myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

ब्यूटी प्रोडक्ट्स की मदद से आप अपने लुक को पूरी तरह बदल देते हैं, बाहरी रूप से दिखने में खूबसूरत हो जाते हैं। लेकिन हाल ही एनवायरनमेंट हेल्थ पर्सपेक्टिव नामक एक जर्नल में छपे अध्ययन के अनुसार ब्यूटी प्रोडक्ट आपके शरीर के लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं। यूनिवर्सिटी ऑफ़ कैलिफोर्निया, बार्कले, स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ के शोधकर्ताओं ने पाया कि लिपस्टिक और लिप ग्लाॅस को बनाने में लीड, कैडमियम, क्रोमियम और मैंगनीज जैसे तत्वों का इस्तेमाल किया जाता है जो महिलाओं में स्वास्थ्य समस्याएं जैसे पेट में ट्यूमर, तंत्रिका तंत्र की समस्याएं पैदा कर सकते हैं। इसके अलावा जो अक्सर मेकअप करते हैं, उनमें भी शारीरिक समस्याएं होने का खतरा बढ़ जाता है।

(और पढ़ें - सुंदर दिखने के उपाय)

लेड
आमतौर पर सभी तरह के ब्रांडेड लिपस्टिक को बनाने में लेड का उपयोग किया जाता है। जबकि लीड का महिला और बच्चों के स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ता है। इसके साथ ही वे पुरूष जो लीड से बने हेयर डाई की मदद से अपने बालों को रंगते हैं, उनके लिए भी यह चिंता का विषय है। लीड हर उम्र के लोगों को प्रभावित करता है। खासकर बच्चों को लीड से बने उत्पादों से दूर रखें। लीड में न्यूरोटाॅक्सिन होता है जो सीधे-सीधे दिमाग पर असर डालता है। अतः यह छोटे बच्चों के लिए ज्यादा खतरनाक है क्योंकि अब तक पूरी तरह उनका मस्तिष्क विकास नहीं हो पाया है।

(और पढ़ें - सुन्दर होंठ पाने का आसान तरीका)

क्रोमियम
लिपस्टिक बनाने में क्रोमियम का भी इस्तेमाल किया जाता है। एक अध्ययन के अनुसार महिलाएं औसतन 24 मिलीग्राम लिपस्टिक का रोजाना सेवन करती हैं। जो महिलांए लिपस्टिक री-अप्लाई यानी बार-बार लगाती हैं, वे औसतन 87 मिलीग्राम लिपस्टिक का सेवन रोजाना करती हैं। इस तरह देखा जाए तो महिलाएं जाने-अनजाने लिपस्टिक में मौजूद घातक तत्वों का सेवन कर बैठती हैं। क्रोमियम भी उन्हीं में से एक है। क्रोमियम के सेवन से पेट में ट्यूमर हो सकता है।

(और पढ़ें - होठों का कालापन दूर करने के उपाय)

कैडमियम
लिपस्टिक में कैडमियम का उपयोग भी होता है। कैडमियम उन महिलाओं के लिए ज्यादा खतरनाक है जिन्हें डायबिटीज और रीनल डिजीज (किडनी फेल होने का अंतिम चरण) है। विशेषज्ञों का कहना है कि कैडमियम नामक यह तत्व आपके शरीर को कई तरह से और अलग-अलग स्तर पर प्रभावित करता है। इसके साथ ही यह बात भी मायने रखती है कि आपको किस तरह की शारीरिक समस्या है। अतः अगर कोई महिला बहुत ज्यादा लिपस्टिक का यूज करती है, तो उसे किडनी की समस्या होन की आशंका बढ़ जाती है। इसके अतिरिक्त कैडमियम आपकी हड्डियों को भी नुक्सान पहुंचाता है।

(और पढ़ें - फटे होंठ के घरेलू उपाय)

मैंगनीज-एलम्यूनियम
हालांकि हमारे शरीर के लिए मैंगनीज एक उपयोगी पोषक तत्व है। लेकिन मैंगनीज का अतिरिक्त सेवन किया जाना सही नहीं है। इससे पर्किंसन और इसके लक्षण बढ़ सकते हैं। इसी तरह एल्यूमीनियम जो कि एक न्यूरोटाॅक्सिन है, आपके लिए शरीर के लिए सही नहीं है। इसकी आपके शरीर पर किसी तरह की बायोलॉजिकल भूमिका नजर नहीं आती।

लिपस्टिक के अन्य खतरे
कुछ लिपस्टिक में पेट्रोकेमिकल का यूज किया जाता है। कहने की जरूरत नहीं है कि पेट्रोकेमिकल दूषितक पदार्थ है जो बड़े पैमाने पर वातावरण को भी प्रदूषित करता है। लिपस्टिक में इस्तेमाल सिंथेटिक परफ्यूम भी आपको बीमार कर सकता है।

लिपस्टिक की मदद से आपके होंठ आकर्षक और खूबसूरत नजर आ सकते हैं लेकिन यह आपके स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है। अत: इसके इस्तेमाल से पहले इसमें मौजूद तत्वों पर एक नजर जरूर डाल लें।

(और पढ़ें - मशहूर एक्ट्रेस के ब्यूटी टिप्स)

और पढ़ें ...