myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

हममें से ज्यादातर लोग आज जिम जॉइन करना चाहते हैं। जिम एक ऐसी जगह है जहां पर आप कड़ी मेहनत करके एक सुडौल शरीर बनाते हैं। यदि आप जीवन में पहली बार जिम जॉइन करने जा रहे हैं, तो आपके लिए कुछ बातों के बारे में जानना बेहद ही जरूरी है।

इससे आपको अपने लक्ष्य हासिल करने में सबसे ज्यादा मदद मिलेगी। बॉडी बनाने में अच्छे ट्रेनर, सही जिम और डाइट की अहम भूमिका होती है। लेकिन इसके अलावा कई ऐसी छोटी-छोटी बातें हैं, जिनका ध्यान रखा जाना जरूरी है। आज हम आपको कुछ ऐसी ही काम की चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो आपके काम की हैं।

जिम जॉइन करने से पहले करें ट्रायल 

ज्यादातर जिम लोगों को ट्रायल लेने की अनुमति देती हैं, जिसमें जिम जॉइन करने वाला व्यक्ति फीस दिए बगैर एक दिन के लिए मुफ्त एक्सरसाइज कर सकता है। आप कभी भी ऐसी स्थिति में फंसना नहीं चाहेंगे, जहां पर आप जिम जॉइन करने के निर्णय को लेकर आश्वस्त न हों।

दूसरी तरफ, एक बार जिम का ट्रायल लेने के बाद आप उसकी मेंबरशिप लेने के लिए ज्यादा आत्मविश्वासी होंगे। यह जिम पर निर्भर करता है कि शायद आपको ट्रायल के लिए पहले से जिम से समय मांगना पड़े। ट्रायल के लिए जिम एक व्यक्ति को नियुक्त करेगा, जो आपके सभी सवालों का जवाब देगा। ऐसे में बेहतर होगा कि आपके दिमाग में जितने सवाल हों आप उससे पूछें।

और पढ़ें - बॉडी बनाने के तरीके)

जिम की लोकशन आपके लिए बेहद ही महत्वपूर्ण है। जिम पास होने का सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि आप साइकिल या गाड़ी चलाकर तुरंत वहां पहुंच जाते हैं। इसके अलावा क्या आपको एक ही जिम चेन का अलग-अलग जगहों पर फायदा मिलेगा।

यदि आप शहर के एक कोने पर रहते हैं और आपका घर इसके उलट दूसरी तरफ है, तो ऐसे में एक ही जिम चेन के अलग-अलग जगहों पर मौजूद जिम से आपको फायदा होगा। यदि आपको एक जिम में सहज महसूस नहीं होता या फिर वहां पहुंचने में ज्यादा समय लगता है, तो आप दूसरी जिम में जा सकते हैं।

फीस देने से पहले हो जाएं आश्वस्त

जिम में मनमाफिक नतीजे हासिल करने का सबसे बेहतर तरीका है शुरुआत से ही जिम से मिलने वाली मदद को लेकर आश्वस्त हो जाना, इसके लिए आपको शर्माने की जरूरत नहीं है। आपको जिम से किस प्रकार की मदद मिलती है, उस क्लब पर निर्भर करता है। लेकिन पर्सनल ट्रेनिंग (आमतौर पर अतिरिक्त भुगतान करना पड़ता है) या सामान्य ओरिएंटेशन प्रोग्राम, जो कि जिम के जानकार स्टाफ के जरिए दिया जाता है। अक्सर इसकी फीस आपकी मेंबरशिप में ही जोड़ दी जाती है।

स्वच्छता की डालें आदत
जिम के पहले ही दिन की शुरुआत से आपको स्वच्छता की आदत को अपनाना है। जिम में अपने साथ एक तौलिया जरूर लेकर जाएं। एक्सरसाइज करते वक्त ज्यादातर लोगों के शरीर से पसीना निकलता है और इससे कई बार आपकी हथेलियां भी गीली हो जाती हैं।

ऐसी स्थिति में अक्सर लोगों के हाथों से डंबल या रॉड फिसल जाती है, जिसमें उनके चोटिल होने की संभावना रहती है। ऐसे में आपके लिए जिम में अपने साथ एक तौलिया रखना जरूरी है। इसके अलावा एक्सरसाइज खत्म करने के बाद आपको नहाना जरूरी है। इससे पसीने से पैदा हुए बैक्टीरिया खत्म हो जाते हैं।

(और पढ़ें - निजी अंगों की सफाई कैसे करें

दूसरों की नकल न उतारें

अक्सर कुछ लोगों की आदत होती है, दूसरों की देखादेखी एक्सरसाइज करना। कई बार दूसरों की नकल करना उनते लिए महंगा पड़ जाता है। आपके सामने खड़े व्यक्ति का फिटनेस लेवल आपसे बिलकुल अलग हो सकता है। इसलिए बेहतर होगा कि कोई भी एक्सरसाइज करने से पहले वहां मौजूद ट्रेनर से एक बार उसके सही तरीके बारे में जरूर पूछें। अपनी तरफ से मशीनों पर हांथपांव न मारें।

जिम में सुपरमैन बनने की कोशिश न करें

जिम के शुरुआती दिनों में आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आप जाते ही एकाएक भारी वजन न उठाएं। ऐसा करने से आपको चोट आ सकती है, जो कई मामलों में घातक साबित हो सकती है। शुरुआती दिनों में जिम में उपलब्ध सभी मशीनों और उनके उपयोग के बारे में जाने।

सभी एक्सरसाइज को करने का सही तरीका सीखें फिर उसके बाद धीरे-धीरे वजन को बढ़ाएं। तकनीकी भाषा में इस फॉर्मूले को ‘प्रोग्रेसिव ओवर लोड थ्योरी’ कहा जाता है। जैसे-जैसे आपकी वजन उठाने की क्षमता बढ़ती जाती है, वैसे-वैसे आप भारी वजन उठाने में सक्षम हो जाते हैं।

सपोर्टर से मदद मांगने में न हिचकिचाएं

यदि आप जिम में नए-नवेले हैं और भारी वजन उठा रहे हैं, तो आपको हमेशा सपोर्टर की मदद मांगनी चाहिए। इसका सबसे बड़ा फायद यह होगा कि आपको चोट नहीं लगेगी। इससे आपको एक्सरसाइज को सही तरीके से करने में मदद मिलेगी। कई बार लोग वजन तो उठा लेते हैं, लेकिन वह दोबारा उसे उसी जगह पर नहीं रख पाते हैं। इस स्थिति में सपोर्टर आपकी मदद करता है। इसलिए जिम के पहले ही दिन से सपोर्टर की मदद लेने की आदत डाल लें।

और पढ़ें ...