myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

अग्नाशय कैंसर क्या है?

अग्नाशय कैंसर (Pancreatic cancer) आपके अग्नाशय (Pancreas) के ऊतकों में शुरू होता है। अग्न्याशय आपके पेट का हिस्सा होता है, जो आपके पेट के निचले हिस्से के पीछे स्थित होता है। आपके अग्न्याशय में ऐसे एंजाइम्स (Enzymes) बनते हैं जो आपकी पाचन क्रिया को ठीक करते हैं और यहां ऐसे हार्मोन का निर्माण भी होता है, जो आपके शरीर की शर्करा के चयापचय को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

अग्नाशय कैंसर को शुरूआती दौर में पता लगा लेने पर भी इसको रोकना मुश्किल होता है। अग्नाशय कैंसर आमतौर पर तेजी से फैलता है और इसीलिए इसको प्रारंभिक अवस्था में पता लगाना मुश्किल होता है। कैंसर से होने वाली मृत्यु का यह एक प्रमुख कारण होता है। जब तक अग्नाशय कैंसर के लक्षण और संकेत पूर्ण रूप से दिखाई नहीं देते हैं, तब तक इसको सर्जरी द्वारा हटा पाना संभव नहीं होता।

अग्नाशय कैंसर होने के बाद जीवित रहने के दर 

इसका इलाज ना होने पर बचना मुश्किल होता है। बीमारी के सभी चरणों की औसत देखी  जाए तो अग्नाशय कैंसर होने के पहले साल के अंत तक जीवित रहने का दर 19 प्रतिशत देखा गया है। और पांच सालों के बाद जीवित रहने का दर केवल 4 प्रतिशत ही रह जाता है। इसलिए इसका निदान जल्द से जल्द कराना अत्यंत ही आवश्यक है। 
 
भारत में अग्नाशय कैंसर 

भारत में अग्नाशय कैंसर के मामले बेहद कम (0.5-2.4 प्रति 100,000 पुरुष और 0.2-1.8 प्रति 100,000 महिलाएं) हैं। अग्नाशय कैंसर के मामले भारत के पश्चिमी और उत्तरी हिस्सों के शहरी पुरुषों की आबादी में अधिक पाए जाते हैं, लेकिन समय के साथ यह आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है।

  1. अग्नाशय कैंसर के प्रकार - Types of Pancreatic Cancer in Hindi
  2. अग्नाशय कैंसर के चरण - Stages of Pancreatic Cancer in Hindi
  3. अग्नाशय कैंसर के लक्षण - Pancreatic Cancer Symptoms in Hindi
  4. अग्नाशय कैंसर के कारण - Pancreatic Cancer Causes in Hindi
  5. अग्नाशय कैंसर से बचाव - Prevention of Pancreatic Cancer in Hindi
  6. अग्नाशय कैंसर का परीक्षण - Diagnosis of Pancreatic Cancer in Hindi
  7. अग्नाशय कैंसर का इलाज - Pancreatic Cancer Treatment in Hindi
  8. अग्नाशय कैंसर की जटिलताएं - Pancreatic Cancer Complications in Hindi
  9. अग्नाशय कैंसर की दवा - Medicines for Pancreatic Cancer in Hindi
  10. अग्नाशय कैंसर के डॉक्टर

अग्नाशय कैंसर के प्रकार - Types of Pancreatic Cancer in Hindi

अग्नाशय कैंसर के कितने प्रकार होते हैं?

अग्नाशय कैंसर के निम्नलिखित दो प्रकार होते हैं - 

  1. एक्सोक्राइन ट्यूमर (Exocrine tumors)
    एक्सोक्राइन ग्रंथि को प्रभावित करने वाले अधिकांश ट्यूमर को एडेनोकार्सिनोमा (Adenocarcinoma) कहा जाता है। इस प्रकार का कैंसर अग्न्याशय नलिकाओं में होता है। इस ट्यूमर का उपचार उसके विकास के स्तर पर आधारित होता है।
     
  2.  एंडोक्राइन ट्यूमर (Endocrine tumors)
    ये ट्यूमर कम आम हैं और अधिकतर सौम्य होते हैं। एंडोक्राइन ट्यूमर दुर्लभ होते हैं लेकिन यह हार्मोन-उत्पादन वाली कोशिकाओं को प्रभावित करते हैं। इन ट्यूमर को "आइलेट सेल ट्यूमर" (Islet cell tumors) या "न्यूरोएंडोक्राइन ट्यूमर" (Neurendocrine tumors) भी कहा जाता है।

अग्नाशयी कैंसर के 95 प्रतिशत मामले एक्सोक्राइन कोशिकाओं में शुरू होते हैं

अग्नाशय कैंसर के चरण - Stages of Pancreatic Cancer in Hindi

अग्नाशय कैंसर के कितने चरण होते हैं ?

कैंसर के प्रसार का वर्णन करने के लिए कैंसर के स्टेज का इस्तेमाल किया जाता है। अग्नाशय कैंसर के निम्नलिखित चरण होते हैं -

  • चरण 0
    इस चरण का अर्थ होता है कि कैंसर फैला नहीं है कोशिकाओं कि केवल एक परत तक ही सीमित है। अग्नाशयी कैंसर इमेजिंग परीक्षणों या नग्न आंखों से दिखाई नहीं दे रहा है।
     
  • चरण 1
    इस चरण का अर्थ है कि कैंसर का कुछ विकास हुआ है लेकिन वह अभी अग्न्याशय तक ही सीमित है।
     
  • चरण 2
    इस चरण का अर्थ है की कैंसर का थोड़ा और प्रसार हुआ है और वह अग्न्याशय के बाहर या पास के लिम्फ नोड्स में फैल गया है।
     
  • चरण 3
    इस चरण का अर्थ है की कैंसर का व्यापक प्रसार हुआ है और पास कि प्रमुख रक्त वाहिकाओं या तंत्रिकाओं में विस्तार हुआ है लेकिन उसके रूप में परिवर्तन नहीं हुआ है।
     
  • चरण 4
    इस चरण में कैंसर के प्रसार कि पुष्टि हो जाती है और यह चरण बताता है कि कैंसर दूर के अंगों में फैल गया है।

अग्नाशय कैंसर के लक्षण - Pancreatic Cancer Symptoms in Hindi

अग्नाशय कैंसर के क्या लक्षण हैं ?

अग्नाशय कैंसर के शुरूआती चरण में आमतौर पर कोई लक्षण नहीं होते हैं लेकिन आप निम्नलिखित लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं -

यह लक्षण बहुत सी अन्य परिस्थितियों के कारण भी हो सकते हैं। इन लक्षणों का मतलब यह नहीं है कि आपको अग्नाशय कैंसर है। हालांकि, ऐसे लक्षण होने पर आपको अपने चिकित्सक की सलाह लेनी चाहिए।

अग्नाशय कैंसर के कारण - Pancreatic Cancer Causes in Hindi

अग्नाशय कैंसर क्यों होता है ?

अग्नाशय कैंसर तब होता है जब अग्न्याशय में कोई कोशिका अपने डीएनए को नुकसान पहुंचाती है जिससे उसका असामान्य व्यवहार और गुणन होने लगता है। यह कैंसर कोशिका बढ़ती है व तेज़ी से विभाजित होती है जिससे ट्यूमर बनता है। अंततः, ट्यूमर कि कोशिकाएं रक्त या लसीका तंत्र (Lymphatic system) के माध्यम से शरीर के अन्य भागों में फैलने लगती हैं।

इस बात का पता अभी तक नहीं लग पाया है कि डीएनए कि क्षति कैसे होती है जिससे अग्नाशय कैंसर होता है।

अग्नाशय कैंसर से बचाव - Prevention of Pancreatic Cancer in Hindi

अग्नाशय कैंसर होने से कैसे रोका जा सकता है?

हालांकि अग्नाशय के कैंसर को रोकने का कोई सिद्ध तरीका नहीं है लेकिन आप अपने जोखिम को कम करने के लिए निम्नलिखित उपाय कर सकते हैं -

  • धूम्रपान न करें
    यदि आप धूम्रपान करते हैं, तो इसे बंद कर दें। धूम्रपान छोड़ने के तरीकों के लिए अपने डॉक्टर से बात करें और यदि आप धूम्रपान नहीं करते हैं, तो शुरू न करें। (और पढ़ें - धूम्रपान छोड़ने के घरेलू उपाय)
     
  • स्वस्थ वज़न बनाए रखें
    यदि आपका वज़न स्वस्थ है, तो इसे बनाए रखने के लिए प्रयास करें और यदि आपको वज़न कम करना है, तो धीमे-धीमे वज़न घटाएं। सब्जियों, फल और साबुत अनाज में समृद्ध आहार और दैनिक व्यायाम करें जो आपका वज़न कम करने में सहायता करेगा।​
     
  • स्वस्थ आहार लें
    फलों और सब्जियों और साबुत अनाज से समृद्ध आहार आपके कैंसर के खतरे को कम करने में मदद कर सकता है।

अग्नाशय कैंसर का परीक्षण - Diagnosis of Pancreatic Cancer in Hindi

अग्नाशय कैंसर का निदान कैसे होता है ?

अग्नाशय कैंसर का निदान आमतौर पर तब होता है जब कोई व्यक्ति लक्षणों का सप्ताह या महीनों तक अनुभव करने के बाद डॉक्टर के पास जाता है। इस कैंसर में अक्सर पेट में दर्द, वज़न कम होना, खुजली या पीलिया होते हैं।

अग्नाशय कैंसर का निदान निम्नलिखित तरीकों से होता है -

  • चिकित्सा इतिहास
    आपके डॉक्टर बीमारी की शुरुआत, प्रकृति, दर्द का स्थान, धूम्रपान का इतिहास और अन्य चिकित्सा समस्याओं को जानकर बीमारी का निदान करने की कोशिश करते हैं।
     
  • शारीरिक परीक्षण
    शारीरिक परीक्षण के दौरान, डॉक्टर आपके पेट में गाँठ को महसूस कर सकते हैं और गर्दन के लिम्फ नोड्स में सूजन, पीली त्वचा या वज़न काम होने के बारे में पता चलता है।
     
  • सीटी स्कैन (CT scan)
    सीटी स्कैन में एक स्कैनर कई एक्स-रे लेता है और कंप्यूटर उन्हें पेट के अंदर की विस्तृत छवियों में पुनर्निमित करता है। सीटी स्कैन डॉक्टरों को अग्नाशय कैंसर का निदान करने में मदद करता है।
     
  • एमआरआई (MRI)
    एमआरआई में चुंबकीय तरंगों का प्रयोग करते हुए, एक स्कैनर पेट की विस्तृत छवियां बनाता है। विशेष रूप से अग्न्याशय, लिवर और पित्ताशय की थैली के आसपास के क्षेत्र की छवियां।
     
  • अल्ट्रासाउंड (Ultrasound)
    अल्ट्रासाउंड में ध्वनि तरंगों से छवियां उत्पन्न होती हैं जो डॉक्टरों को अग्नाशय के कैंसर के निदान में मदद करती हैं।
     
  • पीईटी स्कैन (PET scan)
    पीईटी स्कैन में नसों में रेडियोधर्मी ग्लूकोज का इंजेक्शन दिया जाता है जो कैंसर कोशिकाओं द्वारा अवशोषित किया जाता है। पीईटी स्कैन, अग्नाशय कैंसर के प्रसार को बताने में मदद कर सकता है।
     
  • बायोप्सी (Biopsy)
    बायोप्सी में ऊतक का एक नमूना लिया जाता और उसकी जाँच की जाती है। अगर अग्नाशय कैंसर का निदान पहले ही हो जाता है तो डॉक्टर बिना बायोप्सी के बिना सर्जरी की सलाह दे सकते हैं।

अग्नाशय कैंसर का इलाज - Pancreatic Cancer Treatment in Hindi

अग्नाशय कैंसर का इलाज कैसे होता है ?

अग्नाशय के कैंसर का उपचार आपके कैंसर के प्रकार, स्थान और चरण पर निर्भर करता है। इस कैंसर के उपचार के तीन निम्नलिखित तरीकें हैं -

1. सर्जरी
ऑपरेशन आमतौर पर एकमात्र ऐसा तरीका है जो अग्नाशय कैंसर को पूरी तरह से ठीक कर सकता है। इसके निदान होने के बाद सर्जरी के समय तक यह बढ़ जाता है, इसीलिए सर्जरी केवल 15-20% लोगों के लिए ही उपयुक्त होती है।

हालांकि, यदि आपका ट्यूमर महत्वपूर्ण रक्त वाहिकाओं तक फ़ैल गया है या शरीर के अन्य क्षेत्रों में फैल गया है, तो सर्जरी से ट्यूमर को हटाकर आप स्वस्थ नहीं हो पाएंगे।

2. कीमोथेरपी (Chemotherapy)
कीमोथेरपी में उन दवाओं का उपयोग किया जाता है जो या तो आपके शरीर में कैंसर कोशिकाओं को मारती हैं या उनका गुणन रोकती हैं। कीमोथेरपी को अक्सर सर्जरी और रेडियोथेरेपी के साथ प्रयोग किया जाता है यह सुनिश्चित करने के लिए कि जितना संभव हो उतना कैंसर का इलाज किया जा सके।

कीमोथेरेपी की जा सकती है -

  1. सर्जरी से पहले - कैंसर को कम करने की कोशिश करने के लिए, ताकि चिकित्सक सारे कैंसर को हटा सके।
  2. सर्जरी के बाद - कैंसर के फिर से होने के जोखिम को कम करने में मदद करने के लिए।
  3. जब सर्जरी संभव न हो - कैंसर को कम करने का प्रयास करने के लिए, इसकी वृद्धि धीमी करने के लिए और लक्षणों को सुधारने के लिए।

कुछ कीमोथेरेपी दवाएं मौखिक रूप से ली जा सकती हैं, लेकिन कुछ दवाओं को सीधे नसों में दिया जाता है।

3. रेडियोथेरेपी (Radiotherapy)
रेडियोथेरेपी में आपके ट्यूमर को कम करने और दर्द को दूर करने के लिए विकिरण की उच्च ऊर्जा वाली रौशनी का उपयोग किया जाता है।

कुछ प्रकार के अग्नाशय कैंसर के लिए केवल एक ही प्रकार के उपचार की आवश्यकता होती है जबकि अन्य प्रकार को दोनों या तीनों के संयोजन की आवश्यकता हो सकती है

अग्नाशय कैंसर की जटिलताएं - Pancreatic Cancer Complications in Hindi

अग्नाशय कैंसर की जटिलताएं क्या हैं ?

जैसे-जैसे अग्नाशय कैंसर बढ़ता है, आपको निम्नलिखित जटिलताएं हो सकती हैं -

  • पीलिया
    अगर अग्नाशय कैंसर आपकी जिगर की पित्त की नलि को रोकता है तो वह पीलिया बन सकता है। इसके लक्षण हैं पिली रंग की त्वचा और आंखें, गहरे रंग के मूत्र और फीके रंग के मल।
     
  • दर्द
    बढ़ता ट्यूमर आपके पेट में नसों पर दबाव डाल सकता है, जिससे दर्द हो सकता है और जो गंभीर भी हो सकता है।
     
  • आंतों की रूकावट
    अग्नाशय कैंसर जो छोटी आंत में बढ़ता है या उसपर दबाव डालता है, आपके पेट से पचे भोजन का प्रवाह रोक सकता है। (और पढ़ें - आँतों में रूकावट के लक्षण)
     
  • वज़न घटना
    अग्नाशयी कैंसर से ग्रस्त लोगों का कई कारणों से वज़न कम हो सकता है।
Dr. Arabinda Roy

Dr. Arabinda Roy

ऑन्कोलॉजी

Dr. Ashutosh Gawande

Dr. Ashutosh Gawande

ऑन्कोलॉजी

Dr. C. Arun Hensley

Dr. C. Arun Hensley

ऑन्कोलॉजी

अग्नाशय कैंसर की दवा - Medicines for Pancreatic Cancer in Hindi

अग्नाशय कैंसर के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
ErlevaErleva 100 Mg Tablet18767.0
ErlokemErlokem 100 Mg Tablet7714.0
ErlonatErlonat 100 Mg Tablet9514.0
ErlostarErlostar Tablet25500.0
ErlotibErlotib 150 Mg Tablet11000.0
ErlotirelErlotirel 150 Mg Tablet9003.0
LortinibLortinib 150 Mg Tablet11159.0
TarcevaTarceva 150 Mg Tablet40300.0
TyrokininTyrokinin 100 Mg Tablet18990.0
ZycevaZyceva 100 Mg Tablet9281.0
AtsureAtsure 1.4 Gm Injection5625.0
CelgemCelgem 1000 Mg Injection6345.22
CitafineCitafine 1400 Mg Injection7142.5
CytogemCytogem 1000 Mg Injection6650.87
GembinGembin 1 Gm Injection2660.12
GemciteGemcite 1 Gm Injection6200.0
GemitrateGemitrate 1400 Mg Injection5625.0
GempowerGempower 1 Gm Injection5000.0
GemtazGemtaz 1 Gm Injection4526.77
GemtrustGemtrust 1000 Mg Injection5714.3
CelzarCelzar 1000 Mg Injection3250.0
CitabolCitabol 1400 Mg Injection9100.0
EmcitabenEmcitaben 1 Gm Injection6000.0
GemactaGemacta 1000 Mg Injection3700.0
Gemce FilGemce Fil 1000 Mg Injection1900.0
GemchemGemchem 1000 Mg Injection5422.5
GemciglanGemciglan 1 Gm Injection5999.0
GemcitaparGemcitapar 1000 Mg Injection6825.0
GemibineGemibine 1000 Mg Injection6144.39
GemitaGemita 1000 Mg/62.5 Mg Injection6131.0
GemizanGemizan 1 Gm Injection6344.28
GemkerbGemkerb 1000 Mg Injection6200.0
GemteroGemtero 1 Gm Injection5572.12
OncogemOncogem 1.4 Gm Injection10461.5
TabicadTabicad 1000 Mg Injection3250.0
WinogemWinogem 1.4 Gm Injection7691.35
XtrozXtroz 1 Gm Injection5900.12
ZygemZygem 1 Gm Injection6700.0
ShancyteShancyte 1 Gm Infusion6100.0
CeldachCeldach 100 Mg Injection2500.0
MegaplatMegaplat 100 Mg Injection3934.94
Oxa(Emc)Oxa 100 Mg Infusion5836.8
OxiplatOxiplat 100 Mg Injection4623.69
OxitanOxitan 100 Mg Infusion4616.0
OxitozOxitoz 100 Mg Injection5260.77
OxitrustOxitrust 100 Mg Injection4371.88
OxplaOxpla 100 Mg Injection3165.54
XalipatXalipat 100 Mg Injection2380.95
XplatXplat 100 Mg Injection3452.38
GlanoxyGlanoxy 100 Mg Injection4499.0
GlenoxlGlenoxl 100 Mg Injection2642.85
KinaplatKinaplat 100 Mg Infusion1577.38
MetaplatinMetaplatin 100 Mg Injection4800.0
NeoxalNeoxal 100 Mg Injection5000.0
OplatinOplatin 100 Mg Infusion4400.0
Oxaliplatin ForOxaliplatin For 100 Mg Infusion4670.33
OxaltorOxaltor 100 Mg Infusion2738.09
OxichemoOxichemo 100 Mg Infusion2000.0
OxidachOxidach 100 Mg Injection6300.0
OxolOxol 100 Mg Infusion3333.33
PlatoxinPlatoxin 100 Mg Injection3831.54
XalotinXalotin 100 Mg Injection7800.0
XplatinXplatin 100 Mg Infusion4657.14
OxoplanOxoplan 50 Mg Injection1322.1
XtideXtide 50 Mg Injection1995.46
AlimtaAlimta 100 Mg Injection17683.0
PemcurePemcure 100 Mg Injection1500.0
PemexPemex 500 Mg Injection25400.0
PemgemPemgem 100 Mg Injection4882.47
PemmetPemmet 100 Mg Injection1389.26
PemnatPemnat 100 Mg Injection4900.0
PemotidePemotide 100 Mg Injection2362.5
PexetrustPexetrust 100 Mg Injection1812.5
PexitazPexitaz 100 Mg Injection2422.17
PleumetPleumet 100 Mg Injection4663.47
PamiglanPamiglan 500 Mg Infusion156451.0
PemecadPemecad 100 Mg Injection6040.2
PemeetronPemeetron 100 Mg Injection5142.86
PemexarPemexar 100 Mg Injection5000.0
PemproPempro 100 Mg Injection8500.0
PexotraPexotra 100 Mg Injection2350.0
TemeranTemeran 100 Mg Injection1980.0
ZupemedZupemed 100 Mg Injection4333.33
CamptoCampto 100 Mg Injection20238.1
ColotecanColotecan 20 Mg Injection1355.31
ImtusImtus 100 Mg Injection2687.5
IntensicIntensic 100 Mg Injection687.5
IricipIricip 100 Mg Injection1401.09
IrinotelIrinotel 100 Mg Injection3205.0
IrinotrazIrinotraz 100 Mg Injection4081.63
IrnocamIrnocam 100 Mg Injection3704.31
IrnocelIrnocel 100 Mg Injection4095.0
RinotecRinotec 100 Mg Injection3562.5
ErticanErtican 40 Mg Injection81.11
AdvacanAdvacan 0.25 Mg Tablet571.42
AfinitorAfinitor 10 Mg Tablet85923.8
BoletraazBoletraaz 10 Mg Tablet20000.0
CerticanCertican 0.25 Mg Tablet920.0
EvelimusEvelimus 10 Mg Tablet29400.0
EvergrafEvergraf 0.25 Mg Tablet628.57
EvermilEvermil 10 Mg Tablet30136.2
EvertorEvertor 10 Mg Tablet29666.7
VolantisVolantis 10 Mg Tablet19066.66
5 Flucel5 Flucel 250 Mg Injection12.0
ChemofluraChemoflura 250 Mg Injection10.4
FivocilFivocil 250 Mg Injection11.7
FivofluFivoflu 250 Mg Injection15.0
FlocilFlocil 250 Mg Injection29.03
FloracFlorac 250 Mg Injection11.07
FluoncoFluonco 250 Mg Injection69.0
FluracilFluracil 250 Mg Injection12.04
KucilKucil 250 Mg Injection12.5
OncoflourOncoflour 250 Mg Injection13.5
LyomitLyomit 10 Mg Injection430.83
Mitomycin CMitomycin C 10 Mg Injection522.0
OncocinOncocin 10 Mg Injection333.33
SutentSutent 12.5 Mg Capsule16071.4
FlonidaFlonida 1% W/W Cream78.0
FluoFluo Cream120.21

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...