अखरोट का पेड़ मूल रूप से बाल्कन (Balkan) और चीन (China) में पाया जाता है। अखरोट के उत्पादन के लिए सबसे बड़ा जंगल जलालाबाद (Jalalabad), किर्गिस्तान (Kyrgyzstan) में स्थित है। यह आमतौर पर 1000 से 2000 मीटर की ऊंचाई पर उगते हैं। अखरोट को आमतौर पर हिंदी में 'अक्रोट' कहा जाता है,  तेलुगू में 'अक्रोट कया', तमिल में 'अक्रोटू', मलयालम में 'अक्रोटंडी', कन्नड़ में 'एक्रोटा', मराठी में 'अक्रोड' और 'अक्रोट' (गुजराती & बंगाली) कहा जाता है। आँवला एवं करेला स्वास्थ्य के लिए अमृत से कम नहीं होते परंतु स्वाद में कड़वे होते हैं। ऐसे ही ना जाने कितने फल व औषधियाँ हैं जो सेहत के लिए तो श्रेष्ठ हैं परंतु जिह्वा के लिए दुष्टतम। उनका स्वाद हमें उनका और उनके औषधीय लाभों का सेवन करने से रोकता है।

(और पढ़ें - अखरोट के तेल के फायदे)

ऐसी बहुत ही कम औषधियाँ होती हैं जो सेहत के लिए सेहतमंद तो होती ही हैं लेकिन साथ-साथ स्वादिष्ट भी होती हैं। और उन चन्द औषधियों में से एक है - अखरोट। अखरोट होता तो छोटा सा है परंतु इसमें अनेक गंभीर बीमारियों से लड़ने की क्षमता है। अखरोट स्वास्थ्य लाभ पाने के लिए भी खाई जाती है। इसका सेवन कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ (cardiovascular health), हड्डी के स्वास्थ्य, स्वस्थ चयापचय, मधुमेह, कैंसर को रोकने, सूजन से लड़ने और त्वचा को स्वस्थ करने के लिए भी किया जाता है। इसे प्रतिदिन खाने के अनेक लाभ हैं जो निम्नलिखित हैं -

  1. अखरोट के फायदे - Benefits of Walnut in Hindi
  2. अखरोट के नुकसान - Walnuts Side effects in Hindi
  3. अखरोट के अन्य फायदे - Other benefits of Walnut in Hindi
  4. अखरोट की तासीर - Walnut ki taseer in Hindi
  5. अखरोट खाने का सही तरीका - Right way to eat Walnut in Hindi

ऊर्जा का समृद्ध स्रोत है अखरोट - Walnuts boost Energy in Hindi

अखरोट पोषक तत्वों से परिपूर्ण है। इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, वसा, कैलोरीज़, कैल्शियम, विटामिन ई एवं विटामिन बी6 अधिक मात्रा में पायें जातें हैं। यह आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटेशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, मैंगनीज, सेलेनियम, विटामिन सी, थियामिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, पैंटोथेनिक एसिड, फोलेट, विटामिन बी 12, और विटामिन ए से भी परिपूर्ण है। इसके सेवन से ना केवल थकावट दूर भाग जाती है, परंतु पूरे शरीर में ऊर्जा की रस धारा प्रवाहित हो उठती है।

(और पढ़ें - एनर्जी बढ़ाने का उपाय)

वज़न कम करने का तरीका है अखरोट का सेवन - Walnuts for Weight Loss in Hindi

अक्सर लोगों को लगता है, अखरोट नट्स जाति का है तो इसमें फ़ैट भी बहूत मात्रा में होगा और ये हमारे शारीर के वजन को बढ़ा देगा। परंतु इसके विपरीत, अखरोट वजन कम करने में मदद करता है। इसमें सही मात्रा में प्रोटीन, फैट्स व कैलोरीज़ मिश्रित है और यह वज़न प्रबंधन योजना (weight management technique) में अत्यंत फलदायक है। वैज्ञानिक शोध भी इस सत्य की पुष्टि करते हैं कि अखरोट ना केवल मोटापे को दूर रखने में अपितु वज़न कम करने में भी प्रभावी है। 

(और पढ़ें - वजन कम करने के लिए क्या करना चाहिए)

 

हृदय रोग को दूर रखने का सफल इलाज है अखरोट - Walnuts for Healthy Heart in Hindi

अखरोट हृदय को भी तंदरुस्त एवं निरोग रखने में लाभदायक है। यह हृदय के कृत्य को संचालित व नियमित करता है और उसमें सुधार भी लाता है।

अखरोट में ओमेगा-3 फैटी एसिड (omega-3 fatty acids) अधिक मात्रा में पाया जाता है, जिसकी वजह से यह कार्डियोवैस्कुलर प्रणाली (cardiovascular system) के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह पाया गया है कि प्रतिदिन केवल कुछ अखरोट खाने से ही ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद मिल सकती है, इसलिए हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को इसका सेवन ज़रूर करना चाहिए। ओमेगा -3 फैटी एसिड शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल के उत्पादन को भी प्रोत्साहित करने के लिए जाने जाते हैं। यह दिल के लिए फायदेमंद है। यह मधुमेह को भी नियनतरण में रखने का एक प्रबल उपाय है।

(और पढ़ें - हृदय रोग का इलाज)

 

दिमाग तेज करने का मंत्र है अखरोट - Walnuts are good for Brain in Hindi

अखरोट मस्तिष्क के लिए अत्यंत लाभदायक है और उसके कार्यों में सुधार लता है। अखरोट में मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड मस्तिष्क के लिए भी अच्छा होता है। ओमेगा -3 फैटी एसिड में समृद्ध भोजन खाने से तंत्रिका तंत्र सुचारु रूप से काम करती है और आपकी याददाश्त में सुधार करता है। अखरोट स्मरणशक्ति एवं एकाग्रता को बेहतर बनाता है और बुढ़ापे में निहित कमजोर याददाश्त को भी परास्त करने में सक्षम है। यह तनाव को दूर रखता है एवं मूड में भी सुधार लाता है। मस्तिष्क स्वास्थ्य में इसके महत्व के कारण, यह मस्तिष्क भोजन के रूप में भी जाना जाता है। यह पागलपन/मनोविकृति जैसे मस्तिष्क रोगों का भी एक सफल उपचार है।

 (और पढ़ें- दिमाग तेज करने का तरीका)

कैंसर के इलाज में है अखरोट से लाभ - Walnuts fight Cancer in Hindi

द अमेरिकन एसोसिएशन फॉर कैंसर रिसर्च (The American Association For Cancer Research) ने अपनी 2009 की रिसर्च द्वारा यह बताया कि प्रत्येक दिन कुछ अखरोट खाने से स्तन कैंसर का खतरा कम हो सकता है। यह छोटे आकार का अखरोट कैंसर जैसी बड़ी बीमारी को भी टक्कर देने का सामर्थ्य रखता है। कैंसर एक घातक बीमारी है और एक स्वस्थ जीवन शैली इसकी शुरुआत को रोक सकती है। अखरोट एंटीऑक्सीडेंट (antioxidants) और फेनोलिक एसिड (phenolic acid) से भरपूर होते हैं। दैनिक रूप से इसका सेवन करने से ब्रैस्ट कैंसर, कोलोन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर शरीर के आस-पास आने की हिम्मत भी नहीं करते। अखरोट में कैंसर की कोशिकाओं की वृद्धि को नियंत्रित करने की क्षमता है। वैज्ञानिक शोधकर्ताओं ने भी यह प्रमाणित किया है कि नियमित आधार पर अखरोट खाने से कैंसेर 30-40% तक कम हो जाता है। ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस (Oxidative stress) शरीर में कैंसर का एक कारण हो सकता है और हर दिन कुछ अखरोट खाने से आप कैंसर से बच सकते हैं।

(और पढ़ें - कैंसर में क्या खाना चाहिए)

हड्डियों की मजबूती के लिए अखरोट के फायदे - Walnuts Benefits for Bones in Hindi

अखरोट हड्डियों को स्वस्थ और मज़बूत रखने का एक उत्तम तरीका है। अखरोट खाने से हड्डियाँ खनिजों का अवशोषण अच्छे से कर पाती है और मूत्र के माध्यम से कैल्शियम की बर्बादी भी कम होती है। यह हड्डियों में सूजन व प्रज्वलन को भी कम करता है और हड्डियों से संबंधित बीमारियों को बहुत हद तक कम कर देता है। अखरोट में अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (alpha-linolenic acid) नामक एक महत्वपूर्ण फैटी एसिड होता है। यह अल्फा-लिनोलेनिक एसिड और इसके यौगिक हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ बनाते हैं। इसके अलावा, अखरोट के माध्यम से जब आप ओमेगा -3 फैटी एसिड का सेवन करते हैं, तो शरीर की सूजन कम हो जाती है, और यह हड्डियों को लम्बे समय के लिए मजबूत रखनेमें मदद करता है।

(और पढ़ें - हड्डियों को मजबूत करने का उपाय)

शुक्राणु की गुणवत्ता को बढ़ाने में होता है अखरोट से लाभ - Walnuts for Sperm Health in Hindi

आप क्या खाते हैं, क्या पीते हैं, और यहां तक कि आप कितना व्यायाम करते हैं, यह सब आपकी बच्चे पैदा करने की क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं। दिन में एक मुट्ठी अखरोट खाना आपके शुक्राणु को बढ़ाने में मदद कर सकता है। अखरोट ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक प्राकृतिक स्रोत हैं, जो कि अन्य पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड (polyunsaturated fatty acids) के साथ, शुक्राणु के परिपक्व होने और ठीक से काम करने के लिए आवश्यक हैं। यह शुक्राणु की गुणवत्ता (quality), गतिशीलता (mobility) व आयतन (volume) को बढ़ाता है और पुरुषों के प्रजनन स्वास्थ्य (male reproductive health) में सुधार लाता है।

(और पढ़ें- शुक्राणु बढ़ाने के घरेलू उपाय और शुक्राणु की कमी के लक्षण)

अखरोट खाने का फायदा होता है गर्भावस्था में - Walnuts Benefits for Pregnancy in Hindi

यह माँ के गर्भाशय (womb) को मज़बूत बनता है और उनके बच्चे को पोषित कर उन्हें तंदुरुस्त बनाता है। यह बच्चे के दिमागी विकास के लिए भी अत्यंत लाभदायक है। दिन में एक मुट्ठी भर अखरोट खाने से उन महिलाओं को बहुत फायदा हो सकता है जो गर्भवती हो। अखरोट में विटामिन बी-कॉम्प्लेक्स के समूह होते हैं जैसे फोलेट्स (folates), रिबोफ्लाविन (riboflavin), थियामिन (thiamin) आदि जो गर्भवती महिला के लिए आवश्यक हैं।

(और पढ़ें - गर्भावस्था के दौरान पेट दर्द और लड़का होने के लिए उपाय से जुड़े मिथक)

 

शांतिपूर्ण नींद आने का उपाय है अखरोट - Walnuts for Sleep in Hindi

यह अनिद्रा से संबंधित रोगों का नाश करता है और शरीर को तनाव का सामना करने का सामर्थ्य प्रदान करता है। इसमें मेलेटोनिन हॉरमोन होता है जो निद्रा को नियमित करता है और अनिद्रा को दूर भगाता है। यह सोते समय होने वाले स्लीप एप्निया (sleep apnea) का भी एक अच्छा उपचार है।

(और पढ़ें - अनिद्रा के आयुर्वेदिक उपचार)

 

अखरोट के फायदे चमकती त्वचा के लिए - Walnuts good for Skin in Hindi

अखरोट जवान व चमकती त्वचा का भी एक राज़ है। यह त्वचा को नम कर उसे रुखेपन से दूर रखता है। यह दाग, धब्बे व झुर्रियों को हटाता है और त्वचा को साफ व चमकदार बनाता है।

 (और पढ़ें - चेहरे के दाग धब्बे हटाने के घरेलू उपाय)

  • अखरोट त्वचा के लिए अच्छे होते हैं क्योंकि इनमें विटामिन-बी होता है। विटामिन बी तनाव और मूड को ठीक करने में मदद करता है। तनाव कम रहने से त्वचा पर भी निखार आता है। शरीर में तनाव का स्तर अधिक होने से त्वचा पर जल्द ही झुर्रियों की शुरुआत हो सकती है, इस प्रकार तेजी से उम्र बढ़ने लगती है। प्रतिदिन अखरोट का सेवन आपकी उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को कम कर सकता है।

 (और पढ़ें- झुर्रियों के लिए फेस पैक)

  • शुष्क त्वचा वाले लोगों को नियमित रूप से अखरोट के तेल को गर्म करके लगाना चाहिए। अखरोट का तेल त्वचा को मॉइस्चराइज रखने में मदद करता है।

(और पढ़ें- ड्राई स्किन के लिए क्या खाएं)

  • अखरोट के गर्म तेल का नियमित उपयोग आँखों के नीचे काले घेरों को भी हल्का करने में मदद करता है। 

(और पढ़ें- आँखों के काले घेरे हटाने के घरेलू उपाए)

अखरोट का लाभ बालों के लिए - Walnuts for Hair in Hindi

यह बालों को मज़बूती प्रदान करता है और उन्हें गिरने से बचाता है। यह उन्हें एक सुनहरा रूप देता है और बालों की लंबाई को बढ़ता है।

  • अखरोट में पोटेशियम, ओमेगा -3, ओमेगा -6, और ओमेगा-9 फैटी एसिड अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। ये सभी सामग्री बालों को मजबूत करते हैं।
  • अध्ययनों से पता चला है कि अखरोट के तेल का नियमित उपयोग बालों के झड़ने को रोक सकता है। (और पढ़ें - बालों के झड़ने का कारण)
  • मॉइस्चराइजिंग गुणों के कारण अखरोट का तेल बालों में भी लगाया जाता है। इसलिए, इसे प्राकृतिक एंटी-डैंड्रफ़ एजेंट भी माना जाता है।

(और पढ़ें- बालों के झड़ने का उपाय)

इसके फ़ायदे तो बहूत है परंतु इसके फ़ायदों का लाभ तभी अच्छे से उठाया जा सकता है जब इसे सही मात्रा में और इसके फायदे और नुकसान को समझकर लिया जाए। एक दिन में पाँच से ज़्यादा अखरोट खाना सेहत के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। यह स्वाभाविक रूप से गर्म होता है और ज्वर, छालें जैसे रोगों को बढ़ा सकता है। इसका सेवन कफ में भी नहीं करना चाहिए। गर्भवती अवस्था में इसका ज़्यादा सेवन करने से वज़न में वृद्धि हो सकती है। साधारण अवस्था में भी इसका ज़्यादा सेवन नहीं करना चाहिए। कुछ लोगों को इससे एलर्जी भी हो सकती है।

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए एक्सरसाइज)

सारांश - 

अखरोट मस्तिष्क के लिए बेहद प्रभावशाली आहार है, जो दिमाग़ को तेज़ बनाने में मदद करता है। साथ ही ये एकाग्रता को बढ़ाता है और दिमाग़ी विकार को ख़त्म करता है। अखरोट को महिलाएं गर्वभावस्था के दौरान खाती है, जो पेट में पल रहे बच्चे के लालन-पालन और दिमाग़ के लिए बेहद फ़ायदेमंद होता है। अखरोट खाने से पुरूषों में वीर्य की मात्रा में बढ़तरी होती है, इस बात की पुष्टी भी की जा चुकी है।

अखरोट वजन कम करने में भी मदद करता है। इसमें एक्टीऑक्सिडेंट, सूजन को कम करने वाले गुण और कैल्सियम जैसे खनिज मौजूद होते हैं, जो हमारी हड्डियों के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। ये तनाव को कम करता है और अच्छी नींद में भी सहायक है। इसे खाने से हमारे बाल चमकदार और लंबे होते हैं एवं आपकी त्वचा खूबसूरत होती है।

(और पढ़ें - वजन घटाने के लिए योगासन)

अखरोट उर्जा का एक बेहतर स्त्रोत है और आपको स्वस्थ रखने में भी मदद करता है। लेकिन हमें इसके दुष्प्रभाव से सावधान रहना चाहिए। एक दिन में 5 से अधिक अखरोट खाने से स्वास्थ्य पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है और इससे बुखार, खांसी और अल्सर बढ़ सकता है। इसलिए इसे सही तरीके से खाएं और बिमारियों से निजात पाएं।

  • अखरोट आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को स्वस्थ रखता है और आपको हर प्रकार की बिमारी से बचाने में मदद करता है।
  • अखरोट का सेवन आपको अस्थमा, गठिया और खुजली जैसी बीमारियों से भी बचा सकता है। (और पढ़ें - गठिया का उपाय)
  • सभी मनुष्यों को अपने आंतों को सही तरीके से काम करने के लिए दैनिक आधार पर फाइबर की आवश्यकता होती है। अखरोट में फाइबर की मात्रा अधिक होती है और यह आपके पाचन तंत्र को ठीक से काम करने के लिए एक शानदार तरीका हैं। (और पढ़ें - पाचन शक्ति बढ़ाने का तरीका)
  • कवक संक्रमण (fungal infection) को ठीक करने के लिए भी काले अखरोट का सेवन किया जाता है।
  • नियमित रूप से अखरोट का सेवन मधुमेह के खतरे को कम कर सकता है।

(और पढ़ें - डायबिटीज में क्या खाना चाहिए)

अखरोट की तासीर गरम और खुश्क होती है। इसलिए इसका सेवन सर्दियों में करने की सलाह दी जाती है। इसका सेवन सर्दियों में शरीर को गरम रखने में मदद करता है। अखरोट का उपयोग आप गर्मियों में भी कर सकते हैं पर इसका अधिक सेवन करने से आपको किसी प्रकार की समस्या भी हो सकती है। नियमित रूप से ही अखरोट का सेवन करें।

(और पढ़ें - सर्दियों में क्या खाएं)

  • केले या दही में 3-4 अखरोट को मिलाएं, इनका एक गाढ़ा मिश्रण बनाएं और इसका सेवन करें।
  • आप कुछ अखरोट में नींबू का रस, जैतून का तेल, लहसुन, नमक और काली मिर्च मिलाएं। इस मिश्रण को अच्छे से पीसकर इसका पाउडर बनाएं और जैम के रूप में इसका उपयोग करें।
  • सलाद के साथ अखरोट को मिलाएं और सलाद को अधिक स्वादिष्ट बनाएं।
  • अखरोट को कैरेमल, मिश्रित सलाद, किशमिश, मशरूम, पास्ता आदि के साथ मिलाएं और सेवन करें।
और पढ़ें ...