myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -
संक्षेप में सुनें

तनाव (स्ट्रेस) क्या है?

तनाव यह शब्द अभी भी हमारे जीवन में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। हालांकि यह कहना सुरक्षित है कि कुछ हासिल करने के लिए परेशानी या चिंता करना निश्चित रूप से आपको अपने लक्ष्य की ओर ले जाता है, लेकिन अगर आप अपने जीवन में भावनात्मक तनाव महसूस करते हैं तो यह एक स्वस्थ संकेत नहीं है। बहुत अधिक तनाव मानसिक समस्याओं का मूल कारण हो सकता है।

(और पढ़ें - मानसिक रोग दूर करने के उपाय)

चिकित्सा प्रक्रिया को समझने के लिए पहले इस समस्या को समझना होगा। आजकल ऐसे व्यक्ति की कल्पना करना असंभव है, जो मानसिक तनाव का अनुभव ना करता हो। फिर चाहे वह व्यक्तिगत, सामाजिक या आर्थिक समस्या ही क्यों ना हो। अधिकांश लोगों को इन समस्याओं से जूझने में तनाव के दौर से गुजरना पड़ता है। मानसिक तनाव या स्ट्रेस भी तन और मन दोनों पर बुरा असर डालता है जिससे कई शारीरिक और मानसिक बीमारियां जन्म लेती हैं।

(और पढ़ें - मानसिक रोग के प्रकार)

  1. तनाव के लक्षण - Stress Symptoms in Hindi
  2. तनाव के कारण - Stress Causes in Hindi
  3. तनाव से बचाव - Prevention of Stress in Hindi
  4. तनाव का परीक्षण - Diagnosis of Stress in Hindi
  5. तनाव का इलाज - Stress Treatment in Hindi
  6. तनाव की दवा - Medicines for Stress in Hindi
  7. तनाव की ओटीसी दवा - OTC Medicines for Stress in Hindi
  8. तनाव के डॉक्टर

तनाव के लक्षण - Stress Symptoms in Hindi

  • तनाव आपको एक से अधिक तरीकों से प्रभावित करता है। यह निश्चित रूप से आपके दिमाग को प्रभावित करता है।
  • यह आपके जीवन में हस्तक्षेप कर सकता है और आपकी दैनिक गतिविधियों को बाधित कर सकता है।
  • एकाग्र ना हो पाना, कमजोर स्मरणशक्ति, भोजन सम्बन्धी आदतों में परिवर्तन इसके मुख्य लक्षणों में से एक हैं।
  • यह अवसाद, चिंता, द्विध्रुवी विकार आदि जैसे कई गंभीर मानसिक विकारों को जन्म देता है।
  • भावनात्मक प्रतिक्रियाओं का बढ़ जाना-अधिक रोना या संवेदनशील या आक्रामक होना।
  • यदि आप अत्यधिक तनावपूर्ण स्थिति से गुजर रहे हैं तो आप निष्क्रिय हो जाते हैं और कम काम करने लगते हैं। यह आपके काम की प्रगति को भी प्रभावित करता है।
  • आप बहुत आसानी से विचलित हो जाते हैं। आप लगातार अज्ञात डर के नीचे जीने लगते हैं। प्रेरणा, समर्पण और आत्मविश्वास का अभाव होने लगते है जिससे आपके संबंध प्रभावित हो सकते हैं।
  • आप अपने आप को दूसरे लोगों से अलग कर लेते हैं। लोगों में आत्महत्या के विचार आने लगते हैं।
  • इतना ही नहीं, आपके मन पर अत्यधिक तनाव के कारण स्वास्थ्य विकार जैसे मधुमेहउच्च रक्तचाप, बालों के झड़ने, गठिया, सिरदर्द, साँस लेने की समस्या, दिल की धड़कन, कम प्रतिरक्षा, त्वचा की समस्याएं आदि होने लगती है।
  • तनाव आपके जीवन को बहुत कठिन बना सकता है और साथ ही स्वास्थ्य पर कई नकारात्मक प्रभाव डालता है।

तनाव के कारण - Stress Causes in Hindi

  1. तनाव के कारण है अस्वस्थ आहार का सेवन - Unhealthy Diet Causes Stress in Hindi
  2. बदलती जीवनशैली है तनाव का कारण - Lifestyle Causes Stress in Hindi
  3. मानसिक तनाव का कारण हैं नींद की कमी - Stress Due to Sleep Deprivation in Hindi
  4. तनाव का कारण है आर्थिक परेशानी - Stress Caused by Financial Problems in Hindi
  5. प्रियजन को खोना भी है तनाव का कारण - Stress Caused by Loss Of a Loved One in Hindi
  6. वातावरण के प्रभाव से हो सकता है तनाव - Stress Caused by Environmental Factors in Hindi
  7. खराब रिश्ते हैं स्ट्रेस का कारण - Stress Caused by Bad Relationships in Hindi

तनाव के कारण है अस्वस्थ आहार का सेवन - Unhealthy Diet Causes Stress in Hindi

यदि आप अत्यधिक मीठा भोजन लेते हैं, तो आपका शरीर असंतुलन के माध्यम से आपके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करता है। कॉफी और चाय का अत्यधिक सेवन करने से कभी-कभी मानसिक अशांति हो सकती है। इनमें कैफीन होता है इसलिए जब हम उच्च मात्रा में इसका सेवन करते हैं तो यह चिंता की ओर ले जाता है। शराब पीने से भी तनाव हो सकता है। अत्यधिक सोडियम के सेवन से रक्तचाप में वृद्धि हो सकती है जो आपके मानसिक स्वास्थ्य में हस्तक्षेप कर सकती है। (और पढ़ें – एंटीऑक्सीडेंट युक्त भारतीय आहार)

बदलती जीवनशैली है तनाव का कारण - Lifestyle Causes Stress in Hindi

जब आपके पास कोई निश्चित दिनचर्या ना हो या उसका पालन करने में सफल नहीं हो पा रहे हो, तो इससे आपको ऐसी समस्याएँ हो सकती है जो तनाव का कारण बन सकती है। उदाहरण के लिए अगर आप देर से जागते हैं, तो नाश्ते को छोड़ देते हैं, भूख के कारण काम पर ध्यान केंद्रित करने में परेशानी होती है और आप अपने बॉस से डांट सुनते हैं। यह भी तनाव का कारण हो सकता है।

मानसिक तनाव का कारण हैं नींद की कमी - Stress Due to Sleep Deprivation in Hindi

जब आपको पर्याप्त नींद नहीं मिलती है, तो आपके शरीर को उचित आराम नहीं मिलता है और आप थका हुआ महसूस करते हैं। इससे आप अपनी दैनिक गतिविधियों में सक्रिय रूप से भाग लेने में सक्षम नहीं हो पाते हैं जिसके कारण तनाव हो सकता है। आप रात में देर तक जागने पर अधिक सोचते हैं और नकारात्मक भावनाओं को विकसित करते हैं। (और पढ़ें – नींद ना आने के आयुर्वेदिक उपाय)

तनाव का कारण है आर्थिक परेशानी - Stress Caused by Financial Problems in Hindi

अगर आपको आर्थिक रूप से धन की समस्या है तो यह भी चिंता का दैनिक कारण बन जाता है।

प्रियजन को खोना भी है तनाव का कारण - Stress Caused by Loss Of a Loved One in Hindi

अगर आप अपने किसी प्रियजन के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित रहते है और भगवान ना करे, अगर आपक प्रियजन गुज़र जाए, तो जीवन का सामना करना आपके लिए बहुत कठिन हो सकता है। कभी-कभी जीवन में ऐसी दुर्भाग्यपूर्ण घटनाओं के कारण भी तनाव बढ़ जाता है।

वातावरण के प्रभाव से हो सकता है तनाव - Stress Caused by Environmental Factors in Hindi

हो सकता है कि आप जिस मकान में रहते हैं वो आपको पसंद ना हो या आप लंबे समय से बीमार चल रहे हों, तो ऐसे अनुभवों का किसी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है। अनावश्यक और अधिक शोर भी आपके तनाव के स्तर को बढ़ा सकता है।

खराब रिश्ते हैं स्ट्रेस का कारण - Stress Caused by Bad Relationships in Hindi

अच्छे दोस्तों की कमी, शिकायत करने वाले पति / पत्नी और डिमाँन्डिंग पेरेंट्स के कारण भी आपके मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है। खराब संबंध तनाव का एक प्रमुख कारण हो सकते हैं।

तनाव से बचाव - Prevention of Stress in Hindi

क्या आपने कभी ध्यान दिया है जब आप तनाव में रहते हैं तो आप ज्यादा खाते हैं? यह काफी सामान्य है क्योंकि हमारा शरीर हार्मोन छोड़ता है जो भूख को बढ़ाता है, साथ ही हम बहुत अधिक फास्ट फूड खाने लगते हैं। तनाव होने पर हम सुस्त हो जाते हैं। हमें कुछ भी करने का मन नहीं करता और पूरे समय सोते रहते हैं। अपने मानसिक तनाव से उबरने के लिए यह सही तरीका नहीं है। आइए हम कुछ ऐसे ही सरल तरीकों पर नज़र डालते हैं जो तनाव जैसी समस्या से निपटने में जरूरी है।

  1. तनाव दूर करने के लिए व्यायाम करें - Manage Stress With Exercise In Hindi
  2. स्वस्थ आहार का सेवन है मन को शांत करने का तरीका - Healthy Eating For Stress Relief In Hindi
  3. छोटी-छोटी खुशियां है तनाव कम करने का तरीका - Take A Break To Relieve Stress In Hindi
  4. मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के लिए नियमित दिनचर्या है ज़रूरी - Proper Daily Routine To Deal With Stress In Hindi
  5. मालिश है तनाव से बचने का उपाय - Massage For Stress Reduction In Hindi

तनाव दूर करने के लिए व्यायाम करें - Manage Stress With Exercise In Hindi

व्यायाम हमारे शरीर में एंडोर्फिन (endorphins) को रिलीज़ करता है जिसे अच्छा महसूस करवाने वाला हार्मोन भी कहा जाता है। यह हमारे मूड को सुधारता है। व्यायाम करने से चयापचय भी बेहतर होता है। व्यायाम शरीर के अंगों में हो रहे दर्द का भी समाधान हो सकता है जिसका कारण तनाव हो। योग तनाव से निपटने का बहुत अच्छा तरीका है, कई प्राणायाम और आसन आपको तनाव से राहत दिलाने में मदद करते हैं। आप ध्यान भी लगा सकते हैं। यह आपको नकारात्मक भावनाओं को छोड़ने में मदद करता है। कई विशेष योग प्राणायाम आपको मानसिक तौर से स्थिर रहने में मदद करते हैं। साँस लेने के व्यायाम के साथ शुरू करें, यह आप के मन को शांत करने में मदद करेगा। जब आप सुबह उठते हैं, तो आपके लिए सबसे अच्छी बात होगी कि आप सूर्य नमस्कार करें। उसके बाद अपना दैनिक कार्य करें, इससे आप बेहतर महसूस करेंगे। (और पढ़ें – तनाव से राहत के लिए योग)

स्वस्थ आहार का सेवन है मन को शांत करने का तरीका - Healthy Eating For Stress Relief In Hindi

जब आप तनाव में रहते है तो आपको फास्ट फूड और अतिरिक्त मीठा भोजन का सेवन करने का मन करता है। पर आपको स्वस्थ आहार का सेवन करना चाहिए। जंक फूड के सेवन से लंबे समय में स्थिति बिगड़ सकती है। आपको डार्क चॉकलेट खानी चाहिए क्योंकि यह तनाव से लड़ने में मदद करती है। इसके अलावा हरी पत्तेदार सब्जियां , ब्लूबेरी, बादाम आदि का सेवन करें। गर्म दूध का सेवन भी तनाव को दूर करने में मदद करता है। जंक फूड के सेवन से बचें और हमेशा स्वस्थ आहार के सेवन की कोशिश करें। (और पढ़ें – मूड को अच्छा बनाने के लिये खाएं ये सूपरफूड)

छोटी-छोटी खुशियां है तनाव कम करने का तरीका - Take A Break To Relieve Stress In Hindi

तनाव जैसी समस्या से निजात पाने के लिए अपने व्यस्त जीवन से अपने लिए समय निकालें। तनाव जैसी समस्या से निजात पाने के लिए यदि आपका कोई शौक है, तो उसे करें, अपने परिवार या दोस्तों के साथ कहीं घूमने जाएं, पुस्तक पढ़ें या फिर मधुर संगीत सुनें। अपनी चिंता के मूल कारण को ढूंढ कर उसे दूर करें और जीवन की छोटी-छोटी खुशियों का आनंद लें।

मानसिक तनाव से मुक्ति पाने के लिए नियमित दिनचर्या है ज़रूरी - Proper Daily Routine To Deal With Stress In Hindi

तनाव जैसी समस्या से निजात पाने में बहुत महत्वपूर्ण है कि आप हमेशा नियमित दिनचर्या से चलें। यदि आप नियमित दिनचर्या से नहीं चले तो आपका तनाव लगातार बढ़ता जाएगा। आपके लिए अच्छी नींद लेना भी बहुत ज़रूरी है क्योंकि यह आपके शरीर और मन को आराम देगी। सुबह जल्दी उठें और सूर्य उदय और प्रकृति का आनंद लें, इससे आपको खुशी महसूस होगी। अपना नाश्ता कभी न छोड़ें। दिन की अच्छी शुरुआत आपके पूरे दिन को बेहतर बनाती है और आपके तनाव को दूर करने में मदद करती है।  (और पढ़ें –  नींद ना आने के आयुर्वेदिक उपाय)

मालिश है तनाव से बचने का उपाय - Massage For Stress Reduction In Hindi

आप जानते हैं कि लोग अपने पसंदीदा स्पा क्यों जाते हैं? शरीर की मालिश करवाना वास्तव में बहुत अच्छा होता है। इससे आपका शरीर और मन शांत और ख़ुश होता है। शरीर की मालिश आपके तनावग्रस्त दिमाग को शांत करने में मदद करती है>

(और पढ़ें – बच्चों की मालिश करते समय ज़रूर रखें इन दस बातों का ध्यान)

तनाव का परीक्षण - Diagnosis of Stress in Hindi

तनाव का निदान कैसे किया जाता है?

चिकित्सक आम तौर पर रोगी के लक्षणों और जीवन की घटनाओं के बारे में पूछकर तनाव का निदान कर सकते हैं।  

निदान जटिल होता है। यह कई कारकों पर निर्भर करता है। निदान के लिए कई तकनीकों का उपयोग किया जाता है, लेकिन तनाव का निदान करने का और उसके असर को देखने का सबसे प्रत्यक्ष तरीका है - व्यापक रूप से, तनाव-उन्मुख, आमने सामने बैठ कर उसके बारे में बात या सवाल-जवाब करना। 

तनाव का इलाज - Stress Treatment in Hindi

तनाव का इलाज या प्रबंधन कैसे किया जा सकता है?

इलाज में स्वयं सहायता, तनाव प्रबंधन, और दवा शामिल है।

कुछ उपाय जो आप स्वयं कर सकते हैं (स्व-सहायता) 

आप तनाव की अनुभूति कम करने के लिए निम्नलिखित उपायों को आज़मा सकते हैं। ध्यान रहे कि ज़रूरी नहीं है की हर उपाय हर व्यक्ति के लिए उतना ही असरदार हो। आपको अपने लिए सबसे असरदार उपाय खोजना होगा -

  1. व्यायाम करना - अध्ययन में ये सिद्ध किया गया है कि चाहे आपकी मानसिक और शारीरिक स्थिति कैसी भी हो, व्यायाम से आपको लाभ पहुँचेगा।
  2. शराब, ड्रग्स और कैफीन का सेवन कम करना - ये पदार्थ तनाव को रोकने में मदद नहीं करते बल्कि और भी बदतर बना सकते हैं। इनका सेवन कम करें या हो सकें तो ना करें। (और पढ़ें - शराब की लत से छुटकारा पाने के तरीके)
  3. सही पोषण लें - बहुत से फल और सब्जियों के साथ एक स्वस्थ, संतुलित आहार तनाव के समय प्रतिरक्षा प्रणाली को बनाए रखने में मदद करता है। खराब आहार से तनाव और बढ़ेगा।
  4. ज़रूरी चीज़ों को प्राथमिकता दें - अपने दिनचर्या में ज़रूरी कार्यों को पहचानने के लिए थोड़ा समय व्यतीत करें। फिर उन आवश्यक कामों को करने में ध्यान लगाएं।
  5. अपने लिए समय निकालें - प्रत्येक दिन थोड़ा समय अपने लिए रखें। इसका इस्तेमाल आराम करने और अपने मनपसंद काम करने के लिए करें। 
  6. श्वास व्यायाम करें और विश्राम करें - ध्यान करने से, प्राणायाम से, और योग से तनाव में राहत मिल सकती हैं। अगर इनका अभ्यास सही तकनीक से किया जाए तो ये मन को शांत करती हैं और आपको आराम करने में मदद करती है। 
  7. बातचीत करें - परिवार, दोस्तों से अपने विचारों और चिंताओं के बारे में  बात करने से आपको तनाव में मदद मिलेगी। यह सब करने से आपको यह पता चलेगा कि आप अकेले नहीं हैं, जिसे तनाव है। आपको यह भी पता चलेगा की आपकी परेशानियों को दूर करने का एक बहुत ही सरल तरीका था, जिसके बारे में आपने कभी सोचा ही नहीं।
  8. लक्षणों को स्वीकार करना - व्यक्ति अपनी समस्याओं के बारे में इतना चिंतित हो जाता है (जिससे  तनाव पैदा हो रहा है) कि वे अपने शरीर पर पड़ने वाले प्रभाव की ओर ध्यान नहीं दे पाता। लक्षणों पर ध्यान देना एक्शन लेने का पहला कदम है। 
  9. अपने डीस्ट्रेसर (उन चीज़ों को करना जिनसे आपको तनाव में राहत मिले) का पता लगाएं - ज्यादातर लोगों को निम्लिखित चीज़ें करके आराम मिलता है। जैसे कि -
  • कोई पुस्तक पढ़ना
  • सैर पर जाना
  • मनपसंद संगीत सुनना
  • किसी दोस्त के साथ समय व्यतीत करना
  • जिम जाना 

यदि तनाव आपके दैनिक जीवन को प्रभावित कर रहा है, तो आपको डॉक्टर की मदद लेनी चाहिए। एक चिकित्सक या मनोरोग विशेषज्ञ अक्सर सहायता कर सकते हैं, उदाहरण के लिए, तनाव प्रबंधन प्रशिक्षण के माध्यम से तनाव दूर करना। 

तनाव प्रबंधन

तनाव प्रबंधन आपकी मदद कर सकता है - 

  • तनाव के स्रोत को हटाने या बदलने में
  • अपने तनावपूर्ण घटना को देखने के तरीके को बदलने में  
  • अपने शरीर पर तनाव के प्रभाव को कम करने में
  • वैकल्पिक तरीकों से परेशानियों का मुकाबला करना सीखने में

दवाई

जब तक रोगी की कोई अवसाद या चिंता जैसी अंतर्निहित बीमारी न पता चलें तब तक चिकित्सक तनाव से लड़ने के लिए दवाएं नहीं लिखते। इन मामलों में, डॉक्टर तनाव का नहीं मानसिक बीमारी का इलाज कर रहे होते हैं। ऐसे मामलों में, एंटीडिप्रेसेंट लेने का सुझाव दिया जा सकता है। एंटीडिप्रेसेंट के प्रतिकूल प्रभाव भी हो सकते हैं।

(और पढ़ें - चिंता के घरेलु उपाय)

अगर आपको ऐसा लगता है कि आपके जीवन में तनावपूर्ण स्थिति आने वाली है। तो आप पहले से ही उस स्थिति का सामना करने के लिए अपने आपको मानसिक और शारीरिक रूप से त्यार कर लें। यदि आप पहले से ही तनाव का अनुभव कर रहे हैं, तो आपको चिकित्सा की सहायता लेनी होगी। 

Dr. Ajay Kumar

Dr. Ajay Kumar

मनोचिकित्सा
14 वर्षों का अनुभव

Dr. Saurabh Mehrotra

Dr. Saurabh Mehrotra

मनोचिकित्सा
24 वर्षों का अनुभव

Dr. Om Prakash L

Dr. Om Prakash L

मनोचिकित्सा
3 वर्षों का अनुभव

Dr. Anil Kumar

Dr. Anil Kumar

मनोचिकित्सा
12 वर्षों का अनुभव

तनाव की दवा - Medicines for Stress in Hindi

तनाव के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine Name
Fludac खरीदें
Oleanz Plus खरीदें
Floxin खरीदें
Olipar Plus खरीदें
Floxiwave खरीदें
Oltha Plus खरीदें
Fludep (Cipla) खरीदें
Flugen खरीदें
Flumusa Forte खरीदें
Flunam खरीदें
Schwabe Muira puama MT खरीदें
Flunat खरीदें
ADEL 36 Pollon Drop खरीदें
Fluon खरीदें
Fluon (Parry) खरीदें
Fluox खरीदें
Fluoxet खरीदें
Dr. Reckeweg Yohimbinum 3x Tablet खरीदें
Flutin खरीदें
Flutine खरीदें
Flutop खरीदें
Flux खरीदें
Flusmile खरीदें
Fluxater खरीदें
Olanex Plus खरीदें

तनाव की ओटीसी दवा - OTC medicines for Stress in Hindi

तनाव के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

OTC Medicine Name
Himalaya Brahmi खरीदें
Patanjali Ashvashila Capsule खरीदें
Zandu Sudarshan Ghanvati खरीदें
Baidyanath Jawahar Mohra No1 खरीदें
Zandu Alpitone Syrup खरीदें
Zandu Maha Sudarshan Churna खरीदें
Baidyanath Chaturbhuj Ras खरीदें
Dabur Chandi Bhasma खरीदें
Baidyanath Chandraprabha Vati खरीदें
Dabur Vrihat Vatchintamani Ras Tablet खरीदें
Dabur Dhatupaushtik Churna खरीदें
Dabur Ashwagandharishta खरीदें
Baidyanath Dimag Poushtik Rasayan खरीदें
Dabur Brahmi Vati खरीदें
Jain Ashwagandha Powder खरीदें
Dabur Stresscom खरीदें
Patanjali Tulsi Panchang Juice खरीदें
Dabur Brahmi Vati Gold खरीदें
Himalaya Geriforte Tablet खरीदें
Sri Sri Tattva Ashwagandha Tablet खरीदें
Zandu Sudarshan Tablet खरीदें
Baidyanath Chintamani Chaturmukh Ras खरीदें
Himalaya Stress Relief Massage Oil खरीदें
Organic India Ashwagandha Capsules खरीदें

References

  1. Selye, H. (1950, June 17). Stress and the general adaptation syndrome. British Medical Journal, 1(4667), 1383-1392. PMID: 15426759.
  2. American Psychological Association [internet] St. NE, Washington, DC. Stress.
  3. Anxiety and Depression Association of America [internet] Silver Spring, Maryland, United States. Physical Activity Reduces Stress.
  4. National Institute of Mental Health [Internet] Bethesda, MD; 5 Things You Should Know About Stress. National Institutes of Health; Bethesda, Maryland, United States
  5. Noble RE. Diagnosis of stress. Metabolism. 2002 Jun;51(6 Suppl 1):37-9. PMID: 12040539
  6. Center for Disease Control and Prevention [internet], Atlanta (GA): US Department of Health and Human Services; Stress at work
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें