myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

एरीथेमा नोडोसम क्या है?

एरीथेमा नोडोसम (Erythema nodosum) त्वचा में सूजन व लालिमा संबंधी एक समस्या है, जो त्वचा की मोटी सतह में विकसित होती है। एरीथेमा नोडोसम के कारण शरीर पर लाल रंग दर्दनाक गांठे बनने लग जाती हैं, जिनको छूने से और अधिक दर्द होता है। ये गांठ मुख्य रूप से टांग के अगले हिस्सों में घुटने के नीचे विकसित होती हैं।

(और पढ़ें - घुटनों में दर्द का इलाज)

एरीथेमा नोडोसम के लक्षण क्या हैं?

टांग के निचले हिस्से में आगे की तरफ दर्दनाक व लाल गांठे विकसित होना एरीथेमा नोडोसम का सबसे मुख्य लक्षण होता है। कभी-कभी ये गांठे आपकी जांघों, बाजुओं, धड़ और चेहरे पर भी दिखाई देने लग जाती हैं। 

एरीथेमा नोडोसम में विकसित होने वाली गांठ आधे इंच से चार इंच तक लंबी हो सकती हैं। इसके साथ ही यह आपके पूरे शरीर में कहीं भी हो सकती और इनकी संख्या 2 से 50 तक हो सकती है। 

एरीथेमा नोडोसम से होने वाली गांठों में दर्द के साथ गर्माहट भी महसूस होती है। वे शुरूआत में लाल रंग की होती हैं और फिर धीरे-धीरे बैंगनी रंग की हो जाती हैं, जबकि ठीक होने के बाद वे नील पड़ने पर बनने वाले निशान की तरह दिखाई पड़ती हैं।

एरीथेमा नोडोसम में कुछ अन्य लक्षण भी देखे जा सकते हैं, जैसे:

एरीथेमा नोडोसम क्यों होता है?

एरीथेमा नोडोसम के काफी सारे कारण हो सकते हैं, लेकिन अक्सर इसके कारण का पता नहीं लग पाता। 

एरीथेमा नोडोसम के कुछ सामान्य कारण जिनमें निम्न शामिल हो हैं:

एरीथेमा नोडोसम का इलाज कैसे किया जाता है?

यदि बैक्टीरियल इन्फेक्शन के कारण आपको एरीथेमा नोडोसम हुआ है, तो उसका इलाज करने के लिए आपको कुछ प्रकार की एंटीबायोटिक दवाएं दी जा सकती हैं। यदि एरीथेमा नोडोसम किसी प्रकार की दवा के साइड इफेक्ट के रूप में हुआ है, तो उस दवा के सेवन को बंद करके इसका इलाज किया जा सकता है। 

जब तक आपकी गांठ ठीक नहीं हो जाती तब तक कुछ प्रकार की दवाओं की मदद से लक्षणों को नियंत्रित किया जाता है:

  • नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इन्फ्लेमेटरी ड्रग्स (NSAIDs) जैसे एस्पिरिन, इबुप्रोफेन और नेप्रोक्सेन आदि। (यदि आपको क्रोन रोग है, तो इन दवाओं का उपयोग ना करें)
  • पोटेशियम आयोडाइड
  • ओरल स्टेरॉयड दवाएं

इसके अलावा जब तक आपकी गांठ ठीक नहीं हो जाती, तब तक डॉक्टर आराम करने और विशेष प्रकार की जुराबें पहने का सुझाव दे सकते हैं, ये जुराबें दबाव बनाती है, जिससे गांठ ठीक होने में मदद मिलती है। डॉक्टर इस दौरान आपको अधिक तंग कपड़े ना पहनने की सलाह भी दे सकते हैं, क्योंकि अधिक तंग कपड़ों में स्थिति और खराब हो सकती है।

(और पढ़ें - ब्रेस्ट में गांठ का इलाज)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...