• हिं

प्लेटलेट्स के बारे में सरल रूप में समझा जाए तो कह सकते हैं कि यह ऐसी कोशिकाएं होती हैं जो रक्त को बहने से रोकती है। शरीर में किसी चोट या अन्य कारण से रक्तवाहिका से रक्तस्त्राव होने पर प्लेटलेट्स के द्वारा ही खून को रोकने का कार्य किया जाता है। इनकी संख्या नियमित बनी रहना हमारे शरीर के लिए बेहद ही जरूरी होती है। किसी कारणवश इनके कम या ज्यादा होने पर आपको कई तरह के रोग होना शुरू हो जाते हैं। मुख्यतः प्लेटलेट्स की कमी समस्या का कारण बनती है। आगे हम जानेंगे कि प्लेटलेट्स क्या है, प्लेटलेट्स के कार्य और नार्मल प्लेटलेट्स कितनी होनी चाहिए।

(और पढ़ें - प्लेटलेट्स कम होना)

  1. प्लेटलेट्स क्या है - What are platelets in Hindi
  2. प्लेटलेट्स की नार्मल संख्या कितनी होती हैं? - What is normal platelet count in HIndi
  3. प्लेटलेट्स का क्या कार्य है? - What is the function of platelets in Hindi?
  4. प्लेटलेट्स और हृदय रोग में संबंध - How platelets relate to cardiovascular disease in Hindi
  5. आप प्लेटलेट्स कैसे डोनेट कर सकते हैं? - How can you donate platelets in Hindi
प्लेटलेट्स क्या हैं, कार्य, नार्मल रेंज के डॉक्टर

प्लेटलेट्स क्षतिग्रस्त ऊतकों को सही करते हैं। इसके साथ ही यह रक्तस्राव को रोकने का काम करते हैं। इस प्रक्रिया का वैज्ञानिक नाम होमियोस्टेसिस (Hemostasis) है। प्लेटलेट्स रक्त में मौजूद तत्व होते हैं, जो पानी रूपी द्रव और कोशिकाओं से बने होते हैं। इन कोशिकाओं में ऑक्सीजन को ले जाने वाली लाल रक्त कोशिकाएं भी शामिल होती हैं। प्लेटलेट्स रक्त में मौजूद बेहद ही सुक्ष्म कण होते हैं जिनको चिकित्सीय जांच के दौरान देखा जा सकता है। शरीर पर चोट लगने के बाद रक्त में मौजूद प्लेटलेट्स को संकेत मिलना शुरू हो जाता हैं, जिससे वह चोट व रक्तस्त्राव वाले स्थान पर पहुंचकर रक्त को रोकने की प्रक्रिया शुरू कर देते हैं।

(और पढ़ें - प्लेटलेट्स गिनती)

शरीर में कितनी प्लेटलेट्स होती हैं?

नार्मल प्लेटलेट काउंट 150,000 से 450,000 प्लेटलेट्स प्रति माइक्रोलीटर रक्त के बीच होता है। 450,000 से अधिक प्लेटलेट्स होने की स्थिति थ्रोम्बोसाइटोसिस कहलाती है; 150,000 से कम होने को थ्रोम्बोसाइटोपेनिया के रूप में जाना जाता है।

आप अपना प्लेटलेट नंबर एक रक्त परीक्षण से प्राप्त करते हैं जिसे "कम्पलीट ब्लड काउंट" (सीबीसी) कहा जाता है।

(और पढ़ें - प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए क्या खाएं)

प्लेटलेट्स का क्या महत्त्व है?

प्लेटलेट्स हमारे शरीर में रक्तस्राव को नियंत्रित करते हैं, इसलिए वे अंग प्रत्यारोपण जैसी सर्जरी के साथ-साथ कैंसर, क्रोनिक बीमारियों और दर्दनाक चोटों से लड़ने के लिए आवश्यक होती हैं।

डोनर प्लेटलेट्स उन रोगियों को दिए जाते हैं जिनके पास पर्याप्त प्लेटलेट्स नहीं होती हैं, एक ऐसी स्थिति जिसे थ्रोम्बोसाइटोपेनिया कहा जाता है, या जब किसी व्यक्ति के प्लेटलेट्स ठीक से काम नहीं कर रही होती हैं। रोगी के रक्त में प्लेटलेट काउंट बढ़ाने से खतरनाक या घातक रक्तस्राव का खतरा कम हो जाता है।

(और पढ़ें - प्लेटलेट्स बढ़ाने के उपाय)

यदि आपकी प्लेटलेट्स की गिनती बहुत अधिक हैं, तो यह खून के थक्के जमने के जोखिम को बढ़ा सकता है। लेकिन अक्सर हृदय रोग के जोखिम का प्लेटलेट नंबर की तुलना में प्लेटलेट फ़ंक्शन के साथ अधिक संबंध होता है। उदाहरण के लिए, आपके पास स्वस्थ संख्या में प्लेटलेट्स हो सकते हैं, लेकिन यदि वे एक दूसरे से बहुत अधिक चिपक जाते हैं तो यह दिल का दौरा या स्ट्रोक होने की संभावना को बढ़ा सकता है।

प्लेटलेट डोनेशन में आपके हाथ से मशीन में खून निकाला जाता है। प्लेटलेट्स को रक्त के अन्य घटकों से अलग किया जाता है, जो आपकी दूसरी भुजा के माध्यम से वापस आपके शरीर में दाल दिए जाते हैं। यह चक्र कई बार दोहराया जाता है। इस प्रक्रिया से एक डोनर इतनी प्लेटलेट्स डोनेट कर सकता है जितनी पांच बार ब्लड डोनेट करने से मिलती हैं, और प्लेटलेट्स इतनी माता में मिल जाती हैं कि तीन लोगों की मदद की जा सकती है।

Dr. Jugal kishor

Dr. Jugal kishor

सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Suvendu Kumar Panda

Dr. Suvendu Kumar Panda

सामान्य चिकित्सा
7 वर्षों का अनुभव

Dr. Aparna Gurudiwan

Dr. Aparna Gurudiwan

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Pallavi Tripathy

Dr. Pallavi Tripathy

सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

संदर्भ

  1. National Cancer Institute [Internet]. Bethesda (MD): U.S. Department of Health and Human Services; NCI Dictionary of Cancer Terms
  2. University of Rochester Medical Center Rochester, NY. [Internet] What Are Platelets?
  3. Sinhalagoda Lekamlage Chandi Asoka Dharmarathna et al. Does Carica papaya leaf-extract increase the platelet count? An experimental study in a murine model . Asian Pac J Trop Biomed. 2013 Sep; 3(9): 720–724. PMID: 23998013
  4. Ian Mark Fraser, Mark Dean. Extensive bruising secondary to vitamin C deficiency . BMJ Case Rep. 2009; 2009: bcr08.2008.0750. PMID: 21686649
  5. Bassem M Mohammed et al. Impact of high dose vitamin C on platelet function . World J Crit Care Med. 2017 Feb 4; 6(1): 37–47. PMID: 28224106
  6. Ingeberg S, Stoffersen E. Platelet dysfunction in patients with vitamin B12 deficiency. Acta Haematol. 1979;61(2):75-9. PMID: 105547
  7. Platelet Disorder Support Association. Vitamins and Other Supplements. Cleveland, Ohio [Internet]
  8. American Society of Hematology. The role of vanin-1 and oxidative stress-related pathways in distinguishing acute and chronic pediatric ITP. Washington, DC
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ