myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -
संक्षेप में सुनें

अगर आप लगातार लूज मोशन और उल्टी के लिए शौचालय जा रहे हैं तो वह स्थिति डायरिया कहलाती है। डायरिया ढीले और पानी के मल के रूप में पहचाने जाते हैं। डायरिया वायरल, बैक्टेरियल संक्रमण के कारण होता है। इसके अलावा जब हमारा पाचन तंत्र पानी को ठीक से अवशोषित नहीं कर पाता है और भोजन को अच्छे से पचा नही पाता है, तब भी डायरिया हो सकता है। दिन में अगर तीन से अधिक बार पानी के साथ पतला दस्त हो रहे हैं तो यह डायरिया का लक्षण हो सकते हैं।

  1. डायरिया या दस्त के लक्षण - Diarrhea Symptoms in Hindi
  2. डायरिया या दस्त के कारण - Diarrhea Causes in Hindi
  3. डायरिया या दस्त से बचाव - Prevention of Diarrhea in Hindi
  4. डायरिया या दस्त का परीक्षण - Diagnosis of Diarrhea in Hindi
  5. डायरिया या दस्त का इलाज - Diarrhea Treatment in Hindi
  6. डायरिया या दस्त के जोखिम और जटिलताएं - Diarrhea Risks & Complications in Hindi
  7. दस्त (डायरिया) की दवा - Medicines for Diarrhea (Loose Motions) in Hindi
  8. दस्त (डायरिया) की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Diarrhea (Loose Motions) in Hindi
  9. दस्त (डायरिया) के डॉक्टर

डायरिया या दस्त के लक्षण - Diarrhea Symptoms in Hindi

डायरिया के कारण आपके शरीर में बहुत अधिक पानी का नुकसान होता है जिससे आपका शरीर निर्जलीकरण से गुजरता है।

डायरिया में आप मतली और उल्टी का अनुभव कर सकते हैं।

इससे आपके पेट में दर्द और सूजन हो सकती है। आपको बार-बार शौचालय जाने की तीर्व इच्छा होती है।

कई गंभीर मामलों में, आपको बुखार और सिरदर्द भी हो जाता है।

बहुत सारे पानी और नमक के नुकसान के कारण, आप अपने शरीर में कमजोरी का अनुभव कर सकते हैं, जिससे सुस्ती और निष्क्रियता महसूस हो सकती है।

अत्यधिक निर्जलीकरण की वजह से त्वचा और होंठ सूख जाते हैं।

डायरिया या दस्त के कारण - Diarrhea Causes in Hindi

  1. डायरिया का कारण है अपच - Indigestion Causes Diarrhea in Hindi
  2. दस्त का कारण हो सकती है दवाई - Diarrhea Due to Medication in Hindi
  3. तनाव है डायरिया का कारण - Diarrhea Caused by Stress in Hindi
  4. अतिसार के कारण हैं अधिक दुख चिंता और डर - Emotions Cause Diarrhea in Hindi

डायरिया का कारण है अपच - Indigestion Causes Diarrhea in Hindi

जब आप अत्यधिक तेल, तला हुआ और भारी भोजन लेते हैं, तो आप अपच और दस्त का सामना कर सकते हैं। यह कभी-कभी अस्वच्छ या कीड़ों द्वारा दूषित भोजन का सेवन करने से भी होता है, क्योंकि इसमें मौजूद बैक्टीरिया संक्रमण का कारण हो सकते हैं। अत्यधिक शराब पीने से भी दस्त लग सकते हैं। जब आप एक नई तरह का भोजन खाते हैं जिसकी आपके शरीर को आदत नहीं होती है, जिस कारण आपके पाचन तंत्र को वह भोजन पचाने में समय लगता है जिसके कारण अपच हो जाती है।

दस्त का कारण हो सकती है दवाई - Diarrhea Due to Medication in Hindi

कभी-कभी, ऐसा हो सकता है कि आप एक निश्चित बीमारी के लिए दवा ले रहे हैं तब भी आपको दस्त लगने शुरू हो सकते हैं। यह दवा के घटकों का आपके पाचन तंत्र के साथ बेहतर तालमेल ना होने के कारण हो सकता है। इस वजह से दस्त लगाना काफी आम है।

तनाव है डायरिया का कारण - Diarrhea Caused by Stress in Hindi

तनाव आमतौर पर आँतो के कार्यों में गड़बड़ी करता है जिससे कब्ज और दस्त पैदा हो सकते हैं।

अतिसार के कारण हैं अधिक दुख चिंता और डर - Emotions Cause Diarrhea in Hindi

जब आप अत्यधिक चिंता, दुख, डर या क्रोध जैसे अतिरिक्त भावनाओं का अनुभव करते हैं, तो यह पित्त दोष को बढ़ाता है। पित्त दोष की उत्तेजना इस प्रकार के दस्त के पीछे का कारण होती है।

डायरिया या दस्त से बचाव - Prevention of Diarrhea in Hindi

हम सब को पता है कि कभी कभी दस्त बहुत दर्दनाक होता है। ऐसे में हमारा पाचन तंत्र अच्छा नहीं रहता और पाचन अच्छे से नहीं हो पाता है। इसके अलावा पानी पूरी तरह से भोजन में अवशोषित नहीं हो पाता है जिसके कारण मल ढीला और पानी जैसा हो जाता है। यदि आप स्वस्थ आहार को सेवन करें तो दस्त खुद ही ठीक हो जएगा। आइए हम कुछ ऐसे ही चीजों पर एक नज़र डालें जिन्हें अपने दैनिक जीवन में अपनाकर प्रभावी ढंग से हम दस्त से बचाव और दस्त का इलाज कर सकते हैं।

  1. दस्त में क्या खाना चाहिए - Food to help treat diarrhea in hindi
  2. साफ भोजन खाना है दस्त रोकने का उपाय - Eat clean foods for diarrhea treatment in hindi
  3. डायरिया से बचाव के लिए पिएं पानी - Drink water for diarrhea in hindi
  4. उचित नींद है दस्त का घरेलू इलाज - Sleep good for diarrhea in hindi

दस्त में क्या खाना चाहिए - Food to help treat diarrhea in hindi

कई बार हम भारी, तेलयुक्त और तले हुए खाद्य पदार्थ खाते हैं, इन खाद्य पदार्थों के कारण अपच जैसी समस्या पैदा होती है। स्वस्थ और हल्के भोजन जैसे ताजे फल और ताजी सब्जियां को चुनें जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे हैं। इसके अलाबा फाइबर से समृद्ध खाद्य पदार्थ का सेवन करें क्योंकि ये पाचन में मदद करते हैं।

(और पढ़ें – कब, कैसे और क्या खाएँ, जानिए स्वस्थ भोजन के लिए आयुर्वेदिक टिप्स)

साफ भोजन खाना है दस्त रोकने का उपाय - Eat clean foods for diarrhea treatment in hindi

बैक्टीरिया या वायरस के संक्रमण के कारण भी अतिसार हो सकता है। हमारे शरीर में बैक्टीरिया या वायरस दूषित भोजन और दूषित पानी के सेवन से जाते हैं। इसलिए सड़क पर बिक रहे दूषित खाने को खाने से बचें। हमेशा घर का साफ भोजन ही खाएं। कहीं बाहर के पानी के सेवन की बजाय आप खुद अपने साथ पानी की बोतल ले जाने की कोशिश करें।

(और पढ़ें – दस्त का घरेलू इलाज)

डायरिया से बचाव के लिए पिएं पानी - Drink water for diarrhea in hindi

आपके स्वास्थ्य के लिए पानी पीना बहुत महत्वपूर्ण है। यह पाचन में मदद करता है। इसके अलावा, यदि आप दस्त से पीड़ित हैं तो आपके शरीर में पानी की कमी को जाती है। शरीर में पानी की कमी और इलेक्ट्रोलाइट का संतुलन बनाए रखने की आवश्यकता होती है। इसलिए आप साफ पानी में नमक मिला कर पी सकते हैं जो दस्त की समस्या में बेहद फायदेमंद है।

(और पढ़ें – शरीर में पानी की कमी के 10 महत्वपूर्ण संकेत)

उचित नींद है दस्त का घरेलू इलाज - Sleep good for diarrhea in hindi

आपको उचित नींद लेनी चाहिए ताकि मेटाबोलिज्म संतुलित रहे। जब आप अच्छी तरह से सोते हैं तो आपका शरीर फिट और स्वस्थ रहता है। साथ ही आप अपने आप को खुश रखें और नकारात्मक भावनाओं से दूर रहें, ताकि अच्छी नींद ले सकें। (और पढ़ें – योग निद्रा के माध्यम से पायें सुखद गहरी नींद)

डायरिया या दस्त का परीक्षण - Diagnosis of Diarrhea in Hindi

दस्त का परीक्षण या निदान कैसे करें?

शारीरिक परिक्षण करने के अलावा, डॉक्टर यह निर्धारित करने के लिए कि दस्त क्यों हो रहे हैं, कुछ टेस्ट करवाने को कह सकतें हैं। उनमे शामिल हैं -

  1. रक्त परीक्षण - एक पूर्ण रक्त गणना परीक्षण (complete blood count test) यह सुनिश्चित करने में मदद कर सकता है कि दस्त क्यों हो रहे हैं।
  2. स्टूल टेस्ट - आपके डॉक्टर यह निर्धारित करने के लिए स्टूल टेस्ट करवा सकतें हैं कि क्या दस्त का कारण कोई बैक्टीरिया या परजीवी तो नहीं।
  3. कोलोनोस्कोपी (colonoscopy) - यदि लगातार दस्त के लिए कोई स्पष्ट कारण नहीं है तो, डॉक्टर इस प्रक्रिया से पेट के अंधरुनि परत को देखने और बायोप्सी की सलाह दे सकतें हैं। दोनों प्रक्रियाओं में आपके पेट के अंदर देखने के लिए अंत में एक लेंस के साथ एक पतली, रोशनी वाली नली का उपयोग किया जाता है।

डायरिया या दस्त का इलाज - Diarrhea Treatment in Hindi

दस्त का उपचार कैसे किया जाता है?

तीव्र दस्त (acute diarrhea) के हल्के मामले इलाज के बिना ठीक हो सकते है। लगातार होने वाले दस्त या क्रॉनिक दस्त (लंबे समय से चले आ रहे दस्त) के मामलों में दस्त और उसके लक्षणों के उपचार इस प्रकार हैं - 

1. निर्जलीकरण से निजात

दस्त के सभी मामलों में, इलाज में पहला महत्वपूर्ण कदम पुन: हाइड्रेट करना होता है -

  • निर्जलीकरण से राहत पाने का सरल तरीका है तरल पदार्थ लेने की मात्रा को बढ़ाना। गंभीर मामलों में तरल पदार्थ नसों द्वारा दिया जाता है। बच्चे और बड़े लोग निर्जलीकरण की चपेट में ज़्यादा आते हैं।
  • ओरल रिहाइड्रेशन सॉल्यूशन (oral rehydration solution) / लवण (ओआरएस) - इस पानी में नमक और ग्लूकोज शामिल होते हैं। यह सॉल्यूशन हर जगह आसानी से उपलब्ध है।
  • जिंक पूरक बच्चों में दस्त की गंभीरता और अवधि कम कर सकते हैं।

2. ओटीसी एंटीडाएरीअल (OTC antidiarrheal) दवाएं -

  • लोपेरामाइड (Loperamide) एक ऐंटीमोटिलिटी दवा है (antimotility; वह दवा जो दस्त के लक्षणों पर काबू पाती है) - जैसे कि इमोडिअम (Imodium)।
  • बिस्मथ सबसैलिसिलेट (Bismuth subsalicylate) वयस्कों और बच्चों में दस्त वाले स्टूल के उत्पादन को कम करता है। और यह लोपरामाइड से सुरक्षित विकल्प है। इस दवा का उपयोग "ट्रवेलेरस डायरिया" (traveler's diarrhea; दस्त का एक गैर गंभीर रूप) को रोकने के लिए भी किया जा सकता है।

3. सही पोषण

कुछ खाद्य पदार्थ और पेय हैं जो दस्त में लाभ पहुंचा सकते हैं, जैसे कि

  • साफ़ तरल पदार्थों का सेवन करें, जैसे कि फलों का जूस (बिना चीनी वाले), मल त्यागने के बाद खोये हुए पानी की पूर्ति कम से कम एक कप पानी से करें। 
  • भोजन के दौरान पानी न पिएं। 
  • पोटेशियम-युक्त खाद्य पदार्थ और तरल पदार्थ लें - उदाहरणों के तौर पर
  • सोडियम-युक्त खाद्य पदार्थ और तरल पदार्थ का उपयोग करें, जैसे कि -
    • सूप
    • स्पोर्ट्स ड्रिंक्स
    • नमकीन
  • स्टूल को गाड़ा करने के लिए घुलनशील फाइबर वाली चीज़ें खाएं, जैसे कि -

ऐसे कुछ खाद्य पदार्थों को सीमित करें जिनके कारण दस्त बढ़ सकतें हैं। जैसे कि -

4. प्रोबायोटिक्स (probiotics)

प्रोबायोटिक्स जीवित जीवाणु और यीस्ट होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं, विशेष रूप से आपके पाचन तंत्र के लिए। प्रोबायोटिक्स कैप्सूल, टैबलेट, पाउडर, तरल पदार्थों में उपलब्ध हैं। हालांकि दस्त में प्रोबायोटिक्स की भूमिका के लिए मिश्रित प्रमाण हैं।

  • बच्चों में, यह प्रमाणित हुआ है कि प्रोबायोटिक्स दस्त की बिमारी को एक दिन में कम कर सकतें हैं।
  • प्रोबायोटिक्स "ट्रवेलेरस डायरिया" को रोकने में भी मदद कर सकते हैं।
  • एंटीबायोटिक - संबंधी दस्त प्रोबायोटिक्स के प्रयोग से कम हो सकतें है। 

डायरिया या दस्त के जोखिम और जटिलताएं - Diarrhea Risks & Complications in Hindi

डायरिया की जटिलताएं क्या है ?

निर्जलीकरण तब होता है जब दस्त से शरीर में तरल पदार्थ और खनिजों (इलेक्ट्रोलाइट्स) की कमी हो जाती है - चाहे मरीज़ को उल्टियां हो या ना हो।

जिनके मल में अतिरिक्त पानी होता है, उन रोगियों में आम तौर पर निर्जलीकरण होता है।

जिन शिशुओं और बच्चों को वायरल गैस्ट्रोएंटेरिटिस (gastroenteritis) या जीवाणु संक्रमण (bacterial infection) हो जाता है, उनमे यह आम है।

हल्के निर्जलीकरण होने पर मरीजों को केवल प्यास और शुष्क मुंह का अनुभव होता है।

मध्यम से गंभीर निर्जलीकरण के कारण ऑर्थोस्टेटिक हाइपोटेंशन (orthostatic hypotension; खड़े होने पर बेहोशी या हल्का सिरदर्द) के कारण खून की मात्रा कम हो सकती है, जिससे रक्तचाप कम हो सकता है। इसके अलावा कुछ अन्य परेशानियां भी हो सकती हैं, जैसे कि -

  • कम मूत्र आना
  • गंभीर कमजोरी
  • सदमे
  • गुर्दे की विफलता
  • भ्रम
  • एसिडोसिस (acidosis; रक्त में बहुत अधिक एसिड)
  • कोमा भी हो सकता है

अगर दस्त लंबे समय से है या गंभीर है, तो खनिज या इलेक्ट्रोलाइट की कमी हो सकती है। जिसमें इलेक्ट्रोलाइट्स (खनिज) पानी से खो जाते हैं। सबसे आम कमियां सोडियम और पोटेशियम के साथ होती हैं। क्लोराइड और बाइकार्बोनेट की असामान्यताएं भी विकसित हो सकती हैं।

अंत में, बार बार मल त्यागने से मल के पानी में मौजूद परेशान करने वाले पदार्थों के कारण गूदे में जलन भी हो सकती है।

Dr.Raghwendra Dadhich

Dr.Raghwendra Dadhich

सामान्य चिकित्सा
6 वर्षों का अनुभव

Dr. Brajesh Kharya

Dr. Brajesh Kharya

सामान्य चिकित्सा
10 वर्षों का अनुभव

Dr. Tannu Malik

Dr. Tannu Malik

सामान्य चिकित्सा
1 वर्षों का अनुभव

Dr. Sarabjeet Kaur

Dr. Sarabjeet Kaur

सामान्य चिकित्सा
7 वर्षों का अनुभव

दस्त (डायरिया) की जांच का लैब टेस्ट करवाएं

Stool For Occult Blood

25% छूट + 5% कैशबैक

दस्त (डायरिया) की दवा - Medicines for Diarrhea (Loose Motions) in Hindi

दस्त (डायरिया) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine Name
Grilinctus CD खरीदें
Microdox Lbx खरीदें
Doxt SL खरीदें
Eldoper खरीदें
Freego खरीदें
Normovent खरीदें
Exel GN खरीदें
Neomycin खरीदें
Gantmox खरीदें
Utipac खरीदें
Parvo Cof खरीदें
Bid LB खरीदें
Propygenta Nf खरीदें
Acv LB खरीदें
Phenkuff खरीदें
Bludrox LB खरीदें
Grace CV खरीदें
Phensedyl Cough खरीदें
Droxflora खरीदें
Canflo BN खरीदें
Tenovate GN खरीदें
Harmless Plus खरीदें
Afix LB खरीदें
Rancof खरीदें
Lactodrox खरीदें

दस्त (डायरिया) की ओटीसी दवा - OTC medicines for Diarrhea (Loose Motions) in Hindi

दस्त (डायरिया) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine Name
Planet Ayurveda Agnitundi Vati खरीदें
Baidyanath Ras Parpati खरीदें
Baidyanath Kalyansundar Ras Gold खरीदें
Baidyanath Garbhpal Ras खरीदें
Dabur Janma Ghunti खरीदें
Baidyanath Nripatiballabh Ras खरीदें
Baidyanath Nag Bhasma खरीदें
Planet Ayurveda Jahar Mohra Churna खरीदें
Planet Ayurveda Praval Panchamrit खरीदें
Patanjali Divya Udramrit Vati खरीदें
Charak Pilief Tablet खरीदें
Baidyanath Sutshekhar Ras Gold खरीदें
Baidyanath Gangadhar Ras खरीदें
Baidyanath Laghu Malini Basant Ras खरीदें
Baidyanath Gangadhar Churna खरीदें
Himalaya Bonnisan खरीदें
Baidyanath Janm Ghunti खरीदें
Planet Ayurveda Jatyadi Tailam खरीदें
Planet Ayurveda Pushyanug Churna खरीदें
Patanjali Divya Gangadhar Churna खरीदें
Himalaya Bonnisan Drop खरीदें
Baidyanath Prawal Panchamrita Ras खरीदें
Baidyanath Dantobhedgadantak Ras खरीदें
Baidyanath Lashunadi Bati खरीदें
Patanjali Isabgol खरीदें

दस्त (डायरिया) से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 9 महीना पहले

मेरी बेटी एक साल चार महीने की है। उसे कल से दस्त हो रहे हैं। मुझे बताएं कि क्या करना चाहिए?

ravi udawat MBBS, सामान्य चिकित्सा

आप अपनी बेटी को Enterogermina सिरप 5 एमएल दिन में दो बार 2 दिन के लिए दें। अगर उसे किसी तरह की परेशानी होती है, तो पीडियाट्रिशन के पास ले जाएं।

सवाल 8 महीना पहले

मुझे पिछले 2 दिनों से दस्त हो रहे हैं। मैं टैबलेट Loperamide और ओआरएस का घोल ले रहा हूं, लेकिन मुझे अभी तक दस्त हो रहे हैं। मुझे क्या करना चाहिए?

Dr. Amit Singh MBBS, सामान्य चिकित्सा

आपको गंभीर गैस्ट्रोएन्टेराइटिस हो सकता है। इस स्थिति में आपको खुद को हाइड्रेटेड रखने की जरूरत होती है। इसके लिए आप अधिक मात्रा में तरल पदार्थ जैसे पानी, नारियल पानी और ओआरएस का घोल तैयार करके पिएं। आप घर पर बना खाना ही खाएं और प्रोबायोटिक्स की गोलियां लें। आप खाना खाने के बाद Vibact कैप्सूल दिन में दो बार 5 दिनों के लिए लें। अगर दो दिनों में आप पहले से बेहतर महसूस नहीं करते हैं या आपकी स्थिति पहले से ज्यादा खराब हो जाती है, तो डॉक्टर से मिलकर अपना चेकअप करवा लें। संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए आपको एंटीबायोटिक दवा भी लेनी पड़ सकती है।

सवाल 8 महीना पहले

मुझे बार-बार दस्त हो रहे हैं। एक बार मुझे मल में खून भी आ चुका है, क्या करूं?

Dr. Anand Singh MBBS, सामान्य चिकित्सा

आप डॉक्टर से मिलकर अपना चेकअप करवा लें। इसके लिए आपको कोलोनोस्कोपी करवानी होगी।

सवाल 8 महीना पहले

मेरी पत्नी प्रेग्नेंट है और अभी उसे दस्त हो रहे हैं। मैं जानना चाहता हूं कि क्या यह नॉर्मल है या उसे किसी डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए?

Dr. Abhijit MBBS, सामान्य चिकित्सा

दस्त कई वजह से होते हैं और इसकी वजह से आपकी पत्नी की प्रेगनेंसी पर प्रभाव भी पड़ सकता है। अगर यह उनको एक या दो बार ही हुआ है और इसके साथ उन्हें बुखार और दर्द जैसे लक्षण नहीं हैं, तो कुछ समय तक इंतजार करें। आप उन्हें अधिक मात्रा में तरल पदार्थ, पानी और नारियल पानी पीने को दें। इसी के साथ उन्हें आहार में नरम पदार्थ खाने के लिए दें और तीखे खाद्य पदार्थ का सेवन न करने दें। अगर उन्हें दस्त के साथ दर्द, पेट में ऐंठन, बुखार या बलगम जैसा चिपचिपा मल आता है, तो तुरंत ऑब्स्टेट्रिशन या गयनेकोलॉजिस्ट के पास ले जाएं। दस्त के साथ बुखार और पेट में ऐंठन की वजह से समय से पहले प्रसव होने जैसे समस्या हो सकती है। इसलिए आप जल्दी से उनका ट्रीटमेंट शुरू करवा दें।

References

  1. World Health Organization [Internet]. Geneva (SUI): World Health Organization; Diarrhoeal disease.
  2. Lakshminarayanan S & Jayalakshmy R. Diarrheal diseases among children in India: Current scenario and future perspectives. Journal of Natural Science, Biology, and Medicine. 2015 Jan;6(1):24. PMID: 25810630
  3. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Global Diarrhea Burden
  4. Liu L, Johnson HL, Cousens S, Perin J, Scott S, Lawn JE, Rudan I, Campbell H, Cibulskis R, Li M, & Mathers C. Global, regional, and national causes of child mortality: an updated systematic analysis for 2010 with time trends since 2000. The Lancet. 2012 Jun 9;379(9832):2151-61. PMID: 22579125
  5. National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases [internet]: US Department of Health and Human Services; Diarrhea.
  6. The Mother and Child Health and Education Trust [Internet] Rehydration project; Oral Rehydration Solutions: Made at Home
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें