बेसल सेल कार्सिनोमा - Basal Cell Carcinoma in Hindi

Dr. Ayush PandeyMBBS

October 28, 2020

January 18, 2021

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
बेसल सेल कार्सिनोमा
सुनिए कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

बेसल सेल कार्सिनोमा एक प्रकार का त्वचा का कैंसर है। यह बेसल कोशिकाओं में शुरू होता है। बेसल कोशिकाएं, त्वचा के भीतर मौजूद होती हैं जो पुरानी कोशिकाओं के मृत हो जाने की स्थिति में नई कोशिकाओं का उत्पादन करती हैं। बेसल सेल कार्सिनोमा, सामान्य रूप से त्वचा पर पारदर्शी उभार के रूप में दिखाई देती हैं। हालांकि, यह अन्य रूप में भी देखी जा सकती हैं। बेसल सेल कार्सिनोमा, सामान्य रूप से त्वचा के उन्ही हिस्सों में देखा जाता है, जो सूर्य के सीधे संपर्क में होते हैं जैसे सिर, चेहरा और गर्दन आदि।

विशेषज्ञों के मुताबिक सूर्य के प्रकाश में मौजूद पराबैंगनी (यूवी) किरणों के संपर्क में लंबे समय तक रहने के ​कारण बेसल सेल कार्सिनोमा की समस्या हो सकती है। धूप से बचकर और सनस्क्रीन का उपयोग करके बेसल सेल कार्सिनोमा की समस्या से स्वयं को सुरक्षित रखा जा सकता है।

बेसल सेल कार्सिनोमा आमतौर पर बहुत धीरे-धीरे बढ़ता है और कई वर्षों तक दिखाई नहीं देता है। कैंसर के ट्यूमर सामान्य रूप से नाक या फिर चेहरे के अन्य हिस्सों में हल्के उभार के रूप में विकसित होते हैं। हालांकि, कुछ लोगों में ट्यूमर शरीर के अन्य हिस्सों में भी विकसित हो सकता है। जिन लोगों की त्वचा गोरी होती है उन्हें बेसल सेल कार्सिनोमा का खतरा अधिक होता है। इस लेख में हम बेसल सेल कार्सिनोमा के लक्षण, कारण और इसके इलाज के बारे में जानेंगे।

बेसल सेल कार्सिनोमा के लक्षण क्या हैं - Basal Cell Carcinoma Symptoms in Hindi

बेसल सेल कार्सिनोमा लोगों में अलग-अलग तरह का दिख सकता है। सामान्य रूप से यह त्वचा पर गुंबद के आकार का दिखाई देता है, जिसमें रक्त वाहिकाएं मौजूद होती हैं। यह गुलाबी, भूरा या काले रंग का हो सकता है। कई लोगों में यह त्वचा में कठोर उभार की तरह भी दिखाई दे सकता है।

दूसरे शब्दों में कहें तो बेसल सेल कार्सिनोमा त्वचा में परिवर्तन के रूप में दिखाई देता है, जैसे कि त्वचा मेंं वृद्धि या फिर ऐसा घाव जो आसानी से ठीक न हो रहा हो। त्वचा में दिखाई देने वाले यह परिवर्तन निम्न प्रकार के हो सकते हैं।

  • त्वचा पर सफेद या काले रंग का उभार, जिसमें रक्त वाहिकाएं नजर आती हों। बेसल सेल कार्सिनोमा अक्सर चेहरे और कानों पर दिखाई देता है। कई बार त्वचा पर दिखने वाला उभार फट जाता है और उसमें से खून आ सकता है।
  • कुछ लोगों में उभार गुलाबी, भूरा या काले रंग का हो सकता है।
  • छाती या पीठ पर लाल रंग के पैच नजर आ सकते हैं। समय के साथ, ये पैच  बड़े हो सकते हैं।
  • त्वचा पर सफेद मोम युक्त उभार जिसे मोर्फेफॉर्म बेसल सेल कार्सिनोमा कहा जाता है, यह बेसल सेल कार्सिनोमा की सबसे दुर्लभ स्थिति है।

बेसल सेल कार्सिनोमा का कारण क्या है - Basal Cell Carcinoma Causes in Hindi

त्वचा के बेसिल कोशिकाओं के डीएनए में उत्परिवर्तन के कारण बेसल सेल कार्सिनोमा की समस्या हो सकती है। बेसल कोशिकाएं एपिडर्मिस की सतह में मौजूद होती हैं। त्वचा की सबसे बाहरी परत को एपिडर्मिस कहा जाता है। बेसल कोशिकाएं नई त्वचा कोशिकाओं का निर्माण करती हैं। जैसे-जैसे नई त्वचा कोशिकाओं का निर्माण होता है, ये पुरानी कोशिकाओं को त्वचा की सतह की ओर धकेलती जाती हैं जहां पुरानी कोशिकाएं मृत हो जाती हैं।

नई त्वचा कोशिकाओं को बनाने की प्रक्रिया को बेसल सेल के डीएनए द्वारा नियंत्रित किया जाता है। डीएनए में उत्परिवर्तन के कारण बेसल सेल तेजी से बढ़ने लगती है और एक समय बाद यह नष्ट हो जाती हैं। अंत में संचित असामान्य कोशिकाएं कैंसर कारक ट्यूमर का निर्माण करती हैं जो त्वचा पर उभार के रूप में दिखाई देता है।

पराबैंगनी किरणें और अन्य कारण

विशेषज्ञों के मुताबिक बेसल कोशिकाओं के डीएनए को होने वाले नुकसान का मुख्य कारण सूरज की रोशनी में पाई जाने वाली पराबैंगनी (यूवी) किरणें होती हैं। इसके अलावा कई अन्य कारक हैं जो  बेसल सेल कार्सिनोमा के जोखिम को बढ़ा सकते हैं। कुछ मामलों में सटीक कारण स्पष्ट नहीं  हैं।

बेसल सेल कार्सिनोमा का निदान कैसे होता है - Diagnosis of Basal Cell Carcinoma in Hindi

बेसल सेल कार्सिनोमा के निदान के लिए डॉक्टर सबसे पहले शारीरिक परीक्षण करने के साथ रोगी की मेडिकल हिस्ट्री, त्वचा में बदलाव और अनुभव किए गए अन्य लक्षणों के बारे में पूछते हैं। स्थिति के निदान के लिए डॉक्टर निम्न प्रकार के प्रश्न पूछ सकते हैं।

  • त्वचा पर पहली बार उभार को कब नोटिस किया था?
  • क्या पहली बार नजर आए स्थिति के बाद इसमें किसी प्रकार का बदलाव हुआ है?
  • क्या त्वचा पर दिख रहा उभार दर्दकारक है?
  • क्या शरीर के किसी अन्य हिस्से में इस प्रकार का उभार है?
  • क्या आपको पहले कभी त्वचा का कैंसर हुआ है?
  • क्या आपके परिवार में किसी को त्वचा का कैंसर रहा है?
  • क्या आप धूप से सुरक्षित रहने के लिए सावधानी बरतते हैं, जैसे कि दोपहर में सूरज के सीधे संपर्क में आने से बचना या सनस्क्रीन का उपयोग करना?

इन सवालों के आधार पर डॉक्टर न सिर्फ संदेह वाले हिस्से बल्कि आसपास की त्वचा की भी जांच करते हैं। स्किन बायोप्सी के लिए प्रभावित त्वचा से छोटा सा सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जा सकता है। इससे पता चल जाता है कि आपको त्वचा कैंसर है या नहीं और यदि है तो किस प्रकार का है?

बेसल सेल कार्सिनोमा का इलाज कैसे होता है - Treatment of Basal Cell Carcinoma in Hindi

बेसल सेल कार्सिनोमा के इलाज का लक्ष्य कैंसर को पूरी तरह से दूर करना है। आपके लिए कौन सा उपचार सबसे प्रभावी है, यह कैंसर के प्रकार, स्थान और आकार पर निर्भर करता है। उपचार के माध्यमों का चयन इस बात पर भी निर्भर करता है कि उस व्यक्ति में बेसल सेल कार्सिनोमा पहली बार हुआ है या फिर पहले भी हो चुका है?

सर्जरी

बेसल सेल कार्सिनोमा के मामले में सर्जरी की आवश्यकता हो सकती है। इसके माध्यम से कैंसर और उसके आसपास के ऊतकों को हटाया जाता है।

इलेक्ट्रिसिटी के माध्यम से कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करना

इस प्रक्रिया के दौरान डॉक्टर सबसे पहले त्वचा को सुन्न कर देते हैं। उसके बाद चम्मच जैसे आकार वाले एक उपकरण के माध्यम से ट्यूमर को खुरचा जाता है। रक्तस्राव को नियंत्रित करने के साथ इलेक्ट्रिक सूई के माध्यम से कैंसर कोशिकाओं को नष्ट करने का प्रयास किया जाता है।

कैंसर कोशिकाओं की फ्रीजिंग

इसे क्रायोसर्जरी के नाम से जाना जाता है। लिक्विड नाइट्रोजन का प्रयोग करते हुए कैंसर कोशिकाओं को मारने के लिए उन्हें फ्रीज किया जाता है।



बेसल सेल कार्सिनोमा के डॉक्टर

Dr. Ashok Vaid Dr. Ashok Vaid ऑन्कोलॉजी
31 वर्षों का अनुभव
Dr. Ashu Abhishek Dr. Ashu Abhishek ऑन्कोलॉजी
12 वर्षों का अनुभव
Dr. Susovan Banerjee Dr. Susovan Banerjee ऑन्कोलॉजी
16 वर्षों का अनुभव
Dr. Rajeev Agarwal Dr. Rajeev Agarwal ऑन्कोलॉजी
42 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

बेसल सेल कार्सिनोमा की दवा - Medicines for Basal Cell Carcinoma in Hindi

बेसल सेल कार्सिनोमा के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹12.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹10.4

20% छूट + 5% कैशबैक


₹11.7

20% छूट + 5% कैशबैक


₹15.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹29.03

20% छूट + 5% कैशबैक


₹11.07

20% छूट + 5% कैशबैक


₹69.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹11.55

20% छूट + 5% कैशबैक


₹12.5

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 22 entries


डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ