दस्त (डायरिया) - Diarrhea (Loose Motions) in Hindi

Dr. Rajalakshmi VK (AIIMS)MBBS

March 18, 2017

July 20, 2021

दस्त
दस्त

दस्त, जिसे अतिसार / डायरिया / लूज मोशन भी कहा जाता है, का मतलब है ढीला, पानी सा पतला मल या लगातार मल त्याग की आवश्यकता होना।

यह आमतौर पर कुछ दिनों तक रहता है और अक्सर बिना किसी उपचार के ठीक हो जाता है। डायरिया एक्यूट या क्रोनिक हो सकता है।

एक्यूट डायरिया तब होता है जब यह एक से दो दिनों तक रहता है। यह वायरल या बैक्टीरियल इन्फेक्शन की वजह से हो सकता है, या फूड पॉइजनिंग के कारण भी हो सकता है।

डायरिया को क्रोनिक तब कहा जाता है जब वह कम से कम चार सप्ताह तक रहे। यह आमतौर पर आंतों की किसी बीमारी या विकार का परिणाम होता है, जैसे सीलिएक रोग या क्रोहन रोग

डायरिया या दस्त के लक्षण - Diarrhea Symptoms in Hindi

दस्त के कई अलग-अलग लक्षण होते हैं। आपको इनमें से केवल एक या कई लक्षण हो सकते हैं। लक्षण लूज मोशन होने के कारण पर निर्भर करते हैं। निम्न में से एक या एक से अधिक लक्षण होना आम है -

  • डायरिया के कारण शरीर से बहुत अधिक पानी निकल जाता है जिससे निर्जलीकरण हो सकता है।
  • डायरिया में मतली और उल्टी हो सकती है।
  • इससे आपके पेट में दर्द और सूजन हो सकती है।
  • बार-बार शौचालय जाने की तीर्व इच्छा होती है।
  • कई गंभीर मामलों में बुखार और सिरदर्द भी हो जाता है।
  • शरीर से बहुत पानी और नमक खोने की वजह से कमजोरी हो सकती है जिससे सुस्ती और निष्क्रियता महसूस हो सकती है।
  • अत्यधिक निर्जलीकरण की वजह से त्वचा और होंठ सूख सकते हैं।

डायरिया या दस्त के कारण - Diarrhea Causes in Hindi

डायरिया क्यों होता है?

दस्त कई बीमारियों या परिस्थितियों के कारण हो सकते हैं। दस्त के संभावित कारणों में शामिल हैं -

रोटावायरस बच्चों में दस्त का एक आम कारण है। साल्मोनेला या ई कोलाई के कारण होने वाले बैक्टीरियल संक्रमण भी आम हैं।

क्रोनिक डायरिया अधिक गंभीर स्थिति का लक्षण हो सकता है जैसे कि इर्रिटेबल बाउल सिंड्रोम या इंफ्लेमेटरी बाउल डिजीज। बार-बार और गंभीर दस्त आंतों की बीमारी का संकेत हो सकता है।

(और पढ़ें - रोटावायरस वैक्सीन क्या है)

डायरिया या दस्त से बचाव - Prevention of Diarrhea in Hindi

दस्त कैसे रोकें?

हालांकि दस्त कई कारणों से हो सकता है, फिर भी ऐसी कई चीज़ें हैं जिनसे आप इसे रोक सकते हैं:

  • जहां पर आप खाना पकाते हैं उस जगह को अधिक बार धोने से फूड पॉइजनिंग से होने वाले दस्त से बच सकते हैं
  • भोजन तैयार करने के तुरंत बाद परोसें
  • बचे हुए भोजन को तुरंत फ्रिज में रख दें
  • यदि आपको बैक्टीरियल या वायरल इन्फेक्शन के कारण दस्त हुआ है, तो आप अपने हाथों को बार-बार धोने से दूसरों को संक्रमण फैलने से रोक सकते हैं। जब आप अपने हाथ धोते हैं, साबुन का उपयोग करें और 20 सेकंड के लिए धोएं। अगर हाथ धोना संभव न हो तो हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करें।

(और पढ़ें - हाथ धोने का सही तरीका)

डायरिया या दस्त का परीक्षण - Diagnosis of Diarrhea in Hindi

दस्त का परीक्षण या निदान कैसे करें?

शारीरिक परिक्षण करने के अलावा, डॉक्टर यह निर्धारित करने के लिए कि दस्त क्यों हो रहे हैं, कुछ टेस्ट करवाने को कह सकतें हैं। उनमे शामिल हैं -

  • ब्लड टेस्ट - सीबीसी टेस्ट यह सुनिश्चित करने में मदद कर सकता है कि दस्त क्यों हो रहे हैं।
  • स्टूल टेस्ट - आपके डॉक्टर यह निर्धारित करने के लिए स्टूल टेस्ट करवा सकतें हैं कि क्या दस्त का कारण कोई बैक्टीरिया या परजीवी तो नहीं।
  • कोलोनोस्कोपी - यदि लगातार दस्त के लिए कोई स्पष्ट कारण नहीं मिलता है तो डॉक्टर कोलोनोस्कोपी से पेट के अंदरुनी परत को देखने और बायोप्सी की सलाह दे सकतें हैं। दोनों प्रक्रियाओं में आपके पेट के अंदर देखने के लिए अंत में एक लेंस के साथ एक पतली, रोशनी वाली नली का उपयोग किया जाता है।

डायरिया या दस्त का इलाज - Diarrhea Treatment in Hindi

दस्त का उपचार कैसे किया जाता है?

एक्यूट डायरिया के हल्के मामले इलाज के बिना ठीक हो सकते है। लगातार होने वाले दस्त या क्रॉनिक दस्त (लंबे समय से चले आ रहे दस्त) के मामलों में दस्त और उसके लक्षणों के उपचार इस प्रकार हैं - 

1. निर्जलीकरण से निजात

दस्त के सभी मामलों में, इलाज में पहला महत्वपूर्ण कदम पुन: हाइड्रेट करना होता है -

  • निर्जलीकरण से राहत पाने का सरल तरीका है तरल पदार्थ लेने की मात्रा को बढ़ाना। गंभीर मामलों में तरल पदार्थ नसों द्वारा दिया जाता है। बच्चे और बुज़ुर्ग निर्जलीकरण की चपेट में ज़्यादा आते हैं।
  • ओरल रिहाइड्रेशन सॉल्यूशन (ओआरएस) - इसमें नमक और ग्लूकोज शामिल होते हैं। यह सल्यूशन हर जगह आसानी से उपलब्ध है।
  • जिंक पूरक बच्चों में दस्त की गंभीरता और अवधि कम कर सकते हैं।

2. ओटीसी एंटीडाएरीयल दवाएं -

  • लोपेरामाइड एक ऐंटीमोटिलिटी दवा है (वह दवा जो दस्त के लक्षणों पर काबू पाती है) जैसे कि इमोडिअम।
  • बिस्मथ सबसैलिसिलेट वयस्कों और बच्चों में दस्त वाले स्टूल के उत्पादन को कम करता है। और यह लोपरामाइड से सुरक्षित विकल्प है। इस दवा का उपयोग "ट्रवेलेरस डायरिया" (traveler's diarrhea; दस्त का एक गैर गंभीर रूप) को रोकने के लिए भी किया जा सकता है।

3. सही पोषण

कुछ खाद्य पदार्थ और पेय हैं जो दस्त में लाभ पहुंचा सकते हैं, जैसे कि

ऐसे कुछ खाद्य पदार्थों को सीमित करें जिनके कारण दस्त बढ़ सकतें हैं। जैसे कि -

4. प्रोबायोटिक्स

प्रोबायोटिक्स जीवित जीवाणु और यीस्ट होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं, विशेष रूप से आपके पाचन तंत्र के लिए। प्रोबायोटिक्स कैप्सूल, टैबलेट, पाउडर, तरल पदार्थों में उपलब्ध हैं। हालांकि दस्त में प्रोबायोटिक्स की भूमिका के लिए मिश्रित प्रमाण हैं।

  • बच्चों में, यह प्रमाणित हुआ है कि प्रोबायोटिक्स दस्त की बिमारी को एक दिन में कम कर सकतें हैं।
  • प्रोबायोटिक्स "ट्रवेलेरस डायरिया" को रोकने में भी मदद कर सकते हैं।
  • एंटीबायोटिक - संबंधी दस्त प्रोबायोटिक्स के प्रयोग से कम हो सकतें है।

(और पढ़ें - दस्त में क्या खाना चाहिए

डायरिया या दस्त के नुकसान - Diarrhea Complications in Hindi

डायरिया से क्या नुकसान हो सकता है?

दस्त लगने पर सबसे ज्यादा खतरा होता है निर्जलीकरण या शरीर में पानी की कमी होने का:

  • जब दस्त से शरीर में तरल पदार्थ और खनिजों (इलेक्ट्रोलाइट्स) की कमी हो जाती है तब निर्जलीकरण हो सकता है - चाहे मरीज़ को उल्टियां हो या ना हो।
  • जिनका मल ज्यादा पतला होता है, उन रोगियों में आम तौर पर निर्जलीकरण होता है।
  • जिन शिशुओं और बच्चों को वायरल गैस्ट्रोएंटेरिटिस या जीवाणु संक्रमण हो जाता है, उनमे यह आम है।
  • हल्के निर्जलीकरण होने पर मरीजों को केवल प्यास और शुष्क मुंह का अनुभव होता है।
  • मध्यम से गंभीर निर्जलीकरण के कारण ऑर्थोस्टैटिक हाइपोटेंशन (खड़े होने पर बेहोशी या हल्का सिरदर्द) के कारण खून की मात्रा कम हो सकती है, जिससे रक्तचाप कम हो सकता है। 

इसके अलावा कुछ अन्य परेशानियां भी हो सकती हैं, जैसे कि -

अगर दस्त लंबे समय से है या गंभीर है, तो खनिज या इलेक्ट्रोलाइट की कमी हो सकती है। जिसमें इलेक्ट्रोलाइट्स (खनिज) पानी से खो जाते हैं। सबसे आम कमियां सोडियम और पोटेशियम के साथ होती हैं। क्लोराइड और बाइकार्बोनेट की असामान्यताएं भी विकसित हो सकती हैं।

अंत में, बार बार मल त्यागने से मल के पानी में मौजूद परेशान करने वाले पदार्थों के कारण गूदे में जलन भी हो सकती है।



संदर्भ

  1. World Health Organization [Internet]. Geneva (SUI): World Health Organization; Diarrhoeal disease.
  2. Lakshminarayanan S & Jayalakshmy R. Diarrheal diseases among children in India: Current scenario and future perspectives. Journal of Natural Science, Biology, and Medicine. 2015 Jan;6(1):24. PMID: 25810630
  3. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Global Diarrhea Burden
  4. Liu L, Johnson HL, Cousens S, Perin J, Scott S, Lawn JE, Rudan I, Campbell H, Cibulskis R, Li M, & Mathers C. Global, regional, and national causes of child mortality: an updated systematic analysis for 2010 with time trends since 2000. The Lancet. 2012 Jun 9;379(9832):2151-61. PMID: 22579125
  5. National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases [internet]: US Department of Health and Human Services; Diarrhea.
  6. The Mother and Child Health and Education Trust [Internet] Rehydration project; Oral Rehydration Solutions: Made at Home

दस्त (डायरिया) के डॉक्टर

Dr. Anshul Jain Dr. Anshul Jain सामान्य चिकित्सा
8 वर्षों का अनुभव
Dr. Subhanshu Goyal Dr. Subhanshu Goyal सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव
Dr. Silsila Leishangthem Dr. Silsila Leishangthem सामान्य चिकित्सा
7 वर्षों का अनुभव
Dr. Imran Hussain Kabir Dr. Imran Hussain Kabir सामान्य चिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

दस्त (डायरिया) की दवा - Medicines for Diarrhea (Loose Motions) in Hindi

दस्त (डायरिया) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹83.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹69.5

20% छूट + 5% कैशबैक


₹91.3

20% छूट + 5% कैशबैक


₹25.8

20% छूट + 5% कैशबैक


₹144.2

20% छूट + 5% कैशबैक


₹69.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹63.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹160.3

20% छूट + 5% कैशबैक


₹223.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹65.3

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 996 entries

दस्त (डायरिया) की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Diarrhea (Loose Motions) in Hindi

दस्त (डायरिया) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दस्त (डायरिया) की जांच का लैब टेस्ट करवाएं

दस्त (डायरिया) के लिए बहुत लैब टेस्ट उपलब्ध हैं। नीचे यहाँ सारे लैब टेस्ट दिए गए हैं:

टेस्ट का नाम


दस्त (डायरिया) पर आम सवालों के जवाब

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मेरी बेटी एक साल चार महीने की है। उसे कल से दस्त हो रहे हैं। मुझे बताएं कि क्या करना चाहिए?

ravi udawat MBBS , सामान्य चिकित्सा

आप अपनी बेटी को Enterogermina सिरप 5 एमएल दिन में दो बार 2 दिन के लिए दें। अगर उसे किसी तरह की परेशानी होती है, तो पीडियाट्रिशन के पास ले जाएं।

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मुझे पिछले 2 दिनों से दस्त हो रहे हैं। मैं टैबलेट Loperamide और ओआरएस का घोल ले रहा हूं, लेकिन मुझे अभी तक दस्त हो रहे हैं। मुझे क्या करना चाहिए?

Dr. Amit Singh MBBS , सामान्य चिकित्सा

आपको गंभीर गैस्ट्रोएन्टेराइटिस हो सकता है। इस स्थिति में आपको खुद को हाइड्रेटेड रखने की जरूरत होती है। इसके लिए आप अधिक मात्रा में तरल पदार्थ जैसे पानी, नारियल पानी और ओआरएस का घोल तैयार करके पिएं। आप घर पर बना खाना ही खाएं और प्रोबायोटिक्स की गोलियां लें। आप खाना खाने के बाद Vibact कैप्सूल दिन में दो बार 5 दिनों के लिए लें। अगर दो दिनों में आप पहले से बेहतर महसूस नहीं करते हैं या आपकी स्थिति पहले से ज्यादा खराब हो जाती है, तो डॉक्टर से मिलकर अपना चेकअप करवा लें। संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए आपको एंटीबायोटिक दवा भी लेनी पड़ सकती है।

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मुझे बार-बार दस्त हो रहे हैं। एक बार मुझे मल में खून भी आ चुका है, क्या करूं?

Dr. Anand Singh MBBS , सामान्य चिकित्सा

आप डॉक्टर से मिलकर अपना चेकअप करवा लें। इसके लिए आपको कोलोनोस्कोपी करवानी होगी।

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मेरी पत्नी प्रेग्नेंट है और अभी उसे दस्त हो रहे हैं। मैं जानना चाहता हूं कि क्या यह नॉर्मल है या उसे किसी डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए?

Dr. Abhijit MBBS , सामान्य चिकित्सा

दस्त कई वजह से होते हैं और इसकी वजह से आपकी पत्नी की प्रेगनेंसी पर प्रभाव भी पड़ सकता है। अगर यह उनको एक या दो बार ही हुआ है और इसके साथ उन्हें बुखार और दर्द जैसे लक्षण नहीं हैं, तो कुछ समय तक इंतजार करें। आप उन्हें अधिक मात्रा में तरल पदार्थ, पानी और नारियल पानी पीने को दें। इसी के साथ उन्हें आहार में नरम पदार्थ खाने के लिए दें और तीखे खाद्य पदार्थ का सेवन न करने दें। अगर उन्हें दस्त के साथ दर्द, पेट में ऐंठन, बुखार या बलगम जैसा चिपचिपा मल आता है, तो तुरंत ऑब्स्टेट्रिशन या गयनेकोलॉजिस्ट के पास ले जाएं। दस्त के साथ बुखार और पेट में ऐंठन की वजह से समय से पहले प्रसव होने जैसे समस्या हो सकती है। इसलिए आप जल्दी से उनका ट्रीटमेंट शुरू करवा दें।

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ