myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

मियाटॉटोमी मेटल स्टेनोसिस का ट्रीटमेंट करने के लिए होने वाली प्रक्रिया है। मेटल स्टेनोसिस एक स्थिति है, जिसमें लिंग का सिरा संकरा हो जाता है, जिसके कारण पेशाब करने में समस्या आती है। मेटल स्टेनोसिस जन्म से ही या फिर जन्म के बाद शुरुआती सालों में हो सकता है। यह समस्या अधिकतर उन लड़कों में देखी जाती है, जिनका खतना हुआ है। मियाटॉटोमी सर्जरी से लिंग के सिरे को खोलने में मदद मिलती है, जिससे बच्चा ठीक तरह से पेशाब कर पाता है। सर्जरी या तो सर्जन के ऑफिस में की जाती है या फिर ऑपरेशन रूम में होती है। यह इस बात पर निर्भर करता है कि बच्चा किस तरह से व्यवहार कर रहा है। यह प्रक्रिया सुरक्षित है और इसमें रोग के दोबारा होने की आशंका भी कम होती है।

  1. मियाटॉटोमी क्या है - Meatotomy kya hai
  2. मियाटॉटोमी क्यों की जाती है - Meatotomy kyon ki jati hai
  3. मियाटॉटोमी से पहले की तैयारी - Meatotomy se pehle ki taiyari
  4. मियाटॉटोमी कैसे की जाती है - Meatotomy kaise ki jati hai
  5. मियाटॉटोमी के बाद देखभाल - Meatotomy ke baad dekhbhal
  6. मियाटॉटोमी के खतरे - Meatotomy ke khatre

मियाटॉटोमी एक छोटी सी सर्जरी की प्रक्रिया है, जो कि मेटल स्टेनोसिस को ठीक करने के लिए की जाती है।

मेटल स्टेनोसिस में लिंग का सिरा संकरा रह जाता है और इस स्थिति को मियाटुस कहते हैं। यह स्थिति जन्म के साथ या जन्म के बाद कुछ कारणों जैसे जलन और सूजन से विकसित हो सकती है। खतने के कारण लिंग के सिरे में चोट लग सकती है, जिससे मेटल स्टेनोसिस की स्थिति बन जाती है। 

इसके साथ ही खतने के दौरान लिंग में रक्तप्रवाह कम हो सकता है, जिससे भी मियाटुस संकरा हो सकता है। मियाटुस के संकरा होने का एक अन्य कारण पेशाब में अमोनिया और यूरिक एसिड क्रिस्टल की मौजूदगी भी हो सकती है। इन क्रिस्टल के होने के कारण थोड़ी सूजन आ सकती है और धीरे-धीरे मियाटुस संकरा हो सकता है।

इसके साथ ही लिंग के सिरे पर डायपर से रगड़ लगने पर भी मेटल स्टेनोसिस हो सकता है।

मियाटुस के संकरा होने से पेशाब करने में तकलीफ, लिंग में दर्द और पेशाब करते समय यूरिन का आसपास फैल जाना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। मियाटॉटोमी से इन सभी समस्याओं में राहत मिलती है और मियाटुस बढ़ जाता है, जिससे व्यक्ति को पेशाब करने में आसानी हो जाती है।

यह सर्जरी मेटल स्टेनोसिस से प्रभावित पुरुषों, विशेष रूप से खतना किए गए पुरुषों में की जाती है। इस तरह के लड़कों में तीन से सात साल की उम्र के बीच मेटल स्टेनोसिस दिखाई दे सकता है और इसके लक्षण निम्नलिखित हैं -

एक वर्ष से कम या कुछ अधिक आयु में सर्जरी की जा सकती है, जब भी स्थिति दिखाई देती है।

मेटल स्टेनोसिस का पता लगाने के लिए एक शारीरिक परीक्षा किया जाएगा। डॉक्टर आपको उन सभी दवाओं की सूची साझा करने के लिए कह सकते हैं, जो आपके बच्चे ने ली हैं। आपको सर्जरी से एक सप्ताह पहले उनमें से कुछ को बंद करने के लिए कहा जा सकता है। ऑपरेशन के निर्धारित समय से छह घंटे पहले आपको बच्चे को कुछ भी खाने या पीने के लिए नहीं देना चाहिए।

यदि आपका बच्चा सहयोग करता है, तो सर्जरी डॉक्टर के कार्यालय में की जाएगी। आपको सर्जरी के दौरान आश्वस्त रहने के लिए बच्चे के साथ रहने की अनुमति होगी। प्रक्रिया में आमतौर पर निम्नलिखित चरण शामिल होते हैं -

  • सर्जन लिंग के सिर के ऊपर सुन्न करने वाली क्रीम लगाएंगे और इसे एक अकलूसिव ड्रेसिंग (एक पट्टी जो पानी और वायुरोधी होती है) के साथ कवर करेंगे। वह क्रीम को लगभग 30 मिनट तक रहने देंगे
  • 30 मिनट के बाद, सर्जन ड्रेसिंग को हटा देंगे और लिंग को सर्जरी के लिए तैयार करेंगे
  • वह एक विशेष क्लैंप (एक उपकरण जो कसने के लिए या चीजों को कसकर एक साथ पकड़ने के लिए इस्तेमाल किया जाता है) का उपयोग करेंगे ताकि मियाटुस को कुचल दिया जा सके
  • सर्जन तब कुचले हुए क्षेत्र को विभाजित करने और मियाटुस को बड़ा करने के लिए एक विशेष कैंची का उपयोग करेंगे
  • अंत में, वह एंटीबायोटिक के साथ भाग को कवर करेंगे

यदि आपका बच्चा इस प्रक्रिया को सहन नहीं कर सकता है, तो ऑपरेशन रूम में सामान्य एनेस्थीसिया के तहत सर्जरी की जाएगी। आपके बच्चे को सर्जरी के एक ही दिन में विशेष पोस्ट-ऑपरेटिव निर्देशों के साथ छुट्टी दे दी जाएगी।

सर्जरी के बाद बच्चे का अनुभव करना सामान्य है -

  • दो से तीन दिन तक पेशाब करते समय जलन होना
  • दो से तीन दिनों के लिए ऑपरेशन साइट पर थोड़ा सूजन
  • हल्का बुखार
  • अंडरवियर पर छोटे-छोटे खून के धब्बे
  • सर्जरी के पहले दिन उल्टी होना
  • सर्जरी के बाद पहले दो हफ्तों तक मूत्र का इधर-उधर छिड़काव
  • सर्जरी के बाद पहले दो हफ्तों तक मूत्र का दो धाराओं में विभाजित होना
  • सर्जरी के बाद दो सप्ताह तक नींद के पैटर्न में बदलाव और बेडवेटिंग जैसे व्यवहार में बदलाव होते हैं

मियाटॉटोमी के बाद निम्नलिखित एहतियाती उपाय करने की आवश्यकता होगी -

  • सर्जरी के बाद पहले दो सप्ताह तक खेल, तैराकी, बाइक राइडिंग, झूलों और राइडिंग वाले खिलौनों से बचें।
  • आपको सूजन, खराब गंध, रक्तस्राव या मवाद की उपस्थिति के लिए हर तीन से चार घंटे में अपने बेटे के लिंग की जांच करनी चाहिए।
  • आपका बच्चा सर्जरी के दो दिन बाद छोटे टब स्नान या शॉवर ले सकता है।
  • आपका बच्चा तरल आहार जैसे रस और पानी से शुरू कर सकता है और धीरे-धीरे कम मात्रा में ठोस खाद्य पदार्थों की ओर बढ़ सकता है। सर्जरी के बाद एक दिन के लिए पिज्जा और हैम्बर्गर जैसे चिकना या उच्च वसा वाले खाद्य पदार्थों से बचें।
  • यदि बच्चा सर्जरी के बाद उल्टी करता है, तो उन्हें खाने को कुछ भी ना दें और उनके पेट को सर्जरी से पहले लगभग 30 से 60 मिनट तक व्यवस्थित हो जाने दें। दवाओं या दर्द के कारण उल्टी हो सकती है।
  • यदि बच्चा गंभीर दर्द का अनुभव करता है, तो सर्जन दर्द निवारक दवाएं लिख सकते हैं।
  • सर्जरी के बाद प्रारंभिक 24 घंटों के दौरान अपने बच्चे को हर तीन से चार घंटे में बार-बार पेशाब करने के लिए प्रोत्साहित करें। आमतौर पर पेशाब सर्जरी के बाद एक दिन के भीतर शुरू होता है।
  • सर्जरी के बाद घाव को पूरी तरह से ठीक होने में लगभग एक से दो सप्ताह लग सकते हैं।

मेटल स्टेनोसिस के लिए मियाटॉटोमी एक सुरक्षित प्रक्रिया है और सर्जरी के बाद स्थिति की पुनरावृत्ति की आशंका बहुत कम है। सर्जरी मेटल स्टेनोसिस का इलाज करती है और मूत्र के प्रवाह में सुधार करती है।

इस सर्जरी से जुड़ी जटिलताएं दुर्लभ हैं; हालांकि, मियाटॉटोमी को अन्य सभी सर्जरी की तरह कुछ जोखिमों से भी जोड़ा जाता है। प्रक्रिया की संभावित जटिलताओं में शामिल हैं -

  • संक्रमण
  • रक्तस्त्राव
  • मूत्र को एक सामान्य प्रवाह में पारित करने में समस्याएं
  • अधिक सर्जरी की आवश्यकता
और पढ़ें ...

References

  1. Varda BK, Logvinenko T, Bauer S, Cilento B, Yu RN, Nelson CP. Minor procedure, major impact: patient-reported outcomes following urethral meatotomy. J Pediatr Urol. 2018 Apr;14(2):165.e1–165.e5.
  2. Urology Care Foundation [Internet]. American Urological Association. Maryland. US; What is Meatal Stenosis?
  3. UW Health: American Family Children's Hospital [Internet]. Madison (WI): University of Wisconsin Hospitals and Clinics Authority; Meatal Stenosis/Meatotomy
  4. Cleveland Clinic. [Internet]. Cleveland. Ohio. US; Meatoplasty/Meatotomy
  5. Priyadarshi V, Puri A, Singh JP, Mishra S, Pal DK, Kundu AK. Meatotomy using topical anesthesia: a painless option. Urol Ann. 2015 Jan-Mar;7(1):67–70.
  6. American Society of Anesthesiologists [Internet]. Washington DC. US; Types of Anesthesia
  7. Smith G, Goldman J. General Anesthesia for Surgeons. [Updated 2020 Feb 10]. In: StatPearls [Internet]. Treasure Island (FL): StatPearls Publishing; 2020 Jan
  8. Beth Israel Lahey Health: Winchester Hospital [Internet]. Winchester. Maryland. US; Meatotomy - Child
  9. Van Howe RS. Incidence of meatal stenosis following neonatal circumcision in a primary care setting. Clin Pediatr (Phila). 2006 Jan-Feb. 45 (1):49-54. PMID: 16429216.
  10. Frisch M, Simonsen J. Cultural background, non-therapeutic circumcision and the risk of meatal stenosis and other urethral stricture disease: Two nationwide register-based cohort studies in Denmark 1977-2013. Surgeon. 2018 Apr. 16 (2):107-118. PMID: 28017691.
  11. Morris BJ, Krieger JN. Does Circumcision Increase Meatal Stenosis Risk?-A Systematic Review and Meta-analysis. Urology. 2017 Dec. 110:16-26. PMID: 28826876.
  12. Gargollo PC, Kozakewich HP, Bauer SB, Borer JG, Peters CA, Retik AB, et al. Balanitis xerotica obliterans in boys. J Urol. 2005 Oct. 174 (4 Pt 1):1409-12. PMID: 16145451.
  13. Brown MR, Cartwright PC, Snow BW. Common office problems in pediatric urology and gynecology. Pediatr Clin North Am. 1997 Oct. 44 (5):1091-115. PMID: 9326954.
  14. Smith C, Smith DP. Office pediatric urologic procedures from a parental perspective. Urology. 2000 Feb. 55 (2):272-6. PMID: 10688093.
  15. Joudi M, Fathi M, Hiradfar M. Incidence of asymptomatic meatal stenosis in children following neonatal circumcision. J Pediatr Urol. 2011 Oct. 7 (5):526-8. PMID: 20851685.
  16. Homer L, Buchanan KJ, Nasr B, Losty PD, Corbett HJ. Meatal stenosis in boys following circumcision for lichen sclerosus (balanitis xerotica obliterans). J Urol. 2014 Dec. 192 (6):1784-8. PMID: 24992332.
  17. Stewart L, McCammon K, Metro M, Virasoro R. SIU/ICUD Consultation on Urethral Strictures: Anterior urethra-lichen sclerosus. Urology. 2014 Mar. 83 (3 Suppl):S27-30. PMID: 24268357.
  18. Litvak AS, Morris JA Jr, McRoberts JW. Normal size of the urethral meatus in boys. J Urol. 1976 Jun. 115 (6):736-7. PMID: 940216.
  19. Fronczak CM, Villanueva CA. Clinic meatotomy under topical anesthesia. J Pediatr Urol. 2017 Oct. 13 (5):499.e1-499.e3. PMID: 28365169.
  20. Godley SP, Sturm RM, Durbin-Johnson B, Kurzrock EA. Meatal stenosis: a retrospective analysis of over 4000 patients. J Pediatr Urol. 2015 Feb. 11 (1):38.e1-6
  21. Monroe Carell Jr. Children's Hospital at Vanderbilt [Internet]. Tennessee. US; Meatotomy
  22. Oregon Health and Science University [Internet]. Oregon. US; Home care following meatotomy or meatoplasty
  23. University of Maryland Children's Hospital [Internet]. Maryland. US; Meatoplasty - FAQs
ऐप पर पढ़ें
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ