सिर में जूं - Head Lice in Hindi

Dr. Ajay Mohan (AIIMS)MBBS

September 11, 2018

July 21, 2021

कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!
सिर में जूं
सिर में जूं
कई बार आवाज़ आने में कुछ क्षण का विलम्ब हो सकता है!

जूं (Head lice) क्या है?

जूं, छोटे व बिना पंखों वाले परजीवी कीट होते हैं, जो बालों के बीच रहते हुए, सिर की त्वचा से खून चूसते हैं। सिर में जूं होना एक आम समस्या है। यह दिक्कत विशेषकर 4-11 वर्ष के स्कूली बच्चों में  ज्यादा पाई जाती हैं। ये आम तौर पर नुकसानदेह नहीं होती है लेकिन ये लंबे समय तक बालों में रह सकती है। अगर इनका इलाज न किया जाए तो इनसे निपटने में काफी परेशानी हो सकती है।

ये संक्रामक होती हैं और एक से दूसरे में तेजी से फैलती हैं। कभी-कभी इनसे छुटकारा पाना बेहद ही मुश्किल होता है, लेकिन जूं खतरनाक नहीं होती हैं। बच्चों के सिर की त्वचा पर इनके काटने या खून चूसने से खुजली व संक्रमण हो सकता है, लेकिन यह किसी बीमारी का कारण नहीं बनता है।

जैसे ही आपको अपने या अपने बच्चों के सिर में जूएं दिखाई दें, तो आपको तुरंत इसका इलाज शुरू करना चाहिए, क्योंकि अगर इसकी अनदेखी की जाती है, तो यह तेजी से परिवार और आसपास के लोगों के सिरों में भी अपना घर बना लेती हैं।

सर में जूं होने का यह मतलब नहीं है कि व्यक्ति साफ सफाई नहीं रखता है या फिर गंदे माहौल में रहता है। सर की जूएं कोई बैक्टीरिया या वायरल इंफेक्शन भी नहीं फैलाती हैं।

सिर में जूं होने के लक्षण - Head Lice Symptoms in Hindi

सिर में जूं होने के लक्षण क्या हैं?

अगर आप जुओं के संक्रमण को नहीं पहचानते हैं, तो आपको निम्न लक्षणों की ओर ध्यान देना चाहिए -

  • सिर में खुजली होना - सिर की त्वचा में खुजली होना, जूं होने का आम लक्षण माना जाता है। हालांकि केवल सिर में खुजली होने को इस समस्या से जोड़कर नहीं देखा जाता है बल्कि गर्दन व कान में होने वाली खुजली भी इसके आम लक्षण है। जुओं की लार से सिर की त्वचा पर होने वाली प्रतिक्रिया से एलर्जी व खुजली की समस्या होती है। जब किसी व्यक्ति को पहली बार संक्रमण होता है तो हो सकता है कि उन्हें शुरू के दो से छह सप्ताह तक खुजली हो ही न। कई बार जुओं को सर की त्वचा तक उतरने और खुजली पैदा करने में कुछ सप्ताह तक लग जाते हैं। (और पढ़ें - सिर में खुजली के उपाय)
  • बालों में जूं के अंडे होना- चिपचिपे बालों में जूं के अंडे चिपक जाते हैं। जूं के अंडों को देख पाना बेहद ही मुश्किल होता है, क्योंकि यह बहुत छोटे हैं। कान के आस-पास और गर्दन की हेयरलाइन में यह अंडें पाए जाते हैं। जुओं के खाली अंडे को देख पाना आसन होता है, क्योंकि वो रंग में हल्के होते हैं और सिर की त्वचा में आसानी से दिख जाते हैं। 
  • जुओं के चलने से होने वाली परेशानी- लोग अक्सर बालों या सिर पर इनके चलने या रेंगने से काफी परेशानी महसूस करते हैं।
  • गले में लिम्फ नोड की सूजन (लिम्फ नोड का आशय लसीका ग्रंथियों से है)
  • आंखों का लाल होना (सामान्य आंख का संक्रमण)

जुओं की समस्या होने पर डॉक्टर के पास कब जाएं?

अगर आपको लग रहा है कि आपकों जूं का संक्रमण हुआ है तो आप आम तौर पर केमिस्ट के काउंटर पर मिलने वाली दवाईयां ले सकते हैं। हालांकि अपने लक्षणों की जांच करवाने और यह देखने के लिए कि ये कुछ और तो नहीं आप अपने डॉक्टर से भी मुलाकात कर सकते हैं। आपको डॉक्टर से जरूर मिलना चाहिए, यदि (और पढ़ें - संक्रमण का इलाज)

  • आपको रात के समय सिर पर तेज खुजली हो और यह परेशानी कुछ दिनों के बाद भी दूर ना हो।
  • जुओं को दूर करने की दवाओं के इस्तेमाल करने बाद भी जुओं को सिर में दिखना।
  • जुओं के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाले उत्पादों का उपयोग करने के बाद  इसके गंभीर दुष्प्रभाव दिखने लगे।

(और पढ़ें - खुजली दूर करने के उपाय)

बालों में जूं होने के कारण और जोखिम कारक - Head Lice Causes and risk factor in Hindi

बालों में जूं होने के कारण क्या हैं?

किसी व्यक्ति के बालों में कई तरह से जूं फैल सकती हैं। बालों में जूं होने के निम्न कारण हो सकते हैं -

  • पहले से ही जूं वाले व्यक्ति के साथ संपर्क में आना (जैसे- स्कूल या खेल गतिविधियों में, घर या शिविर के दौरान व्यक्तिगत संपर्क होना सामान्य है।)
  • जुओं से पीड़ित व्यक्ति के कपड़े पहनना, जैसे-टोपी, स्कार्फ, कोट, खेल की यूनिफॉर्म, या हेयर रिबन।
  • पीड़ित व्यक्ति की कंघी, ब्रश या तौलिए का प्रयोग करना।
  • एक ही बिस्तर, सोफा, तकिया, कालीन का इस्तेमाल करना या जुओं वाले जानवरों के संपर्क में आना।
  • छोटे बच्चों में स्कूल के उनके साथियों से (3-11 वर्ष की आयु) या परिवार के किसी सदस्य के संपर्क में आने से भी यह समस्या हो जाती है।
  • लड़कों के मुकाबले लड़कियों में व पुरूषों की तुलना में महिलाओं में जुओं की समस्या अधिक देखी जाती है।
  • सीधे संपर्क के माध्यम से जुएं फैलती हैं। यह एक से दूसरे के सिर में कूदकर या उड़ कर नहीं आती हैं। जुओं की समस्या से पीड़ित व्यक्ति के सिर के संपर्क में प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप में आने से यह आपके भी सिर में हो जाती हैं। जुएं कपड़ों, टोपी और हेयरब्रश में कम अवधि के लिए जीवित रहती हैं व इनसे संक्रमण का खतरा ज्यादा होता है।
  • जिन वयस्कों के घर में बच्चों को जुओं की समस्या होती है, उनको भी जूं होने का खतरा बना रहता है।

(और पढ़ें - बैक्टीरियल संक्रमण का इलाज)

सिर में जूं होने पर बचाव - Prevention of Head Lice in Hindi

सिर में जूं होने से बचाव कैसे करें?

 जूं एक सिर से दूसरे सिर में (संपर्क में आने पर) तेजी से फैलती है। जबकि, यह कपड़ों या सामानों को साझा करने से तेजी से नहीं फैलती हैं। कई बार जूं डैंड्रफ के साथ घर के फ्लोर पर गिर जाती हैं। ध्यान दें कि कालीन या फर्नीचर पर गिरने वाली जुओं का किसी अन्य सिर में जाने का जोखिम कम होता है। सिर से नीचे गिरने वाली जूं 1-2 दिनों तक ही जीवित रह पाती हैं। जबकि जुओं के अंडे अगर सिर की त्वचा और तापमान में नहीं रहते हैं, तो एक सप्ताह के अंदर वो भी समाप्त हो जाते हैं।

(और पढ़ें - डैंड्रफ का इलाज)

सिर में जुओं को फैलने से रोकने में कुछ उपाय मदद करते हैं। चलिए जानते हैं इस बारे में -

  • घर, स्कूल और अन्य जगहों पर खेल और अन्य गतिविधियों के दौरान किसी के साथ सिर से सिर मिलाने से बचें।
  • कपड़े, जैसे- टोपी, स्कार्फ, कोट, खेल वर्दी, बालों का रिबन या बैंड्स को साझा न करें।
  • किसी भी जुओं वाले व्यक्ति की कंघी, ब्रश, या तौलिया साझा न करें। किसी पीड़ित व्यक्ति द्वारा इस्तेमाल की गई इन चीजों को 5-10 मिनट के लिए गरम पानी में भिगोने के बाद ही उपयोग में लाएं।
  • किसी भी पीड़ित व्यक्ति के बिस्तर, तकिए, कालीन या जुओं वाले जानवरों के संपर्क में ना आएं।
  • जुओं को दूर करने का इलाज ले रहें व्यक्ति के संपर्क में आएं कपड़ों को गर्म पानी से धोएं। (और पढ़ें - गर्म पानी के फायदे)
  • कपड़े और सामान जो धोने योग्य नहीं हैं, उनको ड्राइक्लीन करके प्लास्टिक के बैग में सील कर दिया जाता है और 2 सप्ताह के लिए रख दिया जाता है।
  • उस आंगन और फर्निचर की सफाई जरूर करें जहां पीड़ित व्यक्ति बैठा और लेटा है। हालांकि इस पर बहुत अधिक काम किए जाने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि सर से जमीन पर गिरी या रेंग कर फर्निचर में गई जुओं के वहां से जिंदा बचने और रेंग कर वापस सिर में घुसने की कोई गुंजाइश नहीं होती है। 
  • इनको दूर करने के लिए किसी स्प्रे का उपयोग न करें, क्योंकि यदि जुओं को दूर करने वाला स्प्रे त्वचा, सांस या आंखों में चला जाय तो यह खतरनाक हो सकता है।
  • इस समस्या से बचने के लिए समूह में, स्कूल में या शिविर में बच्चों को जागरूक किया जाना चाहिए।

(और पढ़ें - सिर दर्द से बचने के उपाय)

बालों में जूं होने का परीक्षण - Diagnosis of Head Lice in Hindi

सिर में जूं होने का निदान कैसे करें?

  • सिर की जुओं का निदान, व्यक्ति के सिर पर जुओं को देखकर किया जाता है। जुओं का आकार छोटा होता है और ये चलने में बेहद तेज होते हैं। वहीं इनको देख पाना भी काफी मुश्किल होता है।
  • किसी लेंस और महिन दांतेदार कंघी का प्रयोग करके आप जीवित जुओं को खोज सकते हैं। अगर किसी चलती हुई जूं को आप न देख पाते हैं, तो आप इनके अंडों को सिर के चिपचिपे बालों की जड़ों पर देख सकते हैं। जुओं के होने की पुष्टि होने पर इसका इलाज शुरू कर दें।
  • जुओं के अंडे अक्सर बालों में पाए जाने वाले डेंड्रफ, किसी स्प्रे की बूंदे और धूल और गंदगी के कण की तरह लग सकते हैं।
  • यदि आपको बालों में कोई जूं या जूं का अंडा नहीं दिखाई दे, तो ऐसे में आपको इसके इलाज की भी आवश्यकता नहीं होती है।

(और पढ़ें - डैंड्रफ हटाने के घरेलू नुस्खे)

सिर में जूँ का इलाज कैसे करें - Head Lice Treatment in Hindi

बालों में जूँ का इलाज कैसे करें?

उचित उपचार के बिना बालों से जुओं को दूर नहीं किया जा सकता है। जैसे ही आपको जुओं के लक्षण दिखाई दें या कपड़ों और बालों में जूं या इसके अंडे दिखाई दें, तो आप तुरंत ही इसका इलाज शुरू कर दें।

  • सिर के जुओं को दूर करने या इनका सफाया करने के लिए आप सिर की त्वचा पर लगाने वाले दवाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं। जुओं का इलाज करने के सबसे आम तरीकों में औषधीय क्रीम, लोशन या शैंपू का प्रयोग किया जाता है, जिससे जूं आसानी से मर जाते हैं। इसके लिए आप अपने डॉक्टर से मिलकर गोलियां या मलहम लिखवा सकते हैं। साथ ही आपको बिना पर्चे के भी मेडिकल काउंटर से सीधे लोशन या शैंपू मिल सकते हैं। 
  • शरीर के जुओं के अंडे आपके कपड़ों में रहते हैं, इसलिए इनको दूर करने के लिए आपको अपने पहने हुए कपड़ों को गर्म पानी में 5 से 10 मिनट तक भिगोकर साफ करना चाहिए। यह तरीका बड़ी जुओं को मार देता है और अंडों को भी खत्म कर देता है। शरीर में जूं केवल उस जगह पर रह पाती हैं जहां पर इनको पोषण मिलता है और यह शरीर की साफ-सफाई और कपड़ों को नियमित रूप से धोने से दूर हो जाती हैं।
  • स्कूल या डे केयर सेंटर जाने वाले बच्चों के सिर पर यदि जूं हो जाए तो उनको इसका प्राथमिक इलाज करवाने के बाद ही स्कूल लौटना चाहिए। पूरा इलाज लेने के बाद ही बच्चें को वापस लौटना चाहिए और उन्हें यह भी समझाया जाना चाहिए कि आपस में एक दूसरे के साथ सर से सर न जोड़े (हेड टू हेड कॉन्टेक्ट) ताकि जुएं एक से दूसरे में न फैले।
  • आपके सिर से सभी जूएं खत्म हो जाने के बाद भी खुजली रह सकती है। यह उनके काटने से हुई एलर्जी की प्रतिक्रिया होती है। इसको दूर करने के लिए कॉर्टिसोन (Corticosteroid) क्रीम या कैलामाइन (Calamine) लोशन को इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है। (और पढ़ें - कैलामाइन लोशन का उपयोग)
  • गंभीर खुजली के लिए एंटीहिस्टामाइन (Antihistamine) दवाइयां (जैसे कि बेनाड्रील/ Benadryl) का इस्तेमाल (आवश्यकता होने पर ही) करें। अपने बच्चे को एंटीहिस्टामाइन (Antihistamine) देने से पहले इसकी जांच किसी डॉक्टर से जरूर कराएं।
  • 2 साल से कम उम्र के बच्चों पर क्रीम का उपयोग तब तक न करें, जब तक आपका डॉक्टर आपको इसकी सलाह न दें।

(और पढ़ें - एलर्जी का घरेलू उपाय)

सिर के जूं के उपचार के लिए उपलब्ध लोशन -

  • बेन्ज़िल एल्कोहल (Benzyl alcohol) लोशन
  • इवरमेक्टिन (Ivermectin) लोशन
  • मैलेथियन (Malathion) लोशन

सिर के जुओं को दूर करने के घरेलू उपचार:

यदि आप सिर के जुओं के संक्रमण के इलाज के लिए दवा का उपयोग नहीं करना चाहते हैं, तो आप वैकल्पिक घरेलू उपचार पर भी विचार कर सकते हैं। इन उपचारों को भी मुख्यतः घरों में इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि इनकी उपयोगिता डॉक्टरी तौर पर सिद्ध नही है। 

गीले बालों में कंघी करना - गीले बालों पर कम चौड़े दांतों वाली कंघी से बालों को ऊपर से नीचे की ओर लाकर आप जुओं को आसानी से दूर कर सकते हैं।
इस प्रक्रिया में आपके बाल पूरी तरह से गीले होने चाहिए। इस प्रक्रिया में आपको अपने पूरे बालों को कंघी करना होगा और ऐसा आप कम से कम दो बार जरूर करें। इस तरीके को आप हर दो या तीन दिन में दोहराते रहें। करीब दो सप्ताह के बाद आप देखेंगे कि आपके सिर से सारी जूं दूर हो गई।

(और पढ़ें - बालों को घना करने के उपाय)

कुछ आवश्यक तेलों का इस्तेमाल करें - कुछ प्राकृतिक पौधों से बने तेलों के इस्तेमाल से जूं और इसके अंडों को कम किया जा सकता है। इन उत्पादों में शामिल हैं -

  • टी ट्री तेल (Tea tree oil)
  • एनाइस तेल (Anise oil)

(और पढ़ें - टी ट्री ऑयल के फायदे)

अन्य तत्वों का इस्तेमाल - सिर के जूं के इलाज के लिए कई तरह की घरेलू चीजों का इस्तेमाल किया जाता है। तर्क ये है कि इन चीजों के संपर्क में आने से जूूं और उसके अंडे बन नहीं पाते हैं। इन चीजों को बालों पर लगाकर रात भर के लिए छोड़ दें। इस प्रक्रिया में निम्न चीजों को इस्तेमाल किया जाता है -

(और पढ़ें - पेट्रोलियम जेली के फायदे)



संदर्भ

  1. Rupal Christine Gupta. Head Lice. The Nemours Foundation.
  2. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Treatment
  3. InformedHealth.org [Internet]. Cologne, Germany: Institute for Quality and Efficiency in Health Care (IQWiG); 2006-. Head lice: Overview. 2008 Mar 5 Head lice: Overview.
  4. Ian F Burgess et al. Head lice. BMJ Clin Evid. 2009; 2009: 1703. PMID: 19445766
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Head Lice

सिर में जूं के डॉक्टर

Dr. Arun R Dr. Arun R संक्रामक रोग
5 वर्षों का अनुभव
Dr. Neha Gupta Dr. Neha Gupta संक्रामक रोग
16 वर्षों का अनुभव
Dr. Lalit Shishara Dr. Lalit Shishara संक्रामक रोग
8 वर्षों का अनुभव
Dr. Alok Mishra Dr. Alok Mishra संक्रामक रोग
5 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

सिर में जूं की दवा - Medicines for Head Lice in Hindi

सिर में जूं के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹90.3

20% छूट + 5% कैशबैक


₹42.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹39.05

20% छूट + 5% कैशबैक


₹0.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹42.35

20% छूट + 5% कैशबैक


₹80.15

20% छूट + 5% कैशबैक


₹74.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹59.5

20% छूट + 5% कैशबैक


₹8.06

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 273 entries

सिर में जूं की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Head Lice in Hindi

सिर में जूं के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹134.0

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 0 of 1 entries
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ