प्रकार की समस्याएं आ सकती हैं, जिनमें सांसों की बदबू भी शामिल है। ऐसे में भले ही आपके पास कुत्ता कितना ही प्यारा क्यों ना हो, लेकिन सांसों से बदबू आने पर उसके साथ समय बिताना कोई पसंद नहीं करेगा, फलस्वरूप वह अकेला पड़ सकता है और उसके व्यवहार में बदलाव आ सकता है।

कुत्तों के मुंह से बदबू आने के निम्नलिखित कारण हो सकते हैं :

  1. कुत्तों में दांतों की समस्या के कारण सांसों में बदबू - Dental diseases that cause bad breath in dogs in Hindi
  2. कुत्तों के मुंह में ओरल ट्यूमर और गांठ की वजह से बदबू - Oral tumours and masses that cause bad breath in dogs in Hindi
  3. किडनी रोग की वजह से कुत्तों के मुंह से बदबू - Kidney disease that causes bad breath in dogs in Hindi
  4. कुत्तों में डायबिटीज के कारण मुंह से बदबू - Diabetes that causes bad breath in dogs in Hindi
  5. लिवर रोग की वजह से कुत्तों के मुंह से बदबू - Liver disease that causes bad breath in dogs in Hindi
  6. खराब आहार आदतों की वजह से कुत्तों की सांसों में बदबू - Unpleasant dietary habits that cause bad breath in dogs in Hindi
  7. पाचन संक्रमण की वजह से कुत्तों के मुंह से बदबू - Digestive infections that cause bad breath in dogs in Hindi
  8. कुत्तों के मुंह से बदबू को ठीक करने का इलाज - What can be done to treat bad breath in dogs in Hindi?

कुत्तों में दांतों की बीमारी को चिकित्सीय रूप से पेरियोडोंटल डिजीज कहा जाता है। यह तीन साल की उम्र के बाद लगभग 80 प्रतिशत कुत्तों में होने वाली आम चिकित्सीय स्थिति है। कुत्तों के मसूड़ों से खून आने, दांतों पर प्लाक की मोटी परत या मैल जमने की वजह से अपने आप ही कुत्तों की सांसों में बदबू (हॉलीटोसिस) आने लगती है। यदि कुत्तों के मुंह के अंदर अच्छी साफ-सफाई नहीं है तो यह पीरियडोंटल रोग का कारण बन सकता है।

(और पढ़ें - कुत्तों की नाक से खून आने के लक्षण)

 

कुत्तों में मसूड़ों की बीमारी, मुंह में दर्दनाक सूजन व अन्य स्थितियों की वजह से सांसों में बदबू की समस्या हो सकती है। इसके अलावा मुंह में गांठ या ट्यूमर भी सांसों की बदबू का कारण बनता है। हालांकि, यह दोनों ही स्थिति घातक भी हो सकती हैं और मामूली भी।

मुंह में अल्सर व मसूड़ों में असामान्य वृद्धि की वजह से गांठ और गहरी दरारें बन सकती हैं, जहां बैक्टीरिया पनपने का खतरा रहता है और इन बैक्टीरिया के कारण सांसों से बदबू आ सकती है।

अमोनिया (एक तरह का रसायन) गैस की तरह कुत्तों में किडनी की बीमारी से भी सांस में बदबू की समस्या हो सकती है। किडनी के सामान्य रूप से कार्य न कर पाने की स्थिति में कुत्ते अपने शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने में असमर्थ हो जाते हैं, जिसकी वजह से रक्त प्रवाह पर दबाव पड़ने लगता है। जब ये अपशिष्ट पदार्थ शरीर से बाहर नहीं निकल पाते हैं, तो ऐसी स्थिति में उनके मुंह से पेशाब जैसी गंध आ सकती है।

कुत्ते में डायबिटीज की वजह से कभी-कभी उनकी सांसों से गंध आ सकती है। यदि किसी कुत्ते को सांस की तकलीफ है और उसमें बार-बार पेशाब जाने और लगातार प्यास लगने जैसे लक्षण दिखाई देते हैं, तो तुरंत उसे पशुचिकित्सक के पास ले जाएं, क्योंकि यह डायबिटीज का संकेत हो सकता है।

डायबिटीज कीटोएसिडोसिस के मामले में, एसीटोन जैसी बदबू आ सकती है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि रक्तप्रवाह में कीटोन निकायों का स्तर बढ़ जाता है जो कुत्ते के लिए खतरनाक हो सकता है।​

एसीटोन एक प्रकार का कीटोन (एक तरह का रसायन) है और यह नेल पॉलिश रिमूवर में इस्तेमाल किया जाता है।

स्वस्थ लिवर शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का कार्य करता है, लेकिन लिवर रोग की स्थिति में ये विषाक्त पदार्थ शरीर से बाहर नहीं निकल पाते हैं और शरीर में एकत्र होने लगते हैं, जिस कारण उनके मुंह से गंदी बदबू आने के साथ-साथ उल्टी, आंखों में पीलापन, मसूड़ों की समस्या और खाने के प्रति अरुचि जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं। यह एक जानलेवा स्थिति है, जिसके लिए तुरंत चिकत्सीय देखभाल की जरूरत होती है।

कभी-कभी कुत्तों में खाने की आदत की वजह से भी मुंह से दुर्गंध आ सकती है। कुछ कुत्ते कचरे या गंदी जगह से दूसरे जानवरों के बचे अवशेषों को खाने लगते हैं, जिसकी वजह से उनके मुंह से बदबू आ सकती है। इसके अलावा, कई कुत्ते कोप्रोफागिया नामक स्थित से ग्रस्त होते हैं, जिसमें वे खुद का या किसी अन्य कुत्ते या बिल्ली का मल खाने लगते हैं, जिस वजह से उनकी सांसों से बदबू आने लगती है।

(और पढ़ें - कुत्ते का स्वास्थ्य और देखभाल)

जठरांत्र मार्ग में किसी भी तरह के संक्रमण की वजह से कुत्तों के मुंह से बदबू आ सकती है। इसके साथ उनमें दस्त, पेट दर्द और उल्टी जैसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं।

कुत्तों के मुंह से बदबू आने का इलाज इसके कारणों पर निर्भर करता है।

  • नियमित रूप से कुत्तों के दांतों को ब्रश करना चाहिए। इससे कुत्तों की सांसों में ताजगी रहेगी और उनके दांतों में प्लाक और मैल जमने का खतरा कम रहेगा, जो कुत्तों में दांत रोग का कारण होता है।
  • कुत्ते के दांतों को ब्रश करने के लिए स्पेशल फिंगर ब्रश (उंगली में पहनने वाला ब्रश, जिससे जानवरों के दांतो को साफ किया जाता है) का इस्तेमाल करना चाहिए। हालांकि, उसे टूथब्रश स्टिक भी दिया जा सकता है, इसमें दांतों को साफ करने के लिए किसी व्यक्ति की मदद की जरूरत नहीं होती है।
  • मनुष्यों द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले टूथपेस्ट को कुत्तों के लिए इस्तेमाल न करें। इनके दांतों को साफ करने के लिए अलग टूथपेस्ट की जरूरत होती है।
  • कुत्ते को चबाने के लिए कुछ दें, क्योंकि ये मुंह की साफ-सफाई करने वाले एजेंट के रूप में कार्य करता है और दांतों पर प्लाक और मैल को जमा होने से रोकता है।
  • दांतों की साफ-सफाई के बारे में जानने के लिए पशुचिकित्सक के पास जाना चाहिए।
  • कुत्ते को सैर पर ले जाते समय उस पर नजर रखनी चाहिए, ताकि वह कूड़े में कुछ ढूंढने या मल खाने जैसी आदतों को न अपनाए।
  • अगर कुत्ते के मुंह में कोई असामान्य गांठ दिखाई देती है, तो इस बारे में पशुचिकित्सक से सलाह लें। ऐसे में डॉक्टर बायोप्सी की सलाह दे सकते हैं।
  • कुत्ते का स्वास्थ्य बनाए रखने के लिए हर साल उसका ब्लड केमिस्ट्री, किडनी फंक्शन टेस्ट, लिवर फंक्शन टेस्ट आदि करवाते रहें।
  • अगर कुत्ते के मुंह से एसीटोन या अन्य गंध आती है, तो निदान के लिए उसे डॉक्टर के पास ले जाएं।
ऐप पर पढ़ें
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ