myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

गर्भावस्था के समय पर आपको क्या खाना चाहिए क्या नहीं, इस बारे में हम अक्सर सुनते हैं। इनमें से काफी बातें तो सिर्फ़ इसलिए कही जाती हैं क्योंकि वे काफी समय से चली आ रही हैं। इसी कारण कई महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान आहार में परिवर्तन के बारे में एक बड़ी दुविधा का सामना करना पड़ता है। पर ये अभिनेत्री उनमें से नही हैं। 

(और पढ़ें - गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द और प्रेग्नेंट होने के उपाय)


ये एक्ट्रेस और उनकी प्रसिद्ध पोषण और कल्याण विशेषज्ञ दोस्त, इन्हीं मिथकों को तोड़ रही हैं।

(और पढ़ें - गर्भवती महिला के लिए भोजन)
 

इनका कहना है कि कोई दो गर्भधारण समान नहीं होते हैं और एक आँख बंद करके एक आहार योजना का सिर्फ इसलिए पालन नहीं करना चाहिए क्योंकि एक सेलिब्रिटी ने या किसी और ने इसकी पुष्टि की है। इन्होंने यह भी कहा कि भोजन और एक अच्छा भोजन बहुत ही निजी अनुभव है और जिन चीज़ों को खाने की उनकी इच्छा है, ज़रूरी नही कि आपकी भी वही हो।

(और पढ़ें - गर्भावस्था के लिए डाइट चार्ट)

इसका मतलब यह नहीं है कि आप कुछ भी अधिक मात्रा में खा लें। इनका कहना है कि ज्यादा खाना, मिठाई खाना, आधी रात को चुटपुच खाना या भूख ना लगने पर भी खाना अच्छी आदत नहीं है। यदि आप मिठाई की लालसा करते हैं, बजाय दुकान से खरीदे माल पर भरोसा करने के, इनकी तरह कुछ घर पर बनी सूजी, बेसन या पिन्नी के लड्डू खाएं।

अपने भोजन को तैयार करने के लिए स्थानीय स्तर पर उत्पादित, मौसमी सब्जियों और फलों पर भरोसा करें। जो आप एक लंबी अवधि से खाते आए हैं वही खाएं क्योंकि वह आपके शरीर और जीवन में संतुलन बरकरार रखेगा। ज़्यादातर महिलाएँ यह भूल जाती हैं कि गर्भावस्था स्त्री के जीवन का एक हिस्सा है और हमें वास्तव में कुछ भी अलग करने की ज़रूरत नहीं है, ना तो गर्भावस्था के दौरान ना इसके बाद। वास्तव में, यदि आप एक स्वस्थ जीवन शैली और गर्भावस्था चाहते हैं, तो आपको बहुत पहले से ही इन परिवर्तनों को लाना चाहिए, ना कि गर्भ धारण के बाद। हमारा ध्यान इस बात पर होना चाहिए की जिस मौसम में जो सब्ज़ियाँ मिलती हैं, उन्हें अधिकतम प्रभाव के लिए खायें, चाहे वो चुकंदर हो या करेला।

(और पढ़ें - लड़का होने के लिए उपाय और गोरा बच्चा पैदा करना से जुड़े मिथक)

घी के संबंध में, दोनों का कहना है कि यह कुछ ऐसा है जो हम अपने बचपन से ही खाते आए हैं। तो इसे जारी रखने से अचानक आपका मोटापा नहीं बढ़ जाएगा। रूजुता का यह भी कहना है कि गर्भावस्था की अवधि के बाद भी घी लेना अच्छा है क्योंकि यह आपके चयापचय में मदद करता है और जब भोजन में स्वाद के लिए छोटे अनुपात में लिया जाए, तब आपकी सेहत के लिए भी अच्छा होता है।

(और पढ़ें - पीरियड के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे और test tube baby in hindi)

इन्होने एक आहार योजना के बारे में भी बताया जो आपको ज़्यादा खाने से दूर रखेगी, साथ ही आपको दिन भर हल्का और ऊर्जावान महसूस होगा।

  • चरण 1 - कल्पना करें कितना खाना आप खाना चाहते हैं।
  • चरण 2 - अपनी थाली पर कल्पना किए भोजन का आधा भाग परोसें।
  • चरण 3 - भोजन खाने के लिए दुगुना समय लें।
  • चरण 4 - यदि आपको अभी भी भूख लगी है, तो चरण 1 से फिर से शुरू करें।

इस प्रकार उपयुक्त मात्रा में अपनी इच्छा के अनुसार घर के बने भोजन को आराम से खायें और जीवन के इस अनोखे पड़ाव का मज़ा उठायें जैसे ये एक्ट्रेस उठा रही हैं।

और पढ़ें ...