कंधे में दर्द - Shoulder Pain in Hindi

Dr. Nadheer K M (AIIMS)MBBS

October 17, 2017

March 06, 2020

कंधे में दर्द

जब कंधे में कुछ समस्या होती है, तो कंधे के हिलने-ढुलने में बाधा उत्पन्न होने लगती है। दर्द और बेचैनी के अलावा इससे आपके जीवन में और कई परेशानियां हो सकती हैं।

कंधों का जोड़ शरीर का सबसे गतिशील जोड़ है जो कंधे को आगे और पीछे ले जाने का काम करते हैं। कंधे के जोड़ की मदद से बाजुओं को चारों ओर तथा इर्द-गिर्द घूमने में मदद मिलती हैं।

(और पढ़ें - जोड़ों में दर्द के घरेलू उपाय)

कंधे के हिलने-ढुलने व घूमने की सीमा रोटेटर कफ (कंधों को घुमानेवाली पेशी) द्वारा निर्धारित की जाती है। रोटेटर कफ चार टेंडन्स से मिलकर बना होता है। टेंडन वे रेशेदार ऊतक होते हैं, जो हड्डियों को मांसपेशियों से जोड़ते हैं। अगर रोटेटर कफ के आस-पास के टेंडन्स क्षतिग्रस्त या उनमें सूजन आई हुई है, तो बाजुओं को सिर को ऊपर की तरफ उठाने में दर्द या कठिनाई अनुभव हो सकती है।

कंधे किसी भी प्रकार के शारीरिक श्रम से क्षति ग्रस्त हो सकते हैं, जैसे खेल-कूद, काफी देर तक या बार-बार एक ही मूवमेंट करना। कुछ ऐसे रोग भी हैं, जिनसे कंधों में दर्द होने लगता है। इनमें गर्दन की सरवाइकल हड्डियां, साथ ही लिवर, हृदय या पित्ताश्य संबंधी रोग शामिल हैं।

उम्र बढ़ने के साथ-साथ कंधों में दर्द होने की संभावना भी बढ़ जाती है। विशेष रूप से 60 साल से ज़्यादा उम्र में यह समस्या आम हो जाती है, क्योंकि उम्र के साथ-साथ कंधे के आस-पास के ऊतक नष्ट या खराब होने लगते हैं। 

कंधों में दर्द के ज्यादातर मामलों का इलाज घरेलू नुस्खों से किया जा सकता है, हालांकि, "फिजिकल थेरेपी" (physical therapy), दवाएं या सर्जरी भी आवश्यक हो सकती है।

कंधे में दर्द के लक्षण - Shoulder Pain Symptoms in Hindi

कंधे में दर्द के साथ क्या-क्या लक्षण हो सकते हैं?

कुछ लक्षण जो अक्सर कंधे में दर्द के साथ हो सकते हैं, जैसे

  • दर्द और जकड़न जो महीनों या साल तक भी दूर नहीं होती,
  • बाजू या कंधे को इस्तेमाल करते समय दर्द बढ़ जाना,
  • हाथ लगाने पर झुनझुनी, सुन्नपन, कमजोर महसूस होना
  • अचानक तेज दर्द, बाजू हिलाने में असमर्थता या कठिनाई

डॉक्टर को कब दिखाना चाहिए?

यदि आपके कंधे में अचानक दर्द होता है, जो किसी चोट से संबंधित नहीं है, तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें। कुछ मामलों में यह हार्ट अटैक के संकेत भी देता है (हार्ट अटैक के अन्य संकेत - सांस लेने में कठिनाई, सीने में जकड़न, चक्कर आना, अत्यधिक पसीना आना और जबड़े या गर्दन में दर्द)। 

यदि आपके कंधेमें चोट लगी हो जिससे खून बह रहा हो, सूजन आ गई हो या अंदरूनी ऊतक दिखाई देने लगे हों, तो तुरंत डॉक्टर के पास जाएं।

इसके अतिरिक्त, अगर आपको कंधे में दर्द के साथ इनमें से कोई लक्षण हो तो डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए 

  • बुखार
  • अपने कंधे को हिलाने में असमर्थता
  • लंबे समय तक चक्कर आना
  • जोड़ों के आसपास की त्वचा गर्म व छूने पर दर्द होना
  • अगर दर्द घरेलू उपचार के बाद भी ठीक नहीं होता

कंधे में दर्द के कारण - Shoulder Pain Causes in Hindi

कंधे में दर्द क्यों होता है?

ऐसे कई कारक व परिस्थितियां हैं जो कंधे के दर्द का कारण बन सकती हैं, जैसे - 

  • कंधे में दर्द का सबसे आम कारण "रोटेटर कफ टेंडिनाइटिस" (Rotator Cuff Tendinities) होता है। इस स्थिति में टेंडन्स में सूजन आने लगती है।
  • कंधे में दर्द कई बार शरीर की किसी दूसरी जगह पर किसी प्रकार की चोट लगने के कारण भी हो सकता है।  आम तौर से ऐसा गर्दन व बाईसेप्स आदि पर चोट लगने से होता है।
  • कंधे में दर्द के अन्य कारणों में गठिया, क्षतिग्रस्त कार्टिलेज (उपास्थि) या क्षतिग्रस्त रोटेटर कफ आदि शामिल हैं।
  • कंधे या गर्दन में किसी नस का दबना या बंद हो जाना या कंधे या बाजूओं कि कोई हड्डी टूटना भी कंधे में दर्द का कारण बन सकते हैं।
  • जमे या अकड़े हुऐ कंधे में भी दर्द हो सकता है। यह तब होता है, जब टेंडन, लिगामेंट्स और मांसपेशियों में दर्द या जकड़न हो जाए और हिलाने में कठिनाई या असमर्थता महसूस होने लगे।
  • कंधे की हड्डी का स्थान से हट जाना, इसको "डिस्लोकेटेड शॉल्डर" (Dislocated Shoulder) कहा जाता है। डिस्लोकेटेड कंधा बहुत दर्दनाक हो सकता है।
  • कंधे की मासपेशियों तथा हड्डियों को एक ही दिशा और गति में दोहराते रहने से भी कंधे में दर्द शुरू हो सकता है।
  • गंभीर समस्याएं जैसे रीढ़ की हड्डी में चोट लगना या दिल का दौरा आदि भी कंधे में दर्द का कारण बन सकती हैं।

कंधे में दर्द से बचाव - Prevention of Shoulder Pain in Hindi

कंधे के दर्द को होने से कैसे रोकें?

कंधे की एक्सरसाइज कंधे की मांसपेशियों और रोटेटर कफ के टेंडन्स को स्ट्रेच करने और मजबूत रखने में मदद करती हैं। एक फिजीकल थेरेपिस्ट की मदद से आप इन व्यायामों को ठीक तरीके से करना सीख सकते हैं।

(और पढ़ें - कंधे की एक्सरसाइज)

अगर आपके कंधे में पहले से ही कोई समस्या है, तो व्यायाम करने बाद अपने कंधे को 15 मिनट तक बर्फ से सेकें, ऐसा करने से भविष्य में होने वाली क्षति की संभावनाओं को कम किया जा सकता है। 

कंधे में दर्द का परीक्षण - Diagnosis of Shoulder Pain in Hindi

कंधे के दर्द का निदान कैसे किया जाता है?

निदान के दौरान डॉक्टर कंधे के दर्द का कारण जानने की कोशिश करेंगे। वे मरीज के द्वारा पहले ली गई दवाओं और पहले महसूस हुऐ लक्षण व संकेतों के बारे में पूछेंगे।

निदान के दौरान डॉक्टर मरीज के कंधे को छूकर सूजन व टेंडरनेस (छूने पर दर्द होना) को महसूस करने की कोशिश करते हैं और जोड़ की स्थिरता और कंधों को घुमा पाने की सीमा को देखते हैं।

एक्स-रे और एमआरआई जैसे टेस्ट कंधे की अंदरूनी तस्वीरें देते हैं जिससे कंधे की समस्या का पता लगाने में मदद मिलती है।

कारण को निर्धारित करने लिए डॉक्टर मरीज के कुछ सवाल भी पूछ सकते हैं, जिनको अच्छी तरह से बताने के लिए मरीज को पहले ही तैयार रहना चाहिए, जैसे -

  • दर्द एक कंधे में है या दोनों में?
  • क्या यह दर्द अचानक शुरू हुआ? यदि हां, तो उस समय आप क्या कर रहे थे?
  • क्या दर्द आपके शरीर के अन्य क्षेत्रों में भी फैलता है?
  • क्या आप दर्द की सटीक जगह बता सकते हैं?
  • क्या कंधे को बिना हिलाए भी दर्द होता है?
  • जब आप कुछ खास तरीके से बाजू को हिलाने की कोशिश करते हैं, तो क्या दर्द होता है?
  • क्या दर्द तीव्र है या हल्का और धीमा दर्द है?
  • क्या आपका ग्रसित कंधे की त्वचा लाल, गर्म या उसमें कहीं सूजन है?
  • क्या दर्द आपको रात को सोने भी नहीं देता है?
  • क्या करने से आपको दर्द कम होता है और क्या करने से दर्द बढ़ता है?
  • क्या कंधे के दर्द की वजह से आपको अपनी गतिविधियों को सीमित करना पड़ा है?

कंधे में दर्द का इलाज - Shoulder Pain Treatment in Hindi

कंधे के दर्द का इलाज कैसे किया जाता है?

1. मेडिकल उपचार -

कंधे के दर्द की वजह और उसकी गंभीरता के आधार पर उसका इलाज किया जाता है।

  • फिजिकल थेरेपी, और "शॉल्डर इमोबिलाइज़र" (shoulder immobilizer; कंधे को स्थिर रखने वाले उपकरण) तो उपचार के विकल्प हैं।
  • आपके डॉक्टर कुछ दवाएं लेने को कह सकते हैं जैसे कि नॉनस्टेरॉयडल एंटी-इन्फ्लैमेटरी (सूजन-विरोधी) दवाएं (NSAIDs) या कॉर्टिकोस्टेरॉइड (Corticosteroids) आदि। कोर्टिकॉस्टिरॉइड शक्तिशाली एंटी-इन्फ्लामेटरी दवाएं होती हैं, जिनको डॉक्टर इंजेक्शन की मदद से कंधे में लगा सकते हैं, या खाने के लिए उनकी टेबलेट दे सकते हैं।
  • कुछ गंभीर मामलों में सर्जरी की आवश्यकता भी पड़ सकती है। अगर आपके कंधे की सर्जरी हो चुकी है, तो उसके बाद के निर्देशों को ध्यानपूर्वक पालन करें।

(और पढ़ें - कंधे की सर्जेरी)

2. कंधे की देखभाल जो स्वयं करनी चाहिए -

कुछ कंधे के छोटे-मोटे दर्द की देखभाल घर पर भी किया जा सकती है। यह कुछ आसान तरीके हैं (कृप्या डॉक्टर से ज़रूर पूछें कि आपके लिए ये सही हैं या नहीं) -

  • अपने कंधे पर 15 से 20 मिनट तक लगातार बर्फ लगाएं। ऐसा दिन में 3-4 बार करें, और कुछ दिनों तक करते रहें। ऐसा करने से दर्द कम करने में मदद मिलती है। बर्फ को हमेशा आइसबैग या किसी तौलिये आदि से लपेट कर ही इस्तेमाल करें, क्योंकि बर्फ को सीधा लगाने से फ्रोस्टबाइट (frostbite) हो सकता या त्वचा जल सकती है।
  • कुछ दिनों के लिए कंधे को आराम दें जब तक वे सामान्य गतिविधियों में वापस ना आ जाएं, ऐसी किसी भी मूवमेंट से बचें जिससे कंधे में दर्द बढ़ता हो।
  • ऐसे काम कम करें जिनमें सिर के उपर हाथों को उठाना पड़े।
  • अन्य उपचार जिनमें बिना डॉक्टर पर्ची के मिलने वाली दवाएं जैसे नॉन-स्टेरॉयडल एंटी-इन्फ्लामेटरी दवाएं शामिल हैं। ये दवाएं दर्द को कम करने में मदद करती हैं।


संदर्भ

  1. Arthritis Foundation National Office [Internet] Atlanta,GA; Shoulder Anatomy
  2. American Society for Surgery of the Hand [Internet] Chicago; Shoulder pain
  3. Caroline Mitchell, Ade Adebajo, Elaine Hay, Andrew Carr. Shoulder pain: diagnosis and management in primary care. BMJ. 2005 Nov 12; 331(7525): 1124–1128. PMID: 16282408
  4. American Society for Surgery of the Hand [Internet] Chicago; Rotator cuff injuries
  5. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Shoulder Pain and Common Shoulder Problems.
  6. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Chronic Shoulder Instability.
  7. American Society for Surgery of the Hand [Internet] Chicago; Shoulder arthritis
  8. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Arthritis of the Shoulder.
  9. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Biceps Tendinitis.
  10. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Biceps Tendon Tear at the Shoulder.
  11. Daniëlle A W M van der Windta, Elaine Thomasb, Daniel P Popeb, Andrea F de Wintera, Gary J Macfarlanec, Lex M Boutera, Alan J Silmanb. Occupational risk factors for shoulder pain: a systematic review . Bmj journels [Internet]
  12. Health Harvard Publishing. Harvard Medical School [Internet]. Possible link between shoulder problems and heart disease risk: Published: February, 2017. Harvard University, Cambridge, Massachusetts.
  13. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Rotator Cuff Tears.
  14. Health Harvard Publishing. Harvard Medical School [Internet]. Keep your shoulders strong to stay independent; Published: December, 2015. Harvard University, Cambridge, Massachusetts.
  15. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Rotator Cuff and Shoulder Conditioning Program.
  16. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Shoulder Joint Replacement.
  17. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Reverse Total Shoulder Replacement.
  18. American Academy of Orthopaedic Surgeons [Internet] Rosemont, Illinois, United States; Shoulder Arthroscopy.
  19. Better health channel. Department of Health and Human Services [internet]. State government of Victoria; Shoulder pain

कंधे में दर्द के डॉक्टर

Dr. Urmish Donga Dr. Urmish Donga ओर्थोपेडिक्स
3 वर्षों का अनुभव
Dr. Sridhar Reddy Dr. Sridhar Reddy ओर्थोपेडिक्स
4 वर्षों का अनुभव
Dr. Sunil Kumar Yadav Dr. Sunil Kumar Yadav ओर्थोपेडिक्स
3 वर्षों का अनुभव
Dr. Deep Chakraborty Dr. Deep Chakraborty ओर्थोपेडिक्स
10 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर से सलाह लें

कंधे में दर्द की दवा - Medicines for Shoulder Pain in Hindi

कंधे में दर्द के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

दवा का नाम

कीमत

₹92.0

20% छूट + 5% कैशबैक


₹42.8

20% छूट + 5% कैशबैक


₹28.7

20% छूट + 5% कैशबैक


₹69.65

20% छूट + 5% कैशबैक


₹162.05

20% छूट + 5% कैशबैक


₹117.28

20% छूट + 5% कैशबैक


₹64.27

20% छूट + 5% कैशबैक


₹58.33

20% छूट + 5% कैशबैक


₹26.03

20% छूट + 5% कैशबैक


₹10.31

20% छूट + 5% कैशबैक


Showing 1 to 10 of 999 entries

कंधे में दर्द की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Shoulder Pain in Hindi

कंधे में दर्द के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

कंधे में दर्द पर आम सवालों के जवाब

सवाल एक साल के ऊपर पहले

मैं 32 साल का हूं। कुछ दिनों से मुझे कंधों में दर्द हो रहा है। मैं जब भी अपना हाथ ऊपर उठाता हूं, तो मुझे दर्द होता है। दर्द की वजह से मैं अपने रोजमर्रा के काम भी नहीं कर पाता हूं। ऐसा क्यों होता है?

Dr. Kuldeep Meena MBBS, MD , श्वास रोग विज्ञान

कंधों में मांसपेशियों के बीच मौजूद बर्सा में अधिक तरल पदार्थ बनने के साथ जलन और सूजन की वजह से कंधे में दर्द हो सकता है। बर्सा एक थैली है जो लूब्रिकेटिंग तरल पदार्थ से भरी होती है। ये थैली आपकी हड्डियों, मांसपेशियों, टेंडन और त्वचा के ऊतकों के बीच स्थित होती है। यह रगड़, घर्षण और जलन को कम करती है। आमतौर पर बर्साइटिस कंधे, कोहनी, टखने, घुटने, कूल्हों, जांघों जैसे हिस्सों में होता है। कंधे में चोट लगने की वजह से कंधे की मांसपेशियां सिकुड़ जाती हैं, जिसकी वजह से बर्सा में रगड़ लगने लगती है, यह दर्द और जलन का कारण बनता है। इसलिए जब आप हाथ को कंधे से ऊपर उठाते हैं, तो आपको दर्द महसूस होता है। इस समस्या के लिए आप ऑर्थोपेडिक डॉक्टर को दिखाएं।

सवाल लगभग 1 साल पहले

मुझे कुछ दिनों से कंधों में दर्द हो रहा है। रात को सोते समय दर्द और भी बढ़ हो जाता है। मुझे क्या करना चाहिए?

Dr. Kumawat Vijay Kumar MBBS , सामान्य चिकित्सा

रात के समय कंधे में दर्द के सबसे आम कारणों में रोटेटर कफ टेंडिनोसिस और शोल्डर बर्साइटिस शनील हैं। हालांकि, वैज्ञानिक रूप  से यह बात साबित या स्पष्ट नहीं हो पाई है कि रात के समय कंधे में दर्द क्यों बढ़ जाता है। सोने के गलत पोस्चर, सोते समय कंधों पर दवाब पड़ने या सख्त गद्दे पर सोने की वजह से कंधे में दर्द हो सकता है।

सवाल लगभग 1 साल पहले

मुझे कई दिनों से कंधे में दर्द हो रहा है। मुझे लगता है कि ऐसा मेरे गलत पोजीशन में सोने की वजह से हो रहा है। कंधे के दर्द से छुटकारा पाने के लिए मुझे कैसे सोना चाहिए?

Dr. Kuldeep Meena MBBS, MD , श्वास रोग विज्ञान

कंधे के दर्द से छुटकारा पाने के लिए कुछ तरीकों को अपनाएं, जैसे पेट के बल न सोएं, क्योंकि पेट के बल सोने से आपके कंधों पर दवाब पड़ सकता है और इससे दर्द बढ़ सकता है। इसी के साथ ऐसे पोस्चर में सोएं, जिससे प्रभावित कंधे पर किसी तरह का दवाब न पड़े, सोने के लिए नरम और मुलायम तकिए का इस्तेमाल करें और मुलायम व नरम गद्दे पर सोएं। इन बातों का ध्यान रखकर आपको कंधे में दर्द से काफी राहत मिलेगी।

सवाल लगभग 1 साल पहले

मुझे काफी दिनों से कंधों में दर्द है, लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा है कि यह ठीक क्‍यों नहीं हो रहा है। कंधों में दर्द कितने दिनों तक रह सकता है?

Dr. Tarun kumar MBBS , अन्य

कुछ समय के बाद कंधे का दर्द अपने आप ठीक हो जाता है, लेकिन कुछ मामलों में यह 3 साल तक भी परेशान कर सकता है। फ्रोजन शोल्डर या कंधों के अकड़ जाने पर फिजिकल थेरेपी की भी सलाह दी जाती है, लेकिन कुछ मामलों में यह दर्दनाक भी हो सकता है। इस स्थिति में आपको डॉक्टर से मिलकर सलाह लेनी चाहिए।

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ