इटली की एक महिला के दातों के बीच बाल उगने का दुर्लभ मामला सामने आया है। महिला के बारे में पता चलने के बाद कई मेडिकल विशेषज्ञों ने इस पर हैरानी जताई है। मीडिया रिपोर्टों की मानें तो 'ओरल सर्जरी, ओरल मेडिसिन, ओरल पैथोलॉजी, ओरल रेडियोलॉजी' नाम की एक पत्रिका में प्रकाशित रिपोर्ट में इस महिला के बारे में बताया गया है। पत्रिका के मुताबिक 25 साल की महिला के दांतों के बीच मसूड़े से बाल निकल रहे हैं। जानकारों ने इसे 'हर्सुटिज्म' का एक दुर्लभ मामला बताया है। 

क्या है हर्सुटिज्म?
हर्सुटिज्म महिलाओं में होने वाले हार्मोनल बदलाव से जुड़ी एक ऐसी स्थिति है, जिसमें उनके चेहरे, छाती और पीठ आदि अंगों पर पुरुषों की तरह बाल (कम या ज्यादा) आने लगते हैं। मुंह के अंदर बालों का उगना भी इसमें शामिल है। जानकार बताते हैं कि अभी तक ऐसे सिर्फ पांच मामले सामने आए हैं। इन सभी में व्यक्तियों के मुंह के अंदर के अलग-अलग हिस्सों में बाल उगने दिखाई दिए थे।

ताजा मामले से जुड़ी महिला को लेकर कहा जा रहा है कि उसके शरीर में टेस्टोस्टेरोन की मात्रा काफी बढ़ गई थी। इसी कारण उसके मसूड़े से असाधारण रूप से बाल उगने लगे। महिला को करीब दस साल पहले किसी मेडिकल चेकअप के दौरान अपनी इस समस्या का पता चला था। तब वह 'पॉलीसिस्टिक ओवेरी सिंड्रोम' (पीसीओएस) नामक डिसऑर्डर से जूझ रही थी। जब उसने इसके टेस्ट करवाए तो पता चला कि उसके शरीर में टेस्टोस्टेरोन सामान्य से बहुत अधिक था।

(और पढ़ें - हर्सुटिज्म का इलाज)

वहीं, छह साल बाद जब महिला ने दवाइयां लेना बंद कर दिया तो उसकी यह समस्या और ज्यादा बढ़ गई। दवाई न लेने के चलते मुंह में कई जगहों से बाल उगना शुरू हो गए। मुंह के अलावा ठोढ़ी और गर्दन पर भी काफी बाल उग रहे थे। एक साल पहले जब महिला फिर अपनी समस्या लेकर आई तो पता चला कि मुंह में बाल उगने की समस्या तब तक खत्म नहीं हुई थी। ऐसा क्यों हो रहा था, इसे समझने के लिए डॉक्टर्स की टीम ने उसके मुंह के कुछ टिशुओं (ऊतक) को अलग कर उनका विश्लेषण किया। रिसर्च के दौरान पता चला कि महिला के मसूड़े सामान्य से अधिक मोटे थे। इसी वजह से उसका एक हेयर शाफ्ट (जहां से बाल निकलता है) आगे बढ़ गया था।

(और पढ़ें - मासिक धर्म क्या है?)

शोधकर्ताओं ने क्या कहा?
इस रिपोर्ट के लेखकों का मानना हैं कि गर्भावस्था में बच्चे के मुंह के अंदर के ऊतक, त्वचा का निर्माण करने वाले ऊतकों जैसे ही होते हैं। उन्होंने कहा कि जो ग्रंथियां त्वचा की बाहरी परत को चिकना बनाती हैं, वे मुंह के अंदर भी मौजूद होती हैं। इस कारण दुर्लभ मामलों में व्यक्ति को 'फॉरडाइस ग्रैनुअल्स' नामक समस्या पैदा हो सकती है। विश्लेषण के बाद लेखकों ने यह निष्कर्ष निकाला कि मुंह के अंदर से बाल का निकलना एक दुर्लभ घटना है और इसके कारणों को लेकर अभी पर्याप्त जानकारी प्राप्त नहीं की जा सकी है। 

क्या है पीसीओएस?
पॉलीसिस्टिक ओवेरी (पीसीओएस) एक ऐसी स्थिति है जिसमें महिलाओं के सेक्स हॉर्मोन्स एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन का संतुलन बिगड़ जाता है। पीसीओएस एक महिला के मासिक धर्म चक्र, प्रजनन क्षमता और हृदय को प्रभावित कर सकता है। हर्सुटिज्म, पीसीओएस का ही एक लक्षण है।

(और पढ़ें - पीसीओएस के लक्षण?)

टेस्टोस्टेरोन क्या है?
टेस्टोस्टेरोन टेस्टिकल्स द्वारा उत्पादित एक हार्मोन है, जिसका मुख्य कार्य पुरुषों के यौन अंगों का विकास करना है। टेस्टोस्टेरोन मांसपेशी द्रव्यमान, लाल रक्त कोशिकाओं के पर्याप्त स्तर, स्मृति, हड्डियों के विकास, स्वस्थ होने की भावना और यौन कार्य को बनाए रखने के लिए भी महत्वपूर्ण है। यह शुक्राणु उत्पादन करने के साथ-साथ कामेच्छा को भी बढ़ाता है।

(और पढ़ें - टेस्टोस्टेरोन की कमी के लक्षण)

ऐप पर पढ़ें