myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

भारत में अधिकांश लोग उष्णकटिबंधीय (ट्रापिकल) या उप-उष्णकटिबंधीय (सब-ट्रापिकल) ग्रीसकाल वाले क्षेत्र में रहते हैं। इसके अलावा गर्मी के महीनों में हम सब जिम न जाने के तरह-तरह के बहाने भी बनाते हैं जैसे बहुत गर्मी है, उमस हो रही है, गर्मी की वजह से चिड़चिड़ाहट भी हो रही है, मैं बहुत थका हुआ हूं, ये बहुत डिहाइड्रेट वाला मौसम है। लेकिन हमें कम से कम सर्दियों में अपने फिटनेस और स्वस्थ पर ज़रूर ध्यान रखना चाहिए।

(और पढ़ें - ये 11 काम करते हैं फिट लोग)

हम सभी गुलाब जामुन, गुझिया का ख़ूब मज़ा लेते हैं लेकिन उस अनुपात में कैलोरी बर्न करने के लिए वर्कआउट नहीं करते हैं। साथ ही हम अपने दोस्तों से, अपने आप से वादा करते हैं कि इस सर्दी में मैं हर हाल में अपना वजन कम करूंगा।

लेकिन जब सर्दियों का महीना आता है, तो हम वापस अपने फिटनेस रूटीन में नहीं आ पाते हैं। कुछ लोग जो वापिस वर्कआउट करना शुरू कर देते हैं, उनको अपनी अपेक्षाओं के अनुरूप परिणाम नहीं मिलता है और फिर वो कुछ बहाने ढ़ूढ़ने लगते हैं और कहने लगते हैं कि अगली सर्दियों में ज़रूर वजन कम करूंगा।

तो इसमें हैरानी की बात नहीं की सर्दियों में आपका वजन तेज़ी से बढ़ जाता है 

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए लाइफस्टाइल टिप्स)

इन बातों का ध्यान रखें तो सर्दियों में वजन नहीं बढ़ेगा-

1. कम खाएं - 

सर्दियों में कम खाएं, थोड़ा-थोड़ा करके खाएं और स्वस्थ चीज़े खाएं। जब आपके आस-पास के लोग मूंगफली, गुड़, गुड़ पट्टी, गजक का मज़ा ले रहे हों, तो थोड़ी मात्रा में आप भी इन सबका मज़ा ले सकते हैं। लेकिन इस बात का ध्यान रहें कि अधिक मात्रा में न खाएं। 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए डाइट टिप्स)

2. थोड़ा मुश्किल है फिर भी एक्सरसाइज़ करें -

सर्दियों में गर्म रजाई से बाहर निकलना इतना आसान नहीं होता है। सर्दियों के कोहर, छोटे दिन और बड़ी रातें दिनचर्या को और बोझिल बना देती हैं। हड्डियों तक पहुंचने वाले ठंड के मौसम में जिम, योगा क्लास और लंबी मॉर्निंग वॉक पर जाना कौन पसंद करेगा।

(और पढ़ें - सर्दियों में पेट की चर्बी खत्म करने के लिए बेस्ट नाश्ता)

3. तनाव वाले और कम उर्जा वाले मौसम में लोग अधिक खाते हैं -

सर्दियों के मौसम में दोस्तों के साथ बाहर घूमने जाएं। ये वजन कम करने एक एक बहुत बढ़िया नुस्खा है। इसके साथ ही ऊपर बताई गई सारी बातें बहाने थें अगर आप चाहें, तो सर्दियों में वजन कम कर सकते हैं। इस बात का आपको पता होना चाहिए कि आपकी पाचन शक्ति बेहतर है या नहीं। सर्दियों में आपकी पाचन शक्ति बढ़ जाती है और आपका शरीर तेज़ी से फैट बर्न करता है। यही वजह है कि हम सर्दियों में अधिक गर्म महसूस करते हैं और हमारी कुछ आवश्यक गतिविधियां भी बेहतर हो जाती हैं जैसे श्वसन क्रिया, रक्त प्रवाह आदि। जितनी मात्रा में भोजन करें, उसके हिसाब से वर्कआउट के माध्यम से कैलोरी भी बर्न करें। इन दोनों में संतुलन बना कर रखें।

(और पढ़ें - बिना जिम जाये सर्दियों में वजन कम करने के नुस्खे)

अपने आप से वादा करें कि 1 महीने में आप 4 किलो वजन कम करेंगे। इस हिसाब से आपको हफ्ते में 3500 कैलोरी और एक दिन में 500 कैलोरी बर्न करना होगा क्योंकि सर्दियों में हमारी पाचन शक्ति अधिक सक्रिय होती है। इसलिए पूरे दिन में आप 500 कैलोरी आसानी से बर्न कर सकते हैं। आधी कैलोरी आप कम खाकर कर सकते हैं और 300 कैलोरी एक्सरसाइज़ के माध्यम से बर्न कर सकते हैं।

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए कितनी कैलोरी खाएं)

4. सर्दियों में इनडोर एक्सरसाइज़ से तेज़ी से करें कैलोरी बर्न - 

अगर आपका वजन 60 से 70 किलो है, तो मान लीजिए यदि आप 1 घंटा ज़ुम्बा डांस करते हैं, तो 350 से 650 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। यदि आप पूरे सर्दी के मौसम में एक घंटा प्रभावी तरीक़े से रोज़ाना ज़ुम्बा डांस करें तो। रस्सी कूद कर आप 700 से 800 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। साथ ही आप ट्रेड मील पर 1 घंटे चल कर 600 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। इसके अलावा यदि आप घर से बाहर जा कर, एक घंटे स्विमिंग करें, तो भी 700 कैलोरी बर्न कर सकते हैं। आप आपने डाइट के माध्यम से भी कुछ कैलोरी कम कर सकते हैं। साथ ही अपने तरीक़े से रोज़ाना एक्सरसाइज़ भी करें। चाहे वो कोई भी व्यायाम हो। ये वजन कम करनें में मदद करेंगे।

(और पढें - 30 मिनट का यह होम वर्कआउट करे ढेर कैलोरी बर्न)

और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें
कोरोना मामले - भारतx

कोरोना मामले - भारत

CoronaVirus
4067 भारत
226आंध्र प्रदेश
10अंडमान निकोबार
1अरुणाचल प्रदेश
26असम
30बिहार
18चंडीगढ़
9छत्तीसगढ़
503दिल्ली
7गोवा
122गुजरात
84हरियाणा
13हिमाचल प्रदेश
106जम्मू-कश्मीर
3झारखंड
151कर्नाटक
314केरल
14लद्दाख
165मध्य प्रदेश
690महाराष्ट्र
2मणिपुर
1मिजोरम
21ओडिशा
5पुडुचेरी
68पंजाब
253राजस्थान
571तमिलनाडु
321तेलंगाना
26उत्तराखंड
227उत्तर प्रदेश
80पश्चिम बंगाल

मैप देखें