myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

रोटी, कपड़ा और मकान की तरह आज स्मार्टफोन भी हमारी जरूरत बन गया है। कॉलेज हो या ऑफिस, पार्टी हो या फिर कोई शादी समारोह। यानि हम जहां-जहां फोन वहां-वहां। इस दौरान खाने के लिए अच्छा सा रेस्टोरेंट तलाशना हो या फिर किसी भटकते को रास्ता दिखाना। हर चीज और हर मर्ज की दवा है स्मार्टफोन।

लेकिन, जहां इस स्मार्टफोन के लाख फायदे हैं तो कई ऐसे नुकसान भी हैं, जिनके कारण इसने कुछ लोगों को आलसी और बीमार बना दिया है। शायद यही वजह है कि ऐसे लोग फोन की लत के कारण मोटापे जैसी बीमारी से परेशान हैं और चाहकर भी मोटापे को कम नहीं कर पा रहे हैं।

खैर, समस्या है तो निदान भी है। जो लोग इस साल अपना वजन कम करने में असफल रहे हैं, वो फोन की ऐसी 5 आदतों से दूरी बनाकर अगले साल यानी 2020 में मोटापे की समस्या से निजात पा सकते हैं, तो आपको बताते हैं कि कैसे फोन की खराब आदत के चलते आप वजन कम करने में असफल हो रहे हैं।

(और पढ़ें - मोटापा कम करने के लिए डाइट चार्ट)

चिंता और तनाव बढ़ता है फोन
एक तरह से देखा जाए तो हम सभी फोन के आदी हो चुके हैं। जिससे दूरी बनाना थोड़ा कठिन होता है, क्योंकि इस दौरान हमें फोन में आने वाले नोटिफिकेशन और तमाम तरह के मैसेज की फ्रिक होती है, जो आपके अंदर चिंता और तनाव पैदा करता है। 

हम जानते हैं कि तनाव के साथ क्या होता है? इस दौरान शरीर हार्मोनल प्रणाली की चपेट में आ जाता है और प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) कम हो जाती है। इतना ही नहीं, आप पुरानी बीमारियों के शिकार हो जाते हैं और इसके बाद वजन कम करना मुश्किल हो सकता है। 

पैदल चलते वक्त फोन का इस्तेमाल
जब आप पैदल चलते समय अपने फोन का इस्तेमाल कर रहे होते हैं, तो यह आपकी गति यानि स्पीड को धीमा कर देता है। जिसके कारण आपकी कैलोरी बर्न होने की क्षमता प्रभावित होती है। इसलिए वजन कम करने या घटाने और अन्य स्वास्थ्य लाभ के लिए, तेज गति से कम से कम 150 मिनट तक चलना अच्छा हो सकता है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के आयुर्वेदिक उपाय)

खाना खाते समय फोन इस्तेमाल करना
खाना खाते समय फोन का इस्तेमाल या टीवी देखना आज एक सामान्य बात हो गई है, लेकिन ये एक अनहेल्दी (बुरी) आदत है और यह पूरी तरह से शांति या आराम से खाना खाने के सिद्धांतों के खिलाफ है। जब आप खाना खा रहे होते हैं, तो उस समय फोन का इस्तेमाल (फोन में गेम खेलना, मैसेज लिखना और कुछ पढ़ना) करना गलत हो सकता है, क्योंकि उस वक्त आप ये नहीं जानते कि आप खाने के साथ कितनी कैलारी ले रहे हैं। 

साथ ही, इससे आप ओवरइटिंग (भूख से अधिक खाना) कर लेते हैं। लिहाजा, इस तरह देखा जाए तो वजन कम करने के लिए शांति के साथ संतुलित आहार लेना लाभदायक होगा।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए 8 तरह के ये डांस)

फोन आपकी नींद खराब करता है
बेहतर और पर्याप्त नींद अच्छे स्वास्थ्य की निशानी है, लेकिन फोन की लत आपकी नींद को खराब कर वजन बढ़ाने में सहायक हो सकती है। फोन की अत्याधिक नीली रोशनी, मेलाटोनिन के उत्पादन को कम कर सकती है। जिससे नींद बाधित होती है और बाद में ये अनिद्रा या इन्सोमिया का कारण बन सकती है। इसके अलावा नींद की कमी उन हार्मोन्स में बदल सकती है जो भूख को नियंत्रित करने के लिए जिम्मेदार हैं, जो आपको काम करने के लिए सुस्त और थका हुआ बनाते हैं।

फोन, व्यायाम करने से भटकाता है
हो सकता है कि आपको इसका एहसास भी न हो, लेकिन जिम में व्यायाम के दौरान लगातार फोन पर रहने पर आपकी एक्सरसाइज पूरी नहीं हो सकती। जिससे आप व्यायाम का लाभ नहीं उठा सकते। फोन की लत आपको अपने वर्कआउट पर पूरी तरह से ध्यान केंद्रित करने से भटका सकती है।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितना पानी पीना चाहिए)

खैर, व्यायाम करते वक्त फोन का इस्तेमाल करना एक्सरसाइज से आपके ध्यान को भटकाता है। जिससे वजन कम करने को लेकर आपका समर्पण धरा का धरा रह जाता है। कुल मिलाकर फोन से जुड़ी लत आपको अन्य कई परेशानियों में डाल सकती है, लेकिन अगर बात वजन कम करने की है तो खाने से लेकर, सोने तक और एक्सरसाइज से जुड़ी हर कोशिश को फोन कम करता है। इसलिए नए साल पर, नए लक्ष्य के साथ फोन को थोड़ा दूर कर आप वजन कम करने में कामयाबी पा सकते हैं।

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें