myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

साइटोमेगालो वायरस क्या है?

साइटोमेगालोवायरस (सीएमवी) एक ऐसा वायरस है जो गर्भावस्था के दौरान मां से बच्चे में फैल जाता है। सीएमवी आमतौर पर एक हानिरहित संक्रमण है और इससे स्वास्थ्य समस्याएं बेहद कम होती हैं।

साइटोमेगालो वायरस के लक्षण क्या हैं? 

कई लोग जो स्वस्थ होते हैं, जन्म के बाद सीएमवी होने पर उनमें सिर्फ कुछ ही लक्षण देखने को मिलते हैं और साथ ही लंबे समय तक स्वास्थ्य समस्याएं भी नहीं होती। लेकिन जिन लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है जैसे जिन लोगों में एचआईवी काफी बढ़ गया है या कोई व्यक्ति बहुत बीमार है तो उनमें साइटोमेगालो वायरस बढ़ता चला जाता है। इसके लक्षण कम तीव्र और अन्य बीमारियों के समान हो सकते हैं जैसे थकान, बुखार, ग्रंथि में सूजन आदि। 

(और पढ़ें - फंगल इन्फेक्शन का इलाज)

साइटोमेगालो वायरस क्यों होता है?

सीएमवी वायरस से संबंधित होता है जिसके कारण चिकन पॉक्स, हर्पीस सिम्पलेक्स और मोनोन्यूक्लिओसिस (Mononucleosis) होता है। जब सीएमवी वायरस आपके शरीर में मौजूद होते हैं तो ये एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में पहुंच सकता है। यह संक्रमण छूने या हवा के द्वारा नहीं फैल सकता है। संक्रमण शरीर के तरल पदार्थ के जरिये फैलता है जैसे खून, मूत्र, लार, स्तनपान, आंसू, सीमेन और योनि द्रव। साइटोमेगालोवायरस से बचने के लिए अपने हाथों को समय-समय पर धोते रहें। जब आप किसी बच्चे को किस (kiss) करें तो उसके आंसू और लार के सम्पर्क में न आएं। जो व्यक्ति इस संक्रमण से पीड़ित है उसका खाना और पानी पीने का ग्लास अलग रखें। सेक्स करने से पहले सावधनी बरतें आदि।  

(और पढ़ें - बैक्टीरियल संक्रमण के लक्षण)

साइटोमेगालो वायरस का इलाज कैसे होता है? 

डॉक्टर इस संक्रमण की जांच करने के लिए ब्लड टेस्ट और यूरिन टेस्ट करेंगे। उदहारण के तौर पर, सेरोलॉजिकल टेस्ट आपकी एंटीबॉडी की जांच करता है, इससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता का पता चलेगा कि वो सही तरह से इस सक्रमण से लड़ रही हैं या नहीं। डॉक्टर बायोप्सी भी कर सकते हैं। इसके अलावा अन्य कई टेस्ट से भी इस इन्फेक्शन की जांच हो सकती है। अगर आपको साइटोमेगालोवायरस के कारण रेटिनाइटिस (Retinitis) है तो आपके डॉक्टर आपको कुछ हफ्ते तक इंट्रावीनस दवाएं (Intravenous - नसों में दी जाने वाली दवाएं) देंगे, इस प्रक्रिया को इंडक्शन थेरेपी बोलते हैं। कुछ दिनों बाद डॉक्टर आपको खाने की दवाइयां भी दे सकते हैं। 

(और पढ़ें - पेट में इन्फेक्शन के इलाज)

  1. साइटोमेगालो वायरस (सीएमवी) की दवा - Medicines for Cytomegalovirus Infection (CMV) in Hindi

साइटोमेगालो वायरस (सीएमवी) की दवा - Medicines for Cytomegalovirus Infection (CMV) in Hindi

साइटोमेगालो वायरस (सीएमवी) के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine NamePack SizePrice (Rs.)
ValsteadValstead 450 Mg Tablet675
CmveeCmvee 450 Mg Tablet679
CymgalCymgal 450 Mg Tablet4251
VagacyteVAGACYTE 450MG TABLET 2S913
ValceptValcept 450 Mg Tablet753
ValchekValchek Tablet784
ValgacelValgacel 450 Mg Tablet752
ValganValgan 450 Mg Tablet1147
CymeveneCymevene 500 Mg Injection1330
NatclovirNATCLOVIR 250MG CAPSULECAP1215
CytoganCytogan 250 Mg Capsule0
GanguardGanguard 500 Mg Capsule2650
GavirGavir 500 Mg Injection1750
ClyganClygan 1.5 Mg Gel62
GancigelGancigel 1.5 Mg Eye Ointment62
SimplovirSimplovir 1.5 Mg Gel0
VirsonVirson 1.5 Mg Gel88

क्या आप या आपके परिवार में किसी को यह बीमारी है? सर्वेक्षण करें और दूसरों की सहायता करें

References

  1. Mahadevan Kumar et al. Seroprevalence of cytomegalovirus infection in antenatal women in a Tertiary Care Center in Western India. Marine Medical Society of India; Year : 2017 Volume : 19 Issue : 1 Page : 51-54
  2. National institute of neurological disorders and stroke [internet]. US Department of Health and Human Services; Neurological Consequences of Cytomegalovirus Infection Information
  3. National Organization for Rare Disorders, Cytomegalovirus Infection. Danbury; [Internet]
  4. U.S. Department of Health & Human Services. About Cytomegalovirus (CMV). Centre for Disease Control and Prevention
  5. MedlinePlus Medical Encyclopedia: US National Library of Medicine; Cytomegalovirus Infections
और पढ़ें ...