• हिं

आपके परिवार का स्वास्थ्य हमेशा ही आपके लिए पहली प्राथमिकता होता है। इसके लिए आप अपनी तरफ से हर संभव कोशिश भी करते हैं कि वह सभी स्वस्थ और सुरक्षित रहें। अगर आप अपने परिवार के प्रति इतने समर्पित हैं और उनके लिए इतने ज्यादा चिंतित होते हैं तो निश्चित रूप से आपने फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स प्लान लिया होगा। बता दें यह किसी तरह का खर्च नहीं बल्कि आपके परिवार के स्वास्थ्य की स्वास्थ्य देखभाल के लिए बुरे वक्त के मद्देनजर किया गया निवेश है। अगर आपने फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स प्लान नहीं लिया है या आप इसको लेकर कोई कन्फ्यूज हैं तो आपकी सभी समस्याओं और प्रश्नों का उत्तर हम इस आर्टिकल में देने का प्रयास करेंगे।

(और पढ़ें - जानें myUpchar बीमा प्लस के बारे में)

  1. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स क्या है - What is Family Floater Health Insurance in Hindi?
  2. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स क्यों लें - Key Features of Family Floater Health Insurance in Hindi
  3. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स कैसे काम करता है - How Does Family Floater Health Insurance Works in Hindi
  4. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स के फायदे - Benefits of Family Floater Health Insurance in Hindi
  5. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स क्यों लिया जाए - Why should you opt for Family Floater Health Insurance in Hindi
  6. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स का प्रीमियम कैसे तय होता है - Factors Affecting the premium on a Family Floater Health Insurance in Hindi
  7. अपने लिए सर्वोत्तम फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स कैसे चुनें - Tips to Choose the Best Family Floater in Hindi
  8. फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स मिनिमम एंट्री एज - Eligibility for Family Floater Health Insurance plan in Hindi
  9. अपना फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स खुद डिजाइन करें - Can I Customize Family Floater Health Insurance for my Family in Hindi
  10. अपने फैमिली फ्लोटर में किसे शामिल कर सकते हैं - Who can be covered in family floater policy in Hindi?

सबसे पहले तो आपको यह जानना चाहिए कि असल में फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स होता क्या है। दरअसल यह भी एक हेल्थ इन्शुरन्स ही है, जिसमें आपके पूरे परिवार को कवर मिलता है। फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स की खासियत यह होती है कि इसमें एक ही पॉलिसी के अंदर परिवार के सभी सदस्यों को शामिल किया जा सकता है। यही नहीं इसमें पूरे परिवार के लिए एक (बीमा राशि) सम-इनश्योर्ड निश्चित किया जाता है। इस पूरी राशि को परिवार के किसी एक सदस्य के इलाज पर भी खर्च किया जा सकता है और जरूरत पड़ने पर परिवार के कई सदस्य भी इस राशि का इस्तेमाल कर सकते हैं। एक तरह से यह ऐसा लॉकर है, जिसकी चाबी परिवार के सभी सदस्यों के पास है और उसमें रखे पैसे का इस्तेमाल एक व्यक्ति या सभी अलग-अलग भी कर सकते हैं। फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स के लिए आपको पूरे परिवार के लिए एक ही प्रीमियम चुकाना होता है।

हेल्थ सर्विसेज की लागत जिस तरह से बढ़ रही हैं उन्हें देखते हुए हर किसी के पास हेल्थ इन्शुरन्स प्लान जरूर होना चाहिए। अब प्रश्न उठता है कि फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स ही क्यों लें? निम्न कारण जानकर आप भी कहेंगे मेरे परिवार के लिए फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स ही बेस्ट है :

  • परिवार के कई सदस्यों को इसमें एक साथ कवर किया जा सकता है।
  • आप और आपका परिवार छोटे शहर में रहते हैं या बड़े शहर में, इसके अनुसार आप अपना सम-इनश्योर्ड तय कर सकते हैं और उसी के अनुसार प्रीमियम भी कम-ज्यादा होता है। एक जैसे सम-इनश्योर्ड के लिए छोटे शहर और बड़े शहर के प्रीमियम में अच्छा खासा अंतर हो सकता है।
  • फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स में शामिल व्यक्ति किसी भी नेटवर्क अस्पताल में कैशलेस इलाज की सुविधा का लाभ उठा सकता है।
  • यदि आपके परिवार के सबसे वरिष्ठ व्यक्ति की उम्र 60 वर्ष से अधिक है तो आप को-पेमेंट का विकल्प चुनकर प्रीमियम कम रख सकते हैं।
  • दो, तीन और पांच साल के वेटिंग पीरियड्स के बाद बहुत सी प्री-एग्जिस्टिंग डिजीज को भी इसमें कवर किया जा सकता है।

एक परिवार में पति-पत्नी और दो बच्चे हैं, तो इन सभी को एक फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स में कवर किया जा सकता है। इस इन्शुरन्स का प्रीमियम परिवार के सबसे वरिष्ठ व्यक्ति की उम्र के अनुसार निर्धारित होता है। अब इसे एक उदाहरण से समझते हैं - मान लें कि इस परिवार ने फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स के तहत दस लाख का सम-इनश्योर्ड लिया है। अब परिवार का कोई भी एक व्यक्ति बीमार होकर अस्पताल में भर्ती होता है और उसके इलाज पर 5 लाख रुपये का खर्च आता है, जिसे इन्शुरन्स कंपनी चुका देती है। इस तरह से 10 लाख के सम-इनश्योर्ड में से अब पांच लाख रुपये बचे। इन पांच लाख रुपये को पूर्व में बीमार पड़ चुके व्यक्ति सहित परिवार के किसी भी व्यक्ति के बीमार पड़ने पर क्लेम किया जा सकता है। यानी यह 10 लाख सबसे लिए हैं और इसे कोई एक व्यक्ति भी इस्तेमाल कर सकता है। इसमें प्रति क्लेम कोई न्यूनतम राशि निर्धारित नहीं है और आप साल में अपने सम-इनश्योर्ड राशि के बराबर, जितनी बार जरूरत पड़े क्लेम कर सकते हैं।

(और पढ़ें - सबसे अच्छा हेल्थ इन्शुरन्स कौन सा है?)

फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स के निम्न फायदे होते हैं :

  • हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग हेल्थ इन्शुरन्स लेने के मुकाबले फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स सस्ता होता है।
  • फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स में आप परिवार के नए सदस्यों को भी आसानी से जोड़ सकते हैं।
  • परिवार के सभी सदस्यों के लिए एक हाई सम-इनश्योर्ड उपलब्ध होता है।
  • अस्पताल में भर्ती होने पर कैशलेस सुविधा मिलती है।
  • एक निश्चित वेटिंग पीरियड के पास मैटरनिटी कवर भी मिल सकता है।
  • पॉलिसी रिन्यु करते समय आप सम-इनश्योर्ड बढ़ा भी सकते हैं।

इस प्रश्न का आसान सा उत्तर यह है कि आपके पूरे परिवार को एक ही पॉलिसी के तहत, कम प्रीमियम में एक बड़ा सम-इनश्योर्ड मिल जाता है। अगर आपके परिवार में बच्चे भी हैं तो फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स प्लान आपके लिए बेस्ट हो सकता है। फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स लेकर आपको हर व्यक्ति के लिए अलग से हेल्थ इन्शुरन्स लेने के झंझट से भी मुक्ति मिल जाएगी। फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स में प्री और पोस्ट हॉस्पिटलाइजेशन से लेकर एम्बुलेंस कवर और एनुअल फ्री हेल्थ चेकअप की भी सुविधा मिल जाती है।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स में क्या-क्या कवर होता है)

अगर आपने फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स लेने का मन बना ही लिया है तो चलिए जानते हैं वह कौन से कारण हैं, जिनकी वजह से आपका प्रीमियम कम या ज्यादा हो सकता है : 

  • उम्र : माना जाता है कि कम उम्र के लोगों में स्वास्थ्य समस्याएं भी कम होती हैं, इसलिए वरिष्ठ लोगों के मुकाबले कम उम्र वाले व्यक्ति का प्रीमियम कम होता है। किसी भी पॉलिसी का प्रीमियम उसके सबसे वरिष्ठ सदस्य की उम्र के अनुसार तय होता है।
  • बॉडी मास इंडेक्स : आपके वजन और लंबाई के अनुसार बॉडी मास इंडेक्स की गणना होती है। बॉडी मास इंडेक्स अच्छा होने का मतलब है आप स्वस्थ हैं।
  • परिवार की मेडिकल हिस्ट्री : यदि आपके परिवार में किसी को कोई गंभीर बीमारी है तो माना जाता है कि भविष्य में वह बीमारी आपको भी हो सकती है, इसलिए आपका प्रीमियम ज्यादा हो सकता है।
  • धूम्रपान और शराब का सेवन : अगर आप धूम्रपान और शराब का सेवन करते हैं तो संभव है कि इन्शुरन्स कंपनी आपके अतिरिक्त प्रीमियम की मांग करे।
  • सम इनश्योर्ड : अपने अपने परिवार के लिए कितना कम इनश्योर्ड चाहते हैं उसके अनुसार ही आपका प्रीमियम तय किया जाता है।
  • राइडर्स : राइडर्स को एड ऑन कवर भी कहा जाता है। अगर आप अपनी पॉलिसी में कुछ अन्य सुविधाएं चाहते हैं (जैसे - हॉस्पिटल कैश, क्रिटिकल इलनेस कवर, डिसेब्लिटी कवर) तो आपको इसके लिए अतिरिक्त प्रीमियम देना होगा।
  • डिस्काउंट : अगर आप अपने फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स का एक साल का प्रीमियम चुकाने की बजाय एक साथ दो या तीन साल का प्रीमियम चुकाना चाहते हैं तो इस पर आपको कंपनी डिस्काउंट देती है। 

अपने परिवार के लिए बेस्ट फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स खरीदना चाहते हैं तो निम्न बातों पर गौर करें : 

  • आपको ऐसी पॉलिसी चुननी चाहिए, जिसमें प्री-एग्जिस्टिंग डिजीज के लिए कम से कम वेटिंग पीरियड हो।
  • पॉलिसी खरीदते समय ही सुनिश्चित कर लें कि आप भविष्य में सम-इनश्योर्ड बढ़ा पाएं।
  • ऐसी पॉलिसी का चुनाव करें, जिसे आप अपनी अधिकत्तम उम्र तक रिन्यु कर सकें।
  • यह जरूर देखें कि कंपनी के नेटवर्क में कितने अस्पताल हैं, जितने ज्यादा अस्पताल नेटवर्क में होंगे आपको उतनी ही ज्यादा कैशलेस सर्विस मिलेगी। इस बात की भी तस्दीक कर लें कि आप जहां रहते हैं, उसके आसपास मौजूद अस्पताल भी उस लिस्ट में शामिल हों।
  • पॉलिसी लेते समय यह जरूर पता कर लें कि आपकी चुनी हुई हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी में क्या कवर नहीं होता। अपने लिए ऐसी पॉलिसी का चुनाव करें, जिसमें कम से कम एक्सक्लूजन हों।
  • आप myUpchar बीमा प्लस को भी अपने परिवार के लिए फैमिली फ्लोटर के तौर पर चुन सकते हैं। इसमें बहुत ही कम प्रीमियम में तीन लाख तक का कवर मिलता है।

फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स में शामिल होने के लिए कम से कम उम्र 90 दिन होनी चाहिए। लेकिन इसके साथ एक कंडीशन यह है कि इस पॉलिसी में कम से कम एक व्यक्ति की उम्र 18 वर्ष से अधिक हो। जहां तक बात अधिकत्तम उम्र की आती है तो पॉलिसी लेते समय सबसे वरिष्ठ के व्यक्ति की उम्र के अनुसार प्रीमियम तय होता है। कई कंपनियों में 65 वर्ष से अधिक के व्यक्ति को नई पॉलिसी नहीं दी जाती है। हालांकि, अगर आपने पहले ही यह पॉलिसी ले ली हो तो इन्शुरन्स कंपनियां उसे रिन्यु करती रहती हैं।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स में क्या कवर नहीं होता)

इन्शुरन्स कंपनियां अलग-अलग तरह के परिवारों के लिए अलग-अलग फैमिली फ्लोटर डिजाइन करती हैं। इसके बावजूद आप अपने परिवार के लिए, अपनी जरूरतों के अनुसार फैमिली फ्लोटर डिजाइन कर सकते हैं। इसमें आप अतिरक्त सदस्य जोड़ने के साथ ही कई राइडर्स ले सकते हैं, जिसमें ओपीडी कवर, क्रिटिकल इलनेस, हॉस्पिटल कैश आदि शामिल होते हैं। आप प्री-एग्जिस्टिंग डिजीज के लिए वेटिंग पीरियड भी कम कर सकते हैं। हालांकि, अपनी पसंद के अनुसार फैमिली फ्लोटर डिजाइन करने पर आपको उसके लिए अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना पड़ेगा।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स के लाभ)

एक साधारण परिवार में पति-पत्नी और दो बच्चे शामिल होते हैं। अगर आप अपने परिवार के लिए फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स ले रहे हैं तो आप उसमें अपने माता-पिता को भी शामिल कर सकते हैं। कई कंपनियां सास-ससुर और भाई-बहन को भी फैमिली फ्लोटर हेल्थ इन्शुरन्स में शामिल करने का विकल्प देती हैं। यदि आपके दो से ज्यादा बच्चे हैं तो आप उन्हें भी इस पॉलिसी में जोड़ सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें, इन सबके लिए आपको अतिरिक्त प्रीमियम का भुगतान करना होगा।

(और पढ़ें - हेल्थ इन्शुरन्स और लाइफ इन्शुरन्स में क्या अंतर होता है)

cross
डॉक्टर से अपना सवाल पूछें और 10 मिनट में जवाब पाएँ