myUpchar प्लस+ के साथ पुरे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

एक सेब प्रत्येक दिन खाने से अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलता है, लेकिन कुछ लोगों को ही पता है कि एक केला भी प्रत्येक दिन खाने से डॉक्टर को दूर रखा जा सकता है। केले में कई विटामिन और पोषक तत्व शामिल होते हैं जो स्वास्थ्य लाभ में काम आते हैं।

केले में कुछ पोषक तत्व और यौगिक होते हैं जैसे कार्बोहाइड्रेट, विटामिन ए, सी और बी-6, लोहा, फास्फोरस, कैल्शियम, मैग्नीशियम, ज़िंक, सोडियम, पोटेशियम और प्राकृतिक शर्करा जैसे सुक्रोज़, फ्रक्टोज़ और ग्लूकोज़। यह सब केले को एक सूपरफूड बनाते हैं जो एक स्वस्थ दैनिक आहार का एक अभिन्न हिस्सा है।

आइए जानें विस्तार से केले के बारे में -

  1. केले के फायदे और लाभ - Kela khane ke fayde, labh in Hindi
  2. केले के नुकसान - Banana Side Effects in Hindi
  3. स्किन और बालों को बनाएं खूबसूरत केले से
  4. केले के पत्ते के फायदे और नुकसान
  5. केले की जड़ के फायदे और नुकसान
  6. कच्चे केले के फायदे और नुकसान

केला करता है प्राकृतिक ऊर्जा की पूर्ति - Banana good for energy in Hindi

केले में विटामिन, खनिज, और कार्बोहाइड्रेट होते हैं जो कि प्राकृतिक ऊर्जा की एक त्वरित आपूर्ति कराते हैं। इसके अलावा केला ग्लूकोज़, सूक्रोज़ और फ्रक्टोज़ जैसे तीन प्राकृतिक शर्करा का एक स्वस्थ मिश्रण है जिनसे और भी ऊर्जा मिलती है।

केला ऐसे फलों में से एक है जिसमें दोनों जटिल और सरल कार्बोहाइड्रेट होते हैं। जटिल कार्बोहाइड्रेट आपको सहनशक्ति वाली ऊर्जा और सरल कार्बोहाइड्रेट त्वरित ऊर्जा देते हैं। सिर्फ दो केले आपको 90 मिनट तक ऊर्जावान रख सकते हैं।

केले के फायदे दिल के स्वास्थ्य के लिए - Banana for heart health in Hindi

केले में पोटेशियम पाया जाता है जो एक खनिज इलेक्ट्रोलाइट में समृद्ध है और जो आपके दिल के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक है। पोटेशियम आपके मस्तिष्क को ऑक्सीजन देने में संचार प्रणाली की मदद करता है। यह नियमित रूप से दिल की धड़कन और शरीर में पानी का एक उचित संतुलन बनाए रखने में भी मदद करता है।

जो लोग केले जैसे पोटेशियम युक्त खाद्य पदार्थों को आहार में खाते हैं, उनमें काफी हद तक स्ट्रोक का खतरा, रक्तचाप की समस्या और विभिन्न दिल की बीमारियों को रोका जा सकता है।

केला है फायदेमंद पेट के लिए - Banana for stomach ulcer in Hindi

केले दो तरीके से आपके पेट के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होते हैं। सबसे पहले, केले में कई पदार्थ एक मोटी सुरक्षात्मक श्लेम परत के उत्पादन में मदद करते हैं जो कि पेट में एसिड के लिए एक बाधा के रूप में कार्य करती है।

केले अम्लता को बेअसर करने में भी मदद करते हैं, जो अल्सर के गठन में योगदान कर सकती है।

दूसरे, केले में प्रोटीज़ अवरोधक होते हैं जो कि पेट में बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करते हैं, जो पेट के अल्सर के मुख्य कारणों में से एक हैं।

वज़न कम करने में है केले का लाभ - Banana for weight loss in Hindi

केला वजन कम करने के लिए भी सही विकल्प है। वे वसा में कम, जबकि फाइबर और विटामिन में उच्च होता है।

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए एक्सरसाइज)

केले में डाइटरी फाइबर पानी को अवशोषित कर लेता है जो आपके पेट में काफ़ी जगह ले लेता है, जिससे आप लंबे समय के लिए भरा हुआ महसूस करते हैं। इसके अलावा, ये चयापचय को बढ़ावा देता है।

(और पढ़ें – एक महीने में 10 किलो वज़न कम करने का सबसे आसान तरीका)

अनियमित मल त्याग का हल है केला - Bananas regulate bowels in Hindi

अनियमित मल त्याग एक ऐसी स्वास्थ्य समस्या है जो कि आसानी से केले के नियमित सेवन के साथ हल की जा सकती है।

केले में अघुलनशील फाइबर अच्छी मात्रा में होते हैं जो कि पाचन तंत्र के माध्यम से आगे जाते है, अपशिष्ट पदार्थ की सफाई करते हैं और मल त्याग को आसान करते हैं।

हालांकि, केले का बहुत ज्यादा सेवन और कम मात्रा में पानी, कब्ज कर सकता है । इसके अलावा, अगर पूरी तरह से पका हुआ केला नहीं खा रहे हैं, तो भी यह कब्ज और गैस को जन्म दे सकता है। 

(और पढ़ें – पेट में गैस के घरेलू उपचार)

साथ ही केला दस्त में ख़ास फ़ायदेमंद होता है क्योंकि इसमें पेक्टिन तत्व होता है जो केले में पाए जाने वाला घुलनशील फाइबर है। यह आंतों में तरल पदार्थ को अवशोषित करने में मदद करता है। 

(और पढ़ें –  दस्त का घरेलू उपचार)

केले का फायदा आँखों के लिए - Banana for eyes in Hindi

केले में विटामिन ए होता है, यह एक वसा में घुलनशील विटामिन है जो कि नेत्र स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है। दैनिक रूप से पर्याप्त विटामिन ए का सेवन रतौंधी का खतरा भी कम करता है।

नेत्र विज्ञान के अभिलेखागार में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार जो दिन में तीन या अधिक केलों का सेवन करते हैं, उनका उम्र बढ़ने से संबंधित आंखों में धब्‍बेदार विकार का खतरा 36% तक कम हो सकता है उन लोगों की तुलना में जो दैनिक रूप में 1.5 से कम केलों का सेवन करते हैं। आंखों में धब्‍बेदार विकार वयस्कों में दृष्टि हानि का प्रमुख कारण है।

(और पढ़ें – आँखों की थकान को दूर करने के सात सरल उपाय)

केला है अच्छा एनीमिया में - Banana for anemia in Hindi

केला एनीमिया से पीड़ित लोगों के लिए लोहे का एक अच्छा स्रोत है।आयरन की कमी एनीमिया का मुख्य कारण होता है और केला इस कमी को दूर करता है।

अन्य लौह युक्त खाद्य पदार्थ के साथ केले की नियमित खपत धीरे-धीरे थकान, चक्कर आना, सिर दर्द, सांस की तकलीफ और तेज़ दिल की धड़कन सहित एनीमिया के साथ जुड़े अन्य लक्षणों को कम कर सकती है। 

(और पढ़ें - सिर दर्द के घरेलू उपाय)

केले का लाभ है मॉर्निंग सिकनेस में - Banana good for morning sickness in Hindi

अगर आप गर्भवती हैं और मॉर्निंग सिकनेस (गर्भावस्था के प्रारंभिक महीनों में सुबह के समय मतली) का मुकाबला करने के लिए तरीके देख रही हैं, तो एक केला खाने से आपकी ये समस्या हल हो सकती है। इसके शांतिदायक गुण शरीर की पुन: पूर्ति करने के लिए और एक स्वस्थ रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने में मदद करते हैं। इससे जी मिचलाना भी कम होता है।

(और पढ़ें - गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द और प्रेग्नेंट होने के उपाय)

गर्भवती महिलाओं को सुबह जागने और प्रत्येक भोजन के बाद एक केला खाने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा, केले में कई पोषक तत्व होते हैं जो आपके मूड को ठीक करने और आपके अजन्मे बच्चे के शारीरिक विकास में मदद करते हैं।

(और पढ़ें - लड़का होने के लिए उपाय और गोरा बच्चा पैदा करना से जुड़े मिथक)

केला खाने से बेहतर महसूस करेंगे अवसाद से पीड़ित लोग - Banana for depression in Hindi

अवसाद से पीड़ित लोगों पर हाल के एक सर्वेक्षण के अनुसार, कई प्रतिभागियों ने केला खाने के बाद बेहतर महसूस किया।

यह इसलिए क्योंकि केले में ट्रिपटोफन नामक प्रोटीन पाया जाता है जिसे शरीर सैरोटोनिन में बदल देता है जो कि दिमाग़ को शांत कर देता है।

इसके अलावा, जब आप अवसाद के कारण अनिद्रा से पीड़ित हैं, तो आप एक केला बिस्तर पर जाने से पहले खा सकते हैं; इसके ट्रिपटोफन प्रोटीन से आपको बेहतर नींद में मदद मिलेगी। (और पढ़ें - नींद के लिए घरेलू उपाय)

केला है मच्छर काटने से हो रही खुजली और दर्द का इलाज - Banana helps mosquito bites in Hindi

मच्छर के काटने के कारण बहुत खुजली और कभी-कभी दर्द भी होता है। आप केले के छिलके के साथ इन लक्षणों का इलाज कर सकते हैं।

पांच से दस मिनट के लिए मच्छर के द्वारा कटी हुई जगह पर केले के छिलके का अंदर का भाग रगड़ें। यह खुजली और सूजन को कम करने में मदद करेगा। वास्तव में, यह सरल उपाय अक्सर क्रीम या दवा की तुलना में बेहतर काम करता है। 

(और पढ़ें - खुजली का कारण)

केले में टायरोसिन भी शामिल होता है जो एक एमिनो एसिड है और नोरिपाइनफ्राइन और डोपामाइन के स्तर को बढ़ाता है। यह न्यूरोट्रांसमीटर्स मस्तिष्क गतिविधि, सतर्कता और एकाग्रता को प्रोत्साहित करते हैं। इनका निम्न स्तर अक्सर अवसाद के साथ जुड़ा होता है।

एक मध्यम आकार के केले में 105 कैलोरी होती है। तो अगर आप हर कुछ घंटों में एक कम कैलोरी वाली चीज़ खाना चाह रहे हैं, केला बिल्कुल भी अच्छा विकल्प नहीं हो सकता है।

स्टार्च में उच्च होने के नाते, केला गंभीर दाँत क्षय का कारण हो सकता है यदि आप उचित दंत स्वच्छता नहीं बनाए रखते हैं। स्टार्च मुंह में धीरे धीरे घुलता है जबकि शक्कर जल्दी घुलता है। इसलिए जब आप केले जैसे खाद्य पदार्थ खाते हैं, उनके कण दांतों के बीच लगभग दो घंटे के लिए रह जाते हैं और इस प्रकार अधिक बैक्टीरिया को आकर्षित करते हैं। इसका परिणाम अधिक गुहाओं के रूप में दिखता है।

केला ट्रिपटोफन से समृद्ध है जो एक एमिनो एसिड है और आपके मानसिक प्रदर्शन और प्रतिक्रिया समय को कम कर सकता है, साथ ही आपको सुलाता है। केले के अंदर मैंग्नीशियम मासपेशियों को आराम देता है और इन्हीं गुणों के कारण केला रात को सोने से पहले खाना अच्छा माना जाता है।

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए योगासन)

केले में एमिनो एसिड टायरोसिन है, जो शरीर टायरामिन में परिवर्तित करता है। टायरामिन कुछ लोगों में माइग्रेन का कारक हो सकता है, हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि आप केले को अपने आहार से बाहर रखें यदि आप माइग्रेन से पीड़ित हैं। अपने चिकित्सक से पूछकर सुनिश्चित करें, क्योंकि कुछ सूत्रों का कहना है एक आधा केला दैनिक खा सकते हैं, जबकि दूसरों का कहना है कि केला एक कम टायरामिन आहार पर खा सकते हैं।

वह व्यक्ति जिन्हें लेटेक्स से एलर्जी है, वे केले के लिए भी अतिसंवेदनशील होते हैं। घरघराहट, नाक बहना, खाँसी, गले में खुजली और आँख से पानी बहना जैसे लक्षण इस एलर्जी के साथ आम हैं।

यदि आप पर्याप्त रूप से परिपक्व केले नहीं खा रहे हैं, तो आपको एक गंभीर पेट दर्द का सामना करना पड़ सकता है। आप पेट में दर्द के साथ साथ मतली भी अनुभव कर सकते हैं।

कच्चे या हरे केले प्रतिरोधी स्टार्च में समृद्ध हैं, जो कब्ज का खतरा बढ़ा सकते हैं।

केले 'मध्यम स्तर' ग्लाइसेमिक भोजन श्रेणी में आते हैं, जिसका मतलब है कि वे आपके रक्त शर्करा के स्तर को थोड़ा बढ़ा सकते हैं। एक उच्च ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थ का अधिक सेवन टाइप 2 मधुमेह, मोटापा और हृदय रोगों का खतरा बढ़ा सकता है इसलिए आपको केले का सेवन विनियमित करना चाहिए। ज़्यादा पके केले के साथ यह होने की संभावना अधिक है क्योंकि उनका उच्च ग्लाइसेमिक सूचकांक दूसरे केलों की तुलना में ज़्यादा है।

(और पढ़ें - मोटापा कम करने के घरेलू नुस्खे)

यदि आपके गुर्दे ठीक से काम नहीं कर रहे, तो केले का सेवन न्यूनतम करें। आहार में ज़्यादा पोटेशियम आपके गुर्दों पर ज़्यादा दबाव डाल सकता है अधिक खून बाहर निकालने के लिए। यह बहुत ही खतरनाक हो सकता है।

हालांकि हम आपको केले के नुकसान बता रहे हैं, इस बात से इनकार नहीं कर सकते हैं कि जब ठीक मात्रा में खाए जाएं, तब केले आपकी सेहत के लिए बहुल लाभकारी हो सकते हैं। बस कोई स्वास्थ्य चिंता का विषय ना हो जिसका ध्यान रखते हुए आपको केला खाने की अनुमति ना हो।


केले के अनोखे और अद्‌भुत लाभ सम्बंधित चित्र

और पढ़ें ...