myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

वैरिकोज वेन्स क्या है?

वैरिकोज वेन्स बढ़ी हुई हुई नसें होती हैं। कोई भी नसें वैरिकोज वेन्स हो सकती हैं, लेकिन सबसे अधिक प्रभावित नसें आपके पैरों और पैरों के पंजों में होती हैं। इसका कारण यह है कि खड़े होने और घूमने से आपके निचले शरीर की नसों में दबाव बढ़ जाता है।

वैरिकोज वेन्स आमतौर पर त्वचा की सतह के नीचे उभरती हुई नीली नसें दिखती हैं। यह लगभग हमेशा पैर और पंजों को प्रभावित करती हैं। सूजी और मुड़ी हुई नसों को कभी-कभी स्पाइडर वेन्स कहा जाता है।

कई लोगों के लिए, वैरिकोज वेन्स और स्पाइडर वेन्स सामान्य समस्या होती है, लेकिन कुछ लोगों को इससे दर्द और असुविधा हो सकती है। कभी-कभी यह गंभीर समस्याओं का रूप ले लेती है। यह अन्य परिसंचारी समस्याओं (circulatory problems) के जोखिम के बढ़ने का संकेत भी हो सकती हैं। 

इसके इलाज के लिए डॉक्टर नसों को बंद कर सकते हैं या निकाल सकते हैं। कुछ ऐसे उपाय भी हैं जो आप खुद कर सकते हैं। 

  1. वैरिकोज वेन्स के प्रकार - Types of Varicose Veins in Hindi
  2. वैरिकोज वेन्स के लक्षण - Varicose Veins Symptoms in Hindi
  3. वैरिकोज वेन्स के कारण और कारक - Varicose Veins Causes & Risk Factors in Hindi
  4. वैरिकोज वेन्स से बचाव - Prevention of Varicose Veins in Hindi
  5. वैरिकोज वेन्स का परीक्षण - Diagnosis of Varicose Veins in Hindi
  6. वैरिकोज वेन्स का इलाज - Varicose Veins Treatment in Hindi
  7. वैरिकोज वेन्स की जटिलताएं - Varicose Veins Complications in Hindi
  8. वैरिकोज वेन्स के घरेलू उपाय
  9. वैरिकोज वेन्स की दवा - Medicines for Varicose Veins in Hindi

वैरिकोज वेन्स के प्रकार - Types of Varicose Veins in Hindi

वेरिकोस वेन्स के निम्नलिखित प्रकार होते हैं -

1. मध्यम प्रकार
मध्यम प्रकार की वेरिकोस वेन्स त्वचा के नीचे बड़े नीले उभार होते हैं। नीले रंग के कारण, मध्यम वेरिकोस वेन्स को एक कॉस्मेटिक समस्या माना जाता है, लेकिन अगर इनका इलाज नहीं किया जाए, तो वे अधिक गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती हैं। मध्यम प्रकार की वेरिकोस नसों में रक्त का प्रवाह नहीं होता है और रक्त दिल की ओर जाने के बजाय शिराओं में एकत्रित होता है।

2. गंभीर प्रकार
जब वेरिकोस वेन्स को अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो वे और भी बिगड़ जाती हैं और विभिन्न स्वास्थ्य समस्याएं पैदा कर सकती हैं।

3. गर्भावस्था से संबंधित प्रकार
गर्भावस्था के दौरान, शरीर में ज़्यादा रक्त का उत्पादन होता है जो रक्त वाहिकाओं पर दबाव बढ़ा सकता है और पैरों, पैल्विक क्षेत्र व योनी पर वेरिकोस वेन्स पैदा कर सकता हैं।

4. स्पाइडर वेन्स
स्पाइडर वेन्स, मकड़ी के जाले या पेड़ की शाखाओं की तरह लगती हैं और आमतौर पर केवल एक कॉस्मेटिक समस्या होती है। इसका इलाज कुछ तरीकों से आसानी से किया जा सकता है।

वैरिकोज वेन्स के लक्षण - Varicose Veins Symptoms in Hindi

वैरिकोज वेन्स के निम्नलिखित लक्षण हो सकते हैं -

  1. गहरी बैंगनी या नीली दिखने वाली नसें।
  2. रस्सियों की तरह दिखने वाली मुड़ी और सूजी हुई नसें।
  3. पैरों में एक दर्द या भारीपन महसूस होना।
  4. जलन, चीस मचना, मांसपेशियों में ऐंठन और पैरों के निचले हिस्से में सूजन। (और पढ़ें - पैरों में सूजन का इलाज)
  5. लंबे समय के लिए बैठे या खड़े होने के बाद दर्द होना।
  6. एक या एक से अधिक नसों के आसपास खुजली होना।
  7. टखने के पास त्वचा के अल्सर, जिसका अर्थ है कि आपको नस से सम्बंधित एक गंभीर रोग है जिसे इलाज की आवश्यकता है।

वैरिकोज वेन्स के कारण और कारक - Varicose Veins Causes & Risk Factors in Hindi

वैवैरिकोज वेन्स के या कारण होते हैं ?

वैरिकोज वेन्स के निम्नलिखित दो कारण हो सकते हैं -

  • उम्र
    जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, आपकी नसें अपना लचीलापन खो सकती हैं जिससे उनमें खिंचाव पड़ सकता है। आपकी नसों का वाल्व कमज़ोर हो सकता है और दिल की ओर बढ़ने वाला रक्त उलटी दिशा में बढ़ने लगता है। इससे नसों में रक्त इकठ्ठा हो जाता है और नसें फूलकर वैरिकोज वेन्स बन जाती हैं।
  • गर्भावस्था
    कुछ गर्भवती महिलाओं को वैरिकोज वेन्स हो सकता है। गर्भावस्था में आपके शरीर में रक्त का अधिक उत्पादन होता है लेकिन आपके पैरों से श्रोणि की तरफ रक्त का प्रवाह घटता है। यह संचार परिवर्तन बढ़ते भ्रूण के लिए होता है, लेकिन इससे वैरिकोज वेन्स हो सकता है।

वैरिकोज वेन्स के जोखिम कारक क्या हैं ?

निम्नलिखित कारकों से वैरिकोज वेन्स का खतरा बढ़ सकता है -

  • उम्र
    वैरिकोज वेन्स का जोखिम उम्र के साथ बढ़ता है। उम्र के साथ, आपकी नसों के वाल्व खराब हो जाते हैं जिससे दिल की ओर होने वाला रक्त प्रवाह उलटी दिशा में जाने लगता है और यह रक्त नसों में एकत्रित होकर वैरिकोज वेन्स बनाता है।
  • लिंग
    महिलाओं को वैरिकोज वेन्स होने की सम्भावनाएँ अधिक होती हैं। गर्भावस्था, मासिक धर्म के पहले या रजोनिवृत्ति के दौरान होने वाले हॉर्मोन परिवर्तन वैरिकोज वेन्स के जोखिम कारक हो सकते हैं क्योंकि यह हार्मोन वेन्स की दीवारों को शिथिल करते हैं। हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी या गर्भनिरोधक गोलियां लेना भी वैरिकोज वेन्स का खतरा बढ़ा सकते हैं।
  • परिवार में इसका इतिहास
    यदि आपके परिवार के अन्य सदस्यों को वैरिकोज वेन्स है, तो आपको भी यह होने का अधिक जोखिम हो सकता है।
  • मोटापा
    अधिक वज़न आपकी नसों पर दबाव बढाता है जिससे वैरिकोज वेन्स होने का खतरा बढ़ जाता है। (और पढ़ें - मोटापा कम करने के उपाय)
  • लंबी अवधि के लिए खड़े या बैठे रहना
    यदि आप लंबे समय के लिए एक ही स्थिति में रहते हैं तो आपका रक्त प्रवाह ठीक से नहीं हो पाता है, जिससे वैरिकोज वेन्स हो सकता है।

वैरिकोज वेन्स से बचाव - Prevention of Varicose Veins in Hindi

वेरिकोस वेन्स से कैसे बचा जा सकता है ?

वेरिकोस वेन्स को पूरी तरह से रोकने का कोई तरीका नहीं है, लेकिन आपके परिसंचरण और मांसपेशियों की टोन में सुधार इसके विकास या अतिरिक्त रोगों के आपके जोखिम को कम कर सकता है। वेरिकोस वेन्स से परेशानी का इलाज करने के लिए आप जो उपाय कर सकते हैं, वे उपाय ही इसे रोकने में मदद कर सकते हैं।

यह उपाय निम्नलिखित हैं -

  1. व्यायाम करना। (और पढ़ें - व्यायाम के फायदे)
  2. अपने वज़न का ध्यान रखना। (और पढ़ें - वजन कम करने के उपाय)
  3. ज़्यादा फाइबर और कम नमक वाला भोजन खाना।
  4. ऊँची हील के जूते और टाइट जुराबें न पहनना।
  5. अपने पैरों को ऊपर उठाना।
  6. अपने बैठने या खड़े होने की अवस्था को बदलना।

वैरिकोज वेन्स का परीक्षण - Diagnosis of Varicose Veins in Hindi

वैरिकोज वेन्स का निदान कैसे होता है ?

वैरिकोज वेन्स का निदान करने के लिए, आपके डॉक्टर आपके बैठने और खड़े होने पर आपके पैरों की दिखने वाली नसों की जाँच करेंगे। वे आपसे किसी भी दर्द या अन्य लक्षणों के बारे में पूछ सकते हैं।

(और पढ़ें - पैरों में दर्द के घरेलू उपाय)

आपके खून के प्रवाह को जांचने के लिए आपके डॉक्टर अल्ट्रासाउंड (Ultrasound) भी कर सकते हैं। इस परीक्षण में उच्च ध्वनि तरंगों का उपयोग किया जाता है। यह आपके डॉक्टर को यह देखने की अनुमति देता है कि आपकी नसों में रक्त प्रवाह कैसा है।

स्थान पर निर्भर करते हुए, आपकी नसों का आकलन करने के लिए एक वेनोग्राम (Venogram) भी किया जा सकता है। इस परीक्षण के दौरान, आपके डॉक्टर एक इंजेक्शन के माध्यम से आपके पैरों में एक विशेष रंग डालते हैं और उस क्षेत्र का एक्स-रे लेते हैं। यह परीक्षण आपके डॉक्टर को यह दिखाता है कि आपका रक्त प्रवाह कैसा है।

अल्ट्रासाउंड या वेनोग्राम जैसे टेस्ट यह सुनिश्चित करते हैं कि किसी अन्य प्रकार का विकार जैसे रक्त के थक्के या रुकावट के कारण आपके पैरों में दर्द और सूजन नहीं हो रही है।

वैरिकोज वेन्स का इलाज - Varicose Veins Treatment in Hindi

वैरिकोज वेन्स का उपचार कैसे होता है ?

सामान्य में, वैरिकोज वेन्स के उपचार के लिए, डॉक्टर जीवन शैली में बदलाव करने की सलाह देते हैं। इसका उपचार निम्नलिखित तरीकों से किया जाता है -

जीवन शैली में परिवर्तन
निम्नलिखित परिवर्तन, वैरिकोज वेन्स को बिगड़ने से रोकते हैं -

  1. ज़्यादा देर तक खड़े रहने से बचें।
  2. वज़न कम करें या एक स्वस्थ वज़न बनाए रखें।
  3. अपने परिसंचरण को बेहतर बनाने के लिए व्यायाम करें।
  4. दबाव बनाने वाले मोज़े पहनें।
  5. आराम करते समय या सोते समय अपने पैरों को ऊपर उठाएं।

कमप्रेशन (दबाव डालना)
आपके डॉक्टर आपको एक विशेष दबाव बनाने वाले मोज़े पहनने की सलाह दे सकते हैं। ये मोज़े आपके पैरों पर पर्याप्त दबाव बनाते हैं ताकि रक्त आपके दिल में अधिक आसानी से पहुंच सके। यह सूजन भी कम करते हैं।

सर्जरी
यदि जीवनशैली में बदलाव, काम नहीं कर रहे हैं या यदि आपकी वैरिकोज वेन्स में बहुत अधिक दर्द हो रहा है या आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंच रहा है, तो आपके डॉक्टर सर्जरी कर सकते हैं।

सर्जरी के दौरान, आपके सर्जन आपकी त्वचा में वैरिकोज नस को काटते हैं और चीरों के माध्यम से इसे निकालते हैं।

अन्य उपचार विकल्प
वर्तमान में, वैरिकोज वेन्स के लिए बहुत उपचार उपलब्ध हैं। यह उपचार हैं -

  1. स्क्लेरियोथेरेपी (Sclerotherapy) - इस प्रक्रिया में, इंजेक्शन का उपयोग करके एक बड़ी नस को अवरुद्ध करने के लिए, तरल या फोम रासायन का उपयोग किया जाता है।
  2. माइक्रोस्क्लेरियोथेरेपी (Microsclerotherapy) - इस प्रक्रिया में, छोटे नसों को अवरुद्ध करने के लिए एक तरल रासायनिक इंजेक्शन का इस्तेमाल किया जाता है।
  3. लेज़र सर्जरी (Laser surgery) - इस प्रक्रिया में, एक नस को अवरुद्ध करने के लिए हलकी ऊर्जा का उपयोग किया जाता है।
  4. एंडोवीनस एब्लेशन थेरेपी (Endovenous ablation therapy) - इस प्रक्रिया में, गर्मी और रेडियो तरंगों का उपयोग करके एक नस को अवरुद्ध किया जाता है।
  5. एन्डोस्कोपिक वेन सर्जरी (Endoscopic vein surgery) - इस प्रक्रिया में, नस को अवरुद्ध करने के लिए एक छोटे से चीरे के माध्यम से डाले गए औज़ार का उपयोग किया जाता है।

किसी भी विधि को चुनने से पहले, आपको अपने चिकित्सक से उपचार के विकल्पों के बारे में और उनके जोखिम के बारे में बात करनी चाहिए। सुझाई जाने वाली विधि आपके लक्षण, आकार और वैरिकोज वेन्स के स्थान पर निर्भर कर सकती है।

वैरिकोज वेन्स की जटिलताएं - Varicose Veins Complications in Hindi

वैरिकोज वेन्स की जटिलताएं क्या हैं ?

वैरिकोज वेन्स की जटिलताएं दुर्लभ होती हैं। इसकी निम्नलिखित जटिलताएं हो सकती हैं -

  1. अल्सर - वैरिकोज वेन्स से बेहद दर्दनाक अल्सर बन सकते हैं, विशेष रूप से टखनों के पास। ऊतकों में लंबे समय तक द्रव के एकत्रित होने के कारण अल्सर हो सकता है। त्वचा पर एक फीके रंग का धब्बा आमतौर पर अल्सर के शुरूआती चरण में होता है। यदि आपको संदेह है कि आपको अल्सर हुआ है, तो तुरंत अपने चिकित्सक से बात करें।
  2. खून के थक्के - कभी-कभी, पैरों के भीतर की नसों का विस्तार बढ़ जाता है। ऐसे मामलों में, प्रभावित पैर काफी सूज सकता है। अचानक पैर सूजने पर तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लें क्योंकि यह एक रक्त का थक्का हो सकता है।
    (और पढ़ें - खून का थक्का जमने से सम्बंधित विकार)

वैरिकोज वेन्स की दवा - Medicines for Varicose Veins in Hindi

वैरिकोज वेन्स के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
ADEL 29 Akutur DropADEL 29 Akutur Drop200
Bjain Pulsatilla LMBjain Pulsatilla 0/1 LM39
SBL Carduus benedictus Mother Tincture QSBL Carduus benedictus Mother Tincture Q 100
Bjain Carduus benedictus DilutionBjain Carduus benedictus Dilution 1000 CH63
Mama Natura ChamodentSchwabe Chamodent Globules88
Bjain Pulsatilla Mother Tincture QBjain Pulsatilla Mother Tincture Q 351
SBL Prostonum DropsSBL Prostonum Drops 104
AsklerolAsklerol 3% W/V Injection107
SBL Strontium bromatum DilutionSBL Strontium bromatum Dilution 1000 CH86
TroydocaTroydoca 30 Mg Injection80
Bjain Carduus benedictus Mother Tincture QBjain Carduus benedictus Mother Tincture Q 199
Schwabe Pulsatilla MTSchwabe Pulsatilla MT 148
Bjain Strontium bromatum DilutionBjain Strontium bromatum Dilution 1000 CH63
Omeo Sinus-Relief DropsOmeo Sinus-Relief Drops 111
Schwabe Carduus benedictus MTSchwabe Carduus benedictus MT 88
Schwabe Pulsatilla LMSchwabe Pulsatilla 0/1 LM80
SBL Stobal Cough SyrupSBL Stobal Cough Syrup 108
SBL Cicaderma OintmentSBL Cicaderma Ointment 48
Smuth SuspensionSMUTH SUSPENSION 170ML79
Schwabe Strontium bromatum CHSchwabe Strontium bromatum 1000 CH96
VenexVENEX 300MG TABLET 10S29
Dr. Reckeweg Pulsatilla QDr. Reckeweg Pulsatilla Q 176
CabisylCabisyl Capsule0
DobesilDobesil 500 Mg Capsule122
DobestDobest 100 Mg Tablet75

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Varicose veins
  2. National Health Service [Internet]. UK; Varicose veins.
  3. National Heart, Lung, and Blood Institute [Internet]: U.S. Department of Health and Human Services; Varicose Veins
  4. Bruce Campbell. Varicose veins and their management. BMJ. 2006 Aug 5; 333(7562): 287–292. PMID: 16888305
  5. Office of Disease Prevention and Health Promotion. Varicose veins and spider veins. [Internet]
और पढ़ें ...