myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अग्नाशयशोथ क्या है?

अग्न्याशय, पेट की एक बड़ी ग्रंथि होती है जो छोटी आंत के ऊपरी हिस्से के बगल में होती है। अग्नाशयशोथ, अग्न्याशय की सूजन होती है। अग्न्याशय उन एंजाइमों का उत्पादन करता है जो पाचन में सहायता करते हैं और वह हार्मोन भी बनाता है जो आपके शरीर की शर्करा (ग्लूकोज) की प्रक्रिया को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

अग्नाशयशोथ अचानक हो सकता है और कुछ दिनों के लिए रह सकता है (एक्यूट पैन्क्रियाटाइटीस) या यह कई सालों तक भी रह सकता है (क्रॉनिक पैन्क्रियाटाइटीस)। अग्नाशयशोथ के हल्के मामले उपचार के बिना ठीक हो जाते हैं, लेकिन इसके गंभीर मामलों में जानलेवा जटिलताएं हो सकती हैं।

गंभीर अग्नाशयशोथ में यदि एंजाइम और विषाक्त पदार्थ रक्त में शामिल हो जाते हैं तो यह अन्य महत्वपूर्ण अंगों जैसे हृदय, फेफड़े और गुर्दों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

(और पढ़ें - अग्नाशय कैंसर का इलाज)

  1. अग्नाशयशोथ के प्रकार - Types of Pancreatitis in Hindi
  2. अग्नाशयशोथ के लक्षण - Pancreatitis Symptoms in Hindi
  3. अग्नाशयशोथ के कारण - Pancreatitis Causes in Hindi
  4. अग्नाशयशोथ से बचाव - Prevention of Pancreatitis in Hindi
  5. अग्नाशयशोथ का परीक्षण - Diagnosis of Pancreatitis in Hindi
  6. अग्नाशयशोथ का इलाज - Pancreatitis Treatment in Hindi
  7. अग्नाशयशोथ की दवा - Medicines for Pancreatitis in Hindi
  8. अग्नाशयशोथ के डॉक्टर

अग्नाशयशोथ के प्रकार - Types of Pancreatitis in Hindi

अग्नाशयशोथ के कितने प्रकार होते हैं ?

अग्नाशयशोथ के निम्नलिखित दो प्रकार होते हैं -

1. एक्यूट अग्नाशयशोथ (acute pancreatitis)
एक्यूट अग्नाशयशोथ में अग्न्याशय की अचानक सूजन होती है। इसकी गंभीरता पेट में हलकी परेशानी से लेकर एक गंभीर जानलेवा बीमारी तक हो सकती है। एक्यूट अग्नाशयशोथ से ग्रस्त ज़्यादातर रोगी सही इलाज लेने पर पूरी तरह से ठीक हो जाते हैं।

2. क्रॉनिक अग्नाशयशोथ (chronic pancreatitis)
क्रॉनिक अग्नाशयशोथ, एक्यूट अग्नाशयशोथ के बाद होता है और अग्न्याशय की चलती सूजन का परिणाम होता है। दीर्घकालिक शराब पीने या धूम्रपान के कारण भी क्रॉनिक अग्नाशयशोथ हो सकता है। इसके मरीजों को गंभीर दर्द और अग्नाशय की विफलता हो सकती है।

अग्नाशयशोथ के लक्षण - Pancreatitis Symptoms in Hindi

अग्नाशयशोथ के क्या लक्षण होते हैं?

क्रॉनिक अग्नाशयशोथ का मुख्य लक्षण है अचानक आपके पेट के ऊपरी भाग के चारों ओर एक गंभीर  व हल्का दर्द होना। यह दर्द अक्सर तेजी से बढ़ता जाता है और आपके बाएं कंधे के नीचे या पीछे जा सकता है। भोजन या पेय पदार्थ (विशेष रूप से फैट वाले खाद्य पदार्थ) से आप बहुत जल्द खराब महसूस कर सकते हैं।

दर्द अचानक हो सकता है और यह धीरे-धीरे विकसित हो सकता है। अक्सर, यह दर्द खाने के बाद शुरू होता है या बढ़ जाता है और यह पित्ताशय की थैली या अल्सर के दर्द के साथ भी हो सकता है। पेट में दर्द एक्यूट अग्नाशयशोथ का मुख्य लक्षण माना जाता है। एक्यूट अग्नाशयशोथ से ग्रस्त लोग आमतौर पर बहुत बीमार महसूस करते हैं।

एक्यूट अग्नाशयशोथ के लक्षण निम्नलिखित हैं -

  1. पेट दर्द जो पीठ की तरफ जा सकता है। (और पढ़ें - पेट दर्द का इलाज)
  2. मतली (जी मिचलाना) और उल्टी। ( और पढ़ें - उलटी का इलाज)
  3. खाने के बाद दर्द बढ़ जाना।
  4. पेट को छूने पर दर्द होना।
  5. बुखार और ठंड लगना।
  6. कमजोरी और सुस्ती। (और पढ़ें - कमजोरी दूर करने के उपाय)

क्रॉनिक अग्नाशयशोथ का सबसे आम लक्षण है बार-बार पेट दर्द होना। इससे पाचन समस्याएँ भी हो सकती हैं।

दर्द आमतौर पर पेट के बीच या बाएं ओर में विकसित होता है और कभी-कभी आपकी पीठ तक जा सकता है। कुछ मामलों में दर्द कई घंटों या दिनों तक रह सकता है।
कुछ लोगों को दर्द के दौरान मतली और उल्टी के लक्षण भी अनुभव होते हैं। जैसे-जैसे अग्नाशयशोथ बढ़ता है, दर्द जल्दी-जल्दी और बढ़ भी सकता है।

(और पढ़ें - पीठ दर्द का इलाज)

क्रॉनिक अग्नाशयशोथ के अन्य लक्षण हैं -

  1. बिना वजह वजन घटना।
  2. दुर्गन्धित और तैलीय मल।

अग्नाशयशोथ के कारण - Pancreatitis Causes in Hindi

अग्नाशयशोथ के क्या कारण होते हैं ?

ज़्यादातर मामलों में, एक्यूट अग्नाशयशोथ के निम्नलिखित कारण होते हैं -

  1. पित्ताशय की पथरी। (और पढ़ें - पथरी का इलाज)
  2. शराब का ज़्यादा सेवन।
  3. कुछ दवाएं।
  4. स्व-प्रतिरक्षित रोग।
  5. संक्रमण।
  6. ट्रामा (trauma; आघात)।
  7. चयापचयी विकार।
  8. सर्जरी

क्रॉनिक अग्नाशयशोथ का सबसे आम कारण लंबे समय तक शराब का उपयोग होता है। नियमित रूप से शराब का सेवन करने वाले लोगों को अग्नाशयशोथ का खतरा बढ़ जाता है। हालांकि, केवल कुछ ही लोगों को यह समस्या होती है। इसके अन्य कारण हैं -

  1. पित्ताशय की पथरी।
  2. अग्न्याशय के अनुवांशिक विकार।
  3. सिस्टिक फाइब्रोसिस (Cystic fibrosis)।
  4. उच्च ट्राइग्लिसराइड्स और कुछ निश्चित दवाएं।

एक्यूट अग्नाशयशोथ के जोखिम कारक क्या हैं ?

एक्यूट अग्नाशयशोथ के जोखिम कारक निम्नलिखित हैं -

  1. शराब का सेवन।
  2. पित्ताशय की पथरी।
  3. 70 वर्ष या उससे अधिक आयु।
  4. पेट की सर्जरी।
  5. धूम्रपान करना। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के उपाय)
  6. अग्नाशयशोथ का पारिवारिक इतिहास।
  7. रक्त में कैल्शियम का उच्च स्तर।
  8. थायराइड बढ़ना (हाइपरथायरायडिज्म)। (और पढ़ें - महिलाओं में थायराइड लक्षण)
  9. हाई कोलेस्ट्रॉल
  10. संक्रमण।
  11. पेट में लगी चोट।
  12. अग्नाशय का कैंसर

पित्त की पथरी के उपचार के लिए इस्तेमाल की जाने वाली प्रक्रिया भी अग्नाशयशोथ का कारण बन सकती है।

अग्नाशयशोथ से बचाव - Prevention of Pancreatitis in Hindi

अग्नाशयशोथ होने से कैसे बचा जा सकता है?

जब किसी कारण की पहचान हो जाती है, तो अंतर्निहित कारणों को हटाकर इसे रोका जा सकता है। इसके निम्नलिखित तरीकें हैं -

  1. पित्ताशय की थैली को हटाना।
  2. चूंकि शराब और धूम्रपान अग्नाशयशोथ के जोखिम कारक हैं, इसलिए रोगियों को धूम्रपान नहीं करना चाहिए और शराब नहीं पीनी चाहिए। (और पढ़ें - शराब छोड़ने के उपाय)
  3. अगर आप भारी मात्रा में शराब पीते हैं, तो अपने चिकित्सक से इसकी लत्त हटाने के उपाय के बारे में बात करें।
  4. कम फैट वाले आहार खाना और स्वस्थ वजन बनाए रखने से पित्ताशय की बीमारियों के विकास का खतरा कम हो सकता है जो कि अग्नाशयशोथ का एक प्रमुख कारण है।

ज्यादातर मामलों में, अग्नाशयशोथ का दर्द और मतली काफी गंभीर होते हैं कि व्यक्ति को चिकित्सक से सलाह लेनी ही पड़ती है। हालाँकि, निम्नलिखित लक्षणों का अनुभव होने पर तुरंत डॉक्टर से सलाह लेने की आवश्यकता होती है -

  1. मतली या उल्टी के कारण दवा न ले पाना, कुछ पीने या खाने में असमर्थता।
  2. गंभीर दर्द जो केमिस्ट के पास मिलने वाली दवाओं से ठीक नहीं होता।
  3. बिना किसी वजह दर्द होना।
  4. सांस लेने में तकलीफ।
  5. दर्द के साथ-साथ बुखार होना या ठंड लगना, लगातार उल्टी होना, बेहोशी महसूस होना, कमजोरी होना या थकान महसूस होना।
  6. गर्भावस्था सहित अन्य चिकित्सा समस्याओं के साथ दर्द होना।

अग्नाशयशोथ का परीक्षण - Diagnosis of Pancreatitis in Hindi

अग्नाशयशोथ का निदान कैसे होता है ?

अग्नाशयशोथ का निदान करने लिए डॉक्टर एक व्यक्ति के चिकित्सा इतिहास के बारे में पूछेंगे और निदान में सहायता करने के लिए एक संपूर्ण शारीरिक परीक्षण करेंगे। एक्यूट अग्नाशयशोथ के दौरान, रक्त में अग्न्याशय में बनने वाले पाचन एंजाइम सामान्य से कम से कम तीन गुना अधिक होते हैं। शरीर के अन्य रसायनों जैसे ग्लूकोज, कैल्शियम, मैग्नीशियम, सोडियम, पोटेशियम और बाइकार्बोनेट में भी बदलाव हो सकते हैं।

इसके निदान के लिए निम्नलिखित परीक्षण किए जा सकते हैं -

  1. संक्रमण, रक्त कोशिकाओं में वृद्धि और अग्नाशयी एंजाइमों के स्तर को जानने के लिए रक्त परीक्षण
  2. एक फीकल फैट परीक्षण (Fecal fat test) यह निर्धारित कर सकता है कि आपके मल में फैट सामग्री सामान्य से अधिक है या नहीं।

अग्न्याशय के स्थान की वजह से एक्यूट अग्नाशयशोथ का निदान अक्सर मुश्किल होता है। चिकित्सक निम्न परीक्षणों की सहायता ले सकते हैं -

  1. पेट का अल्ट्रासाउंड
  2. सीटी स्कैन (CT scan)।
  3. एन्डोस्कोपिक अल्ट्रासाउंड (Endoscopic ultrasound)।
  4. एमआरआई (MRI)।

अग्नाशयशोथ का इलाज - Pancreatitis Treatment in Hindi

अग्नाशयशोथ का उपचार कैसे होता है ?
 
अग्नाशयशोथ का अस्पताल में प्रारंभिक उपचार निम्नलिखित तरीके से होता है -
  1. उपवास - आपके अग्न्याशय के ठीक होने तक आपको अस्पताल में कुछ दिनों के लिए उपवास करना आवश्यक है। एक बार जब आपके अग्न्याशय की सूजन ठीक हो जाती है, तो आप तरल पदार्थों का सेवन शुरू कर सकते हैं और बिना फैट वाले खाद्य पदार्थ खा सकते हैं। समय के साथ, आप अपना सामान्य आहार फिर से शुरू कर सकते हैं। यदि आपका अग्नाशयशोथ ठीक नहीं होता और आप खाने के बाद दर्द अनुभव करते हैं, तो पोषण प्राप्त करने के लिए एक आपको एक फीडिंग ट्यूब की आवश्यक हो सकती है।
  2. दवाएं - अग्नाशयशोथ से गंभीर दर्द हो सकता है। दर्द को नियंत्रित करने के लिए आपका डॉक्टर आपको दवाएं देंगे।
  3. जिन लोगों को सांस लेने में परेशानी महसूस कर रहे हैं उन्हें ऑक्सीजन दिया जाता है।
  4. तरल पदार्थ - अग्न्याशय को ठीक करने के लिए आपका शरीर ऊर्जा और तरल पदार्थ का इस्तेमाल करता है जिससे आप निर्जलित हो सकते हैं। इस कारण से, आपको अस्पताल में हाथ की नस के माध्यम से अतिरिक्त तरल पदार्थ दिए जाएंगे।

एक बार जब आपका अग्नाशयशोथ नियंत्रित हो जाता है, तो आपके डॉक्टर अग्नाशयशोथ के मूल कारण का इलाज कर सकते हैं। इसके कारण के आधार पर निम्नलिखित उपचार प्रयोग किए जा सकते हैं -

  1. पित्त वाहिका की रुकावटों को हटाने की प्रक्रियाएं - एक संकुचित या अवरुद्ध पित्त नली के कारण हुए अग्नाशयशोथ के लिए पित्त नली को खोलने या चौड़ा करने की प्रक्रियाओं की आवश्यकता हो सकती है।
  2. पित्ताशय की सर्जरी - यदि पित्त की पथरी के कारण आपको अग्नाशयशोथ हुआ है, तो आपके चिकित्सक आपके पित्ताशय की थैली को हटाने की सलाह दे सकते हैं।
  3. अग्न्याशय की सर्जरी - आपके अग्न्याशय से द्रव को निकालने या रोगग्रस्त ऊतक को हटाने के लिए सर्जरी आवश्यक हो सकती है।
  4. शराब की लत्त के लिए उपचार - शराब की लत्त से अग्नाशयशोथ हो सकता है। यदि यह आपके अग्नाशयशोथ का कारण है, तो आपके डॉक्टर आपको शराब की लत्त का उपचार करने के लिए कह सकते हैं। शराब पीना जारी रखने से आपको गंभीर जटिलताएं हो सकती हैं।

आपकी स्थिति के अनुसार क्रॉनिक अग्नाशयशोथ के लिए अतिरिक्त उपचार -

  1. दर्द प्रबंधन - क्रॉनिक अग्नाशयशोथ से लगातार पेट में दर्द हो सकता है। आपके दर्द को नियंत्रित करने के लिए आपके डॉक्टर दवाओं की सलाह दे सकते हैं। तीव्र दर्द को एन्डोस्कोपिक अल्ट्रासाउंड या सर्जरी जैसे विकल्पों से ठीक किया जाता है।
  2. पाचन में सुधार करने के लिए एंजाइम - अग्नाशयी एंजाइम की खुराक आपके शरीर को खाद्य पदार्थों में पोषक तत्वों को संसाधित करने में आपकी सहायता कर सकती है। अग्नाशयी एंजाइमों को प्रत्येक भोजन के साथ लिया जाता है।
  3. आहार में परिवर्तन - आपके डॉक्टर आपको एक आहार विशेषज्ञ के पास भेज सकते हैं जो आपको कम वसा वाले पोषणयुक्त भोजन बनाने में मदद कर सकते हैँ। आपको पर्याप्त तरल पदार्थ के सेवन की भी सलाह दी जा सकती है।
  4. यदि अग्न्याशय पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं कर पाता है, तो शरीर की रक्त शर्करा को नियमित करने की आवश्यकता होती है और इंसुलिन के इंजेक्शन आवश्यक हो सकते हैं।
Dr. Suraj Bhagat

Dr. Suraj Bhagat

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी

Dr. Smruti Ranjan Mishra

Dr. Smruti Ranjan Mishra

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी

Dr. Sankar Narayanan

Dr. Sankar Narayanan

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी

अग्नाशयशोथ की दवा - Medicines for Pancreatitis in Hindi

अग्नाशयशोथ के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Enzar ForteEnzar Forte Tablet98
Panstal Plus PANSTAL PLUS CAPSULE144
Dr. Reckeweg Pancreatinum 3x TabletDr. Reckeweg Pancreatinum 3x Tablet 164
CreonCREON 10000 CAPSULE 15S435
DigemaxDigemax 150 Mg Tablet240
Digeplex TDigeplex T Tablet88
Enzar HsEnzar Hs 250 Mg Capsule382
LapinLapin 213 Mg Tablet0
NeutrizymeNeutrizyme P Tablet0
Panzynorm HsPanzynorm Hs 360 Mg Tablet285
SerutanSerutan 215 Mg Tablet0
Bjain Eichhornia crassipes DilutionBjain Eichhornia crassipes Dilution 1000 CH63
Farizyme (Zyd)Farizyme Tablet58
Festal NFestal N 212.50 Mg Tablet81
PanstalPANSTAL FORTE CAPSULE 10S352
Schwabe Eichhornia crassipes CHSchwabe Eichhornia crassipes 1000 CH96
Panstal NPanstal N 212.5 Mg Tablet0
Panlipase Panlipase 10000 Iu Capsule152
CamopanCamopan 100 Mg Tablet100
HepacureHepacure 100 Mg/150 Mg Tablet0
Hepa MerzHepa Merz Granules178
U BetU Bet Injection1700
UpxigaUpxiga 100000 Iu Injection2236

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. Better health channel. Department of Health and Human Services [internet]. State government of Victoria; Pancreatitis.
  2. National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases. [Internet]. U.S. Department of Health & Human Services; Pancreatitis.
  3. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Pancreatitis.
  4. National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases. [Internet]. U.S. Department of Health & Human Services; Symptoms & Causes of Pancreatitis.
  5. National Institutes of Health; [Internet]. U.S. National Library of Medicine. Enhanced Recovery in Acute Pancreatitis.
और पढ़ें ...