myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

बाल किसी भी व्यक्ति का आत्मविश्वास होते हैं और जब बात महिलाओं की हो तो बालों की आवश्यकता का बखान करने की शायद ही ज़रूरत हो क्योंकि इनसे ही उनकी ख़ूबसूरती में चार चाँद लगते हैं। अगर यकीन न आये तो आप किसी भी गंजे व्यक्ति को देख लीजिये। इसलिए जब ये बाल अचानक सुस्त, नाज़ुक और बेजान हो जाते हैं तो सारा ध्यान उन्हीं में लग जाता है। असल में बाल सूरज की किरणों, क्लोरीन, और नमक वाले पानी के अधिक संपर्क में आने पर शुष्क हो सकते हैं। इनके अलावा स्टाइलिंग और रासायनिक उत्पादों के उपयोग के कारण भी बालों में रूखापन आ सकता है। इस लेख में हम रूखे बालों के कारण और इलाज और बालों में रूखेपन की समस्या से बचने के तरीकों के बारे में चर्चा करेंगे जिससे आपको अपने बालों की समस्या का समाधान करने में मदद मिल सके। 

(और पढ़ें - रूखे और बेजान बालों का घरेलू उपाय)

  1. रूखे बालों के कारण - Dry hair causes in Hindi
  2. बालों को रूखा होने से बचाने के उपाय - Prevent hair from getting dry in Hindi
  3. रूखे बालों का इलाज - Treatment for dry hair in Hindi

रूखे बालों के कारण - Dry hair causes in Hindi

बालों के रूखे और बेजान होने के कारण इस प्रकार हैं:

  1. हीट स्टाइलिंग उपकरण का अत्यधिक उपयोग
    बालों पर हेयर ड्रायर (Dryers), कर्लर (Curlers) और स्ट्रेटनर (Straighteners) का बहुत ज्यादा उपयोग भी बालों के टूटने, रूखे और बेजान होने का एक प्रमुख कारण होता है। यदि आपको आपके बाल रूखे, बेजान और दोमुहे लग रहे हैं, तो बार बार ट्रिम करवाने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा क्योंकि ऐसा आपके स्टाइलिंग उपकरण के कारण हो रहा है।

    इन उपकरणों का उपयोग कम से कम करना चाहिए। वैसे अपने बालों की प्राकृतिक बनावट को अपनाना सबसे अच्छा विकल्प है। बाल, स्टाइलिंग उपकरणों की गर्मी सहन नहीं कर पाते हैं, तो उसको कम करने के लिए आप वैकल्पिक रूप से, अपने बालों पर उनके उपयोग से पहले एक स्प्रे का उपयोग करें।
     
  2. खराब या गलत हेयर केयर प्रोडक्ट्स का उपयोग
    अपने अक्सर पार्लर या टीवी पर भी देखा होगा कि स्टाइलिस्ट बालों पर कोई भी प्रोडक्ट लगाते समय दस्ताने पहनते हैं। लेकिन क्या अपने कभी सोचा है वो ऐसा क्यों करते हैं? वास्तव में इन उत्पादों में मौजूद रसायन किसी भी चीज़ के संपर्क में आने पर उसे जला सकते हैं और प्राकृतिक चमक तो छीन ही लेते हैं। इसलिए उसका असर उनके हाथों पर न हो, स्टाइलिस्ट दस्तानों का उपयोग करते हैं। आपके सिर की त्वचा आपके हाथ पैरों की त्वचा की तुलना में अधिक छिद्रयुक्त होती है, इसलिए उस पर इतने तेज़ रसायनों का उपयोग करने से तनाव का सामना करना पड़ सकता है। अब आप खुद सोचिये जब ये प्रोडक्ट्स हाथों पर उपयोग करने योग्य नहीं हैं तो इनके उपयोग के बाद आपके बालों का क्या हाल होता होगा।
     
  3. अत्यधिक बाल धोने के कारण
    अगर आप अपने बालों को बहुत ज्यादा शैम्पू करती हैं तो भी आपके बाल रूखे हो सकते हैं। हालांकि शैम्पू करने की मात्रा हर व्यक्ति के लिए अलग होती है लेकिन एक सप्ताह में दो से तीन बार शैम्पू करना आदर्श माना जाता है। कई लोग, विशेष रूप से लंबे बालों वाली महिलाएं बाल "गंदे" महसूस होने के कारण हर दूसरे दिन शैंपू करती हैं। बहुत अधिक शैम्पू करने से बालों के प्राकृतिक और सुरक्षात्मक तेल बालों से निकल जाते हैं जो इसे चमक देते हैं। इससे सिर की त्वचा भी रूखी और खुजलीदार होती है और बाल भी रूखे हो जाते हैं।
     
  4. बालों पर रंगों (डाई) और ब्लीच का अधिक उपयोग
    हेयर कलर और ब्लीच में आमतौर पर कठोर रसायन पाए जाते हैं जो बालों में मौजूद प्राकृतिक तेलों को नष्ट करते हैं। अपने बालों को चमकदार और स्वस्थ रखते हुए उन्हें कलर करने के लिए आप मेहंदी का उपयोग कर सकते हैं।
     
  5. पर्यावरणीय कारक
    आप जिस वातावरण में रहते हैं, वह भी आपके बालों को रूखा बना सकता है। सूरज की अत्यधिक गर्मी, ठंडी हवाओं और कम नमी आदि से भी आपके बालों पर अत्यधिक प्रभाव पड़ता है। इसे आप ऐसे समझ सकती हैं कि जब आप गहरे रंग के कपड़े धूप में सुखाती हैं तो उनका रंग जिस प्रकार फीका पड़ जाता है ठीक उसी प्रकार आपके बालों की चमक भी धूप के संपर्क में आने पर फीकी हो जाती है। यदि आप उष्णकटिबंधीय जलवायु (Tropical climate) में रहते हैं, तो संभावना है कि आप क्लोरीनयुक्त पानी में अधिक समय बिताते हैं, जो बालों को रूखा बनाने के लिए प्रसिद्द है।
     
  6.  दवाएं
    कई दवाओं के कारण भी बाल रूखे और पतले हो जाते हैं। जिनमें अवसादरोधी, एंटीबायोटिक, मुहासों की दवाएं, एंटिफंगल, कीमोथेरेपी वाली दवाएं, हाई बीपी की दवाएं, वजन घटाने की दवाएं, गठिया और कई अन्य दवाएं आती हैं। डॉक्टर से परामर्श किए बिना कोई भी दवा लेना बंद या बदलनी नहीं चाहिए। लेकिन डॉक्टर से अपनी चिंताओं, समस्या के लक्षणों और संभावित विकल्पों के बारे में बात करें। कभी-कभी सिर्फ दवाएं बदलकर शुष्क बालों की समस्या का समाधान हो जाता है।

बालों को रूखा होने से बचाने के उपाय - Prevent hair from getting dry in Hindi

निम्नलिखित सरल उपायों को अपनाकर आप अपने बालों को रूखा और बेजान होने से बचा सकती हैं:

  1. सही विधि से शैम्पू करें: अपने बालों का टाइप (Hair type) जानकार उसके अनुसार ही शैंपू चुनें। कई शैंपू डिटर्जेंट जैसी सामग्रियों से मिलकर बने होते हैं, जिन्हें सल्फेट (Sulfate) कहा जाता है ताकि अतिरिक्त गंदगी और तेल निकाला जा सके। लेकिन ये वास्तव में बालों को नुकसान पहुंचाते हैं। शैम्पू लेते समय एक बार चेक कर लें कि उसपर "सल्फेट फ्री" लिखा हो। और डायमेथिकोन (Dimethicone) घटक की उपस्थिति भी चेक कर लें। यह बालों में चमक और प्रबंधन क्षमता (Manageability) बढ़ाता है।
  2. बालों को मॉइस्चराइज ज़रूर करें: हर बार शैम्पू करने के बाद, शुष्क या डैमेज बालों के लिए बने कंडीशनर का ही उपयोग करें। आप डीप कंडीशनर, जिन्हें प्रोटीन पैक भी कहा जाता है, का उपयोग भी क्र सकती हैं। अगर आपके बाल ज्यादा रूखे हैं तो एक महीने में केवल एक ही उपचार की आवश्यकता हो सकती है। यदि आपके बाल बहुत शुष्क हैं तो एक हफ्ते में एक या दो बार ही कंडीशनर का उपयोग करें। बेहतर समझने के लिए आप स्टाइलिस्ट से भी संपर्क कर सकती हैं।
  3. सही तरह से कंघी करें: शुष्क, डैमेज बालों के टूटने की संभावना अधिक होती है क्योंकि ये बहुत कमजोर होते हैं। गरत तरीके से कंघी या ब्रश करने से बाल खिंचते हैं जो इनके टूटने का कारण बनते हैं। इसलिए बालों के लिए बड़े दांतों वाले कंघे का उपयोग करें, जो विशेष रूप से नहाने के बाद कंघी करने के लिए बनाया गया है। क्योंकि खींचे बिना गीले बालों को काढ़ना अधिक मुश्किल होता है।
  4. बालों को अच्छी प्रकार सुखाएं: अपने रूखे बालों को टूटने से बचाने के लिए सख्ती से रगड़ने के बजाय, तौलिया की मदद से आराम से सुखाएं।
  5. हीट स्टाइलिंग उपकरणों का उपयोग कम करें: हफ्ते में ज़रूरत पड़ने पर एक ही बार हीट स्टाइलिंग उपकरण का उपयोग करें। और कम तापमान वाले ड्रायर और कर्लिंग उपकरणों का ही प्रयोग करें। इसके अलावा इन उपकरणों का उपयोग करने के बाद अपने बालों पर, जेल या हेयर क्रीम और इन उपकरणों का उपयोग करने से पहले, हीट प्रॉटेक्टिव स्प्रे या सीरम लगाएं। इससे बालों पर इन उपकरणों की गर्माहट का कम असर पड़ता है।

रूखे बालों का इलाज - Treatment for dry hair in Hindi

अगर धूल, धूप, प्रदूषण या किसी भी वजह से आपके भी बाल रूखे और बेजान हो गए हैं तो नीचे कुछ ऐसे उपाय दिए गए हैं जो रूखे बालों में पुराणी चमक वापस लाने के लिए किये जाने चाहिए। आइये जानते हैं क्या हैं ये उपाय?

1. अपने बालों को कम से कम धोएं - जब आपके बाल रूखे होते हैं, तो जल्दी जल्दी बाल धोने से उनकी रही बची नमी भी चली जाती है। जिससे आपके बाल और अधिक रूखे लगते हैं।

  1. यदि आप वर्तमान में हर रोज बाल धोती हैं, तो अब से दो दिन बाद बाल धोएं। यदि आप हर दूसरे दिन बाल धोती हैं, तो अब से हर तीसरे दिन बाद धोएं।
  2. जितना संभव हो उतना अधिक समय में बालों को धोएं इससे उनकी प्राकृतिक नमी बरकरार रहती है। यदि आपकी जड़ें चिकनी हैं या आपके बाल एक वाश के बाद भी चिकने ही रहते हैं, तो अतिरिक्त तेल को सोखने के लिए ड्राई शैम्पू का उपयोग करें।

2. शैम्पू के बजाय क्लींजिंग कंडीशनर का उपयोग करें - असल में शैंपू में सल्फेट और अन्य रसायन होते हैं जो बालों को रूखा बनाते हैं। शैम्पू के बजाय क्लींजिंग कंडीशनर का उपयोग करें, जो एक ही समय में प्राकृतिक तेलों को साफ़ करने और कंडीशनिंग दोनों काम करता है। (और पढ़ें - रूखे बालों के लिए शैम्पू)

  1. कंडीशनर लगाने से पहले अपने बालों को पूरी तरह से भिगो लें।
  2. क्लींजिंग कंडीशनर का उपयोग जड़ से लेकर बालों के अंत तक करें।
  3. यदि आप क्लीनिंग कंडीशनर का उपयोग नहीं करना चाहती हैं, तो सल्फेट मुक्त, प्राकृतिक शैम्पू चुनें। सुनिश्चित करें कि उसमें ऑर्गन आयल, बादाम का तेल, नारियल का दूध, शहद, एलोवेरा, शिया बटर, और अन्य प्राकृतिक सामग्रियां मौजूद हों। (और पढ़ें - नारियल के दूध के फायदे)

3. अपने बालों को ठंडे पानी से धोएं - बालों को धोने के लिए गर्म पानी का उपयोग न करें। पानी की गर्मी वास्तव में बालों को रूखा बनाती है, जिससे यह अधिक नाजुक और डीहाइड्रेट हो जाते हैं। इसलिए बालों की सफाई के लिए ठंडे पानी का उपयोग करें।

4. लीव इन कंडीशनर (Leave in conditioner) का उपयोग करें - क्लींजिंग कंडीशनर के उपयोग के बाद आपको और किसी कंडीशनर का उपयोग करने की आवश्यकता नहीं होती है। हालांकि, फिर भी अपने बालों में नमी बढ़ाने के लिए आप लीव इन कंडीशनर का उपयोग कर सकती हैं। यह एक ऐसा कंडीशनर होता है जो तब तक बालों में लगा रह सकता है जब तक दोबारा बाल धोने की आवश्यकता न पड़े।

  1. पतले बालों पर लीव इन कंडीशनर का एक स्प्रे अच्छा काम करता है।
  2. मोटे या घुंघराले बालों के लिए लीव इन कंडीशनर की क्रीम या लोशन बेहतर होता है।
  3. उपयोग करने के उचित तरीके जानने के लिए लीव इन कंडीशनर की बोतल पर दिए गए निर्देशों का पालन करें।

5. मोटे दांतों वाले कंघे या ब्रश से अपने बाल ब्रश करें - जब आपके बाल रूखे होते हैं, तो सिंथेटिक दांतों वाले ब्रश से आपके बाल टूटने लगते हैं। इसलिए अपने बालों के लिए मोटे दांतों वाले अधिक कोमल कंघे या ब्रश का उपयोग करें।

6. हीट स्टाइलिंग उपकरणों का उपयोग एक सीमा तक ही करें - जैसे कर्लिंग या फ्लैट आयरन आपके बालों को और अधिक रूखा बना सकते हैं। एक हफ्ते में एक बार ही इनका उपयोग सीमित करें। बालों को सुखाने वाले ड्रायर के उपयोग से भी आपके बालों की नमी नष्ट होती है।

जब भी आप हीट स्टाइलिंग उपकरणों का उपयोग करें तो हमेशा उनकी गर्मी से रक्षा करने वाले उत्पाद जैसे स्प्रे, क्रीम, जेल आदि बालों पर पहले लगाएं। यह आपके बाल को अतिरिक्त नमी देते हैं ताकि जब आप इन उपकरणों का उपयोग करें तो आपके बालों की प्राकृतिक नमी न खोए।

7. बालों में तेल लगाएं - रूखे बालों को अतिरिक्त नमी की आवश्यकता होती है, इसलिए अपने स्टाइलिंग रूटीन में बालों में तेल लगाना भी शुरु करें। यह आपके बालों को हाइड्रेट और नमी प्रदान करने का एक अच्छा तरीका है।

  1. रूखे और बेजान बालों के लिए ऑर्गन तेल सबसे अच्छा तेल माना जाता है। (और पढ़ें - रूखे बालों के लिए तेल)
  2. गीले बालों के लिए, अपने हाथों में थोड़ा सा तेल लें और बाहर की ओर तेल लगाएं। यह बालों में चमक लाने का काम करता है। (और पढ़ें - बालों को बढ़ाने का तेल)

8. यूवी किरणों से बचने के लिए हेअर स्प्रे का उपयोग करें - जब आप अपने बालों को स्टाइल कर लें तो हेअर स्प्रे की मदद से इसे सेट करें। अल्कोहल मुक्त हेअर स्प्रे बालों के लिए सबसे अच्छा होता है क्योंकि यह आपके बालों को रूखा नहीं बनाता। ऐसे में आपको यूवी किरणों से संरक्षण प्रदान करने वाला स्प्रे उपयोग करना चाहिए।

यदि आप स्प्रे का इस्तेमाल नहीं करना चाहती हैं, तो बालों की रक्षा के लिए हैट का उपयोग करें।

9. हर हफ्ते बालों में डीप कंडीशनर का उपयोग करें। अपने रूखे बालों की नमी बरक़रार रखने के लिए सप्ताह में एक बार बालों की डीप कंडीशनिंग करनी चाहिए। बालों को धोने के बाद डीप कंडीशनर लगाएं और इसे बालों में 10 से 20 मिनट के लिए सूखने दें।
मॉइस्चराइजिंग चीज़ों से युक्त डीप कंडीशनर खरीदें जिसमें, ग्लिसरीन, शिया बटर, जैतून का तेल, ऑर्गन तेल और किरेटिन (keratin) या अन्य प्रोटीन मौजूद हों।

10. प्राकृतिक हेयर मास्क का उपयोग करें। आपकी रसोई में मौजूद कई सामग्रियाँ वास्तव में रूखे बालों की नमी और मज़बूती वापस ला सकती हैं। मेयोनेज़ (Mayonnaise- एक व्यंजन जिसे अंडो, तेल मलाई और सिरके के साथ परसा जाता है) और शहद, रूखे बालों के लिए आदर्श कंडीशनर हैं। इन्हें गीले बालों पर लगाएं और कम से कम 20 मिनट तक लगा रहने दें। फिर इसे गुनगुने पानी से धो लें।

शुष्क बालों को मॉइस्चराइज करने के लिए अंडे की जर्दी भी उत्कृष्ट है। 5 से 6 अंडों की जर्दी, साफ और गीले बालों पर लगाएं और इसे 20 मिनट तक लगा रहने दें। 20 मिनट बाद इसे ठंडे पानी से धो दें। (और पढ़ें - डल और ड्राई बालों के लिए ज़रूर करें इस हेयर मास्क का इस्तेमाल)

11. अपने आहार में ओमेगा-3 फैटी एसिड की अधिक मात्रा शामिल करें। जो खाद्य पदार्थ आप कहती हैं वो आपके बालों को भी समान रूप से प्रभावित करते हैं। रूखे बालों के लिए, ओमेगा-3 फैटी एसिड से समृद्ध आहार खाने से आपकी खोपड़ी (Scalp) में प्राकृतिक तेलों के निर्माण में मदद मिलती है।

  1. ट्यूना (Tuna), अंडे की जर्दी (Egg yolks), अखरोट, और पालक सभी ओमगा-3 फैटी एसिड से समृद्ध होते हैं। (और पढ़ें - अखरोट के फायदे और नुकसान)
  2. इनके अलावा आप डॉक्टर से सलाह लेकर ओमेगा-3 फैटी एसिड के सप्प्लिमेंट्स (Supplements) भी ले सकती हैं।

12. सोते समय ह्युमिडिफायर (Humidifier) का उपयोग करें। यदि आप शुष्क वातावरण में रहती हैं या मौसम शुष्क है, तो बाहर का वातावरण आपके बालों को प्रभावित कर सकता है। ऐसे में अपने बेडरूम में एक ह्युमिडिफायर रखें और सोते समय उसे ज़रूर उपयोग करें, क्योंकि यह नमी पैदा करेगा जो सोते समय आपके बालों को हाइड्रेट और कंडीशन करता है।

13. समय समय पर अपने बालों की ट्रिमिंग (Trimming) करवाती रहें। शुष्क बालों के छोर आमतौर पर सबसे अधिक डिहाइड्रेट और नाज़ुक होते हैं। अपने बालों को अच्छा रखने के लिए, हर छह से आठ सप्ताह में अपने बाल कटवाती रहें।


और पढ़ें ...