myUpchar प्लस+ के साथ पूरेे परिवार के हेल्थ खर्च पर भारी बचत

दही अच्छे बैक्टीरिया का एक बहुत ही अच्छा स्रोत है जो पाचन में भी सहायक है। यह आपके दांतों और हड्डियों के लिए अच्छी होती है। लेकिन अधिकांश खाद्य पदार्थों के साथ, कुछ नियम हैं जिनका आपको दही लेने के लिए पालन करने की आवश्यकता है। आपने कई बार सुना होगा कि रात को दही खाने से बचें। यहां कुछ नियम बताये गए हैं जिनके बारे में जानना है ज़रूरी -

  1. रात में दही न खाएं, खासकर यदि आपको खाँसी और ठंडे होने का खतरा हो। आयुर्वेद के अनुसार रात में दही का सेवन अच्छा नहीं है क्योंकि इससे बलगम का विकास होता है। लेकिन अगर आप दही के बिना नहीं कर सकते हैं, तो इसके बजाय छाछ को चुनें।
  2. यदि आप दिन के दौरान दही खा रहे हैं, तो इसे बिना चीनी के खाएं। लेकिन अगर आप रात में दही खा रहे हैं, तो चीनी या कुछ काली मिर्च मिलाएं। यह पाचन में सहायता करेगा और आपके पाचन तंत्र को शांत करेगा।
  3. कभी भी गर्म दही नहीं खाएं।

रात में अपने आहार में दही को शामिल करने के लिए जानिए कुछ टिप्स :

1. दही चावल : उबले हुए चावल के साथ कुछ दही मिलाएं। उसमें थोड़ा नमक और काली मिर्च का पाउडर मिलाएँ। आप अच्छा स्वाद लाने के लिए कढ़ी पत्‍ते और कुछ लाल मिर्च के साथ तड़का लगा सकते हैं।

2. दही चीनी : अगर आपको मीठा खाना पसंद है तो आपको यह संयोजन पसंद आएगा। आप दही में कुछ चीनी मिलाकर उसका सेवन करें। रात के खाने के बाद इसका सेवन आपके पेट को शांत करेगा और इससे सभी एसिड को बेअसर हो जायेंगे।

3. छाछ : रात को खाने के बाद छाछ एक और स्वस्थ पेय है। यह न केवल आपके पेट को ठंडक देगा बल्कि कोलन में बैक्टीरिया को बदलता है और जिसके कई अन्य स्वास्थ्य लाभ हैं।

4. लस्सी : लस्सी छाछ का एक मीठा रूप है जो केवल अधिक क्रीमयुक्त और चीनी से परिपूर्ण होती है।

5. कढ़ी : कढ़ी एक पारंपरिक नुस्खा है जिसे बेसन, नमक और छाछ के मिश्रण से तैयार किया जाता है। और इस मिश्रण को कुछ मिर्च, करी पत्तियों और जीरे के साथ तला जाता है। यह करी आम तौर पर चावल या चपाती के साथ खाई जाती है।

6. फ्रूट सलाद : केले, सेब, अनार आदि फलों को काटकर कुछ दही में मिलाएं और एक स्वस्थ मिठाई का आनंद लें। (और पढ़ें - अनार के फायदे)

7. रायता : रायता एक आम भारतीय साइड डिश है। टमाटर, प्याज, खीरा, कद्दू, कटी हुई हरी मिर्च जैसे विभिन्न सब्जियों को मिलाकर इसे तैयार किया जाता है। (और पढ़ें - खाने के बाद दही का सेवन क्यों है फायदेमंद?)

और पढ़ें ...