• हिं
  • हिं

कोविड-19 महामारी ने दुनियाभर में साढ़े छह लाख से ज्यादा लोगों की जान ली है। लेकिन कोरोना वायरस सार्स-सीओवी-2 से होने वाली इस बीमारी को मात देने वाले लोगों की संख्या एक करोड़ से भी ज्यादा हो गई है। पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या एक करोड़ 66 लाख से भी आगे जा चुकी है। वर्ल्डओमीटर के मुताबिक, इनमें से छह लाख 56 हजार 550 की मौत हो गई है। हालांकि एक करोड़ दो लाख 32 हजार मरीजों को बचा भी लिया गया है। यह संख्या कोविड-19 के कुल वैश्विक मामलों का 61 प्रतिशत से भी ज्यादा है, जबकि बीमारी से मारे गए लोगों की दर चार प्रतिशत से नीचे गिरकर 3.94 प्रतिशत हो गई है। हालांकि भारत के लिए एक बुरी खबर है।

वर्ल्डओमीटर के मुताबिक, बीते 24 घंटों में दुनियाभर में कोविड-19 से सबसे ज्यादा मौतें भारत में हुई हैं। बीते कई दिनों से तीन अमेरिकी देश अमेरिका, ब्राजील और मैक्सिको कोविड-19 से प्रतिदिन होने वाली मौतों के मामले में अन्य सभी देशों से आगे रहे हैं। लेकिन सोमवार को ये तीनों इस मामले में भारत से पिछड़ गए हैं। आंकड़ें बताते हैं कि इस दिन अमेरिका में 61 हजार से ज्यादा मरीजों की पुष्टि हुई है और 596 लोगों की मौत हो गई। ब्राजील में 23 हजार से अधिक नए मामले सामने आए और 627 मौतें दर्ज की गईं। कई दिनों से लगभग हर दिन 600 से 700 मौतों का गवाह बन रहे मैक्सिको में भी 306 मौतों की पुष्टि की खबर है। यहां सोमवार को 5,400 से अधिक संक्रमितों का पता चला है। वहीं, भारत में सोमवार को 47 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए और 636 मौतों की पुष्टि की गई। वहीं, यहां के स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, यह संख्या 654 रही। यह आंकड़ा अमेरिका, ब्राजील और मैक्सिको के अलावा दुनिया के किसी भी अन्य देश में सोमवार को कोविड-19 से मारे गए लोगों की संख्या से ज्यादा है।

(और पढ़ें - अमेरिका में कोविड-19 से डेढ़ लाख लोगों की मौत, राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार कोरोना वायरस से संक्रमित)

डब्ल्यूएचओ के इतिहास की सबसे बुरी हेल्थ इमरजेंसी
इस बीच, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना वायरस संकट को अपने इतिहास का सबसे बुरा स्वास्थ्य आपातकाल बताया है। सोमवार को कोविड-19 को लेकर अपनी दैनिक प्रेस कॉन्फ्रेंस में डब्ल्यूएचओ के प्रमुख टेड्रोस गेब्रेयेसस ने कहा, 'नए कोरोना वायरस की महामारी, जिसने एक करोड़ 60 लाख से ज्यादा लोगों को संक्रमित किया है, निःसंदेह विश्व स्वास्थ्य संगठन के सामने आई अब तक की सबसे बड़ी हेल्थ इमरजेंसी है।' टेड्रोस ने एक बार फिर दोहराते हुए कहा कि मास्क पहनने से लेकर भीड़ में न जाने जैसे सख्त कदम उठाकर ही दुनिया इस संकट को हरा सकती है। उन्होंने कहा, 'जहां भी इन नियमों का पालन किया गया है, वहां केस कम हुए हैं। जहां ऐसा नहीं हुआ है, वहां मामले बढ़े हैं।' यह बयान देते हुए डब्ल्यूएचओ प्रमुख ने कनाडा, चीन, जर्मनी और दक्षिण कोरिया जैसे देशों की प्रशंसा की जहां की सरकारें कोरोना वायरस के संक्रमण को नियंत्रित करने में कामयाब रही हैं।

(और पढ़ें - कोविड-19: आंध्र प्रदेश और कर्नाटक एक लाख मरीजों वाले राज्यों में शामिल, संक्रमितों की कुल संख्या 14 लाख 83,000 के पार, 33,425 की मौत)

कोविड-19 से जुड़ी अन्य अंतरराष्ट्रीय अपडेट्स इस प्रकार हैं

  • मैक्सिको में मृतकों की संख्या 44 हजार के पार, मरीजों का आंकड़ा चार लाख के नजदीक
  • यूनाइटेड किंगडम में तीन लाख मरीजों की पुष्टि, 45 हजार 759 की मौत की पुष्टि
  • 3 लाख मरीजों वाला 11वां देश बन सकता है ईरान, अब तक दो लाख 93 हजार मामले सामने आए
  • एक लाख संक्रमितों वाला 24वां देश बना इंडोनेशिया, 4,838 की मौत
  • कजाकिस्तान में मरीजों की संख्या 84,648 हुई, चीन को पीछे छोड़ने वाला 26वां देश बना 

(और पढ़ें - कोविड-19 से लड़ने में भारत की स्थिति कई देशों से कहीं बेहतर है: नरेंद्र मोदी)


उत्पाद या दवाइयाँ जिनमें कोविड-19: कोरोना वायरस को मात देने वाले लोगों की संख्या एक करोड़ के पार, प्रतिदिन होने वाली मौतों के मामले में भारत ने पहली बार सभी देशों को पीछे छोड़ा है

ऐप पर पढ़ें