myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
संक्षेप में सुनें

पेट में दर्द एक व्यक्ति के पेट के ऊपरी या निचले हिस्से में दर्द की भावना होती है जिसकी तीव्रता हल्के दर्द से लेकर अचानक तेज़ दर्द तक हो सकती है।

पेट में दर्द कुछ समय या लम्बे समय तक हो सकता है और तेज़ या कम भी हो सकता है। पेट में दर्द का स्थान ऊपरी हिस्से में दाएं या बाएं किनारे, निचले हिस्से में दाएं या बायां किनारे, ऊपरी, मध्य और निचले हिस्से में हो सकते हैं।

पेट में दर्द कई अलग-अलग कारकों के कारण हो सकता है जो आम से लेकर गंभीर हो सकते हैं जैसे अत्यधिक गैस से लेकर अन्य गंभीर स्थितियां जैसे अपेंडिसाइटिस। कुछ महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान भी पेट में दर्द का अनुभव होता है।

पेट के दर्द के कारण का निदान डॉक्टर आपके दर्द के इतिहास, शारीरिक परीक्षा और परीक्षण के आधार पर करते हैं।

  1. पेट दर्द के प्रकार - Types of Stomach Pain in Hindi
  2. पेट दर्द के लक्षण - Stomach Pain Symptoms in Hindi
  3. पेट दर्द के कारण - Stomach Pain Causes in Hindi
  4. पेट दर्द से बचाव - Prevention of Stomach Pain in Hindi
  5. पेट दर्द का इलाज - Stomach Pain Treatment in Hindi
  6. पेट दर्द में परहेज - What to avoid during Stomach Pain in Hindi?
  7. पेट दर्द में क्या खाना चाहिए? - What to eat during Stomach Pain in Hindi?
  8. पेट दर्द होने पर क्या करे
  9. पेट दर्द के घरेलू उपाय
  10. पेट दर्द की होम्योपैथिक दवा और इलाज
  11. ज्यादा खाना खाने के बाद पेट में दर्द होने पर क्या करें
  12. पेट दर्द में क्या खाएं और क्या न खाएं
  13. पेट दर्द की दवा - Medicines for Stomach ache in Hindi
  14. पेट दर्द की दवा - OTC Medicines for Stomach ache in Hindi
  15. पेट दर्द के डॉक्टर

पेट दर्द के प्रकार - Types of Stomach Pain in Hindi

पेट दर्द के निम्नलिखित प्रकार होते हैं -

  1. सामान्य दर्द
    सामान्य दर्द पेट के आधे या उससे अधिक हिस्से में होता है। यह दर्द कई अलग-अलग बीमारियों के साथ हो सकता है और आमतौर पर उपचार के बिना ठीक हो जाता है। अपच और पेट की समस्याएं सामान्य पेट दर्द का कारण होती हैं। घरेलु उपचार कुछ परेशानी को राहत देने में मदद कर सकता है। हल्का दर्द या कठोर दर्द जो समय के साथ ज़्यादा गंभीर हो जाता है, आंतों की रुकावट का लक्षण हो सकता है।
     
  2. स्थानीय दर्द
    स्थानीय दर्द पेट के एक हिस्से में होता है। अचानक और बदतर होने वाला स्थानीय दर्द एक गंभीर समस्या का लक्षण हो सकता है। अपेंडिसाइटिस का दर्द सामान्य दर्द के रूप में शुरू होता है लेकिन यह अक्सर पेट के एक हिस्से में होने लगता है। पित्ताशय की बीमारी या पेप्टिक अल्सर रोग का दर्द अक्सर पेट के एक हिस्से में शुरू होता है और उसी स्थान पर रहता है। स्थानीय दर्द जो धीरे-धीरे अधिक गंभीर हो जाता है वह पेट के किसी अंग की सूजन का लक्षण हो सकता है।
     
  3. ऐंठन (क्रैम्पिंग)
    क्रैम्पिंग एक प्रकार का दर्द है जो आता-जाता रहता है या होने की स्थिति या गंभीरता में बदलता रहता है। ऐंठन ज़्यादातर सामान्य ही होती है जब तक उसे गैस या मल पारित करने से राहत नहीं मिलती। कई महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान ऐंठन होती है। सामान्य ऐंठन आमतौर पर चिंता का कारण नहीं होती जब तक वह बदतर न हो, 24 घंटों से अधिक समय तक रहे या एक ही जगह पर हो। दस्त या अन्य सामान्य स्वास्थ्य समस्याओं के साथ शुरू होने वाली ऐंठन काफी दर्दनाक हो सकती है लेकिन यह आमतौर पर गंभीर नहीं होती।

पेट दर्द के लक्षण - Stomach Pain Symptoms in Hindi

पेट दर्द अपने आप में एक लक्षण है जिसका मतलब यह हो सकता है कि व्यक्ति को कोई समस्या है जिसे इलाज की आवश्यकता है। अपने लक्षणों का ध्यान रखें क्योंकि इससे डॉक्टर को आपके दर्द का कारण जानने में मदद मिलेगी।
विशेष ध्यान दें अगर पेट में दर्द अचानक हो, खाने के बाद हो या दस्त के साथ हो।

यदि आपके पेट में बहुत तेज़ दर्द है या यदि यह निम्न लक्षणों में से किसी के साथ होता है, तो जल्द से जल्द चिकित्सक की सलाह लें -

  1. बुखार (और पढ़ें – बुखार के घरेलू उपचार)
  2. कई दिनों तक खाना खाने में असमर्थता
  3. मल को पारित करने में असमर्थता, खासकर यदि आपको उल्टी भी हो रही है
  4. उल्टी में रक्त आना
  5. मल में खून आना
  6. सांस लेने में तकलीफ
  7. दर्दनाक या असामान्य रूप से लगातार पेशाब आना
  8. गर्भावस्था के दौरान दर्द होना
  9. पेट स्पर्श करने में मुलायम महसूस होना
  10. पेट में चोट लगने के कारण दर्द होना
  11. दर्द कई दिनों तक रहना

ये लक्षण एक आंतरिक समस्या का संकेत हो सकते हैं जिसे जल्द से जल्द उपचार की आवश्यकता हो सकती है।

पेट दर्द के कारण - Stomach Pain Causes in Hindi

पेट का दर्द कई कारणों की वजह से हो सकता है, इनमें से कुछ मुख्य कारण निम्नलिखित हैं -

  1. अपच (और पढ़ें - अपच का घरेलू इलाज)
  2. कब्ज
  3. इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम (एक विकार जो बड़ी आंत को प्रभावित करता है)
  4. अपेंडिसाइटिस
  5. पेट का फ्लू (वायरल गैस्ट्रोएन्टराइटिस)
  6. मासिक धर्म में ऐंठन
  7. फूड पॉइजनिंग
  8. फूड अलेर्जी
  9. लैक्टोज असहिष्णुता (दूध और डेयरी उत्पादों में पाए जाने वाली प्राकृतिक चीनी शरीर द्वारा न पचा पाना)
  10. अल्सर या फोड़ा
  11. पेल्विक क्षेत्र की सूजन की बीमारी
  12. हर्निआ
  13. पित्ताशय की पथरी
  14. एंडोमेट्रिओसिस (और पढ़ें – एंडोमेट्रिओसिस ट्रीटमेंट)
  15. क्रोहन रोग (पाचन तंत्र की सूजन)
  16. अल्सरेटिव कोलाइटिस
  17. मूत्र-पथ के संक्रमण

पेट के दर्द के कुछ अन्य कारण -

  1. कुछ दिल के दौरों और निमोनिया में भी पेट दर्द हो सकता है। (और पढ़ें – निमोनिया का घरेलू इलाज)
  2. पेल्विस या पेट और जांध के बीच के भाग की बीमारियों में पेट दर्द हो सकता है।
  3. कुछ त्वचा के चकत्ते और दाद भी पेट में दर्द कर सकते हैं।
  4. कुछ ज़हरीले कीड़ों के काटने के कारण भी पेट दर्द हो सकता है।

पेट दर्द से बचाव - Prevention of Stomach Pain in Hindi

पेट दर्द के कई कारण होते हैं जिनमें से कुछ को रोकना आपके वश में होता लेकिन जीवनशैली में कुछ बदलाव करने से आप खुद को किसी और वजह से पेट दर्द होने से रोक सकते हैं। निम्नलिखित आदतें आपकी मदद कर सकती हैं -

  1. खाने की गति कम करें
    यदि आप खाने को बड़ा-बड़ा काटकर और बिना चबाए खाते हैं, तो यह संभव है कि आप खाने के साथ हवा भी निगल लें जो आपके पेट में गैस बनती है जिससे पेट में दर्द हो सकता है। इसीलिए धीरे-धीरे चबाएं और निगलने में समय लें। 

    (और पढ़ें - पेट की गैस का घरेलू उपचार)

  2. भोजन के बीच के अंतराल को कम करें
    कुछ लोगों को भोजन के बीच के अंतराल के दौरान पेट में दर्द होता है। यदि आपको ऐसा होता है, तो पूरे दिन में छोटे-छोटे अंतराल में भोजन या स्नैक्स लें ताकि आपका पेट लंबी अवधि के लिए खाली न रहे। हालाँकि, इसके विपरीत भी हो सकता है। यदि आप ज़्यादा खा लेते हैं तो आपके पेट में दर्द हो सकता है।
     
  3. अपने खाने का ध्यान रखें
    वसायुक्त, तला हुआ या मसालेदार भोजन आपके पेट में परेशानी कर सकता है। यह आपके पाचन तंत्र की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं और आपको कब्ज होने की अधिक संभावना हो सकती है। अगर आप सब्ज़िओं और फाइबर के साथ अधिक पौष्टिक खाद्य पदार्थ खाते हैं तो आपका पाचन तंत्र स्वस्थ रहता है।
     
  4. अपने चिकित्सक से सलाह लें
    यदि आपको दूध पीने के बाद या कोई निश्चित चीज़ खाने के बाद पेट में ऐंठन होती है तो अपने डॉक्टर से सलाह लें। ऐसा हो सकता है आपको डेयरी उत्पादों या किसी अन्य प्रकार के भोजन के प्रति असंवेदनशीलता हो। आपके डॉक्टर आपको इनसे दूर रहने के तरीकों का पता लगाने में मदद कर सकते हैं।
     
  5. अधिक पानी पिएँ
    पानी आपके पेट की गतिविधि ठीक रखता है ताकि आप नियमित रहें। जब आपको प्यास लगे तो पानी पिएँ और सोडे वाले पेय पदर्थों (जैसे कोल्ड-ड्रिंक) का सेवन कम करें। कार्बन युक्त पेय पदार्थ गैस कर सकते हैं जिससे पेट दर्द हो सकता है। अल्कोहल और कैफीनयुक्त पेय पदार्थ कुछ लोगों के पेट में परेशानी पैदा कर सकते हैं इसलिए यदि आपको भी इनसे परेशानी होती है तो इनसे दूर रहें।
     
  6. अपने हाथ धोएं
    पेट के दर्द का एक सामान्य कारण जठरान्त्रशोथ (पाचन तंत्र में संक्रमण और सूजन के कारण होने वाली एक बीमारी) है जिसे कभी-कभी पेट का वायरस कहा जाता है। इससे दस्त, मतली, बुखार या सिरदर्द हो सकते हैं। रोगाणुओं को फैलने से रोकने का सबसे अच्छा तरीका यह है की विशेषकर खाने से पहले, शौचालय जाने के बाद और सार्वजनिक स्थानों पर उपस्थित होने पर बार-बार अपने हाथ धोएं।
     
  7. तनावमुक्त रहें
    कुछ लोगों को तनाव के कारण दिल की धड़कन में वृद्धि होती है या उनकी हथेलियों में पसीना आने लगता है या उन्हें पेट दर्द होता है। इसीलिए तनावमुक्त रहें और ऐसा करने के लिए आप व्यायाम, ध्यान लगाना आदि चीज़ें कर सकते हैं। यदि वे काम नहीं करते हैं, तो अपने चिकित्सक से सलाह लें।

पेट दर्द का इलाज - Stomach Pain Treatment in Hindi

दर्द के कारणों के आधार पर विभिन्न प्रकार के डॉक्टरों द्वारा पेट दर्द का इलाज किया जा सकता है। यदि दर्द गंभीर है तो आपको अस्पताल में आपातकालीन स्थिति में भर्ती होना पड़ सकता है जहां आपातकालीन दवा चिकित्सक आपकी देखभाल करेंगे।

आप पेट के दर्द को कम करने के लिए एक हीटिंग पैड का इस्तेमाल कर सकते हैं। कैमोमाइल या पुदीने की चाय गैस को कम करने में मदद कर सकती हैं। हालाँकि पेट दर्द के लिए निम्लिखित उपचार किए जा सकते हैं -

केमिस्ट से मिलने वाली दवाएं

  1. गैस के दर्द के लिए, सिमेथिकोंन युक्त दवाओं से पेट दर्द में राहत मिल सकती है।
  2. गैस्ट्रोइसोफ़ेगल रिफ़्लक्स रोग (जीईआरडी), से होने वाली जलन के लिए आप एंटासिड या एसिड कम करने वाली दवाओं का उपयोग कर सकते हैं।
  3. कब्ज के लिए, एक रेचक औषधि आपकी मदद कर सकती है।
  4. दस्त से ऐंठन के लिए, लोपरामाइड या बिस्मथ सब-सैलिसिलेट वाली दवाएं आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकती हैं। (और पढ़ें - डायरिया के घरेलू उपचार)
  5. अन्य प्रकार के दर्दों के लिए, एसिटामिनोफेन सहायक हो सकती है लेकिन एस्पिरिन, इबुप्रोफेन या नैरोप्रोसेन जैसी गैर-स्टेरायडल एंटी-इन्फ्लैमेटरी दवाओं से दूर रहें।

आपको डॉक्टर के पास जाना चाहिए अगर आपको इनमें से कुछ लक्षण होते हैं -

  1. गंभीर पेट में दर्द या दर्द कई दिनों तक रहना।
  2. मतली और बुखार होना।
  3. मल में खून आना।
  4. पेशाब करने में दर्द होना।
  5. मूत्र में खून आना।
  6. मल पारित नहीं कर पाना और उलटी होना।
  7. दर्द होने से पहले पेट में चोट लगना।
  8. पेट में जलन होना और दवाओं से ठीक नहीं हो पाना।

पेट दर्द में परहेज - What to avoid during Stomach Pain in Hindi?

पेट में दर्द होने पर निम्नलिखित पदार्थों से परहेज़ करें -

  1. दूध - दूध और पनीर जैसे डेयरी उत्पादों और क्रीम या मीट जैसे खाद्य पदार्थों में फैट की मात्रा अधिक होती है जो पेट दर्द के लिए अच्छा नहीं होता।
  2. एसिड की मात्रा में उच्च खाद्य पदार्थ - टमाटर से बने पदार्थों के साथ-साथ साइट्रस आधारित उत्पादों से एसिड रिफ्लक्स हो सकता है।
  3. शराब - शराब पीने से आपको गैस हो सकती है इसीलिए इसका सेवन न करें।
  4. प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थ - प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थ बहुत सारे रसायनों और प्रेसेर्वेटिस से युक्त होते हैं, जो आपके पेट में परेशानी कर सकते हैं।
  5. चॉकलेट और कैफीन - कैफीन और चॉक्लेट खाना भी पेट के दर्द का कारण हो सकता है।

पेट दर्द में क्या खाना चाहिए? - What to eat during Stomach Pain in Hindi?

पेट दर्द में निम्नलिखित चीज़ें खाना आपके लिए लाभकारी हो सकता है -

  1. केले - केले में पोटेशियम होता है , जिससे आपको उल्टी या दस्त से निर्जलित होने की समस्या में मदद मिल सकती है।
  2. चावल - चावल, आलू और अन्य स्टार्चयुक्त खाद्य पदार्थ पाचन को आसान बनाते हैं और पेट को आराम देते हैं।
  3. सूप - दोनों तरल और उच्च नमक वाले पदार्थ आपको हाइड्रेटेड रख सकते हैं।
  4. पपीता - पपीता पाचन को स्वस्थ रखता है, अपच को कम करता है और कब्ज में मदद करता है।
  5. अदरक - अदरक उलटी आने के उपाय के रूप में अच्छी तरह से काम करता है और पाचन स्वास्थ्य बनाए रखता है।
  6. हर्बल चाय: - गर्म चाय के सुखदायक प्रभावों के अलावा पुदीने और कैमोमाइल वाली चाय पेट की समस्याओं को हल करती हैं।
  7. नारियल पानी - नारियल के पानी पेट की परेशानियों को आराम देते में मदद कर सकता है।
Dr. Suraj Bhagat

Dr. Suraj Bhagat

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी

Dr. Smruti Ranjan Mishra

Dr. Smruti Ranjan Mishra

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी

Dr. Sankar Narayanan

Dr. Sankar Narayanan

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी

पेट दर्द की जांच का लैब टेस्ट करवाएं

LFT ( Liver Function Test )

20% छूट + 10% कैशबैक

CBC (Complete Blood Count)

20% छूट + 10% कैशबैक

Widal Test (Slide Agglutination)

20% छूट + 10% कैशबैक

पेट दर्द की दवा - Medicines for Stomach ache in Hindi

पेट दर्द के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
RabletRablet 10 Mg Tablet65
R Ppi TabletR Ppi 20 Mg Tablet20
HelirabHelirab 20 Mg Injection49
RabiumRabium 10 Mg Tablet15
MeftagesicMeftagesic 500 Mg/325 Mg Tablet24
RantacRantac 150 Mg Tablet18
Rekool TabletREKOOL 10MG TABLET 15S56
RabelocRABELOC 10MG TABLET 10S36
ZinetacZinetac 150 Mg Tablet17
Meftal ForteMeftal Forte Cream54
AcilocAciloc 150 Tablet17
MeftalMeftal 250 mg Tablet DT16
Rablet D CapsuleRablet D Capsule120
Meftal SpasMeftal-Spas Drops27
Razo DRazo D 30 Mg/20 Mg Capsule179
Rekool DRekool 40 D Capsule109
RazoRazo 10 Tablet46
Veloz DVeloz D 30 Mg/20 Mg Capsule103
Erb DsrErb Dsr 30 Mg/20 Mg Capsule60
MebalfaMebalfa 10 Mg Tablet Sr68
Reden OReden O 2 Mg/150 Mg Tablet33
ZadorabZadorab Tablet34
MebaspaMebaspa Tablet74
R T DomR T Dom 10 Mg/150 Mg/20 Mg Tablet7
ZebraZebra 20 Mg Tablet0

पेट दर्द की दवा - OTC medicines for Stomach ache in Hindi

पेट दर्द के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Baidyanath Hemgarbha Pottali (Smy)Baidyanath Hemgarbha Pottali (Smy)272
Baidyanath Panchsakar ChurnaBaidyanath Panchsakar Churna80
Hamdard Arq AjwainHamdard Arq Ajwain41
Zandu Vishtinduk VatiZandu Vishtinduk Vati81
Baidyanath Ichhabhedi RasBaidyanath Ichhabhedi Ras(Ju) Combo Pack Of 2128
Baidyanath Muktashukti PishtiBaidyanath Mukthashukti Pishti Combo Pack Of 3110
Divya Saptvisanti GuggulDivya Saptvisanti Guggul40
Baidyanath Agnisandeepan RasBaidyanath Agnisandeepan Ras Combo Pack Of 2113
Baidyanath Rajbati (Gandhak Bati)Baidyanath Rajbati (Gandhak Bati)55
Divya Chitrakadi VatiDivya Chitrakadi Vati40
Dabur Avipattikar ChurnaDABUR AVIPATTIKAR CHURNA 60GM PACK OF 2147
Baidyanath Hingwashtak ChurnaBaidyanath Hingwashtak Churna80
Baidyanath Sutshekhar RasBaidyanath Sutshekhar Ras88
Divya VidangasavaDivya Vidangasava48
Himalaya Bonnisan DropsHimalaya Bonnisan Drops44
Baidyanath Gaisantak BatiBaidyanath Gaisantak Bati99
Baidyanath Dhatri LauhBaidyanath Dhatri Lauh72
Baidyanath Kamdudha RasBaidyanath Kamdudha Ras Tablet250
Himalaya Bonnisan LiquidHimalaya Herbal Bonnisan Liquid48
Baidyanath Kravyad RasBaidyanath Kravyad Ras Combo Pack Of 2107
Dabur Gastrina TabletsDABUR GASTRINA TABLET 60S PACK OF 280
Baidyanath BalamritBaidyanath Balamrit Syrup68

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

पेट दर्द से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 8 महीना पहले

पेट दर्द क्यों होता है?

Dr. Haleema Yezdani MBBS, सामान्य चिकित्सा

पेट में दर्द होने की असंख्य वजहें हैं। यूं तो ज्यादातर पेट दर्द गंभीर नहीं होते और कुछ समय बाद बिना किसी दवाई के ठीक भी हो जाते हैं। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि पेट दर्द के प्रति लापरवाही बरती जाए। बहरहाल पेट में दर्द की कुछ वजहें हैं उल्टी, कब्ज, गैस्ट्रोएन्टराइटिस और तनाव। इसके अलावा पेट दर्द किसी गंभीर बीमारी का लक्षण भी हो सकते हैं जैसे छोटी या बड़ी आंत से संबंधित समस्या, गुर्दे में प्रॅाब्लम वगैरह।

सवाल 8 महीना पहले

पेट में दर्द कब होता है?

Dr. Ayush Pandey MBBS, सामान्य चिकित्सा

पेट में दर्द सुबह, दोपहर या शाम कभी भी और किसी भी समय हो सकता है। यह पूर्णतया इसकी वजह पर निर्भर करता है। कुछ लोगों को खासकर सुबह या रात के समय पेट में दर्द होता है। इसकी वजह का पता लगाकर इसका उपचार किया जा सकता है। अगर पेट में दर्द बहुत तेज हो, तो इसे नजरंदाज किया जाना सही नहीं होता।

सवाल 7 महीना पहले

रात में पेट दर्द क्यों होता है?

Dr. BK Agrawal MBBS, MD, सामान्य चिकित्सा

रात के समय पेट में दर्द होना बहुत ही आम समस्या है। यह दर्द पाचन तंत्र से संबंधित है। हालांकि इसे हल्के में लेना सही नहीं है। कई बार रात के समय पेट में दर्द होना कैंसर होने का लक्षण भी होता है। लेकिन इस लक्षण के साथ-साथ कैंसर के अन्य लक्षण भी नजर आते हैं। अतः रात के समय सिर्फ पेट में दर्द हो तो अन्य लक्षणों पर भी गौर करें। साथ ही अपने पाचन तंत्र को बेहतर बनाने के लिए रात के समय अपने खानपान का भी ख्याल रखें। इससे रात के समय हो रहे पेट दर्द से राहत मिलेगी।

सवाल 7 महीना पहले

पेट दर्द से तुरंत राहत कैसे पाएं?

Dr. Braj Bhushan Ojha BAMS, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी, डर्माटोलॉजी, मनोचिकित्सा, आयुर्वेदा, सेक्सोलोजी, मधुमेह चिकित्सक

पेट दर्द से तुरंत आराम चाहिए तो वजह जानकर उसका इलाज करें जैसे-

  • एंग्जाइटी की वजह से पेट दर्द है तो कुछ देर के लिए आंखें बंद करके बैठ जाएं और गहरी सांस लें। कुछ देर अपनी सांस की गति को नोटिस करें। संभव हो तो फ्रेश एयर में ऐसा करें। दर्द से तुरंत आराम मिल जाएगा।
  • गैस की वजह से पेट में दर्द है तो गैस को रिलीज करें। अकसर हम आसपास मौजूद लोगों की वजह से ऐसा करने से संकोच करते हैं। लेकिन पेट दर्द कम करने के लिए गैस रिलीज करना बहुत जरूरी है।
  • अगर आपको पीरियड्स की वजह से पेट में दर्द है तो हॅाट वॅाटर बैग को अपने पेट पर रखें। इससे थोड़ी देर में ही आराम मिल जाएगा।

References

  1. Sherman R. Abdominal Pain. In: Walker HK, Hall WD, Hurst JW, editors. Clinical Methods: The History, Physical, and Laboratory Examinations. 3rd edition. Boston: Butterworths; 1990. Chapter 86
  2. Fields JM, Dean AJ. Systemic causes of abdominal pain.. Emerg Med Clin North Am. 2011 May;29(2):195-210, vii. PMID: 21515176.
  3. National Health Service [Internet]. UK; Stomach ache
  4. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Abdominal pain
  5. Healthdirect Australia. Abdominal pain. Australian government: Department of Health
और पढ़ें ...