myUpchar प्लस+ सदस्य बनें और करें पूरे परिवार के स्वास्थ्य खर्च पर भारी बचत,केवल Rs 99 में -

पॉलीमायोसिटिस होना क्या है?

पॉलीमायोसिटिस एक ऐसा रोग है जिसमें शरीर के अंदरूनी हिस्सों में सूजन आने लगती है। इस रोग में शरीर के दोनों तरफ की मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं। इस स्थिति में रोगी को सीढ़ियां चढ़ने, बैठने के बाद सीधे खड़े होने और किसी सामान को उठाने में मुश्किल होती है। 

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द का इलाज)

पॉलीमायोसिटिस के लक्षण क्या हैं?

यह रोग मुख्य रूप से 30 से 50 आयु वर्ग के लोगों को प्रभावित करता है। इसके लक्षण और संकेत कुछ सप्ताह और महीनों के बाद धीरे-धीरे सामने आते हैं। फिलहाल पॉलीमायोसिटिस का कोई इलाज उपलब्ध नहीं है, लेकिन  कुछ दवाओं और थेरेपी के माध्यम से मांसपेशियों के दर्द को दूर कर, उसके कार्यों में सुधार किया जा सकता है।

(और पढ़ें - मांसपेशियों में दर्द के घरेलू उपाय)

पॉलीमायोसिटिस क्यों होता है?

पॉलीमायोसिटिस की स्थिति में शरीर के ऊपरी हिस्से के पास की मांसपेशियों जैसे - कूल्हे, कंधे, जांघ, बांह, पीठ का ऊपरी हिस्सा और गर्दन प्रभावित होेती है। यह रोग होने पर व्यक्ति को सबसे पहले मांसपेशियों की कमजोरी महसूस होती है। साथ ही वह आम तौर पर करने वाले कामों को भी मुश्किल से कर पाता है। इसके अलावा रोगी को बुखार, तेजी से वजन कम होना, थकान और जोड़ों में दर्द होना महसूस होता है।

(और पढ़ें - मांसपेशियों की कमजोरी के लक्षण)

पॉलीमायोसिटिस होने के सही कारणों का पता नहीं चल सका है, लेकिन इस रोग को स्व-प्रतिरक्षित स्थिति में शामिल किया जाता है। इसमें शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली स्वस्थ कोशिकाओं को क्षति पहुंचाने लगती हैं। 

पॉलीमायोसिटिस का इलाज कैसे होता है?

फिलहाल पॉलीमायोसिटिस का पता लगाने के लिए कोई परिक्षण मौजूद नहीं है। इसी वजह से डॉक्टर को इसे पहचानने में थोड़ा ज्यादा समय लग जाता है। लेकिन डॉक्टर पॉलीमायोसिटिस के परीक्षण के लिए आपको ईएमजी (Electromyography), ब्लड टेस्ट, एमआरआई (MRI) या मसल बायोप्सी (Muscle biopsy) कराने की सलाह दे सकते हैं

(और पढ़ें - मांसपेशियों की कमजोरी दूर करने के उपाय)

इस रोग का इलाज उपलब्ध नहीं है, लेकिन कुछ दवाओं के इस्तेमाल से पॉलीमायोसिटिस के लक्षणों को कम किया जा सकता है। शुरुआती दौर में पॉलीमायोसिटिस का इलाज शुरू करने से इसकी गंभीरता को आसानी से कम किया जा सकता है। इस समस्या में डॉक्टर स्टेरॉयड दवाओं व थेरेपी के माध्यम से रोगी का इलाज करते हैं। 

(और पढ़ें - स्पीच थेरेपी कैसे होती है)

  1. पॉलीमायोसिटिस की दवा - Medicines for Polymyositis in Hindi

पॉलीमायोसिटिस की दवा - Medicines for Polymyositis in Hindi

पॉलीमायोसिटिस के लिए बहुत दवाइयां उपलब्ध हैं। नीचे यह सारी दवाइयां दी गयी हैं। लेकिन ध्यान रहे कि डॉक्टर से सलाह किये बिना आप कृपया कोई भी दवाई न लें। बिना डॉक्टर की सलाह से दवाई लेने से आपकी सेहत को गंभीर नुक्सान हो सकता है।

Medicine Name
Wysolone खरीदें
Acton Prolongatum खरीदें
Acton खरीदें
Loxcip PD खरीदें
Gatiquin P खरीदें
Predzy खरीदें
Gatsun P खरीदें
Siogat P खरीदें
Zengat P खरीदें
Z Pred खरीदें
Gate PD खरीदें
Gate P P खरीदें
4 Quin PD खरीदें
Apdrops PD खरीदें
Combace खरीदें
Emsolone खरीदें
Mo 4 Pd खरीदें
Kidpred खरीदें
Methpred खरीदें
Moxipred खरीदें
Omnacortil खरीदें
Omnacortil Forte खरीदें
Moxigram P खरीदें

References

  1. Muscular Dystrophy Association Inc. [Internet]. Chicago, Illinois; What is polymyositis (PM)?
  2. National Organization for Rare Disorders [Internet]; Polymyositis.
  3. National Health Service [Internet]. UK; Myositis (polymyositis and dermatomyositis).
  4. Muscular Dystrophy Association Inc. [Internet]. Chicago, Illinois; Signs and Symptoms.
  5. Hunter K, Lyon MG. Evaluation and Management of Polymyositis. Indian J Dermatol. 2012 Sep-Oct;57(5):371-4. PMID: 23112357
और पढ़ें ...
ऐप पर पढ़ें