myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

इन दिनों ज्यादातर लोग कंप्यूटर और मशीनों पर काम करते हैं। इससे शारीरिक गतिविधियां निश्चित रूप से कम हो गई हैं। लेकिन हाथ और उंगलियों का काम बढ़ गया है। ऐसे में जरूरी है कि आप अपनी उंगलियों को मजबूत बनाएं ताकि पेन और कंप्यूटर का माउस पकड़ने से लेकर सब्जी काटने तक के सभी काम आसानी से कर सकें। मजबूत उंगली होने पर आप कोई भी काम सहजता से कर सकते हैं। उंगलियों को मजबूत बनाने के लिए कुछ एक्सरसाइज कर सकते हैं।

उंगलियों को स्ट्रेच करें
यह एक्सरसाइज दर्द को कम कर उंगलियों को अधिक लचीला बनाती है। इसे करने के लिए अपने हाथ को एक टेबल के ऊपर या किसी समतल जगह पर हथेली के बल सीधे रखें। अपनी उंगलियों को उतना सीधा करें, जितना कि आप कर सकते हैं। ऐसा करने के लिए अपने जोड़ों पर अतिरिक्त दबाव न बनाएं। इसी पाॅजिशन में 30 से 60 सेकेंड तक रहें। इस प्रक्रिया को कम से कम 4 बार एक हाथ से दोहराएं। एक हाथ की एक्सरसाइज खत्म होने पर दूसरे हाथ से इसी प्रक्रिया को दोहराएं।

(और पढ़ें - उंगली में फ्रैक्चर का इलाज)

बाॅल दबाएं
यह एक्सरसाइज पकड़ को मजबूत करने के लिए की जाती है। इस एक्सरसाइज की मदद से आप दरवाजे की कुंडी को आसानी से खोल सकते हैं या फिर किसी भी चीज को बिना गिराए लंबे समय तक पकड़कर रख सकते हैं। इसे करने के लिए किसी नर्म बाॅल या टेनिस बाॅल को पकड़ें और धीरे-धीरे दबाएं। बाॅल को जितनी तेज दबा सकते हैं, उतनी तेज दबाएं। कुछ सेकेंड के लिए बाॅल को दबाए रखें और फिर पकड़ को ढीला कर लें। इसी तरह एक हाथ से 10 से 15 बार यह प्रक्रिया दोहराएं। इसके बाद दूसरे हाथ से इस एक्सरसाइज को करें। एक सप्ताह में इस एक्सरसाइज को दो से तीन बार करें। इस बात का ध्यान रखें कि प्रत्येक सेशन में कम से कम 48 घंटे का गैप जरूर हो। अगर आपके अंगूठे में दर्द है तो इस एक्सरसाइज को न करें।

(और पढ़ें - स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज करने के तरीके)

एक-एक कर उंगली उठाएं
सबसे पहले अपने हाथ को एक समतल जगह पर रखें। अब अपनी एक-एक कर सभी उंगली उठाएं और 5 सेकेंड तक इसी स्थिति में रहें। इस दौरान ध्यान रखें कि आपकी हथेली बिल्कुल फ्लैट हो। उंगली हिलाते वक्त हथेली न हिले। जब आप अपनी सभी उंगलियां उठा लेते हैं तो इस तरह एक रोटेशन पूरा होता है। इसके अलावा आप अपनी सभी उंगलियां एक बार में भी उठा सकते हैं। इससे आपकी उंगलियां रिलैक्स होती हैं और उंगलियों की गतिविधियां भी बेहतर होती हैं।

(और पढ़ें - पीठ की चर्बी कम करने के लिए एक्सरसाइज)

अंगूठा मोड़ें
अपनी हथेली को अपने मुंह की तरफ घुमाएं। अपनी सभी उंगलियों को खोल लें। अब अपने अंगूठे को छोटी उंगली की तरफ झुकाएं। यह बिल्कुल ऐसा है कि आप उंगली से चार गिन रहे हैं। एक रिपीटेशन पूरा करने के लिए कुछ देर बाद अपने अंगूठे को पहले वाली स्थिति में ले आएं। प्रत्येक हाथ से इस प्रक्रिया को 10 बार दोहराएं। इससे आपके अंगूठे को मजबूती मिलती है।

(और पढ़ें - एरोबिक्स एक्सरसाइज क्या है)

इन बातों का रखें ध्यान:

  • जिन लोगों को कार्पल टनल सिंड्रोम (हाथों में सुन्नपन या झनझनाहट) की समस्या हो, उन्हें ये एक्सरसाइज अवश्य करनी चाहिए। अमूमन कार्पल सिंड्रोम की समस्या उन्हें होती है जो लगातार कीबोर्ड में टाइप करते हैं या फिर लंबे समय से उंगलियों से एक ही जैसी गतिविधियां करते हैं। यहां बताई गयी एक्सरसाइज को करने से अलनर तंत्रिका (ulnar nerve) अपनी जगह से नहीं हिलती, जो दर्द की वजह बनता है। मजबूत उंगली होने की वजह से एक ही तरह से सक्रिय होने के बावजदू उंगली में दर्द नहीं होता। (और पढ़ें- हाथ में दर्द का उपचार)
  • हालांकि उंगलियों का मजबूत होना जरुरी है। साथ ही उंगलियों का ख्याल रखना भी जरुरी है। ध्यान रखें की उंगलियों में चोट न लगे। अगर उंगली से लंबे समय तक एक ही जैसी गतिविधी करते हैं तो बीच-बीच में उंगलियों को ब्रेक दें। (और पढ़ें - उंगली की हड्डी खिसकने के लक्षण)

मजबूत उंगलियों के लिए यहां बताई गयी एक्सरसाइज करें। अगर किसी एक्सरसाइज को करते हुए समस्या हो तो उस एक्सरसाइज को न करें या फिर विशेषज्ञ से बात करें।

और पढ़ें ...