myUpchar सुरक्षा+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत
  1. पुरुष नसबंदी क्या है?
  2. पुरुष नसबंदी की ज़रुरत कब होती है?
  3. पुरुष नसबंदी के लिए तैयारी
  4. पुरुष नसबंदी कैसे की जाती है?
  5. पुरुष नसबंदी के बाद देखभाल
  6. पुरुष नसबंदी के बाद संभव जटिलताएं और जोखिम

पुरुष नसबंदी क्या है? - What is Vasectomy in Hindi?

पुरुष नसबंदी (Vasectomy) क्या है?

पुरुष नसबंदी या वैसेक्टॉमी एक ऑप्रेशन प्रक्रिया होती है, जिसकी मदद से पुरुषों को शुक्राणुरहित किया (बांझ बनाना) जाता है। इस प्रक्रिया के दौरान पुरुषों में उस ट्यूब को काट दिया जाता है, जो शुक्राणुओं को वृषण से लिंग तक पहुंचाता है। पुरुष नसबंदी से पुरुषों में मेल सेक्स हार्मोन बनने, सेक्स का आनंद लेने या चरम सुख प्राप्त करने की क्षमता में किसी प्रकार का प्रभाव नहीं पड़ता। पुरुष नसबंदी ऑपरेशन पुरुषों के लिए होता है, जिससे उनकी महिला साथी को गर्भवती होने से रोका जाता है। पुरुष नसबंदी के बाद व्यक्ति वीर्यपात (Ejaculation) कर सकते हैं, लेकिन उसमें शुक्राणु नहीं होते।

(और पढ़ें - सेक्स के दौरान दर्द)

पुरुष नसबंदी को गर्भावस्था रोकने का एक स्थायी तरीका माना जाता है। इसको किसी भी उम्र में किया जा सकता है।

(और पढ़ें - गर्भावस्था रोकने के उपाय)

पुरुष नसबंदी की ज़रुरत कब होती है? - When is Vasectomy required in Hindi?

पुरुष नसबंदी की आवश्यकता कब पड़ती है?

जो पुरुष निश्चित तौर पर भविष्य में किसी भी महिला को गर्भवती नहीं करना चाहते ,उनके लिए पुरुष नसबंदी की सिफारिश की जाती है। पुरुष नसबंदी पुरुषों को बांझ (Sterile) बना देती है, जिसके बाद वे किसी महिला को गर्भवती नहीं कर पाते। पुरुष नसबंदी को थोड़े समय के लिए जन्म नियंत्रण के लिए इस्तेमाल नहीं किया जाता, बल्कि यह पूर्णकालिक होता है। पुरुष नसबंदी प्रक्रिया को वापस हटाने के लिए किया जाने वाला ऑपरेशन और अधिक जटिलताओं भरा होता है।

(और पढ़ें - बांझपन का इलाज)

पुरुष नसबंदी करवाने का विकल्प निम्न व्यक्तियों के लिए बेहतर हो सकता है:

  • अगर रिश्ते में दोनों साथी ये चाहते हैं कि उन्हें बच्चे या और बच्चे नहीं चाहिए और वे जन्म नियंत्रण के अन्य तरीके नहीं अपनाना चाहते।
  • अगर किसी व्यक्ति की महिला साथी के लिए उसकी स्वास्थ्य समस्याओं के कारण गर्भधारण करना असुरक्षित है, तो पुरुष नसबंदी का विकल्प अपनाया जा सकता है।
  • अगर किसी रिश्ते में किसी एक या दोनों साथियों को आनुवंशिक विकार (Genetic disorders) है, जिसे वे एक दूसरे में संचारित करना नहीं चाहते।
  • अगर कोई जोड़ा सेक्स करने के दौरान अन्य प्रकार के जन्म नियंत्रण तरीके अपना कर परेशान हो चुका है या परेशान नहीं होना चाहता, तो पुरुष नसबंदी उनके लिए भी एक बेहतर विकल्प साबित हो सकता है।

(और पढ़ें - सेक्स से जुड़े भ्रम)

पुरुष नसबंदी के लिए तैयारी - Preparing for Vasectomy in Hindi

पुरुष नसबंदी के लिए क्या तैयारियां की जाती हैं?

पुरुष नसबंदी करने से पहले डॉक्टर आपसे मिलते हैं और इस बारे में निश्चित करते हैं कि क्या यह जन्म नियंत्रण प्रक्रिया आपके लिए ठीक है?

(और पढ़ें - सुरक्षित सेक्स करने का तरीका)

पहले अपॉइंटमेंट के दौरान डॉक्टर से निम्न बातों पर चर्चा करने के लिए तैयार रहना चाहिए:

  • यह समझना कि पुरुष नसबंदी स्थायी होती है और अगर आपके लिए कोई ऐसी संभावना है जिससे आपको भविष्य में बच्चे पैदा करने की जरूरत पड़ सकती है, तो पुरुष नसबंदी करवाना आपके लिए एक सही विकल्प नहीं है।
  • आपके बच्चे हैं या नहीं और अगर आप किसी रिश्ते में है तो आपकी महिला साथी की इस फैसले पर क्या प्रतिक्रिया है।
  • आपके लिए जन्म नियंत्रण के अन्य तरीके भी उपलब्ध हैं।
  • पुरुष नसबंदी में सर्जरी व अन्य कौन सी जटिलताएं शामिल हैं।

(और पढ़ें - प्रसव के बाद सैक्स)

पुरुष नसबंदी के लिए की जाने वाली सर्जरी को अस्पताल या किसी सर्जरी केंद्र में किया जाता है। सर्जरी के दौरान मरीज को लोकल अनस्थेसिया (Local anesthesia) दी जाती है। लोकल अनेस्थेसिया में आप होश में रहते हैं, बस शरीर के उसी क्षेत्र को सुन्न किया जाता है जिसकी सर्जरी करनी होती है।

(और पढ़ें - सर्जरी से पहले की तैयारी)

अगर आप एस्पिरीन या अन्य खून पतला करने वाली दवाएं लेते हैं, तो डॉक्टर कुछ दिन के लिए उन्हें ना लेने के लिए कह सकते हैं। इन दवाओं में निम्न शामिल हो सकती हैं:

(और पढ़ें - दवाओं की जानकारी)

टाइट फिटिंग अंडरवियर या एथलेटिक सपोर्टर का खरीद लें, ताकी सर्जरी के बाद अंडकोष में सूजन आने से रोकथाम की जा सके।

(और पढ़ें - अंडकोष के कैंसर के लक्षण)

ऑपरेशन के दिन नहाएं और यह सुनिश्चित कर लें की आपने अपने जननांगों के क्षेत्र को अच्छे से साफ कर लिया है। 

सर्जरी के बाद घर जाने के लिए एक साथी की व्यवस्था कर लें, ताकि ड्राइविंग आदि करने के दौरान वृषणों पर किसी प्रकार का दबाव या झटका आदि ना पड़े।

(और पढ़ें - शुक्राणु की कमी के उपाय)

पुरुष नसबंदी कैसे की जाती है? - How is Vasectomy done?

पुरूष नसबंदी कैसे की जाती है?

पुरुष नसबंदी का ऑपरेशन आमतौर पर अस्पताल या किसी सर्जरी केंद्र में किया जाता है, इसमें लगभग 30 मिनट का समय लगता है। प्रक्रिया के दौरान आप होश में ही होते हैं। आपकी अंडकोष की थैली को सुन्न करने के लिए डॉक्टर लोकल अनेस्थेसिया का उपयोग करते हैं। ऑपरेशन के दौरान डॉक्टर एक विशेष उपकरण से अंडकोष की थैली में एक छोटा सा चीरा (Cut) लगाते हैं और फिर उसी उपकरण से उस छेद को आराम से फैलाया जाता है, जिससे अंदर की ट्यूब तक पहुंचा जाता है।

(और पढ़ें - मर्दाना ताकत बढ़ाने के उपाय)

उस छोटे छेद के अंदर से ट्यूब को सतह तक लाया जाता है। अलग-अलग डॉक्टर अलग-अलग तकनीकों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन सभी तकनीकों में ट्यूब में कट लगाकर उन दोनों सिरों को बंद कर दिया जाता है और अलग-अलग ही छोड़ दिया जाता है।

दूसरी ट्यूब को भी इसी तरीके से और इसी छेद के अंदर से बंद किया जाता है। इस तकनीक में बहुत ही कम मात्रा में खून बह पाता है।

(और पढ़ें - यौन शक्ति को बढ़ाने वाले आहार)

कट को बंद करने के लिए किसी प्रकार के टांके आदि की आवश्यकता नहीं होती, यह कट जल्दी ठीक हो जाता है और कोई निशान भी नहीं बनता।

कुछ लोगों में नो-स्कैलपल वैसेक्टॉमी (No-scalpel vasectomy) नामक प्रक्रिया का इस्तेमाल किया जाता है,  जिसका मतलब होता है बिना छुरी के की जाने वाली (पुरुष नसबंदी) प्रक्रिया। इस प्रक्रिया में किसी कट की बजाए एक छोटा गोल छेद किया जाता है।

(और पढ़ें - पुरुषों में कामेच्छा बढ़ाने के आसान उपाय)

पुरुष नसबंदी के बाद देखभाल - What to do after Vasectomy?

पुरुष नसबंदी प्रक्रिया के बाद क्या करना चाहिए?

इस प्रक्रिया के बाद साधारण रूप से आपकी अंडकोष की थैली में थोड़ी सूजन, निशान, दर्द व अन्य तकलीफ जैसी समस्याएं हो सकती है। अगर आपको ज्यादा समस्या हो रही है, तो दर्द को कम करने के लिए आप दर्दनिवारक दवा का इस्तेमाल कर सकते हैं, जैसे पेरासिटामोल आदि। अगर दर्दनिवारक दवा के बाद भी आपकी तकलीफें कम नहीं हुई तो इस बारे में डॉक्टर से बात करें।

(और पढ़ें - सूजन कम करने के उपाय)

ऑपरेशन के बाद एक- दो बार वीर्यपात के दौरान वीर्य के साथ खून आ सकता है, यह साधारण स्थिति होती है जो हानिकारक नहीं होती।

ऑपरेशन के बाद दिन और रात में टाइट फीटिंग वाले अंडरवियर पहनें, जो अंडकोषों को सहारा प्रदान करते हैं और सूजन व दर्द को कम करने में मदद करते हैं। अपनें अंडरवियर को रोजाना बदलते रहें।

(और पढ़ें - शीघ्र स्खलन का इलाज)

ऑपरेशन के बाद नहाना आमतौर पर आपके लिए सुरक्षित होता है, यह सुनिश्चित कर लें कि नहाने के बाद आपने अपने जननांगों को अच्छे से साफ कर लिया है।

ऑपरेशन के बाद आप उतनी ही जल्दी सेक्स क्रिया कर सकते हैं, जितनी जल्दी आप इसमें सुविधाजनक महसूस करें, हालांकि कुछ दिन तक इंतजार करना फायदेमंद होता है। ऑपरेशन करने के तुरंत बाद किए गए वीर्यपात में शुक्राणु हो सकते हैं, क्योंकि ट्यूब में बचे हुए शुक्राणु पूरी तरह से खत्म होने में समय लगता है। औसतन 20-30 वीर्यपात होने के बाद ट्यूब में शुक्राणु पूरी तरह से साफ हो जाते हैं। जब तक आपके 2 क्लियर सीमेन टेस्ट (Semen tests) नहीं हो जाते तब तक गर्भनिरोधक के अन्य तरीकों का इस्तेमाल करना चाहिए।

(और पढ़ें - शुक्राणु बढ़ाने के घरेलू उपाय)

जब पुरुष नसबंदी का ऑपरेशन सफल हो जाता है और क्लियर सीमेन टेस्ट में शुक्राणु की उपस्थिति नहीं मिलती, तो आप अपने स्थायी यौन साथी के साथ बिना कंडोम के सेक्स कर सकते हैं।

(और पढ़ें - sex karne ke tarike)

हालांकि, पुरुष नसबंदी एचआईवी एड्स या यौन संचारित रोग से नहीं बचाती, इसलिए किसी भी नए यौन साथी के साथ सेक्स करने के दौरान कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए।

(और पढ़ें - इनगुइनल हर्निया सर्जरी)

पुरुष नसबंदी के बाद संभव जटिलताएं और जोखिम - Risks and Complications of Vasectomy in Hindi

पुरुष नसबंदी में क्या जटिलताएं हो सकती हैं?

सर्जरी के तुरंत बाद पुरुष नसबंदी के कई विपरित प्रभाव हो सकते हैं:

(और पढ़ें - स्वप्नदोष क्या है)

इनमें निम्न शामिल है:

(और पढ़ें - मल में खून आने की समस्या)

पुरुष नसबंदी की प्रक्रिया के बाद के जोखिम व जटिलताएं बहुत कम हैं, जिनमें निम्न शामिल हैं:

(और पढ़ें - बैक्टीरियल वेजिनोसिस के उपचार)

  • चीरे की जगह पर संक्रमण होना और बहुत ही दुर्लभ मामलों में संक्रमण अंडकोष की थैली के अंदर भी फैल जाता है।
  • ट्यूब से शुक्राणु लीक होना जो एक ऊतक में जमा हो जाते हैं और एक गांठ का रूप धारण कर लेते हैं, इस स्थिति को शुक्राणु ग्रेन्युलोमा (Sperm granuloma) कहा जाता है। आमतौर पर यह स्थिति दर्दनाक नहीं होती और आराम तथा दवाओं आदि से इनका इलाज किया जा सकता है। कुछ मामलों में ग्रेन्युलोमा को निकालने के लिए सर्जरी की आवश्यकता भी पड़ सकती है।
  • उस ट्यूब में सूजन व जलन होना जो वृषणों से शुक्राणुओं को ले जाती है। (और पढ़ें - मासिक धर्म में गर्भधारण हो सकता है क्या)
  • बहुत ही दुर्लभ मामलों में ट्यूब फिर से विकसित होने लग जाती है, जिससे व्यक्ति फिर से प्रजनन योग्य (Fertile) बन जाता है।

(और पढ़ें - शुक्राणु की जांच)

और पढ़ें ...