myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

स्तनों को स्त्री के शरीर का सबसे खूबसूरत और आकर्षक अंग कहा जाता है। यह स्त्रीत्व का प्रतीक हैं। यदि आपमें से कोई ऐसा है जो अपने स्तनों के आकर को लेकर संतुष्ट नहीं है तो आपको निराश होने की ज़रूरत नहीं है। आप अपने स्तनों को बढ़ाने के लिए कुछ सरल घरेलू उपचारों की मदद ले सकती हैं।

  1. स्तन बढ़ाने के घरेलू उपाय करें व्यायाम से - Exercises for Breast Enhancement in Hindi
  2. ब्रेस्ट बढ़ाने का उपाय है जैतून के तेल से मालिश - Increase Breast Size By Massage in Hindi
  3. ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा है मेथी - Fenugreek Helps to Increase Breast Size in Hindi
  4. स्तन बढ़ाने का घरेलू नुस्ख़ा है प्याज का रस - Stan Badhane ki Dawa Onion Juice in Hindi
  5. ब्रेस्ट बड़ा करने के उपाय करें सौंफ़ बीज से - Fennel Seeds Benefits for Breast Growth in Hindi
  6. स्तन बढ़ाने के घरेलू उपचार करें केले से - Bananas Helps in Breast Enlargement in Hindi
  7. ब्रेस्ट बढ़ाने का तरीका है शतावरी पाउडर - Breast Size Badhane ka Tarika Shatavari in Hindi
  8. स्तन बढ़ाने के उपाय करें मसूर की दाल से - Red Lentils for Breast Growth in Hindi
  9. ब्रेस्ट मसाज तेल है वीट जर्म ऑइल - Stan Badhane ka Tarika Wheat Germ Oil in Hindi
  10. स्तन बढ़ाने की दवा है मूली - Radish Increases Breast Size in Hindi
  11. ब्रेस्ट साइज के लिए लाभकारी है लाल क्लोवर - Red Clover for Breast Enhancement in Hindi
  12. ब्रेस्ट बढ़ाने के घरेलू उपाय के लिए पिएं सिंहपर्णी की चाय - Dandelion Root Tea for Breast Growth in Hindi

सुडौल और बड़े आकार के स्तन पाने में व्यायाम हमेशा ही सबसे उपयोगी साबित हुए हैं। स्तन को बढ़ाने के लिए आप पुश-अप, डम्बल से ब्रेस्ट प्रेस, वाल प्रेस आदि व्यायाम कर सकती है। इन व्यायामो में बाजुओं और कंधों की गतिविधियाँ भी शामिल है जो स्तन क्षेत्र के आसपास की त्वचा और मांसपेशियों के ऊतकों को टोन करती है। इससे आपके स्तनों को मजबूती मिलेगी और बड़े दिखाई देंगे।

इन अभ्यासों को दैनिक रूप से कम से कम 30 मिनट के लिए करें। सही तरीके से करने के लिए जिम प्रशिक्षक या पेशेवर ट्रेनर से सलाह लें।

(और पढ़ें – स्लिम हिप्स और लेग्स पाने में ये वर्काउट देगा आपका साथ)

मालिश आपके स्तनों के लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है। आपको हर दिन एक या दो बार 20 मिनट के लिए अपने स्तनों की नियमित रूप से मालिश करनी चाहिए। आप इसके लिए गुनगुने जैतून के तेल का उपयोग कर सकते हैं। इसके अलावा आप तिल के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं। कम से कम दो महीने के लिए ऐसा रोजाना करें।

थाई ट्रेडीशनल और ऑल्टर्नटिव मेडिसिन संस्थान के अनुसार नियमित रूप से स्तनों की मालिश आपके स्तनो का आकार बढ़ा सकती है। मालिश दो तरीकों से मदद करती है। सबसे पहले यह रक्त परिसंचरण को बढ़ाती है और दूसरा इससे ऊतकों को स्तन के भीतर फैलने में मदद मिलती है जिससे स्तन बड़े और मजबूत होते हैं।

  1. गर्मी उत्पन्न करने के लिए अपने हथेलियों में तेल को लेकर दो से तीन मिनट के लिए रगड़ें।
  2. अपने हाथो को अपने स्तनों पर रखें और अंदर की ओर एक गोल दिशा में घुमाएं।
  3. सुबह और फिर बिस्तर पर जाने से पहले कम से कम 100 से 300 बार गोल दिशा में घुमाएं।
  4. सकारात्मक परिणाम प्राप्त करने के लिए एक या दो महीने के लिए दिन में दो बार इस उपाय का पालन करें।

 (और पढ़ें: हर दिन एक गिलास इस फल का जूस पीने से आपके स्तनों में कसावट बनी रहेगी)

मेथी एक बहुत ही उपयोगी आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जो महिलाओं के स्तनो के आकार को बड़ा करना के लिए भी काम आती है। इसमें शक्तिशाली फाइटोस्टेग्रन्स शामिल होता हैं जो एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्टेरोन की उत्तेजना से स्तनों के आकार को बढ़ाने में सहायता करते हैं। उपयोग के लिए, आप मेथी पाउडर और पानी को मिलाकर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को स्तनों पर लगाएँ और 15 मिनट के बाद धो लें। आप ऐसा दिन में दो बार कर सकते हैं।

(और पढ़ें – स्तनों को कसने का उपाय है यह चमत्कारी लोशन)

प्याज का रस स्वस्थ और बड़े स्तनों को बढ़ावा देने में सहायक होता है। हर रात सोने से पहले शहद के साथ प्याज का रस मिलाकर स्तनों की मसाज करें। रात भर इस मिश्रण को लगाकर रखें और सुबह उठने के बाद धो लें। यह उपाय स्तनों का आकर बढ़ाने में फायदेमंद साबित होगा। आप ऐसा दैनिक रूप से कर सकते हैं।

स्तनो का आकार बढ़ाने के लिए सौंफ़ बीज का भी उपयोग किया जा सकता है। यह एस्ट्रोजेन के उत्पादन को उत्तेजित करने में मदद करती है, एस्ट्रोजेन एक महिला हार्मोन है जो स्तनों के विकास को बढ़ावा देता है। सौंफ़ के बीज का उपयोग करने के लिए कॉड लिवर के तेल में सौंफ़ के बीज को गर्म करें जब तक तेल लाल नहीं हो जाता है। इसे ठंडा करने के बाद, अपने स्तनों की इस तेल के साथ 15 मिनट के लिए मालिश करें और एक घंटे बाद धो लें। इस उपाय को दिन में दो बार दोहराएं।

आप शायद इस तथ्य से परिचित होंगे कि स्तन वसा से बने होते हैं। तो बड़े और फुलर स्तनों को विकसित करने के लिए, आपको वसा की आवश्यकता होगी। इसलिए इसका एक अच्छा तरीका है केले का सेवन करना। यह आपके स्तन के विकास के लिए आवश्यक वसा पोषण प्रदान करने में मदद करेगा। आप रोजाना 2-3 केले खा सकते हैं।

शतावरी एक आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है जो कई स्वास्थ्य संबंधी विकारों में फायदेमंद है। महिलाओं की हर प्रकार की समस्याओं में यह बहुत लोकप्रिय है। इसका नियमित रूप से सेवन आपके स्तनों को बढ़ाने में मदद करेगा। आप सोने से पहले एक कप दूध के साथ 3 ग्राम शतावरी जड़ के पाउडर का सेवन कर सकते हैं। लगभग 2 महीने के लिए इसका सेवन रोज करें।

आम तौर पर इसे लाल मसूर की दाल के रूप में जाना जाता है, लाल दालें फ़्योटोस्ट्रोजन से भरी हुई है। ये हार्मोन स्तन ऊतक के विकास में सहायक होते हैं। इस सरल घरेलू उपाय का उपयोग करने के लिए, आपको सबसे पहले 2 घंटे के लिए गर्म पानी में लाल दाल को भिगोना होगा। इसके बाद इसका पेस्ट तैयार करें और अपने स्तनों पर लगाएँ और आधे घंटे के बाद धो लें। आप हर रोज या हर दूसरे दिन ऐसा कर सकते हैं।

यह तेल विटामिन ई जैसे कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरा हुआ है जो फुलर और सुडौल स्तनों को विकसित करने में सहायता करता है। इस तेल के साथ नियमित रूप से मालिश आपके स्तनों को बढ़ाने में सहायता करेगी। आप इस तेल के कुछ बूंद लें और मालिश करने से पहले अपने दोनों हथेलियों को थोड़ा गर्म करने के लिए रगड़ें। लगभग 10 मिनट के लिए दिन में दो बार मालिश करें। 

(और पढ़ें – स्तनों को बढ़ाना हो तो इस फॉर्मूले को अवश्य आज़माएँ)

मूली स्तनों के रक्त प्रवाह को बढ़ावा देने के लिए जानी जाती है। इससे स्तनो की वृद्धि में मदद मिलती है। अपने आहार में मूली को शामिल करें और नियमित आधार पर इसका उपभोग करें।

लाल क्लोवर को सामान्यत त्रिपात्रा के रूप में भी जाना जाता है। लाल तिपतिया घास स्तन वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए फायदेमंद है। इसमें फाइटोस्टारोगन है जो स्तन के ऊतको के विकास को उत्तेजित करता है। आप 10 मिनट के लिए एक गिलास पानी में इस जड़ी बूटी के सूखे फूलो को उबालकर लाल क्लोवर चाय तैयार कर सकते हैं। प्रभावी परिणाम के लिए हर दिन इस चाय के 2 कप पिएं।

सिंहपर्णी के पौधे की जड़ स्तनो के ऊतको के उत्पादन को प्रोत्साहित करने के लिए बहुत अच्छी होती है। यह एक और उपयोगी जड़ी बूटी है जिससे आप बड़े स्तनों की इच्छा पूरी कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक गिलास पानी में डेंडिलियन जड़ को 5 मिनट के लिए उबालकर चाय तैयार करने की ज़रूरत है। इस चाय को हर रोज पिएं।

और पढ़ें ...

References

  1. Furnham, A, Swami, V. (2007). Perception of female buttocks and breast size in profile. Social Behavior and Personality: An international journal, 35, 1-8.
  2. Agnieszka M. Zelazniewicz, Boguslaw Pawlowski. Female Breast Size Attractiveness for Men as a Function of Sociosexual Orientation (Restricted vs. Unrestricted) . Arch Sex Behav. 2011 Dec; 40(6): 1129–1135. PMID: 21975921
  3. James D. Frame. Breast Implants and the Risk of Breast Cancer: A Meta-Analysis on Cohort Studies . Aesthetic Surgery Journal, Volume 35, Issue 1, January 2015, Pages 63–65,
  4. Li Yan Lim et al. Determinants of breast size in Asian women . Sci Rep. 2018; 8: 1201. PMID: 29352164
  5. K. Ramachandran. Breast augmentation Indian J Plast Surg. 2008 Oct; 41(Suppl): S41–S47. PMID: 20174542
  6. American Society of Plastic Surgeons. Breast Augmentation. [Internet]
  7. David B. Sarwer, Gregory K. Brown, Dwight L. Evans. Cosmetic Breast Augmentation and Suicide. Am J Psychiatry 2007; 164:1006–1013
  8. National Organization for Rare Disorders [Internet], Turner Syndrome
  9. Asma Javed, Aida Lteif. Development of the Human Breast . Semin Plast Surg. 2013 Feb; 27(1): 5–12. PMID: 24872732
  10. UK Health Centre. Breast Enlargement Creams. [Internet]
  11. UK Health Centre. Breast Enlargement Pills. [Internet]
  12. UK Health Centre. Breast Enlargement without Surgery. [Internet]
  13. UK Health Centre. Push Up Bras for a Bigger Bust. [Internet]
  14. UK Health Centre. Clothing to Increase the Appearance of Your Breast Size. [Internet]
  15. UK Health Centre. How Good Posture can Increase the Appearance of Your Breast Size . [Internet]
  16. National Cancer Institute [Internet]. Bethesda (MD): U.S. Department of Health and Human Services; Grow Stronger through Exercise
ऐप पर पढ़ें