myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

Twiciclox DT

खरीदने के लिए पर्चा जरुरी है

Twiciclox DT

खरीदने के लिए पर्चा जरुरी है

Amoxicillin, Cloxacillin साल्ट से बनी दवाएं:

Twiciclox DT के सारे विकल्प देखें

खरीदने के लिए पर्चा जरुरी है

cashback
cashback
cashback
पर्चा अपलोड करके आर्डर करें

पर्चा अपलोड करके आर्डर करें वैध पर्चा कैसा होता है ? आपके अपलोड किए गए पर्चे

Twiciclox DT की जानकारी

Amoxicillin - अमोक्सिसिलिन

Amoxicillin का उपयोग बैक्टीरियल संक्रमण के उपचार में किया जाता है।

इसका इस्तेमाल बुखार या गले के संक्रमण या पौरुष ग्रंथि (प्रोस्टेट) के संक्रमण या मूत्र पथ के संक्रमण (UTI) के लिए भी किया जा सकता है (सिर्फ़ तभी जब यह किसी ऐसे संक्रमण से जुड़ा हो जिसे Amoxicillin के इस्तेमाल से ठीक किया जा सकता है। लेकिन Amoxicillin लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें)।

इसका इस्तेमाल फोड़े, बैक्टीरियल वैजिनोसिस (Bacterial Vaginosis), कान संक्रमण, डिवेरटिक्युलेटिस (Diverticulitis) के उपचार के लिए भी किया जा सकता है।

Cloxacillin - क्लोक्सासिलिन

Cloxacillin का उपयोग बैक्टीरिया से होने वाले संक्रमण के उपचार में किया जाता है।

यह कान, नाक, गले, फेफड़े (निमोनिया), त्वचा और त्वचा की संरचना में संक्रमण, मूत्र मूत्राशय के संक्रमण (cystitis), हृदय के वाल्वों के संक्रमण, हड्डियों के संक्रमणों को प्रभावित करने वाले शरीर में बैक्टीरियल संक्रमणों का इलाज करने के लिए प्रयोग किया जाता है,विशेष रूप से उनका जो प्रतिरोधी स्टेफेलोोकोकस बैक्टीरिया की वजह से उत्पन्न होते हैं।

Twiciclox DT के लाभ और उपयोग करने का तरीका - Twiciclox DT Benefits & Uses in Hindi

Twiciclox DT इन बिमारियों के इलाज में काम आती है -

Twiciclox DT की खुराक और इस्तेमाल करने का तरीका - Twiciclox DT Dosage & How to Take in Hindi

Amoxicillin - अमोक्सिसिलिन

Amoxicillin एक एंटीबायोटिक है। यह बैक्टीरिया की सेल वाल पर हमला करके उसको मारता है। यह सेल वाल में पेप्टाइडोग्लाइकन (Peptidoglycan) नामक पदार्थ के संश्लेषण को रोकता है, जो कि बैक्टीरिया के अस्तित्व के लिए ज़रूरी पदार्थ है। 

Cloxacillin - क्लोक्सासिलिन

Cloxacillin एक एंटीबायोटिक है। यह उनकी कोशिका बित्ति (सेल वॉल) पर हमला करके बैक्टीरिया को मारता है। विशेष रूप से, यह पेप्टाइडोग्लाइकन नामक कोशिका की बित्ति में एक पदार्थ के संश्लेषण को रोकता है, जो कोशिका बित्ति को शक्ति प्रदान करते हैं जिससे मानव शरीर मे बॅक्टीरिया का आस्तित्व बना रहे।

यह अधिकतर मामलों में दी जाने वाली Twiciclox DT की खुराक है। कृपया याद रखें कि हर रोगी और उनका मामला अलग हो सकता है। इसलिए रोग, दवाई देने के तरीके, रोगी की आयु, रोगी का चिकित्सा इतिहास और अन्य कारकों के आधार पर Twiciclox DT की खुराक अलग हो सकती है।

दवाई की खुराक बीमारी और उम्र के हिसाब से जानें

दवाई की मात्र देखने के लिए लॉग इन करें

Twiciclox DT की सामग्री - Twiciclox DT Active Ingredients in Hindi

Amoxicillin
Cloxacillin

Twiciclox DT के नुकसान, दुष्प्रभाव और साइड इफेक्ट्स - Twiciclox DT Side Effects in Hindi

रिसर्च के आधार पे Twiciclox DT के निम्न साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं -

  1. लाल चकत्ते
  2. खुजली या जलन
  3. एलर्जी
  4. मतली या उलटी
  5. दस्त

Twiciclox DT से सम्बंधित चेतावनी - Twiciclox DT Related Warnings in Hindi

क्या Twiciclox DT का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

Twiciclox Dt का गर्भवती महिलाओं पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है।

सौम्य

क्या Twiciclox DT का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

Twiciclox Dt का कोई भी बुरा प्रभाव स्तनपान कराने वाली महिलाओं पर नहीं पड़ता है।

सौम्य

Twiciclox DT का प्रभाव गुर्दे पर क्या होता है?

Twiciclox Dt के इस्तेमाल से किडनी को किसी प्रकार से हानि नहीं होती है।

सौम्य

Twiciclox DT का जिगर (लिवर) पर क्या असर होता है?

Twiciclox Dt को लेने से लीवर में कोई दुष्प्रभाव नहीं होते है।

सौम्य

क्या ह्रदय पर Twiciclox DT का प्रभाव पड़ता है?

Twiciclox Dt को बिना घबराए ले सकते हैं। यह पूरी से आपके हृदय के लिए सुरक्षित है।

सौम्य

Twiciclox DT का निम्न दवाइयों के साथ नकारात्मक प्रभाव - Severe Interaction of Twiciclox DT with Other Drugs in Hindi

Twiciclox DT को इन दवाइयों के साथ लेने से गंभीर दुष्प्रभाव या साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं -

Allopurinol

Ciprofloxacin

Erythromycin

इन बिमारियों से ग्रस्त हों तो Twiciclox DT न लें या सावधानी बरतें - Twiciclox DT Contraindications in Hindi

अगर आपको इनमें से कोई भी रोग है तो, Twiciclox DT को न लें क्योंकि इससे आपकी स्थिति और बिगड़ सकती है। अगर आपके डॉक्टर उचित समझें तो आप इन रोग से ग्रसित होने के बावजूद Twiciclox DT ले सकते हैं -

Twiciclox DT के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न - Frequently asked Questions about Twiciclox DT in Hindi

क्या Twiciclox DT आदत या लत बन सकती है?

Twiciclox Dt की लत नहीं लगती, लेकिन फिर भी आपको इसे लेने से पहले सर्तकता बरतनी बेहद जरूरी है और इस विषय पर डॉक्टरी सलाह अवश्य लें।

क्या Twiciclox DT को लेते समय गाड़ी चलाना या कैसी भी बड़ी मशीन संचालित करना सुरक्षित है?

वाहन चलाने के अलावा मशीनरियों के बीच काम करने में सतर्कता की जरूरत होती है, ऐसे में आप Twiciclox Dt का सेवन करके भी इन कामों को आसानी से कर सकते हैं।

खतरनाक

क्या Twiciclox DT को लेना सुरखित है?

डॉक्टर के कहने के बाद ही Twiciclox Dt का सेवन करें। वैसे यह सुरक्षित है।

हाँ, पर डॉक्टर की सलाह पर

क्या मनोवैज्ञानिक विकार या मानसिक समस्याओं के इलाज में Twiciclox DT इस्तेमाल की जा सकती है?

नहीं, Twiciclox Dt किसी भी तरह के दिमागी विकार का इलाज नहीं कर पाती है।

नहीं

Twiciclox DT का भोजन और शराब के साथ नकारात्मक प्रभाव - Twiciclox DT Interactions with Food and Alcohol in Hindi

क्या Twiciclox DT को कुछ खाद्य पदार्थों के साथ लेने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है?

Twiciclox Dt को कुछ विशेष तरह के आहार के साथ लेने से दवा का शरीर पर होने वाला असर कुछ समय बाद होना शुरू होता है।

सुरक्षित

जब Twiciclox DT ले रहे हों, तब शराब पीने से नकारात्मक प्रभाव पड़ता है क्या?

इसके बारे में फिलहाल कोई शोध कार्य नहीं किया गया है। सही जानकारी मौजूद न होने की वजह से Twiciclox Dt का क्या असर होगा इस विषय पर अनुमान लगा पाना मुश्किल होगा।

अनजान

Twiciclox DT से जुड़े सवाल और जवाब

सवाल 9 महीना पहले

क्‍या Twiciclox DT से साइनस इंफेक्‍शन का इलाज हो सकता है?

Dr. Piyush Malav MBBS, MS, सामान्य शल्यचिकित्सा

जी हां, Twiciclox DT से साइनस इंफेक्‍शन का इलाज किया जा सकता है। हालांकि, साइनस इंफेक्‍शन के इलाज के लिए सबसे पहले Twiciclox DT के साथ क्‍लैवुलेनिक एसिड की खुराक दी जाती है। साइनस इंफेक्‍शन के उचित इलाज के लिए डॉक्‍टर से सलाह लें।

सवाल लगभग 1 साल पहले

क्‍या Twiciclox DT जुकाम को रोकती है?

Dr. Haleema Yezdani MBBS, सामान्य चिकित्सा

Twiciclox DT जुकाम रोकने में मदद नहीं करती है क्‍योंकि जुकाम एक वायरल इंफेक्‍शन है। हालांकि, अगर किसी बैक्‍टीरियल इंफेक्‍शन के कारण जुकाम हुआ है तो Twiciclox DT का इस्‍तेमाल किया जा सकता है। जुकाम के इलाज के लिए डॉक्‍टर की सलाह पर ही दवा लेना उचित रहता है।

सवाल एक साल के ऊपर पहले

Twiciclox DT कैसे काम करती है?

Dr. Uday Nath Sahoo MBBS, आंतरिक चिकित्सा

Twiciclox DT बैक्‍टीरिया को बढ़ने से रोकने का काम करती है। इस तरह Twiciclox DT शरीर को बैक्‍टीरियल इंफेक्‍शन से बचाती है।

सवाल 8 महीना पहले

क्‍या Twiciclox DT के कारण यीस्‍ट इंफेक्‍शन हो सकता है?

ravi udawat MBBS, सामान्य चिकित्सा

जी हां, Twiciclox DT के कारण खासतौर पर महिलाओं को यीस्‍ट इंफेक्‍शन हो सकता है। अगर Twiciclox DT लेने के बाद आपको यीस्‍ट इंफेक्‍शन के लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो तुरंत अपने डॉक्‍टर या गायनेकोलॉजिस्‍ट को इस बारे में बताएं।

सवाल 9 महीना पहले

क्‍या बिना पर्ची के Twiciclox DT ले सकते हैं?

Dr. Manju Shekhawat MBBS, सामान्य चिकित्सा

बिना पर्ची के Twiciclox DT नहीं ले सकते हैं। Twiciclox DT एक प्रिस्‍किप्‍शन दवा है और डॉक्‍टर के प्रिस्क्रिप्‍शन के बिना सीधा फार्मेसी से इसे खरीदा नहीं जा सकता है। डॉक्‍टरी परामर्श के बिना अपनी मर्जी से एंटी-बायोटिक्‍स लेने पर आपको इसके दुष्‍परिणाम झेलने पड़ सकते हैं।

This medicine data has been created by -
Md Saadullah
M.Pharma, Pharmacy
3 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर प्रोफाइल देखें
Vikas Chauhan
B.Pharma, Pharmacy
2 वर्षों का अनुभव
डॉक्टर प्रोफाइल देखें

क्या आप या आपके परिवार में कोई Twiciclox DT लेता है ? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. US Food and Drug Administration (FDA) [Internet]. Maryland. USA; Package leaflet information for the user; Amoxil (amoxicillin)
  2. KD Tripathi. [link]. Seventh Edition. New Delhi, India: Jaypee Brothers Medical Publishers; 2013: Page No 657, 658, 702, 712, 721, 722, 723, 762
  3. April Hazard Vallerand, Cynthia A. Sanoski. [link]. Sixteenth Edition. Philadelphia, China: F. A. Davis Company; 2019: Page No 148-150
  4. KD Tripathi. [link]. Seventh Edition. New Delhi, India: Jaypee Brothers Medical Publishers; 2013: Page No 721
  5. Product Description [Internet]: AMOXIL®. GSK
  6. KD Tripathi. Essentials of Medical Pharmacology. Seventh Edition. New Delhi, India: Jaypee Brothers Medical Publishers; 2013: Page No 721-722