myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

प्लांटर फैसीआइटिस​ क्या है?

प्लांटर फैसीआइटिस एड़ी में दर्द होने का एक मुख्य कारण होता है। हमारे पैर की निचली तरफ ऊतक का एक मोटा सा बैंड होता है, जिसे प्लांटर फेसियस कहा जाता है। ये ऊतक एड़ियों को पंजे से जोड़ता है। प्लांटर फैसीआइटिस होने पर इस ऊतक में सूजन हो जाती है, जिसके कारण एड़ी में दर्द शुरू हो जाता है। सामान्य तौर पर प्लांटर फेसियस पैरों को लगने वाले झटकों को झेलता है और पैरों को सहारा देता है।

(और पढ़ें - सूजन से छुटकारा पाने का तरीका)

प्लांटर फैसीआइटिस के लक्षण क्या हैं?

प्लांटर फैसीआइटिस से होने वाला सबसे आम लक्षण है एड़ी में दर्द होना। ये दर्द सुबह के समय उठने के बाद चलने पर अधिक होता है और धीरे-धीरे पूरे दिन चलते रहने पर कम होता जाता है। इसके अलावा लंबे समय तक बैठे रहने के बाद खड़े होने पर भी प्लांटर फैसीआइटिस का दर्द होने लगता है।

(और पढ़ें - एड़ी में दर्द के घरेलू उपाय)

प्लांटर फैसीआइटिस क्यों होती है?

जैसा कि हमने आपको बताया कि प्लांटर फेसियस का मुख्य काम होता है पैरों को लगने वाले झटकों को झेलना और पैरों को सहारा देना। जब इस टिशू पर दबाव बहुत अधिक बन जाता है या इसपर चोट लग जाती है, तो ये टिशू फटने लगता है, जिसके कारण इसमें दर्द और सूजन हो जाती है। इसके अलावा जिन लोगों का वजन ज्यादा होता है या जो लोग रनिंग करते हैं, उन्हें भी ये समस्या हो सकती है।

(और पढ़ें - पैरों में सूजन का इलाज)

प्लांटर फैसीआइटिस का इलाज कैसे होता है?

प्लांटर फैसीआइटिस के इलाज के लिए सबसे मुख्य इलाज होता है अपने पैरों पर कम से कम दबाव बनने देना और सूजन कम करने के लिए दिन में बार-बार बर्फ लगाना। आप अपनी रोजाना की एक्सरसाइज को बदलकर या कम करके भी देख सकते हैं। इसके अलावा अपने जूतों में सहारा देने के लिए आप सोल भी लगवा सकते हैं। दर्द के लिए दर्द निवारक दवाएं भी ली जा सकती हैं। अगर इनमें से किसी भी इलाज से आपको राहत नहीं मिलती है, तो आपके डॉक्टर कुछ प्रकार की थेरेपी का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।

(और पढ़ें - एक्सरसाइज करने का सही समय)

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...