मांसपेशियों में ऐंठन क्या है ?

अगर आपको अपनी एक या एक से अधिक मांसपेशियों में अचानक अनचाही सुकड़न महसूस हो तो इसे मांसपेशियों में ऐंठन भी कहते हैं। मांसपेशियों में ऐंठन के कारण होने वाला दर्द काफी गंभीर होता है जिससे आपको सोते समय या चलते समय परेशानी महसूस हो सकती है। मांसपेशियों में ऐंठन होने से आपको कोई नुकसान तो नहीं पहुंचता, लेकिन यह ऐंठन और दर्द मांसपेशियों के इस्तेमाल में अस्थायी रूप से बाधा बन सकता है।

(और पढ़ें - मांसपेशियों में खिंचाव क्यों होता है)

गरम मौसम में ज्यादा देर व्यायाम करने से या शारीरिक काम ज्यादा करने के कारण भी मांसपेशियों में ऐंठन आ सकती है। कभी-कभी कुछ शारीरिक समस्याओं या कुछ दवाइयों के कारण भी मांसपेशियों में ऐंठन आ सकती है। मांसपेशियों में ऐंठन होने का इलाज अक्सर घरेलू उपचार से ही हो जाता है। 

  1. मांसपेशियों में ऐंठन के लक्षण - Muscle Cramps Symptoms in Hindi
  2. मांसपेशियों में ऐंठन के कारण - Muscle Cramps Causes in Hindi
  3. मांसपेशियों में ऐंठन का इलाज - Muscle Cramps Treatment in Hindi
  4. मांसपेशियों में ऐंठन की रोकथाम और घरेलू उपाय
  5. मांसपेशियों में ऐंठन की दवा - Medicines for Muscle Cramps in Hindi
  6. मांसपेशियों में ऐंठन की दवा - OTC Medicines for Muscle Cramps in Hindi
  7. मांसपेशियों में ऐंठन के डॉक्टर

मांसपेशियों में ऐंठन के लक्षण क्या हैं?

ज्यादातर पैरों की मांसपेशियों में ही एेंठन आती है, खासकर पिंडली के हिस्से में। गंभीर दर्द के साथ-साथ आपको अपनी मांसपेशी के ऊतकों में एक गांठ या उभार भी महसूस हो सकता है। 

(और पढ़ें - पैरों में दर्द का कारण

डॉक्टर से कब संपर्क करें ?

मांसपेशियों की ऐंठन अपने आप ही ठीक हो जाती और अक्सर गंभीर समस्या नहीं बनती। इसमें अक्सर चिकित्सकीय उपचार की भी जरुरत नहीं पड़ती। लेकिन डॉक्टर की सलाह लें अगर आपको मांसपेशियों में ऐंठन के साथ -

  • बेचैनी महसूस हो 
  • पैर में सूजन, त्वचा का लाल पड़ना जैसे लक्षण दिखाई पड़े 
  • मांसपेशियों में कमजोरी महसूस हो 
  • ये स्थिती बार-बार होती हो 
  • अगर ये स्थिती स्वयं उपचार करने के बाद भी ठीक न हो
  • अगर यह स्थिती किसी विशेष काम जैसे कि ज्यादा व्यायाम आदि से जुड़ी हुई न हो  

(और पढ़ें - पैर दर्द के उपाय)

मांसपेशियों में ऐंठन क्यों होती है?

मांसपेशियों के ज्यादा इस्तेमाल से, पानी की कमी के कारण, मांसपेशियों पर ज्यादा दबाव पड़ने से या मांसपेशी का किसी एक पोजीशन में ज्यादा देर तक रहना, मांसपेशियों में ऐंठन होने का कारण हो सकते हैं। हालांकि, काफी मामलों में इसका मुख्य कारण अज्ञात होता है। 

ज्यादातर मामलों में मांसपेशियों की ऐंठन कोई नुकसान नहीं पहुंचाती लेकिन यह किसी शारीरिक समस्या से जुड़ी हो सकती है, जैसे :

  • खून की आपूर्ति में कमी -
    जिन धमनियों के माध्यम से आपके पैरों में खून पहुंचता है, अगर वह संकुचित हो जाएं तो इससे आपके पैरों की मांसपेशियों में ऐंठन आ सकती है जिसके कारण आपको व्यायाम करते समय गंभीर दर्द महसूस हो सकता है। हालांकि, जब आप व्यायाम करना बंद कर देते हैं तो यह ऐंठन और दर्द स्वयं ही ठीक हो जाते हैं। 
     
  • नसों पर दबाव -
    अगर आपकी रीढ़ की हड्डी की नसों पर दबाव पड़ रहा हो तो इसके कारण भी आपके पैरों की मांसपेशियों में ऐंठन और दर्द हो सकता है। यह दर्द आपके चलने के साथ-साथ और गंभीर होता जाता है। इस तकलीफ से जुड़े अपने लक्षणों को कम करने का सबसे कारगर उपाय है कि किसी एक ही तय ढ़ंग से धीरे चला जाएं। जैसे कि आपके आगे शॉपिंग कार्ट है और आप उसे ठेलते हुए धीरे -धीरे आगे बढ़ रहे हैं। इससे आपकी हालात बेहतर होगी। (और पढ़ें - नस चढ़ने का इलाज)
     
  • आहार में खनिज कम लेना -
    अपने भोजन में महत्वपूर्ण खनिजों जैसे पोटेशियम, कैल्शियम और मैग्नीशियम को बेहद कम स्थान देना भी पैरों की मांसपेशियों में एेंठन की एक बड़ी वजह हो सकते हैं। हाई ब्लड प्रेशर के लिए ली जाने वाली दवा, ड्यूरेटिक्स भी इन खनिजों को सोंख कर इन की बेहद कमी कर देती है। 

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द का उपचार)

मांसपेशियों में ऐंठन के खतरे क्या हैं?

जिन चीजों से मांसपेशियों में एेंठन के खतरे बढ़ जाते हैं, उनमें शामिल है:

  • उम्र -
    उम्र के साथ मांसपेशियों का गठिलापन कम हो जाता है। एेसे में मांसपेशियों पर काफी अतिरिक्त दवाब पड़ता है और एेंठन होने के खतरे बढ़ जाते हैं। 
     
  • डिहाइड्रेशन -
    वो खिलाड़ी जो एेसे खेलों में भाग लेते हैं जहां काफी बढ़े हुए तापमान में धूप में रहना पड़ता है, अधिक थक जाते हैं। अधिक थक जाने से उनमें पानी की कमी हो जाती है जिसके चलते मांसपेशियों में अकड़न और एेंठन आ जाती है। (और पढ़ें - मोच की दवा)
     
  • गर्भावस्था -  
    गर्भावस्था के दौरान मांसपेशियों में एेंठन बेहद आम है। 
     
  • स्वास्थ्य संबंधी स्थितियां -
    अगर आपको शुगर, लीवर या थायराइड से जुड़ी कोई दिक्कत है तो आपकी मांसपेशियों में एेंठन आने की गुंजाइश काफी अधिक है। (और पढ़ें - थायराइड कम करने के उपाय)

ज्यादातर मांसपेशियों में ऐंठन की समस्या स्वयं उपचार करने से ही ठीक हो जाता है। आपके डॉक्टर आपको कुछ ऐसे व्यायाम बता सकते हैं जो मांसपेशियों की ऐंठन को कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं। हालांकि आपको खुद इस बात का ध्यान रखना है कि आपके शरीर में पानी की कमी न हो। अगर सोते समय आपकी मांसपेशियों में ऐंठन आ जाती हो तो इससे राहत पाने के लिए आपके डॉक्टर आपको कुछ दवाएं भी दे सकते हैं। 

(और पढ़ें - मोच आने पर क्या करे)

अगर आपकी मांसपेशियों में ऐंठन हो तो इन उपायों से आपको राहत मिल सकती है:

  • स्ट्रेच और मालिश करें -
    जिस मांसपेशी में ऐंठन आई हो उसे स्ट्रेच करें और हलके-हलके सहलाएं। अगर आपकी पिंडली की मांसपेशी में ऐंठन आई हो तो शरीर का वजन उस पैर पर डालें और अपने घुटने को मोड़ने की कोशिश करें। अगर आप खड़े नहीं हो पा रहे हो तो जमीन या किसी कुर्सी पर बैठ जाएं और अपने पैर को सीधा और चौड़ा रखकर फिर उसे स्ट्रेच करें। (और पढ़ें - स्ट्रेच करने के फायदे)

    अपने पैर को सीधा रखें और अपने पंजों को सिर की तरफ स्ट्रेच करें। अगर आपकी जांघ की पिछली ओर की मांसपेशियों में ऐंठन आई है, तो ऐसा करने से उसमें राहत मिल सकती है। अगर आपकी जांघ की आगे की मांसपेशियों में ऐंठन आई हो तो कुर्सी पर बैठ जाएं और अपने पैर को कूल्हों के हिस्से की ओर स्ट्रेच करने की कोशिश करें। (और पढ़ें - मांस फटने पर क्या करे)
     
  • ठंडी या गरम सिकाई करें -
    मांसपेशियों की ऐंठन वाले हिस्से पर गरम तौलिया या हीट पेड लगाएं, जिससे ऐंठन कम हो सके। अगर आप तुरंत गरम पानी से नहाते हैं या प्रभावित हिस्से पर गरम पानी डालते हैं तो यह भी मददगार हो सकता है। आप ऐंठन से राहत पाने के लिए, प्रभावित हिस्से पर बर्फ लगाकर मालिश भी कर सकते हैं। 

(और पढ़ें - मोच के घरेलू उपाय)

Dr. Sanjai kumar Srivastava

Dr. Sanjai kumar Srivastava

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Mohit Garg

Dr. Mohit Garg

ओर्थोपेडिक्स

Dr. Aashish Shahare

Dr. Aashish Shahare

ओर्थोपेडिक्स

मांसपेशियों में ऐंठन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
BenzadayBenzaday 15 Mg Capsule160.0
MobrineMobrine 10 Mg Tablet Ir85.0
SkelebenzSkelebenz 15 Mg Capsule165.0
FlexabenzFlexabenz 5 Mg Tablet77.0
GinoxGinox Gel74.0
SirdaludSirdalud 2 Mg Tablet112.0
TizalideTizalide 100 Mg Tablet56.72
TizanTizan 2 Mg Tablet102.0
TizpaTizpa 2 Mg Tablet36.9
AccetizAccetiz 100 Mg/2 Mg Tablet40.0
Accetiz PAccetiz P 100 Mg/500 Mg/2 Mg Tablet57.1
Acicloflex MrAcicloflex 100 Mg/500 Mg/2 Mg Tablet Mr53.0
Zerodol MRZerodol Mr 100 Mg/500 Mg/2 Mg Tablet Mr65.0
Acota MrAcota Mr Tablet39.95
Valdone MrValdone Mr 100 Mg/500 Mg/2 Mg Tablet42.0
AsflamAsflam Tablet48.61
Valoflam TzValoflam Tz 10 Mg/2 Mg Tablet0.0
Dicka RelaxDicka Relax 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Emsulide MrEmsulide Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Endolide MrEndolide Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Gat XGat X 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Naba TNaba T 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Neulab TzNeulab Tz 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimcom MrNimcom Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimeril TNimeril T 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimeson TnNimeson Tn 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimetic MrNimetic Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimi LbNimi Lb 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimozox ForteNimozox Forte Tablet 200 Mg/2 Mg0.0
Nimsaid TNimsaid T 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nimulid MrNimulid Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Ninza MrNinza Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
Nixia MrNixia Mr 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
NiziNizi 100 Mg/2 Mg Tablet Dt0.0
NtizNtiz 100 Mg/2 Mg Tablet65.83
Oxin MrOxin Mr 100 Mg/2 Mg Capsule0.0
Proxyvon MrProxyvon Mr 100 Mg/2 Mg Capsule0.0
TeknoflexTeknoflex 100 Mg/2 Mg Tablet60.81
TizaflexTizaflex 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
TizarexTizarex 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
TromazineTromazine 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
ZuluZulu 100 Mg/2 Mg Tablet0.0
MoztinMoztin 100 Mg/2 Mg Tablet63.2
Nicip TNicip T 200 Mg/2 Mg Tablet34.0
NimetizNimetiz 100 Mg/2 Mg Tablet65.08
Nimos MrNimos Mr Tablet65.0
Nimtaz MrNimtaz Mr 100 Mg/2 Mg Tablet46.65
NimtyNimty Gel61.61
Nisel MrNisel Mr Tablet51.43
Nisul MrNisul Mr Tablet6.0
Nopain MrNopain Mr Tablet40.95
Orthobid MrOrthobid Mr 100 Mg/2 Mg Tablet70.0
Profinex MrProfinex Mr 2 Mg/200 Mg Tablet90.0
TizanimTizanim 100 Mg/2 Mg Tablet80.7
TizapTizap 100 Mg/2 Mg Tablet51.77
Tizarax NTizarax N 100 Mg/2 Mg Tablet34.05
Tizpa NTizpa N Tablet34.31
TizuTizu 100 Mg/2 Mg Tablet40.0
Twins TzTwins Tz 200 Mg/2 Mg Tablet52.63
ZalideZalide 100 Mg/2 Mg Tablet40.0
Zolandin MrZolandin Mr 100 Mg/2 Mg Tablet59.08
Zulu ForteZulu Forte 200 Mg/2 Mg Tablet88.2
Dicloran MrDicloran Mr 50 Mg/2 Mg Tablet49.0
TizadicTizadic 50 Mg/2 Mg Tablet57.36
Tizalud DTizalud D 50 Mg/2 Mg Tablet63.0
TizanacTizanac 50 Mg/2 Mg Tablet94.0
DitiDiti Tablet57.17
DolozinDolozin 50 Mg/2 Mg Tablet53.32
RoloflexRoloflex 50 Mg/2 Mg Tablet54.0
TizaranTizaran 50 Mg/2 Mg Tablet64.2
Tizpa DTizpa D Tablet34.0
Dilona MrDilona Mr 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet185.5
Tizalud DpTizalud Dp 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet63.75
Vozox MrVozox Mr 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet54.0
Dipane MrDipane Mr 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet11.18
Douse MrDouse Mr 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet50.31
PosturePosture 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet35.62
Tizpa DpTizpa Dp Tablet42.0
ZapdicZapdic 50 Mg/325 Mg/2 Mg Tablet54.62
Flexabenz PlusFlexabenz Plus 15 Mg/200 Mg Tablet172.0
Serezon MrSerezon Mr 50 Mg/15 Mg/2 Mg Tablet71.43
TizapamTizapam 400 Mg/2 Mg Tablet53.0
LumbrilLumbril Tablet20.58
TizafenTizafen 400 Mg/2 Mg Capsule67.92

मांसपेशियों में ऐंठन के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
Zandu Rhumasyl GelZandu Rhumasyl Ointment74.0
Zandu RhumasylZandu Rhumasyl Liniment150.0

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

और पढ़ें ...