myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

विशेषज्ञों के अनुसार हृदय रोगों से होने वाली मृत्यु में महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा है। यह तथ्य चौंका सकता है कि लगभग दो तिहाई मलिहाएं अचानक हार्ट अटैक की वजह से मर जाती हैं। जबकि उनमें किसी तरह के लक्षण भी नजर नहीं आते। इस तरह देखा जाए तो पुरूषों की तुलना में महिलाएं हार्ट अटैक की चपेट में ज्यादा आती हैं। यही वजह है कि महिलाओं को हार्ट अटैक को लेकर सतर्क रहना चाहिए। हार्ट अटैक के कुछ लक्षण विशेष तौर पर महिलाओं में नजर आते हैं। जानिए इनके बारे में।

अतिरिक्त थकान
हालांकि हार्ट अटैक होने पर थकान होना उसका एक सामान्य लक्षण है। लेकिन महिलाओं में यह लक्षण ज्यादा नजर आता है। संभव है आप अपने घर की अकेली देखभाल करती हैं, जिसमें बच्चों, बुजुर्गो की देखरेख से लेकर ऑफिस के कामकाज तक शामिल हैं। यह सब काम करते हुए आप सामान्य महिलाओं की तुलना में अगर ज्यादा थकान महससू करती हैं तो आपको सतर्क होने की जरूरत है। खासकर अगर हाल ही में आपमें थकान के लक्षण ज्यादा नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही इन लक्षणों पर भी गौर करें जैसे छाती में भारीपन, एक्सरसाइज के बाद बहुत ज्यादा थकान, नींद में कमी होना।

(और पढ़ें - हृदय को स्वस्थ रखने के लिए डाइट)

सांस लेने में तकलीफ
उम्र बढ़ने के बाद, एक्सरसाइज की कमी और वजन बढ़ने की वजह से अक्सर सांस लेने में कमी होती है। आमतौर पर मेनोपॉज हो चुकी महिलाओं  में यह समस्या ज्यादा होती है। इसके साथ ही आपको कुछ और लक्षण जैसे अचानक बहुत ज्यादा पसीना आना या सांस लेने में समस्या होना, कुछ समय के बाद स्थिति और गंभीर होना, लेटने पर सांस लेने में ज्यादा तकलीफ होना, छाती में दर्द और थकान भी नजर आ सकती है।

(और पढ़ें - सांस लेने में दिक्कत हो तो क्या करे)

गर्दन-पीठ में दर्द
शरीर में कुछ भी गलत होते ही शरीर इसका संकेत देने लगता है। इसी तरह जब भी हृदय में कोई समस्या होती है तो आपको नर्व में तकलीफ होने लगती है जो गर्दन या पीठ में दर्द के रूप में महसूस होती है। हालांकि आपको यह कहना मुश्किल होगा कि ठीक किस जगह दर्द हो रहा है लेकिन दर्द बना रहता है। इससे आप असहज रहती हैं और किसी भी तरह की शारीरिक क्रिया नहीं कर पाते हैं।

(और पढ़ें - कमर दर्द के लिए योगासन)

इन संकेतों को भी न करें नजरअंदाज

  • आपको पुरूषों की ही तरह कंधे में दर्द महसूस हो सकता है। जरूरी नहीं है कि दर्द सिर्फ बाएं हाथ में ही हो।
  • पीठ के निचले और ऊपरी हिस्से में दर्द होता है। यह दर्द अमूमन छाती से शुरू होता है और शरीर के अन्य हिस्सों तक पहुंच जाता है।
  • कई बार दर्द एकाएक शुरू होता है जैसे नींद से उठते ही दर्द होना। दर्द कई बार शरीर के बाएं हिस्से में ज्याद होता है।

हार्ट अटैक से बचने के लिए क्या करें: 
हार्ट अटैक से बचा जा सकता है। इसके लिए कुछ उपायों को आजमा सकते हैं। जैसे आप नियमित डाक्टर से संपर्क करें। धूम्रपान आदि न करें। शायद आप इस तथ्य से अवगत हैं कि धूम्रपान छोड़ने के एक साल के अंदर ही आपको हृदय रोग की आशंका में 50 फीसदी की कमी आ जाती है। इसके अलावा नियमित एक्सरसाइज करें। रोजाना महज 30 मिनट की वाॅकिंग आपके लिए फायदेमंद है। इससे स्ट्रोक की आशंका कम होती है। इसके साथ ही अपने खानपान को संतुलित रखें। 

(और पढ़ें - हृदय रोग से बचने के उपाय)

और पढ़ें ...