गंभीर बीमारियों के प्रचलन और मेडिकल क्षेत्र में लगातार बढ़ रही महंगाई को देखते हुए राज्य सरकारें जनता को अच्छी से अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं कम से कम लागत पर देने की कोशिश कर रही हैं। देश की लगभग हर राज्य सरकार जनता के लिए सरकारी स्वास्थ्य बीमा योजना प्रदान कर रही है, जिसमें गरीबी रेखा से नीचे रह रहे लोगों को मुफ्त या कम से कम लागत में स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की जाती हैं। इन्हीं में से एक पश्चिम बंगाल द्वारा जारी की गई स्वास्थ्य साथी योजना भी है।

30 दिसंबर 2016 को पश्चिम बंगाल द्वारा जारी की गई स्वास्थ्य साथी योजना में लाभार्थियों को कैशलेस ट्रीटमेंट की सुविधा उपलब्ध कराई जाती है। इस योजना के तहत आपको कैशलेस हॉस्पिटलाइजेशन, प्री-एग्जिस्टिंग डिजीज कवरेज और पूरे परिवार के लिए कवरेज आदि प्रमुख सुविधाएं मिलती हैं। स्वास्थ्य साथी योजना के लाभार्थियों को नामांकरण के समय ही स्वास्थ्य साथी स्मार्ट कार्ड उपलब्ध कराया जाता है, जिसमें लाभार्थियों से संबंधित सभी जानकारियां दर्ज होती हैं। इस योजना का नामांकरण व अन्य सभी प्रोसेस पेपरलेस हैं और अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस स्कीम के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं। चलिए इस इस बीमा योजना के बारे में विस्तार से जानते हैं -

(और पढ़ें - myUpchar बीमा प्लस में आपको क्या-क्या कवर मिलता है)

  1. स्वास्थ्य साथी योजना क्या है - What is Swasthya Sathi Scheme in Hindi
  2. पश्चिम बंगाल स्वास्थ्य साथी योजना के क्या लाभ हैं - What are the benefits of Swasthya Sathi Scheme West Bengal in Hindi
  3. स्वास्थ्य साथी योजना के मुख्य फीचर क्या हैं - What are the main features of Swasthya Sathi Scheme in Hindi
  4. स्वास्थ्य साथी योजना की पात्रता क्या है - What is the Eligibility Eriteria Swasthya Sathi Scheme in Hindi
  5. स्वास्थ्य साथी योजना के लिए कौन से दस्तावेज जरूरी हैं - Which Documents are Required for Swasthya Sathi Scheme West Bengal in Hindi
  6. स्वास्थ्य साथी स्कीम के लिए ऑनलाइन अप्लाई कैसे करें - How to Apply Online for Swasthya Sathi Scheme in Hindi

स्वास्थ्य साथी योजना पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा जारी किया गया हेल्थ इन्शुरन्स प्लान है। इस बीमा योजना को पश्चिम बंगाल के माननीय मुख्यमंत्री द्वारा आधिकारिक तौर पर 30 दिसंबर 2016 को जारी किया गया था। यह एक सामान्य स्वास्थ्य बीमा योजना है जिसमें दूसरे व तीसरे स्तर की स्वास्थ्य चिकित्साओं को कवर किया जाता है। इस स्कीम के खर्च का सारा भुगतान सरकार द्वारा किया जाता है और इसमें लाभार्थियों को कैशलेस इलाज की सुविधा मिलती है। इस स्वास्थ्य बीमा योजना में किसी प्रकार की दस्तावेज कार्रवाई करने की आवश्यकता नहीं पड़ती है और साथ ही यह सुविधा के लिए स्मार्ट कार्ड सिस्टम पर काम करता है।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स के लिए क्या करें और क्या नहीं करें)

जैसा कि आप जानते हैं वेस्ट बंगाल सरकार द्वारा जारी की गई स्वास्थ्य साथी स्कीम एक सरकारी बीमा योजना है, इससे मिलने वाले लाभ निम्न हैं -

  • प्रीमियम -
    स्वास्थ्य साथी योजना के लाभार्थियों को अपनी जेब से कोई भी पैसा प्रीमियम के रूप में देने की आवश्यकता नहीं पड़ती है, क्योंकि इस हेल्थ इन्शुरन्स स्कीम का सारा प्रीमियम राज्य सरकार द्वारा ही भुगतान किया जाता है।
     
  • पूरे परिवार की कवरेज -
    परिवार चाहे कितना भी बड़ा हो इसमें कैपिंग को लागू नहीं किया जाता है। इस योजना की कवरेज में बीमित व्यक्ति की सास-व ससुर को भी कवर किया जाता है और घर के किसी विकलांग आश्रित को भी कवरेज प्रदान की जाती है।
     
  • कैशलेस हस्पिटलाइजेशन -
    यदि इस योजना से बीमित व्यक्ति अस्पताल में भर्ती होता है, तो इस दौरान डॉक्टर की फीस, टेस्ट और दवाएं आदि का सारा खर्च सीधे बीमा कंपनी द्वारा कैशलेस सुविधा के रूप में भुगतान किया जाता है। कैशलेश सुविधा का मतलब है कि इसमें आपको अपनी जेब से कोई पैसा देने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।

    5 लाख रुपये तक की कवरेज -
    स्वास्थ्य साथी योजना के बेसिक प्लान में हर परिवार को दूसरे व तीसरे स्तर के इलाज के लिए 5 लाख रुपये तक की कवरेज प्रदान की जाती है।
     
  • प्री-एग्जिस्टिंग डिजीज कवरेज -
    इस स्कीम के तहत सभी लाभार्थियों को पहले से मौजूद बीमारियों पर भी कवरेज मिल जाती है। उदाहरण के लिए यदि आपको बीमा योजना में कवरेज प्राप्त करने से पहले ही कोई बीमारी है, तो बाद में आपके द्वारा ली गई स्वास्थ्य साथी योजना में उस बीमारी को भी कवर किया जाता है।
     
  • प्री एंड पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन खर्च -
    इस योजना के तहत अस्पताल में भर्ती होने से एक दिन पहले तक ली गई सभी दवाओं के खर्च को कवर किया जाता है। वहीं पोस्ट-हॉस्पिटलाइजेशन के रूप में अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद 5 दिन इलाज से इलाज से संबंधित सारा खर्च भी स्वास्थ्य साथी योजना के तहत कवर किया जाता है।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स में क्या-क्या कवर होता है)

स्वास्थ्य साथी योजना में मिलने वाले मुख्य फीचरों में निम्न शामिल हैं -

  • बेसिक प्लान में दूसरे व तीसरे स्तर के इलाज के लिए एक परिवार को सालाना 5 लाख रुपये तक की कवरेज
  • बीमित परिवार को नामांकरण के दिन ही स्वास्थ्य साथी स्मार्ट कार्ड दिया जाएगा। इस कार्ड में परिवार के सभी सदस्यों की सभी जानकारी, फोटो, बायो-मेट्रिक और मोबाइल नंबर आदि होंगे।
  • रजिस्ट्रेशन से लेकर बाद की सभी प्रोसेस पूरी तरह से पेपरलेस होंगी और इलाज के दौरान खर्च पर कवरेज भी कैशलेस होगी।
  • कार्ड बंद होने या अन्य किसी जानकारी से संबंधित इनस्टेंट एसएमएस की सुविधा
  • लाभार्थियों की मदद करने के लिए एंड्रॉयड एप

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स में कोपेमेंट क्या है)

यह पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा अपने राज्य के निवासियों के लिए बनाई गई एक विशेष हेल्थ इन्शुरन्स स्कीम है। सरकार ने स्वास्थ्य साथी योजना का लाभ उन सभी स्थायी निवासियों को देने का निर्णय लिया है, जो पहले से ही किसी सरकारी हेल्थ इन्शुरन्स स्कीम से जुड़े हुए हैं। हालांकि, राज्य के वे सरकारी कर्मचारी जो अपने वेतन में मेडिकल भत्ता अलग से प्राप्त कर रहे हैं, वे स्वास्थ्य साथी योजना का लाभ लेने के पात्र नहीं हैं।

स्मार्ट कार्ड के लिए पात्रता -

पश्चिम बंगाल के हर लाभार्थी परिवार को नामांकरण के दिन ही स्वास्थ्य साथी स्मार्ट कार्ड प्रदान किया जाता है। इस कार्ड में बीमित परिवार की सभी जानकारी दी जाती हैं। राज्य के जो व्यक्ति स्वास्थ्य साथी योजना के लाभार्थी हैं सिर्फ वे ही स्वास्थ्य साथी स्मार्ट कार्ड के पात्र हैं।

(और पढ़ें - मैटरनिटी इन्शुरन्स प्लान लेने से पहले इन बातों का रखें ध्यान)

वेस्ट बंगाल राज्य द्वारा जारी की गई स्वास्थ्य साथी योजना में नामांकरण करने के लिए आपको निम्न दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ती है -

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र जैसे वोटर कार्ड, राशन कार्ड
  • स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • बीपीएल सर्टिफिकेट
  • किसी मेडिकल ऑर्गेनाइजेशन से रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट
  • राज्य सरकार द्वारा जारी किया गया कोई अधिकृत दस्तावेज

(और पढ़ें - myUpchar बीमा प्लस में आपको क्या-क्या कवर मिलता है)

यदि आप पश्चिम बंगाल स्वास्थ्य साथी योजना के पात्र हैं और आवेदन करना चाहते हैं, तो इसकी प्रोसेस के बारे में नीचे बताया है -

  • आपको सबसे पहले स्वास्थ्य साथी योजना के अधिकारिक वेब पोर्टल swasthyasathi.gov.in पर जाना होगा। अब आपकी स्क्रीन पर वेबसाइट का होमपेज खुल जाएगा।
  • इसके बाद आपको ‘Apply Now‘ या ‘आवेदन करें’ पर क्लिक करना है। क्लिन करने के बाद आपकी स्क्रीन पर स्वास्थ्य साथी योजना फॉर्म खुल जाएगा, जिसमें आपको मांगी गई सभी जानकारियां ध्यानपूर्वक भरनी हैं।

ध्यान रहे यदि आप किसी भी जानकारी अधूरी या ठीक से नहीं भरते हैं, तो वेरिफिकेशन के समय आपकी एप्लीकेशन कैंसल हो सकती है।

(और पढ़ें - myUpchar बीमा प्लस में आपको क्या-क्या कवर मिलता है)

और पढ़ें ...
cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ